बेतिया: जिला सतर्कता एवं अनुश्रवण समिति की बैठक सम्पन्न - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

सोमवार, 12 अप्रैल 2021

बेतिया: जिला सतर्कता एवं अनुश्रवण समिति की बैठक सम्पन्न

district-meeting-betiya
बेतिया। अनुसूचित जाति/जनजाति अत्याचार निवारण अधिनियम अंतर्गत लंबित मामलों का निष्पादन तीव्र गति से करने का निर्देश दिया गया। पश्चिमी चम्पारण के जिलाधिकारी श्री कुंदन कुमार की अध्यक्षता में आज समाहरणालय सभाकक्ष में अनुसूचित जाति एवं अनुसूचित जनजाति अत्याचार निवारण अधिनियम अंतर्गत गठित जिला सतर्कता एवं अनुश्रवण समिति की बैठक सम्पन्न हुयी।जिलाधिकारी ने निर्देश दिया कि अनुसूचित जाति/जनजाति अत्याचार निवारण अधिनियम अंतर्गत लंबित मामलों का निष्पादन तीव्र गति से कराना सुनिश्चित किया जाय। किसी भी प्रकार की लापरवाही एवं कोताही बरतने वाले व्यक्तियों के विरूद्ध विधिसम्मत कार्रवाई की जायेगी। जिला कल्याण पदाधिकारी द्वारा बताया कि  वितीय वर्ष 2021-21 में दो करोड़ निन्वानवे लाख बाहर हजार रूपये का आवंटन प्राप्त हुआ है, जिसकी निकासी उपरांत 443 पीड़ितों पर दो करोड़ नब्बे लाख ग्यारह हजार दो सौ पचास रूपया व्यय किया जा चुका है। शेष आवंटन से 17 स्वीकृत मुआवजा से संबंधित भुगतान की प्रक्रिया की जा रही है जिसे दो दिनों के अंदर आरटीजीएस/नेफ्ट के माध्यम से संबंधित लाभुकों के खाता में भेज दी जायेगी। साथ ही 06 पेंशनरों को माह मार्च 2021 तक की राशि का भुगतान भी किया जा चुका है।  उन्होंने बताया कि माह जनवरी 2021 से अबतक पुलिस अधीक्षक, बेतिया, बगहा से कुल-112 मुआवजा प्रस्ताव अनुशंसा के साथ प्राप्त हुये हैं जिसे स्वीकृति हेतु अनुमंडल में भेजा गया है। स्वीकृति पश्चात भुगतान की कार्रवाई की  जायेगी।  इस अवसर पर माननीय सांसद, डाॅ0 संजय जायसवाल, श्री सतीश चन्द्र दूबे, श्री सुनील कुमार, माननीय विधायक, श्री राम सिंह, श्री उमाकांत सिंह, श्री विरेन्द्र कुमार गुप्ता,  श्रीमती रश्मि वर्मा सहित उप विकास आयुक्त, श्री रवीन्द्र नाथ प्रसाद सिंह, अपर समाहर्ता, श्री नंदकिशोर साह आदि उपस्थित रहे।

कोई टिप्पणी नहीं: