मुकेश सहनी अपने भाई को एमएलसी बनाकर मंत्री पद दिलवाना चाहते हैं - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

रविवार, 7 मार्च 2021

मुकेश सहनी अपने भाई को एमएलसी बनाकर मंत्री पद दिलवाना चाहते हैं

mukesh-sahni-wants-his-brother-mlc-and-minister
पटना : अपने भाई को वीआईपी ट्रीटमेंट दिलाने को लेकर घिरे बिहार सरकार के पशु एवं मत्स्य मंत्री मुकेश सहनी ने तो अपनी सफाई मुख्यमंत्री के सामने पेश कर दी। इसके बाद मुख्यमंत्री ने भी कह दिया कि यह अनजाने में हुई गलती की इसे माफ कर दिया जाए। वहीं अब कुछ दिन बीतने के बाद इसमें एक नई बात निकल कर सामने आ रही है। दरअसल, हाजीपुर में आयोजित एक सरकारी कार्यक्रम में बिहार सरकार के मंत्री मुकेश साहनी खुद जाने के बजाय अपनी सरकारी गाड़ी से अपने भाई संतोष कुमार साहनी को भेज दिया जिसके बाद मामला प्रकाश में आया और उनको इस काम के लिए माफी भी मांगनी पड़ी। वहीं अब इससे जुड़ी जो बातें निकल कर सामने आ रही है उसके मुताबिक यह बताया जा रहा है कि मुकेश सहनी अपने भाई संतोष कुमार सहनी को एमएलसी बनाकर मंत्री पद दिलवाना चाहते हैं इसलिए वह अपनी जगह अपने भाई को उद्घाटन कार्यकर्म में भेज रहे हैं। सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार इस घटनाक्रम के बाद मुख्यमंत्री से मिलने के बाद मुकेश सहनी ने उनसे एक मांग भी रखी है। उन्होंने कहा है कि राज्यपाल कोटे से होने वाला एमएलसी मनोयन में वीआईपी की 1 सीट फिक्स है और वह इस सीट पर अपने भाई को भेजना चाहते हैं। वहीं कुछ राजनीतिक जानकार यह भी बताते हैं कि इस मांग के बाद नीतीश कुमार ने इस मामले में भाजपा को भी शामिल कर लिया है उन्होंने इस बात के लिए भाजपा के केंद्रीय स्तर पर भी बातचीत की है। बहरहाल , देखना यह है कि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार द्वारा मुकेश सहनी की मांग पूरी की जाती है या नहीं क्योंकि चुनाव के दौरान ही कहा दिया गया था की वीआईपी को 11 सीट के अलावा एक एमएलसी दिया जाएगा।

कोई टिप्पणी नहीं: