झाबुआ (मध्यप्रदेश) की खबर 28 फ़रवरी - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

सोमवार, 1 मार्च 2021

झाबुआ (मध्यप्रदेश) की खबर 28 फ़रवरी

’ष्आजाद पुण्यतिथिष् पर सांसद ने किया महिला कोरोना योद्धाओ व समाजसेवियों का  सम्मान’

ऋआजाद जन्मतिथि का विवाद केंद्र सरकार से चर्चा कर हल करेंगे-सांसद डामरऋ

jhabua news
थांदला ।अमर शहीद चंद्रशेखर आजाद की 90 वी पुण्यतिथि पर थांदला तहसील पत्रकार संघ एवं  आजाद भूमि परिवार द्वारा आयोजित समारोह में क्षेत्र के सांसद श्री गुमानसिंह डामर द्वारा महिला कोरोना योद्धाओ व समाजसेवियों का सम्मान किया गया ।आयोजन में मुख्य अतिथि सांसद गुमानसिंह डामर, अध्यक्षता भाजपा प्रदेश मंत्री श्रीमती संगीता विश्वास सोनी व विशेष अतिथि के रूप में नगर पंचायत अध्यक्ष श्री बंटी डामर ने उपस्थित होकर स्वास्थ्य विभाग की 11,  थांदला तथा मेघनगर पुलिस विभाग की 10 महिला आरक्षको व  नगर पंचायत की 5 सफाई कर्मचारियों सहित 26 महिला कोरोना योद्धाओ व 7 समाज सेवियो का शील्ड प्रदानकर पुष्पमालाओं से सम्मान कर बधाई दी । 


’महिलाओं का सम्मान कर में गौरवान्वित हु’

सांसद श्री डामर ने इस अवसर पर समस्त महिला कोरोना योद्धाओ के कर्तव्य व साहस की सराहना करते हुए कहा कि उन्होंने अपनी जान की परवाह न करते हुए कोरोना आपदा में घर परिवार को छोड़कर ईमानदारी पूर्वक अपनी जवाबदारी का निर्वहन किया है वह स्वागत योग्य है आज उन्हें सम्मानित कर में स्वयं गौरवान्वित महसूस कर रहा हु । आयोजन संस्था बधाई की पात्र है । आयोजन की अध्यक्षता करते हुए भाजपा प्रदेश मंत्री श्रीमती संगीता विश्वास सोनी ने कहा कि कोरोना आपदा में महिलाओं ने अपने घर परिवार बच्चो की चिंता न करते हुए घर की व शासकीय सेवा की दोहरी जिम्मेदारी का निर्वहन किया है । पत्रकार संघ द्वारा इस अनूठे आयोजन में महिलाओं का सम्मान एक अच्छा प्रयास है । उन्होंने सभी महिला योद्धाओ का पुष्पमालाओं से स्वागत कर बधाई दी । 


’मेमो ट्रेन की रिजर्वेशन नीति में हो बदलाव’

इस अवसर पर नगर पंचायत अध्यक्ष बंटी डामर ने आयोजन की सराहना करते हुए सांसद से मांग की है कि उज्जैन दाहोद मेमो ट्रेन इस क्षेत्र के गरीबो की जीवन रेखा ट्रेन है परन्तु रेलवे प्रशासन द्वारा दाहोद से उज्जैन तक रिजर्वेशन ट्रेन बनाकर 3 अलग रुट बनाये है जिससे गरीब यात्रियों को व महाकाल भक्तो को तीन टिकट लेकर रतलाम, नागदा में डिब्बा बदलना पड़ेगा जिससे आमजन के सामने परेशानी होगी, इस रिजर्वेशन नीति में बदलाव किया जाकर एक टिकट प्रणाली लागू की जाए । इस मांग पर सांसद डामर ने कहा कि वे इस संबंध में डीआरएम से चर्चा कर हल करेंगे अगर आवश्यक हुआ तो रेल मंत्रालय से चर्चा करेंगे ।


’ष्आजादष् की ष्जन्मतिथिष्  विवाद सुलझाने की मांग’

कार्यक्रम के शुभारम्भ में संयोजक वरिष्ठ पत्रकार कुन्दन अरोड़ा ने स्वागत भाषण देते हुए सांसद श्री डामर से मांग की कि अविभाजित झाबुआ-अलीराजपुर की माटी के वीर सपूत शहीदे आजम ष्आजादष् की जन्मभूमि को लेकर लम्बे अरसे तक चला विवाद केंद्र की मोदीजी की सरकार ने सुलझाकर भाभरा को आजादनगर का दर्जा तो दे दिया है परन्तु आजाद की ष्जन्मतिथिष् आज भी विवाद का विषय बनी हुई है । इस विषय को स्पष्ट करते हुए कुन्दन अरोड़ा ने खुले मंच से सांसद को अवगत करवाया की केंद्र से लेकर उत्तरप्रदेश सरकार के इतिहास व रिकार्ड में आजाद की जन्मतिथि 23 जुलाई दर्ज है परन्तु उत्तरप्रदेश के बदरका, उन्नाव, भोति, कानपुर, लखनऊ, चैरीचैरा सहित अनेक स्थानों पर आजाद की जन्मतिथि आज भी 23 जुलाई के बजाय 7 जनवरी को मनाई जाकर इतिहास को बदलने का कुत्सित प्रयास कुछ तत्वों द्वारा किया जाकर आजाद भक्तो की भावनाओ को ठेस पहुचाई जा रही है यही नही इन स्थानों पर मौजूद स्मारकों के शिलालेखों पर भी 7 जनवरी जन्मतिथि व जन्मभूमि बदरका बताई गई है परन्तु उत्तरप्रदेश व केंद्र सरकार मोन होकर इसे विवादास्पद बना रहे है, में स्वयं 7 जनवरी के आयोजन में शामिल होकर कार्यक्रम देख चुका हूं । पिछले 40 वर्ष से आजाद भूमि का संपादन कर रहे कुन्दन अरोड़ा ने सांसद से मांग की है कि वे इस संबंध में लोकसभा में प्रश्न उठाकर इस विवाद का पटाक्षेप करे । वह दस्तावेज उपलब्ध कराने तैयार है । इस विषय को सांसद डामर ने गंभीरता से लेते हुए कहा कि अगर ऐसा हो रहा है तो यह गलत है उन्होंने मंच से आश्वस्त किया कि वह केंद्र व उत्तरप्रदेश सरकार के समक्ष यह बात पुरजोर तरीके से रख इस विवाद को हल करवाएंगे । कुन्दन अरोड़ा ने इस अवसर पर थांदला में सांसद निधि से पत्रकार भवन निर्माण की मांग रखी जिस पर उन्होंने आश्वस्त किया कि इस वर्ष सांसद निधि के आते ही वह इस कार्य हेतु राशि प्रदान करेंगे ।आयोजन के शुभारम्भ में अतिथियों द्वारा अमर शहीद आजाद की प्रतिमा पर माल्यार्पण किया तथा माँ शारदे के चित्र पर दिप प्रज्ज्वलित कर कार्यक्रम का शुभारंभ किया ।


’आयोजन में यह रहे मौजूद’

आयोजन में भाजपा जिला उपाध्यक्ष विश्वास सोनी, सांसद प्रतिनिधि दिलीप डामर, जिला पंचायत सदस्य राजेश वसुनिया, मंडल अध्यक्ष समर्थ उपाध्याय, सुनील पनदा, राजू गरवाल, आनंद राठौड़, पीटर बबेरिया, राजेन्द्र भट्ट, लायन्स क्लब अध्यक्ष बीएल गुप्ता,  क्षेत्र के पत्रकारगण रितेश गुप्ता, सुधीर शर्मा, कमलेश तलेरा, कमलेश जेन, हरीश पांचाल, कादर शेख, मनीष अहिरवार, आत्माराम शर्मा, मुकेश भट्ट, जावेद खान सहित  गणमान्य नागरिकगण, राजनीतिक दलों के कार्यकर्ता बड़ी संख्या में उपस्थित थे ।कार्यक्रम का संचालन राजेश वैद्य ने व आभार पत्रकार संघ अध्यक्ष मुकेश अहिरवार ने माना ।


’माल्यार्पण कर दी श्रद्धांजलि’

आयोजन के पूर्व प्रथम सत्र में प्रातः 9 बजे क्षेत्र के पत्रकारों, जनप्रतिनिधियों व गणमान्य नागरिकों ने तहसील पत्रकार संघ कार्यालय परिसर तथा आजाद चोक स्थित आजाद प्रतिमाओ पर माल्यार्पण कर श्रद्धांजलि दी ।


जिला स्तरीय प्रथम बॉक्सिंग कंपटीशन का हुआ समापन

  • बॉक्सिंग खिलाड़ी विजेंद्र सिंह, मैरीकॉम जैसी ऊंचाइयों को छुए-पुलिस अधीक्षक श्री गुप्ता

jhabua news
झाबुआ- चंद्रशेखर आजाद महाविद्यालय परिसर में शनिवार देर शाम ओपन जिला स्तरीय प्रथम  बॉक्सिंग कंपटीशन आयोजन का समापन हुआ। कार्यक्रम में विशेष रूप से आयोजन के अध्यक्षता के लिए झाबुआ पुलिस अधीक्षक आशुतोष गुप्ता विशेष अतिथि के रुप में उमंग सक्सेना , निलेश भानपुरिया उपस्थित रहे।झाबुआ में प्रथम बॉक्सिंग टूर्नामेंट का भव्य आयोजन किया गया। इस आयोजन में जिले के 100 से भी अधिक खिलाड़ियों ने भाग लिया अलग अलग भार वर्गों में दो दिवशीय 50 मुकाबले हुए।इन मुकाबलों में प्रथम आने वाले खिलाड़ियों को शील्ड व द्वितीय आने वाले खिलाड़ियों को मेडल से सम्मानित किया गया। समापन के अवसर पर एस पी आशुतोष गुप्ता ने संबोधित करते हुए कहा कि ग्रामीण क्षेत्रों में बॉक्सिंग के बहुत अवसर है।देश मे हॉकी कबड्डी के साथ-साथ बॉक्सिंग में भी हमारे झाबुआ जिले से कई हुनरमंद चेहरे राज्य एवं नेशनल लेवल पर खेल सकते हैं। बस जरूरत है तो सही समय पर उन्हें उचित मंच एवं खिलाड़ियों के हुनर की पहचान कर उन्हें ट्रेनिंग देने की। आने वाले समय में बॉक्सिंग को लेकर पुलिस विभाग द्वारा खेल भावना को देखते हुए हर संभव मदद की जाएगी।


’इन खिलाड़ियों ने रिंग में दिखाया दम ओर जीते’

20 किलोग्राम वेट वर्ग में प्रथम मयंक हरीश राठौड़ द्वितीय -राधेश्याम खराड़ी रहे। 30 किलोग्राम वेट वर्ग में उद्देश्य अर्जुन डाबर प्रथम रहे। 40 किलोग्राम वेट वर्ग में प्रथम सत्यम शेतान भूरिया झाबुआ व द्वितीय - कार्तिक रमेश भूरिया झाबुआ रहे। वेट 50 किलो वर्ग में प्रथम चिराग महेंद्र सिंह भिंडे झाबुआ द्वितीय - तरुण अर्जिन सिंह डाबर रानापुर रहे। 50 किलो वेट वर्ग में फेजन शेख प्रथम व 42 किलो वेट में प्रथम आशीष राजेश गरवाल द्वितीय - आनन्द  लक्ष्मण बामनिया रहे। 56 किलो वेट में प्रथम रशिमकांत कांतिलाल भूरिया झाबुआ द्वितीय - बबलू कालिया परमार पारा रहे। 44 किलो वेट में प्रथम रिषि ईतेश खतेडिया व द्वितीय - अनुराग पीटर भूरिया झाबुआ रहे। 40 किलो फीमेल बॉक्सिंग में प्रथम शाहीन जाकिर व द्वितीय - गायत्री पाटीदार रही। 40 किलो फीमेल में प्रथम ईशा रितेश मेडा झाबुआ द्वितीय - प्रियंका मचार थांदला। 46किलो में प्रथम तनीषा अनिल गरवाल थांदला द्वितीय -  मधुबाला किशन डाबर राणापुर रही। 60 किलो ग्राम में प्रथम शरोज गुड़िया झाबुआ सब जूनियर प्रथम - प्रियंका किशन डाबर राणापुर द्वितीय - मंजुला राजू डावर रानापुर रही।लिटिल बॉक्सिंग में  प्रथम - हंशिका अमरीश भावसार झाबुआ द्वितीय -  साक्षी करू अजनार रानापुर रही।56 किलो ग्राम वेट वर्ग में प्रथम आशीष पुनिया भूरिया झाबुआ द्वितीय - मयंक मुजाल्दा रानापुर रहे। 64 किलो ग्राम वेट में मोहित सुनील सिंगाड़ द्वितीय - उमेर जहूर मकरानी रानापुर रहे। 91 किलोग्राम वेट में प्रथम हिमांशू भामदरे रहे। बेस्ट बॉक्सर प्रभाव सिंह एस बी आई रानापुर प्रथम रहे। बेस्ट बॉक्सर - नंदिता सुनील झाबुआ द्वितीय - रक्षा राजेश पाटीदार रही। प्रतियोगिता समापन के दौरान सभी अतिथियों का स्वागत किया मुक्केबाजी के सैकड़ों शौकीन सुबह शाम को छह बजे तक इस प्रतियोगिता को देखकर तालियाँ बजाते रहे तथा खिलाड़ियों का सम्मान करते रहे। पुलिस कप्तान आशुतोष गुप्ता उमंग सक्सेना निलेश भानपुरिया द्वारा मैच विनर खिलाड़ियों को शील्ड एवं विशेष पुरस्कार देकर सम्मानित किया। सीनियर बॉक्सिंग चैंपियनशिप शील्ड  झाबुआ पुलिस को दी गई ।वहीं जूनियर बॉक्सिंग चैंपियनशिप शील्ड झाबुआ बॉक्सिंग संघ को दी गई। बेस्ट बॉक्सर का खिताब उमरकोट चैकी प्रभारी महेश भामदरे को दिया गया। बॉक्सिंग संघ झाबुआ द्वारा श्री मान को प्रतीक चिन्ह देकर उनका अभिनंदन किया गया।


’बॉक्सिंग कंपटीशन हुनर को लेकर सहयोग’

पुलिस अधीक्षक आशुतोष के सौजन्य से कंपटीशन में जीतने वाले प्रत्येक खिलाड़ी को शील्ड ट्रॉफी एवं मेडल दिए गए। वही शानदार आयोजन को देखते हुए सोना ट्रांसपोर्ट द्वारा नगदी राशि आयोजन समिति को बेहतर आयोजन करने के लिए दी गई।खेलों में अत्यधिक रुचि रखने वाले समाजसेवी उमंग सक्सेना द्वारा बॉक्सिंग कंपटीशन में रेगुलर प्रैक्टिस करने वाले खिलाड़ियों को बॉक्सिंग किट उपलब्ध कराने की बात कही गई। बॉक्सिंग कंपटीशन में  एन आई एस रेफरी  के रूप में अजय राओरिया जिला अलीराजपुर एवं  एन आई एस गौरव ठाकुर आगरा उत्तर प्रदेश से विशेष रूप से उपस्थित हुए। आयोजन में अति विशिष्ट अतिथि के तौर पर जिला बॉक्सिंग संघ के अध्यक्ष प्रकाश सिंह चैहान जिला उपाध्यक्ष सुनील वाजपेई सचिव दिनेश खराड़ी उपस्थित रहे आयोजन की मुख्य व्यवस्थापक सहयोग का किरदार संचालक महेश भामदरे ने किया आभार कोच दिनेश खराड़ी ने माना।


मातङ्गी धाम में वाषिर्क समारोह में हुआ श्री राकेश ऒर डॉ चंचल का भव्य सम्मान 


jhabua news
झाबुआ। मातङ्गी धाम के वार्षिक समारोह में मातङ्गी ट्र्स्ट के प्रमुख अध्यक्ष श्री राकेश त्रिवेदी और साहित्यकार डॉ रामशंकर चंचल का भव्य सम्मान किया समाज ने।कर्यक्रम का संचालन समाज के प्रख्यात संचालक प्रो के के त्रिवेदी ने किया ।आरम्भ में श्री राकेश जी और डॉ चंचल का विस्तार से परिचय समाज के सामने रखा । डॉ चंचल के सम्मान पत्र का वाचन श्री अजय रामावत ने किया वही श्री राकेश जी के सम्मान पत्र का वाचन श्री हैमन्द्र दिवेदी ने किया ।इस अवसर पर डॉ चंचल ने कविता का पाठ भी किया कार्यकम में समाज के वरिष्ठ पत्रकार श्री श्याम त्रिवेदी समाज के गणमान्य नागरिक श्री अम्बरीश त्रिवेदी ओमप्रकाश चतुर्वेदी आदि उपस्तिथि थे अंत मे श्री ओम प्रकाश चतुवेर्दी ने सबका आभार माना।


आजाद के बलिदान दिवस पर भाजपा ने दीप जलाकर श्रद्धांजलि दी


झाबुआ। 27 फरवरी 2021 के पुनीत अवसर पर शहीद शिरोमणि क्रांतिकारी चंद्रशेखर आजाद के बलिदान दिवस पर स्थानीय आजाद चैक ध्यावा को शाम 7ः00 बजे भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश कार्यकारिणी सदस्य दौलत भावसार के नेतृत्व में एवं पूर्व विधायक शांतिलाल बिलवाल के मुख्य अतिथि भाजपा पदाधिकारियों ने आजाद प्रतिमा पर दीप जलाकर तथा पुष्पांजलि अर्पित कर उनका पुण्यस्मरण कर भावभीनी श्रद्धांजलि अर्पित की इस अवसर पर भावसार ने संबोधित करते हुए कहा कि हमें आजाद के पद चिन्हों पर चलकर आजाद भारत में भी एक नई वैचारिक क्रांति का शंखनाद करना होगा क्योंकि देश के अंदर और देश के बाहर से कई चुनौतियां हमें मिल रही है देश का विभाजन करने वाली शक्तियां देश को विभक्त करने हेतु तत्पर हैं उनका समय नाच करने का आजाद के बाकी हमें संकल्प लेना होगा तभी देश की एकता अखंडता एवं संप्रभुता सुरक्षित बनी रहेगी इस अवसर पर आजाद को भावसार इन पंक्तियों से श्रद्धांजलि अर्पित की जननी जन्मभूमि स्वर्ग से महान है इसके वास्ते यह तन मन और प्राण है इसके रीजन में लिखा चंद्रशेखर आजाद का नाम है आजाद का नाम है। इस अवसर पर कार्यक्रम के मुख्य अतिथि पूर्व विधायक शांतिलाल बिलवाल ने संबोधित करते हुए कहा कि आज हमें हजरत का बलिदान दिवस मनाने का अवसर आजाद के कारण ही मिल रहा है सही मायनों में आजाद हमेशा आजाद रहे झाबुआ वर अलीराजपुर की माटी का नाम इसलिए भी पूरे देश विदेश में जाना चाहता है कि इस माटी में चंद्रशेखर आजाद जैसे वीर सपूत पैदा हुए निश्चित रूप से हम सबको आजाद के बताए गए हुए मार्ग पर चलकर एक नए भारत का निर्माण करना होगा बाल निकालने से ही आदिवासी समाज में राठौर बस गए थे यहीं उन्होंने निशानेबाजी सी की आजाद ने जो परिवेश धारण करा वह भी आदिवासी जिले की पहचान को प्रदर्शित करता है आजाद के बलिदान दिवस पर हम उन्हें शत शत नमन करते हैं इस अवसर पर उपस्थित स्थानी कबीरधाम जयंत बैरागी भैरव सिंह तरंग सरस शास्त्री आदि ने आजाद को श्रद्धांजलि देते हुए आजाद पर लिखी गई कविताओं का पाठ किया कार्यक्रम का संचालन शरद शास्त्री द्वारा किया गया आभार प्रदर्शन नगर मंत्री राजा ठाकुर द्वारा किया गया इस अवसर पर उपस्थित भाजपा कार्यकर्ताओं द्वारा चंद्रशेखर आजाद को श्रद्धांजलि देते हुए दीप जलाकर उनका पुण्य स्मरण किया उक्त कार्यक्रम में भाजपा के जिला उपाध्यक्ष अजय पोरवाल रमेश शर्मा अजय सोनी अंकुर पाठक जवान सिंह गुंडिया अभी भावसार सुनीता वर्मा शोभा कटारा श्रीमती मयूरी चैहान मीना राठौर निर्मला अजनार राजेश थापा प्रदीप गंगाना योगेश ना मार बंटी बृजवासी नरेंद्र जैन दीपक माहेश्वरी मांगीलाल भूरिया जयंत बैरागी भैरू सिंह तरंग शरद शास्त्री भारत बामनिया बिट्टू बामनिया अजय सोनी संजय सिकरवार हेलो सहित बड़ी संख्या में भाजपा कार्यकर्ता पदाधिकारी एवं जनता उपस्थित थी उक्त जानकारी भाजपा के जिला मीडिया प्रभारी योगेश नाहर ने दी।


जैविक खेती अपनाकर नगला निनामा आत्मनिर्भर बना


jhabua news
झाबुआ, 28 फरवरी 2021। झाबुआ जिले के पेटलावद तहसील के ग्राम सेमलकुडिया (मोहनकोट) के किसान श्री नगला पिता नाथा निनामा पहले परम्परागत फसलों की खेती करते थे - जैसे कपास, मक्का, गेहूॅं, सोयाबिन इत्यादि। जिससे फसलों की लागत भी निकाल पाना कठिन था। वे रेडियों पर नंदाजी, भेराजी समाचार सुनते रहते थे। जिससे उन्हें जैविक खेती के लिए प्रेरणा मिली। जडीबुटि औषधी पौधों के नाम लिखकर रखते थे और उसके अनुसार जैविक खेती करने लगे। सबसे पहले इंदौर में 5 दिन का प्रशिक्षण प्राप्त किया। आॅलविन कम्पनी में जैविक खेती के लिए प्रचार-प्रसार का कार्य किया। प्रशिक्षण प्राप्त कर जैविक खेती के संबंध में अच्छी खासी जानकारी हासिल की। 5 वर्ष किसान मित्र के रूप में जैविक खेती के क्षेत्र में कार्य किया। कृषि विभाग द्वारा उन्नत किसान के रूप में उनका चयन किया गया। वह पेटलावद तहसील में जैविक खेती के लिए किसानों को प्रेरित करने का कार्य किया। झाबुआ जिला मुख्यालय पर आयोजित प्रशिक्षण में भाग लिया। जिसमें भोपाल के अधिकारी ने जैविक खेती के लिए फार्म भरवाया। उसके बाद उनके खेत तथा फसल का निरीक्षण किया गया तत्पश्चात उन्हें जैविक खेती का प्रमाण पत्र प्रदाय किया गया। वह भोपाल में आयोजित 5 दिवसिय प्रशिक्षण में भाग लिया। एक बार शासन के खर्चे से प्रशिक्षण प्राप्त किया। उद्यानिकी विभाग की सलाह पर वर्ष 2015-16 में वर्मी कम्पोस्ट युनिट स्थापित की और अमरूद के पौधे लगाए। विभाग से अनुदान पर इलाहाबादी सफेद, लखनउ - 49 अमरूद की जैविक खेती ड्रिप के साथ शुरू की। जिससे 1 एकड़ क्षेत्र से 25 हजार से 30 हजार रूपये की आमदनी प्राप्त होती थी। साथ ही पपीता, गोभी, मिर्च, गेंदा, हल्दी की अन्तरवर्तीय (इंटरक्रोपिंग) फसल ली। जिस पर 20 से 25 हजार रूपये की लागत आ जाती है और उससे 1 लाख से 1 लाख 20 हजार रूपये की अतिरिक्त आमदनी प्राप्त कर लेते हैं। खेती में घर के ही सदस्य कार्य करते हैं। वे वर्षभर में 3 फसलें लेते हैं और 70 हजार रूपये खेती की लागत आती है। उन्हें 2 लाख रूपये की शुद्ध आय प्राप्त हो जाती है। अब उनके परिवार की आर्थिक स्थति एवं जीवन स्तर में बदलाव आया है और परिवार के लालन-पालन अच्छी तरह से करने के साथ ही बच्चों की पढ़ाई पर भी ध्यान दे पा रहे हैं।

कोई टिप्पणी नहीं: