बिग बॉस सीजन 10 में रहे स्वामी ओम का निधन - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

बुधवार, 3 फ़रवरी 2021

बिग बॉस सीजन 10 में रहे स्वामी ओम का निधन

swami-om-died
बिग बॉस सीजन 10 से चर्चा में आने वाले स्वामी ओम का 63 साल की उम्र में निधन हो गया है.  अपने निवास NCR के लोनी स्थित DLF अंकुर विहार में अंतिम सांस ली है.खबर है कि करीब 15 दिन पहले पैरालाइज  (लकवाग्रस्त) के शिकार हो गए थे.रिपोर्ट्स के मुताबिक-स्वामी के बेहद करीबी दोस्त के बेटे अर्जुन जैन ने इस बारे में जानकारी दी.उन्होंने बताया कि वह लंबे समय से बीमार चल रहे थे.15 दिनों पहले उन्हें लकवा मार गया था. बिग बॉस 10 में नजर आ चुके कंटेस्टेंट स्वामी ओम का निधन हो गया है. स्वामी ओम का असली नाम विवेकानंद झा था. स्वामी पिछले काफी दिनों से बीमार चल रहे थे. स्वामी ओम को 3 महीनें पहले कोरोना हुआ था जिसके बाद एम्स में उनका इलाज चल रहा था.अपने निवास NCR के लोनी स्थित DLF अंकुर विहार में अंतिम सांस ली है. स्वामी ओम के निधन से हर कोई सख्ते में आ गया है. स्वामी ओम को बिग बॉस के घर से बाहर को रास्ता दिखाया गया था. खबरों की मानें तो 15 दिन पहले ही पैरालाइसिस मारा था, जिसके बाद से उनकी हालात खराब थी. जानकारी के अनुसार उनका अंतिम संस्कार आज निगम बोध घाट , दिल्ली पर दोपहर 1:30 बजे किया गया.  स्वामी ओम एक वक्त पर कांग्रेस के स्पोर्टर थे. कहा जाता है कि ओम ने साल 1972 में साधु का रूप धारण किया था. उनके भाई प्रमोद झा ने कहा था कि वह बहुत झूठ बोलता है, सबके साथ चीटिेंग करता है और दूसरों को आपस में लड़वाता है.


साल 2017 में निजता जैसे गंभीर मुद्दे पर सुप्रीम कोर्ट ने स्वामी ओम पर दस लाख रुपये का जुर्माना लगा दिया था. स्वामी ओम ने याचिका में कहा था कि हाई कोर्ट और सुप्रीम में जजो की नियुक्ति करते समय CJI से सिफारिश क्यों ली जाती है? इसी पर CJI खेहर और जस्टिस डीवाई चंद्रचूड की बेंच के सामने केस आया तो कोर्ट ने कहा कि ये पब्लिसिटी स्टंट है. लेकिन स्वामी ओम ने इस पर जवाब दिया था कि वो ‘बिग बॉस’ के जरिए पहले ही बहुत पब्लिसिटी पा चुके हैं. लेकिन इस पर बीते साल कोर्ट ने उन्हें जुर्माने के 10 लाख की जगह 8 हफ्ते में 5 लाख रुपए जमा करवाने कहा था. इसके बाद स्वामी ओम काफी चर्चा में आ गए थे. स्वामी ओम उस वक्त भी चर्चा में आए थे, जब एक चैनल में डिबेड के दौरान एक महिला ने स्वामी को थप्पड़ मारा था, जिसके बदले में स्वामी ने भी महिला को मारा था. दरअसल राधे मां पर हो रही बहस में ओम ने महिला पर निजी कमेंट किए थे. इसी के बाद गुस्साई महिला ने ओम को चांटा मारा था. इसके बाद इस मामले में ओम के खिलाफ नोएडा में रिपोर्ट भी दर्ज कराई गई थी. ओम के खिलाफ दिल्ली की साकेत कोर्ट ने भी वारंट जारी किया था, दरअसल एक महिला ने चोरी के इरादे से घर में घुसने का आरोप लगाया था. इतना ही नहीं ओम पर अवैध हथियार रखने का भी आरोप है. जिसके बाद ओम पर कई मुकदमे ओम के खिलाफ आर्म्स एक्ट, टाडा और अन्य कई एक्ट के तहत केस दर्ज किए गए थे. एक न्यूज चैनल को दिए इंटरव्यू में स्वामी ओम ने कहा था कि मैंने ही राज नायक से कहा था कि बिग बॉस 11 की विनर शिल्पा शिंदे को बनाएं. लेकिन शो के होस्ट सलमान खान चाहते थे कि उनकी गर्लफ्रेंड हिना खान जीते. स्वामी ओम ने अर्शी खान को भी सलमान की गर्लफ्रेंड बताया था कहा था कि अर्शी को पूरे शो में सलमान ने सपोर्ट किया था. स्वामी ओम जितने भी दिन बिग बॉस में रहे थे विवादों में ही घिर रहे थे. स्वामी ओम की कुछ हरकतों को देखते हुए सलमान खान ने भी कई बार उनकी क्लास लगाई थी. बिग बॉस के अंदर स्वामी ने कई लड़कियों को गालियां भी दी थीं. और तो और मालूम हो कि स्वामी ओम बिग बॉस सीजन 10 के सबसे चर्च‍ित कंटेस्टेंट रहे हैं. उनके विवाद‍ित बयान खूब सुर्ख‍ियों में थे. बिग बॉस 10 में उन्होंने अपनी एक को-कंटेस्टेंट बानी जे पर यूरीन फेंक दिया था. इसके बाद खुद बिग बॉस ने उन्हें घर से एलिमिनेट कर दिया था. बिग बॉस 10 के बाद भी स्वमी ओम अपने बयानों को लेकर काफी सुर्ख‍ियों में बने रहे.  स्वामी ओम एक बार नाथूराम गोडसे की जयंती के एक कार्यक्रम में गए थे. जहां एक महिला ने स्वामी ओम का विरोध किया था. जब ओम ने माइक संभाला था तो उनको विरोध हुआ था इसके बाद जब वह नीचे उतरे थे तो उनको काफी पिटाई हुई थी.

कोई टिप्पणी नहीं: