मधुबनी : फसल अवशेष जलाने से नुकसान तथा जागरूकता हेतु बैठक - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शनिवार, 17 अप्रैल 2021

मधुबनी : फसल अवशेष जलाने से नुकसान तथा जागरूकता हेतु बैठक

dm-madhubani-meeting-for-parali
मधुबनी (आर्यावर्त संवाददाता) जिला पदाधिकारी, मधुबनी श्री अमित कुमार के अध्यक्षता में फसलों के अवशेष खेतों में न जलाने एवम् फसल अवशेष जलाने से नुकसान तथा आमजनों के जागरूकता हेतु गठित जिला स्तरीय अन्तर विभागीय कार्य समूह की बैठक जिला पदाधिकारी के कार्यालय प्रकोष्ठ में आहुत की गई। इस दौरान जिला शिक्षा पदाधिकारी, मधुबनी, सहायक निदेशक, कृषि अभियंत्रण, मधुबनी, जिला पशुपालन पदाधिकारी, मधुबनी, सिविल सर्जन, मधुबनी, जिला पंचायत राज पदाधिकारी -सह- जिला सूचना एवं जनसम्पर्क पदाधिकारी, मधुबनी, कार्यक्रम समन्वयक, कृषि विज्ञान केन्द्र, सुखेत एवं अवकाश रक्षित पदाधिकारी, जिला कृषि कार्यालय, मधुबनी इत्यादि उपस्थित थे। बैठक के दौरान जिला पदाधिकारी, मधुबनी ने किसानों के द्वारा खेतों में फसल अवशेष कुटि/पुआल/भूसा आदि को जलाने से मिट्टी स्वास्थ्य तथा पर्यावरण पर पड़ने वाले बुरे प्रभाव के बारे में जागरूक करने के उद्देश्य से सभी विभागों के माध्यम से फसल अवशेष प्रबंधन हेतु वृहत रूप से प्रचार-प्रसार करने के लिए निदेश दिया गया। साथ हीं कोई किसान पराली जलाते हुए पाये जाते है तो उसे काली सूची में डालते हुए 03 साल तक सरकार द्वारा जारी सभी योजनाओं के लाभ से वंचित कर दिये जाने का निदेश दिया। जिला पदाधिकारी द्वारा इसकी जानकारी सभी मुखिया को देने हेतु जिला पंचायत राज पदाधिकारी को निर्देश दिया गया।

कोई टिप्पणी नहीं: