SXCMT में BBE प्रथम वर्ष के छात्रों को केंद्रीय बजट की बारीकियों से अवगत कराया गया - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

गुरुवार, 18 फ़रवरी 2021

SXCMT में BBE प्रथम वर्ष के छात्रों को केंद्रीय बजट की बारीकियों से अवगत कराया गया

bbe-exam-prepration
पटना। दीघा-आशियाना मार्ग पर स्थित पटना के संत जेवियर्स कॉलेज ऑफ मैनेजमेंट एंड टेक्नोलॉजी।यहां बीबीए, बीसीए, बीसीपी, बीबीई और बीएमसी की पढ़ाई होती है। इस काॅलेज के रेक्टर, फा. जोसेफ थडावनाल एस. जे. और प्रिंसिपल फा. डाॅ. टि. निशांत एस. जे. हैं।कॉलेज के प्रिसिंपल, फा. डाॅ. टि. निशांत एस. जे. का मानना है कि छात्र-छात्राएं जेसुइट परंपरा से रु-ब-रु हो रहे हैं। आज गुरुवार को सेंट जेवियर्स कॉलेज ऑफ मैनेजमेंट एंड टेक्नोलॉजी (SXCMT), पटना के परिसर में आयोजित एक संक्षिप्त कार्यक्रम में अपने वरिष्ठों से केंद्रीय बजट की बारीकियों को बिज़नेस इकोनॉमिक्स (व्यवसायिक अर्थशास्त्र) के प्रथम वर्ष के छात्रों ने सीखीं।  राजीव प्रभाकर, शालिनी ठाकुर और आशीष कुमार, सभी बैचलर ऑफ बिजनेस इकोनॉमिक्स (BBE) के द्वितीय वर्ष के छात्र, ने बजट तैयार करने की कवायद को समझाने के लिए पॉवरपॉइंट प्रेजेंटेशन और एक छोटी वीडियो क्लिप का इस्तेमाल किया। तृतीय वर्ष के BBE छात्रों, आशुतोष झा, नंदिनी कुमारी, भावना सिन्हा और मोहम्मद खालिद, ने फ्रेशर्स को बताया कि बजट का क्या मतलब है और यह महत्वपूर्ण क्यों है। उन्होंने प्रथम वर्ष के बीबीई छात्रों को बजट में उपयोग की जाने वाली कई शब्दावली से परिचित कराया, जैसे कि रसीद, व्यय और राजकोषीय घाटा। BBE 3 की वागीशा चतुर्वेदी ने इस कार्यक्रम की एंकरिंग की, जबकि BBE 3 के शार्तक हंस ने भी धन्यवाद प्रस्ताव रखा। इस अवसर पर डीन ऑफ एक्टिविटीज, डॉ. माला कुमारी उपाध्याय, बिज़नेस इकोनॉमिक्स विभाग की समन्वयक डॉ। निहारिका कुमारी, सुश्री कल्पना कुमारी, श्री बीएन चौधरी शामिल थे ।

कोई टिप्पणी नहीं: