विदिशा (मध्यप्रदेश) की खबर 02 फ़रवरी - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

मंगलवार, 2 फ़रवरी 2021

विदिशा (मध्यप्रदेश) की खबर 02 फ़रवरी

सामान्य प्रशासन विभाग के निर्देशों के उपरांत भी विदिशा में चुने हुये जनप्रतिनिधि और जनता का अपमान


विदिशाः- विदिशा विधायक शशांक भार्गव ने कलेक्टर विदिशा एवं मुख्य सचिव म.प्र. शासन को पत्र लिखकर कहा कि विदिशा में सामान्य प्रशासन विभाग के समय-समय पर दिये गये निर्देशों के बाद भी विदिशा में जिला प्रशासन द्वारा  जिले के प्रमुख अधिकारियों की उपस्थिति में चुने हुये जनप्रतिनिधियों की अवहेलना करते हुये प्रोटोकाॅल का उल्लंघन कर शासन योजनाओं के शुभारंभ कार्यक्रम एवं विकास/निर्माण कार्यों के लोकार्पण शिलान्यास कार्यक्रमों में जिला प्रशासन द्वारा लगातार वर्तमान  चुने हुए जन-प्रतिनिधियों की अवहेलना व अपमान करते हुये क्षेत्र की जनता का भी अपमान हैं म.प्र. सामान्य प्रशासन विभाग के द्वारा देय निर्देश अनुसार कार्यक्रमों में प्रोटोकाॅल का पालन नहीं किया जा रहा है। विगत कई माहों से शासन प्रशासन स्तर से आयोजित किये जाने वाले कार्यक्रमों में जिनमें शासकीय स्कूलो में मध्यान्ह भोजन वितरण कार्यक्रम एवं विदिशा विधानसभा क्षेत्र अंतर्गत विकास एवं निर्माण कार्यक्रम के भूमि पूजन, लोकार्पण के साथ ही राष्टीªय पर्व 26 जनवरी गणतंत्र दिवस समारोह वर्ष 2021 के जिला स्तरीय कार्यक्रम में पूर्व जनप्रतिनिधी के माध्यम से पुरस्कार वितरण कराये गये एवं वर्तमान जनप्रतिनिधियों को उक्त कार्य हेतु औपचारिक रूप से भी बुलाना उचित नहीं समझा गया, साथ ही दिनंाक 31.01.2021 के पल्स पोलियों कार्यक्रम में भी ठीक इसी प्रकार का व्यवहार जिला प्रशासन द्वारा किया गया, उन्होंने कहा कि पूर्व जनप्रतिनिधी के माध्यम से शासन योजनाओं के शुभारंभ कार्यक्रम  एंव समय समय पर उनके साथ विभिन्न क्षेत्रों में लगातार भ्रमण का कार्यक्रम प्रोटोकाॅल अंतर्गत आता है, तो जिले में बहुत बडी संख्या में पूर्व जनप्रतिनिधी है, जिनकी सूची हम प्रशासन को उपलब्ध करा सकते है, जिससे कि उनको भी विभिन्न कार्यक्रमों में आमंत्रित किया जा सकें, यदि पूर्व जनप्रतिनिधियों को आमंत्रित किया जाना प्रोटोकाॅल के अनुसार देय निर्देशों में उल्लेख नहीं है तो फिर विदिशा जिला अंतर्गत इस प्रकार की कार्यप्रणाली के संबंध में एक जनप्रतिनिधी होने के नाते सामान्य प्रशासन विभाग द्वारा देय निर्देशों के पालन की स्थिति सुनिश्चित किये जाने के संबंध में कार्यवाही किये जाने की मांग की, जिससे कि जिले में शासन नियमों के बार-बार उल्लंघन किये जाने की नियम विरूद्ध परम्परा पर रोक लग सकें।


जनसुनवाई कार्यक्रम में 147 आवेदन प्राप्त हुए 


vidisha news
आज सम्पन्न हुई जनसुनवाई कार्यक्रम में 147 आवेदको ने अपनी व्यक्तिगत और सार्वजनिक समस्याओं पर आधारित आवेदन कलेक्टर डॉ पंकज जैन को देते हुए समस्याओं की ओर ध्यान आकर्षित कराया है। कलेक्टर डॉ पंकज जैन के द्वारा आहूत की गई जनसुनवाई कार्यक्रम में उनके द्वारा मौके पर 97 आवेदनों का निराकरण किया गया है शेष लंबित आवेदनों का समय सीमा में निराकृत कर पोर्टल पर जानकारियां दर्ज कराने के निर्देश संबंधित विभागो के जिलाधिकारियों को दिए है। 


आवेदकों तक पहुंचे

जनसुनवाई कार्यक्रम मेंं सामान्यतः आवेदक अपने आवेदन सहित अधिकारियों को पहुंचकर देते रहे है किन्तु कलेक्टर डॉ पंकज जैन सीधे आवेदकों के पास पहुंचकर उन्हें बैठे रहने दिया ओर स्वंय खडे होकर उनके आवेदन प्राप्ति के उपरांत निराकृत हेतु आवेदन मार्क कर संबंधित विभाग के अधिकारी को अपने हाथो से सौंप रहे थे वहीं आवेदक को मौखिक रूप से आवेदन पर हुई क्रिया की जानकारी स्वंय कलेक्टर दे रहे थे। आज प्राप्त आवेदन आवास, बिजली बिल कम कराने, मुआवजा की राशि दिलाने तथा स्वरोजगार योजनाओं से लाभांवित करने के अलावा पेंशन की राशि में वृद्वि करने के अलावा अन्य व्यक्तिगत हितार्थ पर आधारित आवेदन प्राप्त हुए है।  जिला पंचायत के सभागार कक्ष में आयोजित की गई जनसुनवाई कार्यक्रम में जिला पंचायत सीईओ श्रीमती नीतू माथुर, डिप्टी कलेक्टर व नोडल अधिकारी श्रीमती अमृता गर्ग के अलावा अन्य विभागो के जिलाधिकारी उपस्थित रहें।


हिन्दी साहित्य भवन का जायजा 


vidisha news
कलेक्टर डॉ पंकज जैन ने मंगलवार को बस स्टेण्ड के समीप इन्दिरा काम्प्लेक्स में नवनिर्मित हिन्दी साहित्य भवन का मौके पर पहुंचकर जायजा लिया। उन्होंने उक्त भवन का संचालन शीघ्रतिशीघ्र कराने के निर्देश दिए है ताकि आमजनो को हिन्दी साहित्य भवन के माध्यम से दी जाने वाली सुविधाओं का लाभ मिल सकें। कलेक्टर डॉ जैन ने हिन्दी साहित्य भवन आवागमन तक आवागमन को ध्यानगत रखते हुए साफ सफाई एवं अन्य व्यवस्थाएं सुनिश्चित करने के निर्देश दिए है। निरीक्षण के दौरान एसडीएम श्री गोपाल सिंह वर्मा के अलावा अन्य अधिकारी भी साथ मौजूद थे। 


कलेक्टर ने शोक संवेदनाएं व्यक्त की


कलेक्टर डॉ पंकज जैन आज प्रातः दैनिक भास्कर के फोटोग्राफर श्री सीताराम मालवीय के घर पहुंचकर शोक संवेदनाएं व्यक्त की है। गौरतलब हो कि फोटोग्राफर श्री मालवीय के पिता श्री संतोष कुमार मालवीय जी का कल आकस्मिक निधन हो गया था  कलेक्टर डॉ पंकज जैन तथा एसडीएम श्री गोपाल सिंह वर्मा फोटोग्राफर श्री मालवीय के निज निवास शिवाजी चौक पर पहुंचकर शोक संवेदनाएं व्यक्त की है। 


सिक्योरिटी गार्ड भर्ती हेतु शिविरो का आयोजन चार से 


राज्य ग्रामीण आजीविका मिशन के तहत जिले के सातो विकासखण्डो में सिक्योरिटी गार्ड भर्ती हेतु शिविरो का आयोजन किया जा रहा है कि जानकारी देते हुए जिला पंचायत सीईओ श्रीमती नीतू माथुर ने बताया कि फरवरी माह की चार से 11 तारीख तक जनपद पंचायत मुख्यालयो पर प्रातः साढे दस बजे से सायं चार बजे तक निर्धारित तिथि, स्थल पर उपरोक्त शिविर का आयोजन किया गया है। राष्ट्रीय कौशल विकास योजना एवं भारत सरकार के पसारा एक्ट अधिनियम 2005 के अंतर्गत कैप्सटन सिक्योरिटी कंपनी में सुरक्षा जवान के पदो में सीधी भर्ती के लिए शिविरो का आयोजन किया जा रहा है। उक्त शिविरो में शामिल होने के लिए आवेदक कम से कम आठवीं पास तथा 18 से 35 वर्ष की आयु जबकि ऊंचाई 165 सेमी होना चाहिए। आवश्यक दस्तावेंजो की छायाप्रति एवं एक फोटो के अलावा चयनित उम्मीदवारो हेतु दो सौ रूपए भर्ती पुस्तिका के लिए शिविर स्थल पर देय होंगे। चयनित प्रशिक्षणार्थियों को प्रशिक्षण व्यय संस्था द्वारा निर्धारित छह हजार सात सौ रूपए का भुगतान चयनित युवाओं को प्रशिक्षण केन्द्र पर उपस्थिति के समय जमा करने होंगे।  विदिशा जिले के विकासखण्डो में आयोजित सिक्योरिटी गार्ड भर्ती शिविरो की जारी तिथि व स्थल की जानकारी इस प्रकार से है। नटेरन जनपद पंचायत में चार फरवरी को, सिरोंज जनपद पंचायत में पांच को, लटेरी जनपद पंचायत में छह को, गंजबासौदा जनपद पंचायत में आठ को, ग्यारसपुर जनपद पंचायत में नौ को, कुरवाई विकासखण्ड के ग्राम पंचायत पठारी में दस को तथा विदिशा जनपद पंचायत में उक्त शिविर 11 फरवरी को आयोजित किया गया है। शिविर नियत तिथि व स्थल पर प्रातः साढे दस बजे से शुरू होंगा।


सेफ सिटी कार्यक्रम का क्रियान्वयन 


vidisha news
शहरी क्षेत्रो में महिलाओं एवं लड़कियो को सुरक्षित वातावरण उपलब्ध कराने हेतु सेफ सिटी कार्यक्रम का क्रियान्वयन विदिशा शहर में भी किया जाएगा। इसके लिए किए जाने वाले प्रबंधो तथा तैयारियों की आज महिला एवं बाल विकास विभाग के जिला कार्यक्रम अधिकारी श्री बृजेश शिवहरे ने समीक्षा बैठक आहूत कर संबंधितों को आवश्यक दिशा निर्देश दिए है।  बैठक में बताया गया कि विदिशा शहर में छह हॉटस्पॉट स्थल चिन्हांकित किए गए है इन स्थलो पर बेटी बचाओ, बेटी पढाओ कार्यक्रम की निहित बिन्दुओं के तहत जनजागरूकता को बढावा देने का कार्य किया जाएगा। जिले में यदि किसी महिला अथवा बेटी के साथ कही कोई किसी भी प्रकार की सुरक्षात्मक भावना को ठेस पहुंचाता है अथवा छींटाकसी करता है तो 100 डायल या 181 पर अविलम्ब सूचित कर सकते है।  जिले में सेफ सिटी कार्यक्रम की रणनीति मल्टी सेक्टोरल (विधि विभाग व विधि सेक्टर हस्तक्षेप) के तहत किए जाने वाले प्रबंधो के संबंध में भी जानकारी दी गई है। विभाग के कार्यक्रम अधिकारी ने सेफ सिटी का मुख्य उद्धेश्य महिलाओ व बेटियों के सम्मान, सुरक्षा में किसी भी प्रकार की त्रुटि ना हो इस कार्य में सामाजिक जागरूकता पर भी बल दिया गया है। महिला एवं बाल विकास विभाग के जिला कार्यक्रम अधिकारी के चेम्बर में सम्पन्न हुइ इस बैठक में विभाग के सहायक संचालक श्री विवेक शर्मा, एकीकृत बाल विकास परियोजना शहरी विदिशा के परियोजना अधिकारी श्री संजय सिंह, वन स्टाप की संचालिका श्रीमती कृतिका व्यास, बाल संरक्षण अधिकारी श्री अनुज जैन मौजूद रहें। 


सफलता की कहानी : शासन ने आने जाने का सहारा दिया


vidisha news
जनसुनवाई कार्यक्रम में ट्रायसाइकिल प्रदाय करने हेतु दिव्यांग श्री सुरेश कुमार ओझा, श्री पप्पू आदिवासी और श्री खेमचंद अहिरवार ने आवेदन दिए थे। उन्हें इस बात का पता ही नही चल पाया कि ट्रायसाइकिल के लिए दिया गया आवेदन पर आज ही मांग की पूर्ति हो जाएगी। उक्त तीनो आवेदको को सामाजिक न्याय विभाग के माध्यम से आज नवीन ट्रायसाइकिले प्रदाय की गई है।  तीनो दिव्यांगजनों का कहना था कि हम जनसुनवाई में दूसरो का सहारा लेकर यहां पहुंचे थे अब शासन ने हमको आने जाने का सहारा दिया है जिसका उपयोग हम स्वंय कर सकेंगे। अब हमें आने जाने के लिए अन्य किसी पर आश्रित रहने की जरूरत नही है शासन ने आने जाने का सहारा ट्रायसाइकिल देकर हमारा आत्म विश्वास बढाया है। 


निर्माण श्रमिक 31 मार्च तक करा सकते हैं पंजीयन


मध्यप्रदेश भवन एवं अन्य संनिर्माण कर्मकार कल्याण के अन्तर्गत भवन एवं अन्य संनिर्माण कार्यों में सलंग्न असंगठित क्षेत्र के श्रमिकों के पंजीयन का कार्य 31 मार्च 2021 तक जारी रहेगा। श्रम विभाग द्वारा इस संबंध में निर्देंश जारी कर दिए गए हैं। निर्माण श्रमिकों के पंजीयन के लिये 2 अक्टूबर 2020 से तीन माह का विशेष पंजीयन अभियान चलाया जा रहा है। अभियान की अवधि 31 मार्च 2021 तक बढ़ाई गई है।


गुरू-शिष्य परम्परा के अंतर्गत छात्रवृत्ति के लिये तिथि बढ़ी अब 28 फरवरी तक आवेदन आमंत्रित


मध्यप्रदेश संस्कृति परिषद के अंतर्गत संचालित उस्ताद अलाउद्दीन खाँ संगीत एवं कला अकादमी की ओर से गुरू-शिष्य परम्परा के तहत ध्रुपद गायन का प्रशिक्षण ध्रुपद केन्द्र में दिया जायेगा।  केन्द्र में प्रशिक्षण प्राप्त करने के लिये आवेदन जमा करने की अंतिम तिथि 28 फरवरी, 2021 की गई है। पूर्व में आवेदन जमा करने की तिथि 31 जनवरी 2021 थी। प्रशिक्षण की अवधि चार वर्ष रहेगी। चयनित प्रतिभागी को प्रतिमाह 3 हजार रूपये बतौर छात्रवृत्ति प्रशिक्षण अवधि में दी जायेगी। आवेदक की उम्र 16 से 25 वर्ष से अधिक नहीं होनी चाहिये। उल्लेखनीय है कि भारतीय संस्कृति में गुरु-शिष्य परम्परा प्रतिष्ठित है। इसी परम्परा के निर्वहन के उद्देश्य से यह प्रशिक्षण दिया जायेगा। अधिक जानकारी के लिये अकादमी की वेबसाइट एवं अन्य माध्यम से डाउनलोड की जा सकती है। आवेदन-पत्र की फोटो प्रतियाँ (ए-4 साइज) भी स्वीकार की जायेगी।


छात्रवृत्ति के ऑनलाईन आवेदनों का वेरिफिकेशन 5 फरवरी तक


भारत सरकार अल्पसंख्यक मंत्रालय नई दिल्ली के माध्यम से संचालित अल्पसंख्यक प्री मैट्रिक, पोस्ट मैट्रिक मेरिट कम मीन्स छात्रवृत्ति योजनान्तर्गत शैक्षणिक सत्र 2020-21 अल्पसंख्यक छात्रवृत्ति पोर्टल पर नवीन एवं नवीनीकरण के ऑनलाईन आवेदन करने के नवीन निर्देशानुसार छात्रवृत्ति आवेदनों के लिए विद्यार्थीयों द्वारा ऑनलाईन भरे गये आवेदनों को संस्था स्तर से वेरिफिकेशन की अंतिम तिथी 5 फरवरी तक बढाई गई है। सहायक संचालक पिछड़ा वर्ग तथा अल्ससंख्यक कल्याण ने समस्त शासकीय एवं अशासकीय महाविद्यालय एवं विद्यालय में पात्रता रखने वाले सभी अल्पसंख्यक विद्यार्थियों से भारत सरकार के अल्पसंख्यक नेशनल स्कॉलरशिप पोर्टल पर आपकी संस्था में दर्ज विद्यार्थियों के ऑनलाईन आवेदनों को समयावधि में वेरिफिकेशन करना सुनिश्चित करने के लिए कहा है। 


एमपी बोर्ड 10वीं और 12वीं परीक्षा का टाइम टेबल जारी


माध्यमिक शिक्षा मंडल ने दसवीं व बारहवीं बोर्ड परीक्षा का टाइम टेबल जारी कर दिया है। दसवीं की परीक्षा 30 अप्रैल से शुरू होगी 12वीं की 01 मई से प्रारंभ होगी। पहली बार बोर्ड परीक्षा सुबह 8 बजे से 11 बजे तक ली जाएगी। गर्मी के कारण इस बार यह परीक्षा 1 घंटे पहले शुरू होगी। परीक्षाकाल में शासन द्वारा यदि कोई सार्वजनिक अथवा स्थानीय अवकाश घोषित किया जाता है, तो भी परीक्षाएं यथावत कार्यक्रमानुसार सम्पन्न होगीं। नियमित परीक्षार्थियों की प्रायोगिक परीक्षाएं उनके विद्यालय एवं स्वाध्यायी छात्रों की प्रायोगिक परीक्षायें उन्हें आवंटित परीक्षा केन्द्र पर संचालित की जाएगी। आवश्यकता पड़ने पर प्रायोगिक परीक्षायें अवकाश के दिनों में भी आयोजित की जा सकेंगी। परीक्षा केन्द्र पर समस्त परीक्षार्थियों को परीक्षा कक्ष में प्रातः 7.30 बजे उपस्थित होना अनिवार्य होगा परीक्षा कक्ष में प्रातः 7.45 बजे के पश्चात किसी भी छात्र को प्रवेश नहीं दिया जाएगा। परीक्षा प्रारंभ होने के 10 मिनिट के (प्रातः 7.50 बजे से) पूर्व छात्रों को उत्तर पुस्तिका एवं 5 मिनिट के (प्रातः 7.55 बजे से) पूर्व प्रश्न-पत्र दिये जाएंगे।


इस बार बदला परीक्षा का समय

गर्मी के मौसम में परीक्षा होने की वजह से इसका समय बदला गया है, अब यह सुबह 8 बजे से 11 बजे तक ली जाएगी। माध्यमिक शिक्षा मंडल ने पहली बार यह बदलाव किया है। इसी के साथ परीक्षा कोविड नियमों को ध्यान में रखकर ली जाएगी। जिसमें शारीरिक दूरी का विशेष ध्यान रखा जाएगा। 


ई-खनिज पोर्टल पर पंजीयन करवाएं


म.प्र.राजपत्र,असाधारण प्राधिकारी से प्रकाशित 22 जनवरी 2021 से गौण खनिजों में संशोधित किया गया है।बिन्दु 16.नियम 29(6) अनुसार अन्य राज्यों से परिवहित होकर आने वाली गौण खजिन पर 25 रूपये प्रति घनमीटर की दर से विनियमन शुल्क लिया जाएगा। उक्त व्यवस्था का लाभ लेने के लिए व्यापरिक,संस्था,फर्म,व्यक्ति ई-खनिज में रजिस्ट्रेशन सकते है।  राज्य सरकार द्वारा ई-खनिज पोर्टल (https://ekhanij.mp.gov.in ) के माध्यम से होम पेज पर INTER STATE TRANSIT PASS के नाम से ऑप्शन दर्शित हो रहा है।उक्त ऑप्शन में जाने उपरांत (Login-In/Register पर क्लिंक कर चाही गई,जानकारी की दर्ज उपरांत मोबाईल नम्बर पर आईडी एवं पासवर्ड प्राप्त होगें।प्राप्त आईडी एवं पासवर्ड से अपना लॉगईन करें एवं राज्य सरकार द्वारा निर्धारित राशि जमा कर ई-टीपी जनरेट कर सकते है। अधिक जानकारी के लिए जिला खनिज अधिकारी श्री मेहताब सिंह रावत से सम्पर्क कर सकते है। 


गेंहू, चना और मसूर के उपार्जन के लिए पंजीयन 25 फरवरी तक’


रबी विपणन वर्ष 2021-22 में गेंहू, चना व मसूर को न्यूनतम समर्थन मूल्य पर उपार्जन के लिए जिले के 128 केन्द्रो पर पंजीयन का कार्य 1 फरवरी से प्रारंभ हो गया है जो कि 25 फरवरी तक जारी रहेगा। किसान कल्याण तथा कृषि विकास विभाग के उप संचालक श्री पीके चौकसे ने बताया कि जिले में गेंहू चना और मसूर की फसलें उपार्जित की जायेगी। इन फसलों के उपार्जन के लिए ई-उपार्जन पोर्टलू www.mpeuprajan.nic.in पर पंजीयन के निर्देश संबंधित अधिकारियों को दिए गए हैं।


जीवन प्रमाण पत्र 28 फरवरी तक जमा होंगे’


कर्मचारी भविष्य निधि से पेंशन प्राप्त करने वालों के लिए जीवन प्रमाण पत्र जमा करने की अवधि 28 फरवरी तक कर दी गई है। सहायक भविष्य निधि आयुक्त, भोपाल द्वारा जानकारी दी है कि कर्मचारी भविष्य निधि संगठन, श्रम एवं रोजगार मंत्रालय, भारत सरकार, से पेंशन प्राप्त कर रहे सभी ईपीएस पेंशन धारकों के लिये कोविड-19 महामारी को ध्यान में रखते हुए जीवन प्रमाण-पत्र जमा करने की अंतिम तिथि 28 फरवरी 2021 तक कर दी गई है एवं इसकी वैधता जारी होने की तिथि से एक वर्ष कर दी गई है। जिन पेंशनरों को जनवरी, 2020 के पश्चात् पीपीओ जारी किया गया है अथवा जिन्होंने दिसम्बर 2019 या उसके बाद जीवन प्रमाण पत्र बनवाया है, उन्हें संबंधित माह में अगले वर्ष डिजिटल जीवन प्रमाण-पत्र देना अनिवार्य होगा। जिन पेंशन धारकों को जीवन प्रमाण करवाने की आवश्यकता है, वे अपने बैंक शाखा या निकटतम जन सेवा केन्द्र या निकटतम डाकघर पर अपना डिजिटल जीवन प्रमाण-पत्र बनवा सकते हैं। डिजिटल जीवन प्रमाण-पत्र हेतु अपना मोबाईल, आधार कार्ड, पीपीओ संख्या एवं बैंक पासबुक अवश्य लेकर जाएं। डिजिटल जीवन प्रमाण सफल होने की स्थिति में किसी प्रकार का दस्तावेज कार्यालय में जमा कराना या प्रेषित करना अनिवार्य नहीं है।

कोई टिप्पणी नहीं: