सीहोर (मध्यप्रदेश) की खबर 01 मार्च - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

सोमवार, 1 मार्च 2021

सीहोर (मध्यप्रदेश) की खबर 01 मार्च

भीषण जल संकट की आहट, प्रशासन बना हुआ है मूकदर्शक

  • शहर के लिए संरक्षित पीने के पानी की बेखौफ की जा रही है चोरी                              
  • पार्वती लासुडिय़ा काहिरी फिल्टर प्लांट मेन पाइप लाईन को किया क्षतिग्रस्त

sehore news
सीहोर। भीषण जल संकट की आहट शुरू हो चुकी है और जिला प्रशासन इस गंभीर मामले में मूकदर्शक बना हुआ है। पार्वती लासुडिय़ा काहिरी फिल्टर प्लांट मेन पाइप लाईन को कृषकों ने नपा कर्मचारियों की मदद से क्षतिग्रस्त कर दिया है। पार्वती नदी मेंं शहर के लिए सरंक्षित किए गए पानी की मेन सफलाई पाइप लाईन में लीकेज कर पानी की हर रोज बेखौफ चोरी की जा रही है। नपा पीएचई कर्मचारियों की मिली भगत से यह सब कुछ हो रहा है। कृषकों के द्वारा अवैधानिक रूप से पाईप लाईन के पास बड़ी खदाननूमा  तालाबों एवं अपनी जमीन पर स्थित कूओं में पानी जमा किया जा रहा है। धड़ल्ले से पानी चोरी कर जल संकट के हालात पैदा किए जा रहे है। यदी समय रहते पानी चोरी करने वालों के विरूध ठोस कदम नहीं उठाए गए तो भविष्य में सीहेार नगर को जल संकट से गुजरना होगा। गर्मी का मौसम निकट है शहर में पीने के पानी की अत्यंत आवश्यकता है सीहेार नगर पालिका काहिरी बंधान एवं लासुडिय़ा टीपी के कर्मचारियों एवं अधिकारियों की मिली भगत के चलते मेन पानी की सफ्लाई पाइप लाईन को क्षतिग्रस्त कर उस में बड़े बड़े छेद कर लीकेज कर पानी चोरी करने वालों के द्वारा बना दिए गए है। जिस की सहायता से आसपास के कृषक एवं नपा पानी की फिल्टर प्लांट के कर्मचारी स्वयं खेती कर चोरी के पानी से अवैधानिक रूप से सिंचाई कर रहे है। वरिष्ठ समाजसेवी महफूज बंटी ने कहा की शहर को जल सफलाई करने वाली महत्वकांक्षी पार्वती परियोजना के माध्यम से सीहोर की जनता को पानी उपलब्ध कराने के लिए काहिरी बंधान एवं लासुडिय़ा फिल्टर प्लांट की सहायता से मेन पाईप लाईन के जरिए सीहेार स्थित बाल बिहार पानी की टंकी एवं मंडी स्थित पानी की टंकी के साथ अन्य स्थानों पर भी सीहेार नगर पालिका जल प्रदाय योजना के अंतर्गत पानी की सफ्लाई पाइप लाईन से किया जाता है। समाजसेवी श्री बंटी ने शहर की जनता के हित में पानी चोरी रोकी जाने  और पानी चोरी करने एवं पानी चोरी में सहायता करने वाले नपा कर्मचारियो पर सख्त कार्रवाहीं किए जाने की मांग जिला प्रशासन सो की है इस संबंध में मुख्यमंत्री और नगरीय प्रशासन मंत्री को पत्र भी प्रेषित किया गया है। पानी चोरी करने वालों पर कार्रवाहीं नहीं की जाती है तो मजबूर होकर शहर के समाजसेवी और गणमान्य नागरिक आम जनता के साथ जन आंदोलन के लिए विवश होंगे।


छल से अमृत पीने वाले राहू का प्रभू ने किया था मर्दन शरीर को धक्के लग जाए आत्मा को नहीं लगना चाहिए- पंमोहित रामजी


sehore news
सीहोर। छल कपट से अमृत पीने वाले राहू का प्रभू ने मर्दन कर दिया था। प्रभू भाव के भूखे है शिव से हीं जगत है फिर भक्त को शिप से कुछ पाने के लिए छल कपट की आवश्यकता नहीं है। संसार सागर में संपूर्ण जीव आत्मा को अनेकों प्रकार की समस्याओं का सामना करना पड़ता है कई प्रकार के संकट आते हैं जहां तक की इस संसार सागर में रामकृष्ण भी आए हैं तो उन पर भी अनेकों संकट आए किंतु भगवान श्री कृष्ण भगवान श्रीराम ने शरीर पर संकट आने दिया आत्मा पर नहीं। शरीर को संसार के धक्के लगए जाए लेकिन आत्मा को नहीं लगना चाहिए उक्त विचार कथा व्यास संत श्री पंडित मोहित राम जी पाठक ने व्यक्त किए ब्रह्मपुरी कॉलोनी में चल रही सप्त दिवसीय श्री शिव महापुराण कथा के दौरान कथा व्यास संत श्री पाठक ने कहा की जिस प्रकार शिव पुराण के अनुसार ब्रह्मा विष्णु को भी मोह हो गया तब भगवान श्री शिव ने लिंग रूप में प्रकट होकर उनका अज्ञान दूर किया इसी प्रकार हम सब भी मोह माया में बंधे हुए हैं और भगवान श्री शिव के लिंग की पूजा करके हम इस मोह माया संसार सागर से पार हो सकते हैं इसलिए प्राणी मात्र को प्रात: मध्य काल संध्या हर समय भगवत नाम का स्मरण करते हुए सत्कर्म करना चाहिए।  आज की कथा में बड़े ही धूमधाम से भगवान शिव और माता पार्वती का विवाह महोत्सव मनाया जाएगा । श्री चमत्कारेश्वर महादेव कथा समिति ने संपूर्ण नगर वासियों को अधिक से अधिक संख्या में कथा में पधार के धर्म का लाभ लेने का आग्रह किया है।   


समय सीमा बैठक संपन्न


सोमवार 01 मार्च  को अपर कलेक्टर श्रीमती गुंचा सनोबर की अध्यक्षता में समय सीमा बैठक सम्पन्न हुई। बैठक में अपर कलेक्टर द्वारा सभी विभाग प्रमुखों को निर्देशित किया कि सीएम घोषणा, सीएम मॉनिट, सीएम डेशबोर्ड एवं सीएम हाउस से आये पत्रों पर समय से जवाब डालें व लंबित प्रकरणों को अद्यतन करें । सीएम हेल्पलाईन के 300 दिन पूर्व लंबित प्रकरणों को संतुष्टिपूर्ण बंद करने के व निरंतर अद्यतन करते रहने के निर्देश दिये। उन्होने से सभी को निर्देशित किया कि अपने विभाग के बकाया बिजली बिल जमा करायें एवं कमिश्नर द्वारा दिये गये सभी निर्देशों पर लापरवाही ना बरतते हुए समय सीमा में कार्यवाही की जाये। बैठक के उपरांत उसका पालन प्रतिवेदन सुनिश्चित करें अपर कलेक्टर ने समस्त अनुविभागीय अधिकारियों को निर्देशित किया कि राजस्व के बकाया राशि की समिक्षा करें व इसके उपरांत वसूली करें एवं बेहतर परिणाम लायें। सीएम किसान व भू अर्जन की प्रविष्टि समय से करें। उन्होने नगरपालिका का सीईओ को निर्देशित किया कि स्वच्छता सर्वेक्षण हेतु मार्च में टीम आयेगी, साफ-सफाई, डोर टू डोर कलेक्शन आदि पर बैठक करें‍ सर्वेक्षण के लिए जमीनी स्तर पर भ्रमण कर व्यवस्था ठीक करें। बैठक में  समस्त विभाग प्रमुख उपस्थित थे।


60 वर्ष से अधिक के कोविड टीकाकरण का शुभारंभ, पं. प्रथ्वीवल्लभ दुबे को टीकाकरण के साथ हुआ


sehore news
जिला अस्पताल में 01 मार्च 21 को कोविड-19 टीकाकरण के अतंर्गत वरिष्ट नागरिकजन टीकाकरण सत्र का प्रारंभ किया गया उक्त टीकाकरण कार्यक्रम का शुभारंभ नगर पुरोहित पं. प्रथ्वीवल्लभ दुबे के टीकाकरण के साथ प्रारंभ हुआ। इस अवसर पर मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी  डॉ. श्री सुधीर डेहरिया, एवं डॉ. सिविल सर्जन डॉ. श्री आनन्द शर्मा उपस्थित थे। इस अवसर पर प्रथ्वीवल्लभ दुबे ने नागरिकों से अपील की है कि वैक्सीन लगवायें यह पूर्णत: सुरक्षित है।


45 से 60 वर्ष आयु तक के लोगों को वैक्सीन लगवाने के लए भरना होगा फॉर्म

1 मार्च 21 को जिला अस्पताल में 60 वर्ष से अधिक उम्र के व्यक्तियों का कोविड टीकाकरण प्रारंभ हो गया । यह टीकारण प्रात: 10.30 बजे से ही प्रारंभ हुआ इसमें वरिष्ठ नागरिकाजनों में रूझान देखा गया। इसके साथ ही 45 से 60 वर्ष के उम्र के लोगों का भी टीकाकरण होना है, उल्लेखनीय है कि इसमें ऐसे व्यक्तियों का टीकारकरण किया जायेगा जो "‍िडसीज 19 प्राथमिकता टीकाकरण" की 20 चिन्हित बीमारियों में से एक से भी पीड़ित हों। इसके लिए "एमसीआई" रजिस्टर्ड डॉक्टर का मय सील और रजिस्ट्रेशन प्रमाण लाना आवश्यक होगा ।  


सूखा राहत प्रकोष्ठ कन्ट्रोल रूम स्थापित


आगामी ग्रीष्म सीजन में सूखा रहात के तहत पेयजल संबंधी और शिकायतों के त्वरित निराकरण के लिए जिला स्तर पर कन्ट्रोल रूम बनाया गया है।  संबंधित विभागीय शासकीय सेवकों को उक्त सूचनायें प्रेषित करने, प्राप्त सूचनाओं पर की गई कार्यवाही का विवरण संकलित करने, एवं ग्रामीण पेयजल व्यवस्था की मानीटरिंग से संबंधित समस्त आवश्यक जानकारी संकलित करने के कार्य के लिए लोक स्वास्थ्य यांत्रिकीय विभाग सीहोर के अन्तर्गत सूखा-राहत प्रकोष्ठ-2021 (कन्ट्रोल रूम) का गठन किया गया । यह प्रकोष्ठ दो पारियों में कार्यरत रहेगा। सूखा-राहत प्रकोष्ठ-2021 में किसी भी माध्यम (दूरभाष/व्यक्तिगत/आवेदन/पत्र इत्यादि) से प्रविष्ठि संधारित की जायेगी। सूखा राहत प्रकोष्ट 2021 का दूरभाष क्रमांक- 07562-224092. प्रकोष्ठ प्रभारी श्री ए.के.कोरी "सहायक मानचित्रकार" 7566675442, प्रथम पारी प्रात: 08.00 बजे से 02.00 बजे दोपहर तक श्री मेहबूब‍ खान मो.- 9977310130, द्वितीय पारी समय दोपहर 02.00 से 08.00 बजे रात्रि तक श्री शिवांग ओझा मो.- 9644877220, कार्यालयीन अवकाश के दिवस में प्रात: 09.00 बजे से 06.00 बजे रात्रि श्री गणेश सोनी मो.- 9425682161


अवैध मदिरा कारोबार के विरूद्ध चलाया जा रहा है विशेष अभियान


sehore news
म.प्र. आबकारी आयुक्‍त के अवैध मदिरा कारोबार के विरूद्ध विशेष अभियान चलाए जाने के निर्देश के अनुक्रम में तथा अन्‍य स्‍थानों में अवैध मदिरा कारोबार से हुई जनहानियों को देखते हुए कलेक्‍टर श्री अजय गुप्‍ता निर्देशानुसार जिला आबकारी अधिकारी श्रीमती कीर्ति दुबे के निर्देशन में जिला सीहोर के विभिन्न स्थानों में 22 फरवरी से 28 फरवरी 21 तक अवैध मदिरा कारोबार के विरूद्ध म.प्र. आबकारी अधिनियम 1915 की विभन्‍न धाराओं के  अंतर्गत 16 प्रकरण कायम कर 11 व्‍यक्तियों को गिरफतार किया गया। इन प्रकरणों में 2.2 बल्‍क लीटर देशी मदिरा, 43 ली. हाथ भट्टी कच्‍ची मदिरा तथा 2355 किग्रा महुआ लहान को जप्‍त किया गया इस कार्यवाही के अतिरिक्त जिला सीहोर के कई संदिग्ध स्थलों एवं ढाबों की तलाशी ली गई एवं क्षेत्र के कोटवारों के साथ मिलकर ग्रामीणों को अवैध स्त्रोतों से प्राप्त मदिरा के सेवन करने से होने वाले दुष्परिणामों से भी अवगत करवाया। इस कार्यवाही में सहायक जिला आबकारी आबकारी अधिकारी श्री अमिताभ जैन, आबकारी उपनिरीक्षक श्री प्रहलाद सिंह मीना व सुश्री शारदा करोलिया, मुख्‍य आबकारी आरक्षक तथा आबकारी आरक्षक का सराहनीय योगदान रहा।


बिजली कर्मियों से मारपीट पर होगी एफ.आई.आर


 बिजली के मैदानी कर्मचारियों और अधिकारियों को ड्यूटी के दौरान असामाजिक तत्वों द्वारा मारपीट/ दुर्व्यवहार की घटनाओं को गंभीरता से लेते हुए मध्य क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी ने तुरन्त एफ.आई.आर. कराने के निर्देश दिए हैं।  कंपनी ने कहा है कि प्रायः देखने में आ रहा है कि बिजली कर्मियों पर ड्यूटी के दौरान असामाजिक तत्वों द्वारा मारपीट/दुर्व्यवहार किया जा रहा है। चूंकि ऐसी घटनाएं विद्युत अधिकारियों और कर्मचारियों का मनोबल गिराती हैं, इसलिए कंपनी के कार्यक्षेत्र में कार्यरत सभी नियंत्रणकर्ता अधिकारियों को निर्देशित किया गया है कि मैदानी अधिकारियों/कर्मचारियों के साथ होने वाली दुर्व्यवहार या मारपीट की घटनाओं को पूरी गंभीरता से लिया जाए।  मध्य क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी ने ड्यूटी पर तैनात अधिकारियों/कर्मचारियों से दुर्व्यवहार या मारपीट के मामलों को शासकीय कामकाज में बाधा डालने के तौर पर लिया जाकर तुरंत कानूनी कार्यवाही के निर्देश दिए हैं। कंपनी ने कहा है कि चालू रबी सीजन में बिजली आपूर्ति की विषम परिस्थिति में निष्ठापूर्वक काम कर रहे अधिकारियों/कर्मचारियों का मनोबल नीचा करने की इजाजत किसी को भी नहीं दी जा सकती है। कंपनी ने मैदानी अधिकारियों/कर्मचारियों से कहा है कि विद्युत आपूर्ति की स्थिति पर लगातार नजर रखें और जिले के कलेक्टर/पुलिस अधीक्षक से संपर्क कर किसी भी अप्रिय स्थिति में उनसे आवश्यक सहयोग प्राप्त करें। इस संबंध में मैदानी महाप्रबंधकों/उपमहाप्रबंधकों को निर्देशित किया गया है कि वे अपने कार्यक्षेत्र में विगत 5 वर्ष में कंपनी के अधिकारियों/कर्मचारियों के साथ हुई मारपीट (घातक/अघातक) मामलों में पुलिस थाने में दर्ज/कोर्ट में विचाराधीन मुकदमों की समीक्षा करें।  


आज कोई भी व्यक्ति  की कोरोना जांच रिपोर्ट पॉजीटिव प्राप्त नहीं हुई, वर्तमान में कोरोना एक्टिव/पॉजीटिव की संख्या 25


मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. सुधीर कुमार डेहरिया ने बताया कि पिछले 24 घंटे के दौरान किसी भी  व्यक्ति की कोरोना जांच रिपोर्ट पॉजीटिव प्राप्त नहीं हुई है। संक्रमि‍त सभी सीहोर शहरी क्षेत्र से है। वर्तमान में जिले में एक्टिव/पॉजिटिव की संख्या 25 है। आज 04 व्यक्ति रिकवर हुए है, अब तक कुल रिकवर की संख्या 2770  है। 48 संक्रमितों की उपचार के दौरान मृत्यु हुई है। आज 230 सैम्पल लिए गए है। जांच के लिए सीहोर शहरी क्षेत्र से 17,  नसरूल्लागंज 20, आष्टा से 105, इछावर से 35, श्यामपुर से 24,  बुदनी से 29 सैम्पल लिए गए है ।  आज पॉजीटिव मिले नए कंटेनमेंट जोन सहित समस्त कंटेनमेंट एवं बफर जोन में स्वास्थ्य दलों द्वारा सघन स्वास्थ्य सर्वे किया जा रहा है। वहीं पॉजीटिव मिले व्यक्तियों के करीबी संपर्क वाले व्यक्तियों की पहचान कर उनकी सूची तैयार की जा रही है। प्रत्येक कंटेनमेंट जोन में सर्वे के लिए एक से दो दल लगाए गए है । सर्वे दल के प्रभारी चिकित्सा अधिकारियों को बनाया गया है तथा स्वास्थ्य सर्वे दल में ए.एन.एम. आशा कार्यकर्ता, आंगनबाडी कार्यकर्ताओं की ड्यूटी लगाई गई है। जिले में कुल कोरोना पॉजीटिव व्यक्तियों की संख्या 2843 है जिसमें से 48 की मृत्यु हो चुकी है 2770 स्वस्थ होकर डिस्चार्ज हो गए है तथा वर्तमान में एक्टिव/पॉजीटिव की संख्या 25 है। आज 230 सैंपल जांच हेतु लिए गए। कुल जांच के लिए भेजे गए सेंपल 74998 हैं जिनमें से 71076 सेंपलों की रिपोर्ट निगेटिव आई है। आज 140 सेंपलों की रिपोर्ट निगेटिव आई है। कुल 1008 सेंपलों की रिपोर्ट आना शेष है। पैथालॉजी द्वारा कोरोना वायरस सेंपल की रिजेक्ट संख्या कुल 71 है। आज पॉजिटिव मिले नये कन्टेनमेंट झोन सहित समस्त कन्टेनमेंट एवं बफर जोन मे स्वास्थ्य दलों द्वारा स्वास्थ्य सर्वे किया जा रहा है वहीं पॉजिटिव मिले व्यक्तियों के करीबी संपर्क वाले व्यक्तियों की पहचान कर उनकी सूची तैयार की जा रही है। प्रत्ये कन्टेनमेंट जोन मे सर्वे के लिए जिले में जो व्यक्ति होम क्वारंटाइन में है उनके निवास स्थान से सीधे संवाद हेतु जिला स्तरीय कोविड-19 काल सेंटर स्थापित किया गया है जिसका संपर्क नंबर-07562 226470 है एवं 1075 नंबर पर कॉल कर जानकारी ली जा सकती हैं। जिला स्तर पर मोबाइल नंबर 9425400273, 9425400453, 9479595519 पर कॉल सेंटर पर संपर्क किया जा सकता है। राज्य स्तर पर 104/181 नंबर पर काल करके भी टेलीमेडिसीन सेवा का लाभ लिया जा सकता है। 104 नंबर पर ई-परामर्श सेवा का भी लाभ लिया जा सकता है। होन कारोन्टाइन व्यक्तियों तथा उनके परिजनों के लिए हल्पलाईन नंबर 18002330175 जारी किया गया है। होम कारान्टाइन व्यक्ति अथवा उनके परिजन इमोशनल वेलनेस अथवा साईकॉलोजीकल सपोर्ट एवं अन्य जरूरी परामर्श मानसिक सेवा प्रदाताओं से नि:शुल्क प्राप्त कर सकते है।  

कोई टिप्पणी नहीं: