सीहोर (मध्यप्रदेश) की खबर 13 अप्रैल - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

मंगलवार, 13 अप्रैल 2021

सीहोर (मध्यप्रदेश) की खबर 13 अप्रैल

पोलोटेनिक कॉलेज में मनाई जाएंगी बाबा साहब की जयंती, डॉ अम्बेडकर की प्रतिमा पर आज किया जाएगा माल्यार्पण


सीहोर। दानवीर भोलाराम तरन बांगरे स्मृति जनकल्याण सोसायिटी द्वारा बुधवार को शासकीय पोलोटेनिक कॉलेज में डॉ बाबा साहब अम्बेडकर की जयंती मनाई जाएगी। दानवीर भोलाराम तरन बांगरे स्मृति जनकल्याण सोसायिटी सचिव श्रीमति शैलनिधि बांगरे ने बताया की की समिति के द्वारा कॉलेज में स्थापित डॉ बाबा साहब अम्बेडकर की प्रतिमा पर जयंती के उपलक्ष्य में बुधवार सुबह 8 बजे डॉ अम्बेडकर जी की प्रतिमा पर माल्यार्पण किया जाएगा।


सेवादल कांग्रेस के द्वारा जयंती पर डॉ बाबा साहब, अम्बेडकर की प्रतिमा पर किया जाएगा माल्यार्पण


सीहोर। सेवादल कांग्रेस के द्वारा वार्ड क्रमांक ११ गंज स्थित डॉ अम्बेडकर पार्क में शिक्षा के अग्रदूत भारत रत्न डॉ बाबा साहब अम्बेडकर की १३० वीं जयंती बुधवार दोपहर एक बजे मनाई जाएगी। जिला सेवादल अध्यक्ष नरेंद्र खंगराले ने बताया की की कार्यक्रम कोरोना गाइड लाईन के तहत होगा। कार्यक्रम में प्रमुख रूप से जिला कांग्रेस कमेटी अध्यक्ष बलबीर तोमर, पूर्व नगर पालिका अध्यक्ष सीहेार मध्य प्रदेश कांग्रेस सेवादल प्रदेश सचिव राकेश राय, दर्शन सिंह वर्मा, राजाराम बडेभाई डॉ अनीस खान सीताराम भारती मांगीलाल टिमरई आदि शामिल होंगे।


खुशियों की दास्तां : कोरोना काल में मनवता की सेवा को सबसे बडा धर्म मानती है एएनएम मीना

  • दस हजार से अधिक लोगों का टीकाकरण कर चुकी है मीना सोनी

sehore news
सीहोर 13 अप्रैल, मानवता की सेवा से बड़ा कोई धर्म नहीं है। मुझे ईश्वर ने यह सौभाग्य दिया है कि कोरोना से पीड़ित लोगों की सेवा कर सकूं। मुझे लोगों की सेवा का जो अवसर मिला है मैं इस अवसर का एक.एक पल सेवा में लगाउंगी। यह कहना है जिला चिकित्सलाय स्थित कोविड-19 टीकाकरण का कार्य कर रही एएनएम श्रीमती मीना सोनी का। उन्होंने अभी तक 10 हजार से अधिक लोगों को कोविड का टीका लगा चुकीं हैं। श्रीमती मीना सोनी विगत एक वर्ष के अपने अनुभव साझा करते हुए बताया कि जब कोविड पाॅजिटीव रिर्पोट आती हैए तो वह व्यक्ति और परिवारिजन नर्वस हो जाते हैं। पीड़ित को इलाज के साथ ही परिजनों संबल देना पड़ता है कि सब ठीक होगाए आप चिन्ता न करें। हम है इलाज और उसकी सेवा के लिये। जब पिछले साल कोरोना संक्रमण फलना शुरू हुआ था तब मैने तब मैंने घर घर जाकर सर्वे किया था। सर्वे के दौरान कई लोग ऐसे भी मिले जिन्हें विश्वास दिलाना कठिन होता था उनकी स्वास्थ्य सुरक्षा के लिए कर रहे हैं। मैंने कन्टेमेंट एरिये में जांच और दवा वितरित की है। अब कोरोना के लेकर जागरूकता आयी है। लोग स्वयं अपना सैंपल देने आ रहे हैं। पिछले एक साल में कई लोग स्वस्थ्य होकर अस्पताल से जाते समय वे और उनके परिजन ढेरों दुआएं देते हैं। उनकी दुआएं मेरे लिए अनमोल है। मीना सोनी बताया कि अभी तक 10 हजार से अधिक लोगों को कोविड का टीका लगा चुंकी हूं। उन्होंने बताया कि आरंभ के कुछ दिनों में जो लोग टीका लगवाने आ रहे थे उनके मन में थोड़ा संसय था लेकिन जब टीके के महत्व के बारे बताया गया तो उनकी चेहरे में चमक आ जाती थी। अब तो कोविड टीकाकरण के लिये उत्सव जैसा महौल है। सभी टीका लगाने के लिये आतुर हैं। लोगों का उत्साह और स्वाथ्य अमले के मनोबल को देखकर यह निश्चित है कि कोरोना पर जल्द विजय लेंगे।  


कलेक्टर ने किया नसरुल्लागंज में कोविड-19 टीकाकरण केन्द्र का निरीक्षण ,  जनप्रतिनिधियों के साथ की बैठक


jhabua news
जिले में कोरोना संक्रमण की रोकथाम के लिए  कलेक्टर श्री अजय गुप्ता ने नसरुल्लागंज में कोविड-19 टीकाकरण केंद्र का निरीक्षण किया तथा रोको-टोको अभियान का जायजा लिया। उन्होंने टीकाकरण केंद्रों के निरीक्षण के दौरान टीकाकरण में लगे हमले से कहा कि जो लोग कोविड-19 लगवाने आ रहे हैं उन्हें किसी तरह की कोई परेशानी ना हो इस बात का विशेष ध्यान रखा जाए।  इसके साथ ही उन्हें बताया जाए कि टीका लगवाने के बाद भी मास्क लगाना है और सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करना है। उन्होंने सभी अधिकारियों को निर्देश दिए कि कोविड-19 की गाइडलाइन का पालन सुनिश्चित करने के लिए रोको-टोको अभियान को प्रभावी ढंग से चलाया जाए लोगों को मास्क लगाने के लिए जागरूक किया जाए । कलेक्टर श्री गुप्ता ने जनप्रतिनिधियों और नागरिकों के साथ बैठक कर कोरोना संक्रमण रोकने के लिए कोविड-19 गाइडलाइन का पालन सुनिश्चित करने तथा रोको-टोको अभियान को और अधिक प्रभावी बनाने के संबंध में चर्चा की। उन्होंने लोगों से मास्क लगाने एवं सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करने तथा अपने हाथों को सेनेटाईजर की की अपील की। इसी प्रकार अपर कलेक्टर श्रीमती गुंचा सनोबर तथा मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत श्री हर्ष सिंह ने जावर में अस्पताल का निरीक्षण किया व टीकाकरण की जानकारी ली। इस दौरान उन्होंने लोगों को समझाया कि बहुत जरुरी होने पर ही अपने घर से बाहर नहीं निकले एवं शासन के निर्देशों का पालन करें। उन्होंने स्थानीय जनप्रतिनिधियों और नागरिकों से भी भेंट की। इस अवसर पर नसरुल्लागंज एसडीएम दिनेश तोमर सहित अन्य अधिकारी उपस्थित थे।


कोरोना नियंत्रण के लिए हो रही दिन रात समीक्षा

  • प्रदेश को करीब 22 हजार रेमडेसिविर इंजेक्शन की आपूर्ति आगामी 3 दिन में लगेगी 15 लाख को वैक्सीन मुख्यमंत्री श्री चौहान ने जिलों के प्रभारी अधिकारियों से मांगा प्रतिवेदन

मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि प्रदेश में कोरोना के संक्रमण को रोकने के लिए पिछले एक सप्ताह से की गई अनेक व्यवस्थाओं के फलस्वरूप तेजी से सुधार की स्थिति बन रही है। जाँच, उपचार, देखभाल की सभी आवश्यक सुविधाएँ बढ़ाने और सावधानियों पर अमल किए जाने  से नागरिकों को राहत मिल रही है। लगातार की गई विस्तृत समीक्षा का ही परिणाम है कि अब धीरे-धीरे पॉजिटिव प्रकरणों की संख्या भी कम होगी। जन-सहयोग से कोरोना पर नियंत्रण कर हम विजयी होंगे। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने मंत्रालय में राज्य में कोरोना की स्थिति की समीक्षा की।


प्रभारी अधिकारी व्यवस्थाएँ दुरस्त करवाएँ

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने प्रभारी अधिकारियों से जिलों में किये गये भ्रमण और प्रभार के जिले में कोरोना की स्थिति के संबंध में प्रतिवेदन मांगा। उन्होंने प्रभारी अधिकारियों को निर्देश दिये कि उनके भ्रमण के पश्चात जिलों में व्यवस्थाएँ दुरस्त होना चाहिए। कोविड केयर सेंटर के संचालन और होम आइसोलेशन व्यवस्था की नियमित मानिटरिंग की जाए। जिले के अस्पतालों में उपलब्ध बिस्तर क्षमता की जानकारी भी सार्वजनिक की जाए। प्रत्येक नागरिक, जन-प्रतिनिधि और मीडिया प्रतिनिधियों को व्यवस्थाओं से अवगत कराया जाये। इस अवसर पर चिकित्सा शिक्षा मंत्री श्री विश्वास सारंग, मुख्य सचिव श्री इकबाल सिंह बैंस, पुलिस महानिदेशक श्री विवेक जौहरी उपस्थित थे। स्वास्थ्य मंत्री डॉ. प्रभुराम चौधरी बैठक से ऑनलाइन जुड़े।


प्रदेश में पर्याप्त है रेमडेसिविर इंजेक्शन

रेमडेसिविर की सुगम उपलब्धता सुनिश्चित करने के लिए शासन द्वारा हर संभव प्रयास किए गए हैं। रेमडेसिविर निर्माताओं को मध्यप्रदेश में उक्त औषधि की सप्लाई बढ़ाने के निर्देश दिए गए हैं। शासन का प्रयास है कि सभी को जरूरत के अनुसार उचित दाम पर रेमडेसिविर इंजेक्शन की उपलब्धता सुगम हो। इसकी कालाबाजारी एवं अवैध विक्रय न हो। समस्त औषधि निरीक्षकों को निर्देश जारी किए गए हैं। इसके अनुपालन में औषधि निरीक्षकों ने दो दिन में कुल 476 निरीक्षण किये। एम.आर.पी. से अधिक मूल्य पर बिक्री एवं कालाबाजारी पर प्रभावी नियंत्रण के प्रयास किए जा रहे हैं। औषधि निरीक्षकों द्वारा रेमडेसिविर इंजेक्शन की आपूर्ति एवं वितरण पर सतत् निगरानी रखी जा रही है। रेमडेसिविर इंजेक्शन का वितरण केवल अस्पताल एवं संस्थानों में हो ऐसी व्यवस्था भी की गई है, ताकि अस्पतालों में भर्ती मराजों को सुलभता से इंजेक्शन उपलब्ध हो सके। शासन द्वारा प्रदेश के समस्त मेडिकल कॉलेजों, जहाँ सर्वाधिक मरीजों का इलाज किया जा रहा है, के लिए पृथक से इस इंजेक्शन की 5 हजार यूनिट की आपूर्ति की गई है। प्रदेश में आज कुल 21 हजार 862 यूनिट की आपूर्ति की गई है।


ऑक्सीजन व्यवस्था

ऑक्सीजन की निर्बाध सप्लाई सुनिश्चित करने के लिए इसके निर्माताओं एवं डिस्ट्रीब्यूटर्स से सतत् संपर्क किया जा रहा है। वर्तमान में ऑक्सीजन सप्लाई की कोई कमी नही हैं। प्रदेश में वर्तमान में लगभग 244 मेट्रिक टन ऑक्सीजन प्रतिदिन की उपलब्धता है। प्रदेश में ऑक्सीजन के परिवहन के लिए टेंकरों की संख्या बढ़ायी जा रही है। अन्य राज्यों से भी ऑक्सीजन की आपूर्ति बढ़ाने के लिए अनुरोध किया गया है। ऑक्सीजन के इण्डस्ट्रीयल उपयोग को सीमित करके सर्वप्रथम ऑक्सीजन की उपलब्धता सुनिश्चित की जा रही है। अस्पतालों एवं संस्थानों में अपव्यय एवं बर्बादी को रोकने के लिए भारत शासन से प्राप्त दिशा-निर्देशों से सर्व संबंधितों को अवगत कराया गया है।


आगामी 3 दिन में लगेगी 15 लाख को वैक्सीन

मध्यप्रदेश में कोरोना संक्रमण के नियंत्रण के लिए वैक्सीनेशन का कार्य बखूबी हो रहा है। आगामी 3 दिन में 15 लाख नागरिकों को वैक्सीन लगाने का लक्ष्य है। प्रदेश में अब तक 54 लाख 89 हजार 191 लोगों को वैक्सीन के डोज लग चुके हैं।


ग्रीन इण्डिया मिशन योजना में 500 ग्रामीण युवाओं को विभिन्न क्षेत्रों में किया जायेगा प्रशिक्षित


वन विभाग द्वारा ग्रीन इण्डिया मिशन के जरिये ग्रामीण युवाओं को कौशल उन्नयन का प्रशिक्षण दिया जाकर रोजगार के अवसर उपलब्ध कराये जायेंगे। प्रदेश में इस तरह की 14 प्रशिक्षण कार्यशालाएँ आयोजित करने का निर्णय लिया गया है। इनमें तकरीबन 500 ग्रामीण युवाओं को विभिन्न क्षेत्रों में प्रशिक्षण दिलाया जायेगा। उल्लेखनीय है कि राष्ट्रीय स्तर पर भारत की आजादी के 75 वर्ष को समारोह पूर्वक मनाने के लिये ’आजादी का अमृत महोत्सव’’ 12 मार्च से शुरू हो चुका है। इसी कड़ी में वन विभाग द्वारा ग्रीन इण्डिया मिशन के अंतर्गत चयनित लैण्डस्केप में ग्रामीण युवाओं के लिये प्रशिक्षण कार्यशालाएँ आयोजित की जा रही हैं। ग्रीन इण्डिया मिशन योजना में पहला प्रशिक्षण होशंगाबाद वन मण्डल के वन ग्राम भातना में शुरू किया गया है। डेढ़ महीने के इस प्रशिक्षण में ग्राम रांझी, भातना और लालपानी के 35 जनजाति के युवक-युवतियों को असिस्टेंट, हेल्पर, इलेक्ट्रीशियन और मोटर बाइंडिंग का प्रशिक्षण दिलाया जा रहा है। इसी तरह दूसरा चरण वन मण्डल पश्चिम बैतूल के ग्राम खामापुर रंजे-चिचोली में 3 अप्रैल से शुरू हो गया है। दो महीने चलने वाले प्रशिक्षण में जनजाति के 30 युवक-युवतियों को डाटा एन्ट्री ऑपरेटर और कम्प्यूटर ऑपरेटर की विधा से प्रशिक्षित कराया जा रहा है।


तनाव से मुक्ति दिलाने और भावनात्मक सहयोग देने में मददगार साबित हो रही है हेल्पलाइन 1800-233-0175

  • कोरोना के कारण अवसादग्रस्त व्यक्तियों के परिजनों को मनोवैज्ञानिक परामर्श, स्वास्थ्य विभाग की हेल्पलाइन सक्रिय

कोविड-19 कोरोना वायरस संक्रमण से उपजे संकट और लॉकडाउन का प्रभाव व्यक्ति की जीवनशैली के साथ साथ मानसिक स्वास्थ्य पर भी पड़ा है। इन परिस्थितियों में आमजन तनावग्रस्त और अवसादग्रस्त न हों इसके लिए आमजनों को मनोवैज्ञानिक परामर्श हेल्पलाइन की सुविधा उपलब्ध कराई जा रही है।  स्वास्थ्य विभाग की हेल्पलाइन नंबर 1800-233-0175 पर कॉल करके व्यक्ति मनोवैज्ञानिक परामर्श ले सकता है। यह सुविधा लोक स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग द्वारा राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन के तहत संचालित की जा रही है। संस्थागत क्वारंटाइन या होम आइसोलेट किए गए व्यक्तियों और उनके परिजनों को भी इस सुविधा के जरिए अपनी मनोवैज्ञानिक परेशानी का समाधान विशेषज्ञों द्वारा प्राप्त हुआ है। लॉकडाउन के कारण अकेलेपन या एक ही स्थान पर रहने के कारण अवसादग्रस्त हुए लोगों ने भी अपने मन की बात विशेषज्ञों से साझा की और उन्हें तनावमुक्ति के लिए उचित परामर्श दिया गया है। मनोवैज्ञानिक परामर्श हेल्पलाइन पर कॉल करने वाले लोगों के साथ कोरोना संक्रमण से बचाव के तरीके भी साझा किए जाते हैं। साथ ही उन्हें यह भी बताया जाता है कि संक्रमण से बचते हुए क्वारंटाइन या आइसोलेट किए गए व्यक्ति के साथ कैसे व्यवहार करना है। उन्हें समझाया जाता है कि इस समय हमें एक दूसरे के साथ और सहयोग कीआवश्यकता है और इसी से हम इस कोरोना महामारी को हरा सकते है।


’कोविड -19 योद्धा कल्याण योजना 31 मई तक जारी रहेगी’


प्रमुख सचिव, म.प्र.शासन, राजस्व श्री मनीष रस्तोगी ने प्रदेश के सभी जिला कलेक्टरों को निर्देश दिया है कि मुख्यमंत्री कोविड -19 योद्धा कल्याण योजना 1 अप्रैल 2021 से 31 मई 2021 की अवधि में लागू की जाए। जारी निर्देश में कहा गया है कि राजस्व विभाग का पत्र क्रमांक 1057 दिनांक 26 सितम्बर, 2020  के माध्यम से " मुख्यमंत्री कोविड -19 योद्धा कल्याण योजना " के संशोधित दिशा - निर्देश जारी किये गये थे, जिसके अनुसार उक्त योजना की अवधि 31 अक्टूबर, 2020 तक निर्धारित थी। वर्तमान में कोविड -19 के संक्रमण की संख्या में वृद्धि को देखते हुए उक्त योजना 1 अप्रैल 2021 से 31 मई 2021 ( 02 माह ) तक की अवधि में पुन: लागू की जाती है।  योजना का क्रियान्वयन किया जाना सुनिश्चित करें।


’एम.पी. पी.एस.सी. की तैयारी के लिये परीक्षा पूर्व ऑनलाइन प्रशिक्षण हेतु 30 अप्रैल तक आवेदन आमंत्रित’


मध्यप्रदेश लोक सेवा आयोग की प्रारंभिक एवं मुख्य परीक्षा की तैयारी में शामिल होने के इच्छुक अनुसूचित जाति एवं अनुसूचित जन वर्ग के पात्र उम्मीदवारों से ऑनलाइन प्रशिक्षण प्राप्त करने 30 अप्रैल तक आवेदन आमंत्रित किया गया है। ऑनलाइन प्रशिक्षण के इच्छुक आवेदक को अनुसूचित जाति एवं अनुसूचित जनजाति वर्ग का होना चाहिये। साथ ही मध्यप्रदेश राज्य का मूल निवासी होना चाहिये। आवेदक के परिवार की समस्त स्त्रोतो से वार्षिक आय 6 लाख रूपये वार्षिक से अधिक न हो। आवेदक को नि:शुल्क प्रशिक्षण दिया जायेगा। आवेदक ने स्नातक परीक्षा न्यूनतम 55 प्रतिशत अंक के साथ उत्तीर्ण की हो। प्रशिक्षण का माध्यम हिन्दी होगा तथा नवीन आवेदक कर्ताओं को उपरोक्तानुसार शर्तों की पूर्णता पर तुरंत ही प्रशिक्षण की ऑनलाईन कक्षाओं से सम्मिलित किया जायेगा। आवेदक ने पूर्व में किसी भी परीक्षा पूर्व प्रशिक्षण केन्द्र में प्रशिक्षण प्राप्त न किया हो। इच्छुक उम्मीदवार Email- petcjabalpur@gmail.com पर पात्र एवं इच्छुक उम्मीदवार को जाति प्रमाण पत्र, आय प्रमाण पत्र, मूल निवासी प्रमाण पत्र, पासपोर्स साइज फोटो, स्नातक अंक सूची की छायाप्रति 30 अप्रैल तक भेजना आवश्यक है। प्रवेश संबंधी जानकारी हेतु मोबाईल नम्बर 8889609588 पर संपर्क कर सकते हैं।


कोविड - 19 से घबराएं नहीं, सावधानी बरतें और सतर्क रहें


कोरोना वायरस जनित कोविड-19 एक नवीन संक्रामक रोग है जिसके बारे में नित नए साक्ष्य प्राप्त हो रहे हैं। नवीन साक्ष्यों के दृष्टिगत प्रबंधन संबंधी दिशा-निर्देशों को अद्यतन किया गया है। कोविड-19 संक्रमण से स्वस्थ होने के पश्चात् कुछ रोगियों में थकान, शारीरिक दर्द, खांसी, गले में खराश, सांस लेने में कठिनाई आदि जैसे लक्षण उत्पन्न हो रहे हैं।  निरन्तर सूखी खांसी अथवा गले में खराश जैसे लक्षण होने पर, नमक युक्त गुनगुने पानी से गरारे अथवा भाप लेने से आराम मिलता है। खांसी संबंधी औषधियाँ एलोपैथिक डॉक्टर अथवा आयुष चिकित्सक के परामर्श अनुरूप ही लेने की सलाह दी गई है। तेज बुखार, सांस की कठिनाई, ऑक्सीजन सैचुरेशन/(spo-2),95 प्रतिशत होना, छाती में दबाव/जकड़न, हाल ही में मानसिक भ्रम की शिकायत होना, कमजोरी आदि के लक्षणों के प्रति सजगता रखी जाय एवं उपरोक्त में से कोई भी लक्षण होने पर तत्काल चिकित्सकीय परामर्श लिया जाये। कोविड-19 संक्रमण से स्वस्थ हुए रोगियों के लिए दिशा-निर्देश दिये गये है। कोविड-19 के गंभीर संक्रमण तथा को-मॉर्बिड रोग युक्त व्यक्तियों में रिकवरी अवधि प्राय: अन्य रोगियों की तुलना में अधिक दीर्घ होती है। ऐसे रोगियों की सुदृढ़ एवं नियमित फॉलो-अप डिस्ट्रिक्ट कोविड कमाण्ड एण्ड कन्ट्रोल सेंटर (डीसीसीसीसी) के चिकित्सकों के द्वारा किया जायेगा।


पात्र हितग्राहियों को राशन वितरण करने के संबंध में निर्देश, उचित मूल्य की दुकानों पर सोशल डिस्टेंसिंग का पालन एवं मास्क लगाना होगा अनिवार्य


राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा अधिनियम 2013 के अन्तर्गत पात्र परिवारों को बायोमेट्रिक सत्यापन के आधार पर पहचान कर राशन वितरण करने के निर्देश दिए गए हैं। निर्देशानुसार पात्र परिवारों को बायोमेट्रिक सत्यानपन के आधार पर राशन वितरण कराया जाए। वर्ष 2020 अप्रैल.मई में कोरोना प्रभाव के कारण समग्र परिवार आईडी से राशन वितरण करने पर भारत सरकार द्वारा आपत्ति लेने के कारण पुनरू बायोमेट्रिक सत्यापन से राशन का वितरण करने की व्यवस्था लागू की गई थी। कलेक्टर श्री अजय गुप्ता ने पात्र हितग्राहियों को राशन वितरण करने के संबंध में खाद्य विभाग द्वारा जारी आदेश का पालन सुनिश्चित करने के सभी संबंधित अधिकारियों को निर्देश दिए हैं। जारी आदेश अनुसार लक्षित सार्वजनिक वितरण प्रणाली के अन्तर्गत पात्र हितग्राहियों राशन वितरण के समय कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए अन्न उत्सव कार्यक्रम के आयोजन को आगामी आदेश तक स्थगित कर दिया गया है। उचित मूल्य की दुकानों पर सोशल डिस्टेंसिंग का पालन कराने के लिए हितग्राहियों को लाईन में खड़े होने के लिए 6.6 फीट की दूरी पर गोले बनाए जाकर हितग्राहियों में दूरी रखी जाए। दुकान के विक्रेता एवं हितग्राहियों को मास्क का उपयोग अनिवार्य रूप से करना होगा। उचित मूल्य की दुकान के विक्रेताए कोरोना संक्रमितध्लक्षण पाए जाने पर समिति के सहायक अथवा समिति द्वारा नामित अन्य व्यक्ति के माध्यम से राशन का वितरण कराया जाए। उचित मूल्य दुकान पर पर्याप्त मात्रा में सेनेटाईजर रखा जाए जिससे हितग्राहियों के हाथों को सेनेटाईजर कराया जाए। पीओएस मशीन पर बायोमेट्रिक सत्यापन के लिए अंगूठाए उंगली लगाने के पहले व बाद में हाथों को सेनेटाईजर किया जाए इसके लिए सेनेटाईजर पंच की व्यवस्था की जाए। 45 वर्ष से अधिक उम्र के सभी हितग्राहियों को कोविड-वैक्सीन अनिवार्य रूप से लगावाई जाए। 


जिले में 70 व्यक्ति कोरोना पॉजिटिव मिले, वर्तमान में कोरोना एक्टिव-पॉजीटिव की संख्या 540


पिछले 24 घंटे के दौरान 70 व्यक्ति कोरोना पॉजीटिव मिले। इनमें सीहोर शहर के 24 व्यक्ति कोरोना पॉजिटिव मिले हैं। संक्रमित व्यक्ति अमर टॉकिज क्षेत्र, पुराना कलेक्ट्रेट, महाजन कंपाउंड, ब्रहम्पुरी, इंग्लिशपुरा, पलटन एरिया, बड़ी ग्वालटोली, कस्बा, गंगा आश्रम के निवासी हैं। इसी तरह आष्टा क्षेत्र से 16 व्यक्तियों की रिपोर्ट पॉजीटिव प्राप्त हुई है जो तोरनिया, सिविल अस्पताल क्षेत्र, कन्नोद रोड़, मुकाती स्केवेयर, विनाक परिसर, बैदाखेड़ी, जावर मैन रोड़, सेमनरी रोड़, बुधवारा के निवासी हैं। इछावर अन्तर्गत 12 व्यक्ति संक्रमित पाए गए जो जमोनिया, भोजपुर, अमलाहा, वार्ड नंबर 15 इछावर, दिवड़िया, वीरपुर डेम के निवासी हैं। बुदनी क्षेत्र अन्तर्गत 13 व्यक्ति संक्रमित मिले हैं। जो खेड़ी, सिलेगना, वार्ड नंबर 10, थाना परिक्षेत्र बुदनी, वार्ड नंबर 7, 1, 14, मधुबन हास्पिटल परिक्षेत्र, सेमरी के निवासी हैं। इसी प्रकार नसरुल्लागंज क्षेत्र से 5 व्यक्ति पॉजीटिव मिले हैं नीलकंठ रोड़ नसरुल्लागंज, बजागांव, रेस्ट हाउस परिक्षेत्र, वार्ड नंबर 04, 12, वृंदावन कॉलोनी के निवासी हैं। मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ सुधीर कुमार डेहरिया ने बताया कि वर्तमान में जिले में एक्टिव पॉजिटिव 540 हैं। आज 9 व्यक्ति रिकवर हुए। कुल रिकवर व्यक्तियों की संख्या 3125 हैं। कुल कोविड संक्रमित मृत व्यक्तियों की संख्या 51 है । आज 512 सैम्पल लिए गए है। जांच के लिए सीहोर शहरी क्षेत्र से 16, श्यामपुर से 109, विकासखंड नसरुल्लागंज से 83, आष्टा से 145 एवं बुदनी विकासखंड से 91 तथा इछावर से 68 सेंपल लिये गए हैं। जिले में कुल कोरोना पॉजीटिव व्यक्तियों की संख्या 3716 है जिसमें से 51 की मृत्यु हो चुकी है 3125 स्वस्थ   होकर डिस्चार्ज हो गए है। तथा वर्तमान में एक्टिवा/पॉजीटिव की संख्या 540 है। आज 512 सैंपल जांच हेतु लिए गए। कुल जांच के लिए भेजे गए सेंपल 89665 हैं जिनमें से 83770 सेंपलों की रिपोर्ट निगेटिव आई है। आज 636 सेंपलों की रिपोर्ट निगेटिव आई है। कुल 2108 सेंपलों की रिपोर्ट आना शेष है। पैथालॉजी द्वारा कोरोना वायरस सेंपल की रिजेक्ट संख्या  कुल 71 है। जिले मे जो व्यक्ति होम क्वारन्टाईन में हैं उनके निवास स्थान से सीधे संवाद हेतु जिला स्तरीय कोविड-19 कॉल सेंटर स्थापित किया गया है। जिसका संपर्क नंबर- 07562-226470 है। 1075 नंबर पर कॉल कर जानकारी ली जा सकती है। जिला स्तर पर मोबाइल नंबंर 9425400273, 9425400453, 9479595519 पर कॉल सेंटर पर संपर्क किया जा सकता है। राज्य स्तर पर 104/181 नंबर पर कॉल करके भी टेलीमेडिसिन सेवा का लाभ लिया जा सकता है। 104 नंबर पर ई-परामर्श सेवा का भी लाभ लिया जा सकता है। होम क्वारन्टाईन व्यक्तियों तथा उनके परिजनों के लिए हेल्पलाईन नंबंर 18002330175 जारी किया गया है। होम क्वारन्टाईन व्यक्ति अथवा उनके परिजन इमोशनल वेलनेस अथवा साइकॉलाजीकल सपोर्ट एवं अन्य जरूरी परामर्श मानसिक सेवा प्रदाताओं से नि:शुल्क प्राप्त कर सकते हैं।


17351 किसानों से 1 लाख 35 हजार 742 मीट्रिक टन गेहूं की खरीदी


जिले में आज 17351 किसानों से 1 लाख 35 हजार 742 मीट्रिक टन गेहूं की खरीदी जिले के उपार्जन केन्द्रो द्वारा की गई। अधिकारियो द्वारा उपार्जन केन्द्रों का सतत निरीक्षण किया जा रहा है। कलेक्टर श्री अजय गुप्ता ने सभी अधिकारियों को निर्देश दिये कि वे उपार्जन केन्द्रों का सतत निरीक्षण करें और यह देखें की किसानों को फसल बेचने में किसी प्रकार की कोई भ्री असुविधा न हो।


रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने आयुष विभाग द्वारा आयुर्वेद औषधि का वितरण   


कोरोना संक्रमण से बचाव तथा प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने के लिए कलेक्टर श्री अजय गुप्ता के निर्देश पर आयुष विभाग द्वारा सीहोर शहरी क्षेत्र में आंगनवाड़ी कार्यकर्ताओं तथा आयुष संस्थाओं द्वारा त्रिकटु चूर्ण, संशमनी वटी, होम्योपैथी एवं यूनानी औषधियों का वितरण किया जा रहा है। आयुष विभाग द्वारा जिले भर में कुल 4399 लोगों को त्रिकटु चूर्ण 1404, संशमनी वटी के 786, होम्योपैथी के 2171 एवं यूनानी औषधि के 38 पैकेट वितरित किए गए।  आयुष विभाग द्वारा सीहोर विकासखंड अन्तर्गत 1429 व्यक्तियों को त्रिकटु चूर्ण के 879, संशमनी वटी के 352, होम्योपैथी औषधि के 198 पैकेट वितरित किए गए। इसी प्रकार आष्टा अन्तर्गत 614 व्यक्तियों को त्रिकटु चूर्ण के 24, संशमनी वटी के 332, होम्योपैथी औषधि के 258 पैकेट वितरित किए गए। बुदनी अन्तर्गत 901 व्यक्तियों को त्रिकटु चूर्ण के 202, होम्योपैथी औषधि के 699 पैकेट वितरित किए गए। इछावर अन्तर्गत 1138 व्यक्तियों को त्रिकटु चूर्ण के 281, संशमनी वटी के 32, होम्योपैथी औषधि के 825 पैकेट वितरित किए गए। नसरुल्लागंज अन्तर्गत 317 व्यक्तियों को त्रिकटु चूर्ण के 18, संशमनी वटी के 70, होम्योपैथी के 191 एवं यूनानी औषधि के 38 पैकेट वितरित किए गए।    जिला आयुष अधिकारी डॉ नरेन्द्र सिंह लोधी ने जानकारी दी कि आयुष विभाग मध्यप्रदेश के आदेशानुसार विगत वर्ष विभाग द्वारा औषधियों का वितरण घर-घर जाकर किया गया था। वर्तमान में भी इन औषधियों का वितरण संस्था स्तर से कोविड-19 के प्रोटोकॉल का पालन करते हुए किया जा रहा है।  

कोई टिप्पणी नहीं: