एकता परिषद की श्रम शक्ति यात्रा पहुंची जमुनियाँ, कटनी - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

सोमवार, 1 मार्च 2021

एकता परिषद की श्रम शक्ति यात्रा पहुंची जमुनियाँ, कटनी

ekta-parishad-yatra-reach-katni
कटनी। एकता परिषद मध्य प्रदेश की  श्रम शक्ति  यात्रा 27 फरवरी को सिवनी जिले के मोहगांव से सुरू होकर आज 1मार्च 2021 तीसरे दिन  कटनी जिले के बडवारा ब्लाक के जमुनियाँ गांव पहुंची। यात्रा मे एकता परिषद के राष्ट्रीय अध्यक्ष  रनसिह जी, एकता परिषद के राष्ट्रीय महासचिव अनीश भाई, मध्य प्रदेश के राज्य संयोजक डोंगर शर्मा जी,  श्रम शक्ति अभियान के संयोजक संतोष सिंह राष्ट्रीय सदस्य निर्भय सिंह जी ने आज जमुनियाँ गांव में 100 लोगों ने तालाब निर्माण कर जल संरक्षण के लिए 20 दिनो तक काम किया । यह यात्रा मध्य प्रदेश के कई हिस्सों से गुजरते हुए 15  जिलो तक  श्रम शक्ति अभियान का संदेश गांवों तक ले जाने का काम करेगी। जमुनियाँ मे यात्रा का मुखियाओं ने जोरदार स्वागत किया । एकता परिषद के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री रनसिह जी ने  कहा कि ये तीर्थ स्थल श्रम शक्ति से आपने बनाया है जल भरने के बाद भी इसके दर्शन करने दुनिया भर के साथियों के साथ आएंगे। एकता परिषद परिवार की ओर से हम आपका दिल से स्वागत करते हैं । एकता परिषद के संस्थापक आदरणीय राजगोपाल पीव्ही राजा जी ने इसकी परिकल्पना कर श्रम आधारित समाज के महत्व को आगे बढ़ाने की शुरुआत की जो पूरे देश के कई राज्यों मे चल रही है । बैठक को अनीश भाई, डोंगर शर्मा, संतोष सिंह, निर्भय सिह, रामकिशोर जी, अभय पटेल जी एवं मुखिया साथियों ने भी संबोधित किया । काम की सराहना करते हुए सभी को बधाई दी। जल जंगल जमीन के विकास में गांव गांव तक  सैकड़ों तालाब, कुआं, नाला बंधान, वावडी की सफाई आदि का काम पहले चरण में किया जा रहा है । अभियान को सतत संचालित रखने के लिये अगली कार्यनीति व्यापक स्तर पर जन संवाद कर जिला एवं राज्य स्तरीय कार्यक्रम आयोजित कर किया जाना प्रस्तावित है । यात्रा के दूसरे दिन जमुनियाँ मे यात्रा के साथियों ने संगठन बैठक में सभी का उत्साहवर्द्धन किया । यात्रा जबलपुर, दमोह सागर होते हुए आगे बढे़गी।

कोई टिप्पणी नहीं: