महम्मदपुर कांड के असली साजिशकर्ता राजेश यादव को नेता प्रतिपक्ष का संरक्षण : मोदी - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शुक्रवार, 9 अप्रैल 2021

महम्मदपुर कांड के असली साजिशकर्ता राजेश यादव को नेता प्रतिपक्ष का संरक्षण : मोदी

rjd-behind-mahmadpur-crime-sushil-modi
पटना, राज्यसभा सांसद व पूर्व उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने कहा है कि महम्मदपुर (मधुबनी) गोलीकांड के असली साजिशकर्ता राजेश यादव को नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव का संरक्षण प्राप्त है। नेता प्रतिपक्ष बताएं कि यह राजेश यादव कौन है? क्या इसी राजेश यादव के साथ नेता प्रतिपक्ष महम्मदपुर नहीं गए थे? श्री मोदी ने कहा कि यह राजेश यादव ही महम्मदपुर गोलीकांड का असली साजिशकर्ता है। बेनीपट्टी राजद का प्रखंड अध्यक्ष व प्रखंड प्रमुख का पति राजेश यादव का मछुआरा समिति के डम्मी सदस्यों के माध्यम से थोड़े समय पहले तक विवादित तालाब पर कब्जा था। वह विगत विधान सभा का चुनाव बेनीपट्टी से लड़ा और उसे 10 हजार वोट मिले थे। अपनी राजनीतिक महत्वाकांक्षा की पूर्ति के लिए उसने जातीय तनाव भड़काने की साजिश रची थी। पुलिस राजेश यादव को अविलंब गिरफ्तार कर उसके कॉल डिटेल्स रिकार्ड को खंगाले, क्योंकि वह लगातार प्रवीण झा, सुरेन्द्र सिंह और तेजस्वी यादव के सम्पर्क में रहा है। उक्त तालाब पर अपना वर्चस्व बरकरार रखने के लिए ही उसने  सुरेंद्र सिंह और प्रवीण झा के परिवारों को लड़ाई के लिए उकसाया। उसकी साजिशी चाल थी कि दोनों परिवार लड़े- मरे तो तालाब पर उसका वर्चस्व कायम रहेगा। मधुबनी और घटना स्थल के आसपास कहीं भी जातीय तनाव नहीं है, मगर राजद इसी राजेश यादव के माध्यम से पूरे जिले में जातीय तनाव भड़काने की कोशिश कर रहा है। इसीलिए जब तेजस्वी यादव महम्मदपुर गए  तो राजेश यादव भी उनके साथ था। आपराधिक चरित्र के राजेश यादव पर पहले से ही संज्ञेय अपराधों में आधा दर्जन मुकदमे दर्ज है। इस पूरे कांड में राजेश यादव को गिरफ्तार कर पुलिस उसकी संलिप्तता की गम्भीरता से जांच करें ताकि साजिश सामने आये और असली अपराधी को सजा मिल सके।

कोई टिप्पणी नहीं: