एम्स में पीएम मोदी ने कोरोना से बचाव के लिए टीका लिया - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

सोमवार, 1 मार्च 2021

एम्स में पीएम मोदी ने कोरोना से बचाव के लिए टीका लिया

  • आज से राज्य में कोरोना टीकाकरण के तीसरे चरण का शुभारंभ हुआ है। इस अवसर पर मुझे भी कोरोना का टीका लगवाने का अवसर प्राप्त हुआ..

modi-nitish-take-covid-vaccine
नई दिल्ली. प्रथम चरण में सरकारी और निजी संस्थानों के स्वास्थ्यकार्मिकों को टीके लगाए गये हैं.दूसरे चरण के तहत पुलिस विभाग जवान और अर्धसैनिक बलों को टीका लगाया गया.तीसरे चरण में आम लोगों को टीका लगाया जा रहा है.इसमें 60 वर्ष से अधिक उम्र के लोगों को प्राथमिकता दी जा रही है.इसके साथ ही 45 वर्ष से कम उम्र के लोग जो गंभीर असाध्य रोग से ग्रसित हैं, उन्हें प्राथमिकता मिल रही है. एम्स दिल्ली में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और आईजीआईएमएस,पटना,बिहार में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने पहली डोज ली.


तीसरे चरण की शुरूआत में ही चुनावी राजनीति

देश के पांच राज्यों के विधानसभा चुनावों की तारीखों का ऐलान किया गया है. ये पांच राज्य पश्चिम बंगाल, केरल, असम, तमिलनाडु और पुडुचेरी है. इसमें केंद्रशासित प्रदेश पुडुचेरी हैं.इसके आलोक में कांग्रेस नेता और लोकसभा में विपक्ष के नेता अधीर रंजन चौधरी ने कहा कि पीएम मोदी चुनावी राजनीति कर रहे हैं.उन्होंने आगे कहा 'पीएम ने पहले वैक्सीन क्यों नहीं लगवाई, जब वैज्ञानिकों ने कह दिया कि वैक्सीन सुरक्षित है, तब जाकर लगवाई.अधीर रंजन ने आगे कहा कि पहले हमने नहीं बल्कि वैज्ञानिकों की कमिटी ने सवाल खड़े किए थे.तब क्यों नहीं लगवाया, अब लगवाया है तो स्वागत है.'अधीर रंजन ने आगे कहा कि इसमें चुनाव को ध्यान में रखा गया है. उन्होंने आगे कहा कि केरल की रोजम्मा अनिल और पुडुचेरी पी.निवेदा नर्स और असम का गमछा, मैं तो कहता हूं कि बंगाल की गीतांजलि भी हाथ में ले लेते तो सब पूरा हो जाता.अधीर रंजन के बयान के बाद केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने पलटवार करते हुए कहा कि आज प्रधानमंत्री मोदी ने सभी को जवाब दे दिया है.


दिल्ली एम्स में पीएम मोदी ने कोरोना से बचाव के लिए टीका लिया

भारत में निर्मित कोवैक्सिन की पहली डोज़ दिल्ली एम्स में जाकर पीएम नरेंद्र मोदी ने कोरोना से बचाव के लिए टीका लिया.देश में होने वाले घोषित चुनाव पुडुचेरी,केरल और असम का प्रयोग किया गया. पीएम मोदी को वैक्सीन की डोज देने वाली नर्स पुडुचेरी और केरल से हैं. इनमें से एक काम नाम पी. निवेदा जो पुडुचेरी की रहने वाली हैं. वहीं केरल की नर्स का नाम रोसम्मा अनिल है. पीएम मोदी वैक्सीन की खुराक लेने सुबह-सुबह 6:25 बजे ही दिल्ली के एम्स अस्पताल पहुंचे थे. अस्पताल पहुंचने के लिए पीएम मोदी ने सुबह का समय चुना जिससे की लोगों को यातायात संबंधी दिक्कतों का सामना ना करना पड़े. पीएम नरेंद्र मोदी ने भारत बॉयोटेक की कोवैक्सीन (Covaxin) की पहली डोज ली है. कोवैक्सीन, स्वदेशी वैक्सीन है, जिसे भारत में इमरजेंसी इस्तेमाल के लिए अनुमति दी गई है. 


कोरोना के खिलाफ सशक्त नेतृत्व कर रहे हैं प्रधानमंत्री  

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने दिल्ली एम्स में कोरोना की पहली डोज ले ली है. वहीं आज बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार भी कोरोना वैक्सीन की पहली खुराक पटना के आईजीआईएमएस में लें लिये।कोरोना वैक्सीनेशन का तीसरा चरण आज से शुरू हो गया है. इसके साथ ही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी कोरोना वैक्सीन की पहली डोज ले ली है. पीएम मोदी ने खुद ट्वीट करके इसकी जानकारी दी.इसके साथ ही बिहार में सभी नागरिकों को अब कोरोना का टीका मुफ्त में मिलेगा. निजी या सरकारी किसी भी अस्पताल में टीका लेने पर कोई शुल्क का भुगतान नहीं करना होगा.रविवार को मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की अध्यक्षता में तीसरे चरण के कोरोना टीकाकरण की तैयारियों की समीक्षा के क्रम में राज्य में नि:शुल्क टीकाकरण का निर्णय लिया गया. इस बैठक में स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय भी मौजूद थे. यह राज्य मंत्रिपरिषद द्वारा नवंबर, 2020 में राज्य में नि:शुल्क टीकाकरण कराए जाने के निर्णय के अंतर्गत फैसला लिया गया. निजी अस्पतालों में टीका लेने में लगने वाले शुल्क का भुगतान राज्य सरकार करेगी.


शुरूआत

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार तीसरे चरण के टीकाकरण अभियान की शुरूआत इंदिरा गांधी आयुर्विज्ञान संस्थान, शेखपुरा, पटना परिसर में सोमवार को किया. इस मौके पर मुख्यमंत्री, दोनों उप मुख्यमंत्री सहित अन्य पदाधिकारी भी कोरोना टीका का पहला डोज लिये। रविवार को स्वास्थ्य विभाग के प्रधान सचिव प्रत्यय मृत ने राज्य स्वास्थ्य समिति, बिहार के कार्यालय परिसर में आयोजित प्रेस कांफ्रेंस में इसकी जानकारी दी थी.मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने आज बिहार में टीकाकरण अभियान के तीसरे चरण की शुरुआत की. दोपहर के 1 बजे पटना स्थित आईजीआईएमएस ( IGIMS ) में नीतीश कुमार ने कोरोना वैक्सीन का पहला डोज़ लिया.उनके साथ बिहार के डिप्टी सीएम और किशोर प्रसाद और स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडे ने भी टीका लगवाया. इस मौके पर नीतीश कुमार ने बताया कि डॉक्टरों ने बताया है कि दूसरा डोज़ 28 दिन के बाद लेना है.इसलिए वे अपना दूसरा डोज़ 31 मार्च को लेंगे.वैक्सीन को लेकर विपक्ष द्वारा उठाए जा रहे सवालों पर उन्होंने कहा कि उन्हें नहीं मालूम कौन क्या कहता है लेकिन इतना जरूर है की भारत में बना कोरोना वैक्सीन बिल्कुल सेफ़ है.उन्होंने कहा कि बिहार में सभी लोगों को मुफ्त में टीका लगाया जाएगा.मुख्यमंत्री ने लोगों से अपील की कि वह कोरोना वैक्सीन जरूर लगवाएं.


संदेश

स्वदेशी वैक्सीन ‘कोवैक्सीन’ की डोज लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कई संदेश देने का काम किया है. दरअसल, इस वैक्सीन पर विपक्ष के कई नेता सवाल उठा चुके हैं. अब पीएम मोदी ने कोवैक्सीन की डोज लेकर विश्वसनीयता के संकट को दूर करने की कोशिश की, साथ ही आत्मनिर्भर भारत का नारा बुलंद किया है और लोगों से बढ़-चढ़कर वैक्सीनेशन कार्यक्रम में हिस्सा लेने की अपील की.

कोई टिप्पणी नहीं: