बिहार : SHO बेटे की मौत के सदमे से मां की हुई मौत - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

रविवार, 11 अप्रैल 2021

बिहार : SHO बेटे की मौत के सदमे से मां की हुई मौत

sho-murder-mother-shoked-dead-kishanganj
किशनगंज : पश्चिम बंगाल में किशनगंज के एक थानेदार की पीट – पीटकर हत्या कर दी गई है। बताया जा रहा है कि थानेदार अश्विनी कुमार बंगाल सीमा से लगे एक इलाके में अपराधियों के ठिकाने पर छापेमारी के लिए गए थे, वहां अपराधियों ने अचानक पुलिस टीम पर हमला कर दिया। दरअसल किशनगंज के थानाप्रभारी अपनी टीम के साथ शनिवार अहले सुबह करीब 3 बजे शहर से 12 किलोमीटर दूर प.बंगाल के पांजीपाड़ा थाना क्षेत्र पनतापाड़ा गांव में बाइक चोर की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी करने गए थे। बंगाल में बिहार की पुलिस को देख ग्रामीण आक्रोशित हो गए और पुलिसकर्मियों पर हमला कर दिया। इस दौरान अन्य पुलिसकर्मी भागने में सफल हो गए लेकिन थानेदार पकड़ा गए। जिसके बाद लोगों की भीड़ ने थानेदार को घेर मार डाला। वहीं अपने थानाध्यक्ष को भीड़ के बीच पीटता छोड़कर भागनेवाले पुलिसकर्मियों के खिलाफ आईजी की तरफ से सख्त कार्रवाई की गई है। एसपी किशनगंज कुमार आशीष की अनुसंशा पर IG पूर्णिया द्वारा मौका ए वारदात से भागकर अपनी जान बचाने वाले सर्किल इंस्पेक्टर समेत पूरे पुलिस दल को कर्तव्यहीनता के आरोप में निलंबित कर लाइन हाजिर कर दिया गया है। निलंबित होनेवाले पुलिस कर्मियों में सर्किल इंस्पेक्टर मनीष कुमार, सिपाही राजू सहनी 465, सिपाही अखिलेश्वर तिवारी 27, सिपाही प्रमोद कुमार पासवान 551, उज्ज्वल कुमार पासवान 265, सुनील चौधरी -525, सुशील कुमार 534 शामिल हैं।


उधर , 1 दिन पहले मारे गए किशनगंज नगर थाना अध्यक्ष अश्विनी कुमार की मां का हार्ट अटैक से निधन हो गया है।बड़ा जा रहा है कि वह अपने बेटे के मारे जाने का सदमा बर्दाश्त नहीं कर सकी। जिसके बाद हार्ट अटैक से उनका निधन हो गया। वह पहले से ही बीमार चल रही थीं। अश्विनी के पिता का सात साल पहले ही निधन हो चुका है। मालूम हो कि थानेदार की पहचान पूर्णिया निवासी अश्विनी कुमार के रूप में हुई है। वह पिछले 7 महीने से टाउन थाना में इंस्पेक्टर सह थानेदार थे।

कोई टिप्पणी नहीं: