सीतारमण अर्थव्यवस्था के लिए हानिकारक हैं : अधीर - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शनिवार, 13 फ़रवरी 2021

सीतारमण अर्थव्यवस्था के लिए हानिकारक हैं : अधीर

sitaraman-dengerous-for-economy-adhir-ranjan
नयी दिल्ली, 13 फरवरी,  कांग्रेस ने लोकसभा में वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण द्वारा राहुल गांधी पर निशाना साधे जाने के बाद शनिवार को उन पर पलटवार किया और आरोप लगाया कि सीतारमण भारत की अर्थव्यवस्था के लिए ‘हानिकारक’ हैं तथा उनका एकमात्र ध्येय ‘हम दो, हमारे दो’ है। लोकसभा में पार्टी के नेता अधीर रंजन चौधरी ने यह दावा भी किया कि जब सरकार और उसके मंत्री देश एवं अर्थव्यवस्था की स्थिति संभाल नहीं पा रहे हैं तो वे कांग्रेस नेताओं पर ‘अपमानजनक’ टिप्पणियां कर रहे हैं। उन्होंने संसद परिसर में संवाददाताओं से बातचीत में आरोप लगाया, ‘‘वह (सीतारमण) वित्त मंत्री नहीं, खीज मंत्री हैं। वह देश की अर्थव्यवस्था के लिए हानिकारक हैं। उन्होंने प्रधानमंत्री जी के साथ मिलकर देश को रसातल में पहुंचा दिया। इनका एक ही ध्येय है- हम दो, हमारे दो।’’ उन्होंने कहा, ‘‘ऑक्सफैम की रिपोर्ट में कहा गया है कि लॉकडाउन के कारण भारत के अरबपति 35 फीसदी अमीर हो गए, जबकि करोड़ों आम लोगों की आय घट गई। हम वित्त मंत्री से पूछना चाहते हैं कि यह क्यों हुआ?’’ उन्होंने आरोप लगाया कि इस सरकार ने पूंजीपतियों के लाखों करोड़ रुपये का कर्ज बट्टे खाते में डाल दिया, लेकिन किसानों के लिए बजट में कमी कर रही है। चौधरी ने कहा कि मनरेगा और दूसरी सामाजिक योजनाओं के लिए आवंटन में कटौती कर दी गई है। उन्होंने कहा, ‘‘जब देश की हालत और अर्थव्यवस्था को संभाल नहीं पाते हैं तो सरकार और उनके मंत्री हम पर गुस्सा होते हैं। आज वित्त मंत्री ने हमारे नेता राहुल गांधी के खिलाफ अपमानजनक टिप्पणियां कीं। यह सरकार विपक्षी दलों के नेताओं और कार्यकर्ताओं का सम्मान नहीं करती।’’ कांग्रेस नेता ने कहा, ‘‘भारत की वित्त मंत्री होने के नाते उन्हें सदन के भीतर असंसदीय कार्यों में शामिल नहीं होना चाहिए।’’ उल्लेखनीय है कि लोकसभा में सरकार तथा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के खिलाफ कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी के आरोपों पर पलटवार करते हुए सीतारमण ने शनिवार को कहा कि कांग्रेस नेता फर्जी विमर्श गढ़ते हैं, देश को तोड़ने वाली ताकतों के साथ खड़े होते हैं और संवैधानिक संस्थाओं का अपमान करते हैं। बजट पर हुई चर्चा का जवाब देते हुए वित्त मंत्री ने यह भी कहा कि राहुल गांधी भारत के ‘डूम्सडे मैन’ हैं।

कोई टिप्पणी नहीं: