बिहार : राजद ने नीतीश के धृतराष्ट्र वाले पोस्टर जारी किया - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

सोमवार, 22 मार्च 2021

बिहार : राजद ने नीतीश के धृतराष्ट्र वाले पोस्टर जारी किया

nitish-dhritrashtr-postar-bihar
पटना : 22 मार्च,  बिहार दिवस के मौके पर एक बार फिर से पोस्टर की राजनीति शुरू हो गई है। इसकी शुरुआत राजद द्वारा की गई है। राजद द्वारा एक पोस्टर जारी किया गया जिसमें मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और उपमुख्यमंत्री रेणु देवी को धृतराष्ट्र बताया गया है। बिहार आज 109 साल का हो गया है। इस इस दौरान राज्य के राजनीति में कई उतार-चढ़ाव देखने को मिले कई सरकारों को बनते बिगड़ते और गठबंधन बनाते देखा गया। हालांकि वर्तमान में बिहार के विकास के गाड़ी भी रफ्तार के साथ बढ़ रही है। वहीं इस बीच इस बार बिहार दिवस के मौके पर विपक्षी पार्टियों द्वारा सरकार पर दबाव बनाया जा रहा है। बिहार दिवस के मौके पर राजद के तरफ से सड़क के मुख्य चौराहे पर एक पोस्टर लगाया गया है जिसमें खासकर नीतीश कुमार पर निशाना साधा गया है।इस पोस्टर में बिहार विधानसभा का मुख्य द्वार दिख रहा है जिसके आगे मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और उपमुख्यमंत्री रेणु देवी बैठी दिख रही है। इन दोनों की आंखों पर काली पट्टी बंधी है। इसके साथ ही पोस्टर पर एक बात जो भी लिखा दिखाई देता है जो इस प्रकार है कि “आइए धृतराष्ट्र रूपी बिहार सरकार में आपका स्वागत है” इसके अलावा पोस्टर में दोनों तरफ काफी सारी तस्वीरें लगी हैं जिनमें बिहार सरकार की खामियां दिखाई गई है। हाल के दिनों में पटना में हुए बड़े अपराध जैसे चैन लूट, एटीएम लूट संबंधी अपराधों का चित्र लगाकर सरकार पर निशाना साधा गया है। इसके साथ ही इस पोस्टर में आगामी विधानसभा घेराव को लेकर भी चर्चा की गई है।मालूम हो कि नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने कुछ दिन पहले ही विधानसभा घेराव को लेकर बातचीत करते हुए बताया था कि शराबबंदी में विफलता और राज में बढ़ते अपराध के मुद्दे को लेकर राजद 23 मार्च को विधानसभा घेराव करेगा। वही जानकारी हो कि इस दिन बिहार विधानसभा में गृह विभाग की तरफ से एक विधायक पर बहस की जाएगी इस विधेयक के तहत बिहार पुलिस को पूरा अधिकार मिलेगा कि वह अपराधी प्रवृत्ति के लोगों को त्वरित कार्रवाई कर गिरफ्तार कर सकें वही इस विधेयक को लेकर विपक्षी नेताओं ने विरोध भी जताया है और उनके द्वारा इसे काला कानून बताकर विरोध भी किया गया है।

कोई टिप्पणी नहीं: