विदिशा (मध्यप्रदेश) की खबर 05 अप्रैल - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

सोमवार, 5 अप्रैल 2021

विदिशा (मध्यप्रदेश) की खबर 05 अप्रैल

सीनियर चिकित्सक कोरोना वार्डो का भ्रमण करें-कलेक्टर


vidisha news
कलेक्टर डॉ पंकज जैन ने आज अटल बिहारी वाजपेयी शासकीय चिकित्सा महाविद्यालय के डीन सहित अन्य चिकित्सकों की बैठक आहूत कर उन्होंने सीनियर चिकित्सकों को कोरोना वार्डा का भ्रमण कर वार्डो में आशावान वातावरण निर्मित कराए जाने में अपना-अपना योगदान देने का आव्हान किया है।  कलेक्टर डॉ जैन ने कहा कि कोरोन के भर्ती मरीजो के लिए सीसी वार्ड नही स्टेप डाउन वार्ड संचालित किए जाएंगे। इन वार्डो में रहने वाले मरीज पैनिक ना हो उनकी छोटी-छोटी समस्याओं का समाधान अविलम्ब हो इसके लिए चिकित्सकगण सुबह और शाम अनिवार्य रूप से स्टेपडाउन वार्डो का भ्रमण जरूर करें। उन्होंने कहा कि उपरोक्त कार्यो से मरीजो के आत्मविश्वास में बढोतरी होगी।  कलेक्टर डॉ जैन ने अटल बिहारी वाजपेयी शासकीय चिकित्सा महाविद्यालय के विषय विशेषज्ञ चिकित्सकों से आग्रह किया है कि कोरोना के संक्रमण को रोकने में और पीड़ित मरीजो के उपचार कार्यो में आप सभी का सहयोग अतिआवश्यक है। इलाज के प्रबंधनो हेतु जिन-जिन संसाधनो की आवश्यकता है की पूर्ति अविलम्ब कराई जाएगी। उन्होंने प्रत्येक वार्ड में तीस से चालीस पलंग पूर्ण रूप से सुसज्जित रहें ताकि आवश्यकता पडने पर उन वार्डो में मरीजो को भर्ती कराया जा सकें।  कलेक्टर डॉ जैन ने फीवर क्लीनिक में क्रियान्वित व्यवस्थाओं से लेकर मिनी कंटेनमेट जोन, होम आइसालेशन, होम कोरोन्टाइन की क्रियान्वित व्यवस्था पर प्रकाश डालते हुए कहा कि ऐसे व्यक्ति जो कोरोना से संक्रमित है और वे घर पर रहकर अपना इलाज करा रहें है उनके घर को माइक्रो कंटेनमेंट जोन बनाया गया है और घर में निवास करने वाले कोई भी व्यक्ति बिना एमएमयू की अनुमति के बाहर नही निकल सकते है चाहे उन्हें किसी भी प्रकार की इलाज की जरूरत हो।  माइक्रो कंटनेमेंट में रहने वालो के लिए दो स्तरीय कोविड गाइड लाइन फालो करनी होगी जिसमें मरीज को स्वंय एक कमरे में रहना होगा और अपने किसी भी दैनिक कार्यो के लिए भी बाहर नही निकलना होगा वही घर के अन्य सदस्य भी मरीज से संपर्क नही करेंगे। भोजन आदि प्रदाय के लिए मरीज का पृथक से बर्तन होगा उसी बर्तन का उपयोग मरीज स्वयं करेंगे।  होम आइसोलेशन में रहने वालो के लिए यदि किसी चीज की आवश्यकता है तो उसकी पूर्ति पडौसी के द्वारा सुंगमता से कराई जाएगी। प्रत्येक माइक्रो कंटेनमेंट जोन में दो-दो सूचना फ्लैक्स के माध्यम से चस्पा किए जाएंगे जिसमें संक्रमित मरीज के अलावा अन्य कौन-कौन निवास कर रहे है कि जानकारी अंकित की जाएगी। माइक्रो कंटेनमेंट जोन पूर्णतः प्रतिबंधित रहेंगे ताकि उस क्षेत्र में निवासरत व्यक्ति किन्ही कारणो से भी बाहर ना निकल पाएं।  उक्त समीक्षा बैठक में मेडीकल कॉलेज के डीन डॉ सुनील नंदेश्वर, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ केएस अहिरवार, मेडीकल कॉलेज के सिविल सर्जन डॉ परमहंस के अलावा मेडीकल कॉलेज के विभिन्न विषय विशेषज्ञ चिकित्सकगण मौजूद थे।


जल संकट गांव की जानकारी टिप्स पर हो लंबित आवेदनों की समीक्षा बैठक सम्पन्न हुई 


vidisha news
कलेक्टर डॉ पंकज जैन ने आज विभिन्न विभागो में लंबित आवेदनों पर संबंधित विभागो के अधिकारियों द्वारा की गई कार्यवाही की समीक्षा की है। कलेक्ट्रेट के नवीन बेतवा सभागार कक्ष में सम्पन्न हुई उक्त टीएल बैठक में कलेक्टर ने समस्त एसडीएम सहित तहसीलदारो को स्पष्ट निर्देश दिए है कि ग्रीष्मकाल के दौरान ग्रामीण क्षेत्रों में कही भी पेयजल संकट की स्थिति निर्मित ना हो के पुख्ता प्रबंध बनाए रखें। उन्होंने कहा कि किन ही कारणो से यदि कही पेयजल संकट की जानकारी मिलती है तो एसडीएम अविलम्ब कार्यवाही करें साथ ही वरिष्ठ अधिकारियों द्वारा क्षेत्र में जल संकट के संबंध में कोई जानकारी मांगी जाती  है तो समस्त एसडीएमों को अपने-अपने कार्यक्षेत्रों की जानकारी टिप्स पर हों। ऐसा नही की मैं पता करते बताता हूं। कलेक्टर डॉ जैन ने समस्त एसडीएमों से कहा कि अखबारो में आए दिन पेयजल संकट से प्रभावित ग्रामो की खबरे प्रकाशित हो रही है अतः संबंधित एसडीएम स्वयमेव संज्ञान में लेते हुए जिला कार्यालय से सूचित करने से पहले ही निदान की कार्यवाही करना सुनिश्चित करें। उन्होंने अनुविभाग स्तर पर पेयजल आपूर्ति के लिए संबंधितों की सतत बैठके आयोजित कर पेयजल आपूर्ति के संसाधनो के पर नजर रखे। कलेक्टर डॉ जैन ने रबी उपार्जन के कार्यो के संबंध में भी आवश्यक मार्गदर्शन दिया। उन्होंने कहा कि जिले में अधिकांश उपार्जन केन्द्र वेयर हाउसो पर संचालित हो रहे है अतः समय पर परिवहन जैसी दुविधा के कारण किसानो के भुगतान में विलम्ब ना हो वही सूखत की मात्रा भी कम ना हो।  कलेक्टर डॉ जैन ने कहा कि प्रत्येक उपार्जन केन्द्र के लिए नोडल अधिकारी नियुक्त किए गए हैं। ऐसे नए वेयर हाउस जिनकी जानकारियां पोर्टल पर अब तक दर्ज नही हुई है। अविलम्ब दर्ज कराने की कार्यवाही की जाए। कलेक्टर डॉ जैन ने सीएम हेल्पलाइन के तहत लंबित आवेदनो का अधिक से अधिक संतुष्टिपूर्वक जबाव दाखिल कर आवेदक के द्वारा बंद कराया जाए की प्रक्रिया पूर्ण पारदर्शिता के साथ क्रियान्वित की जाए। उन्होंने अभी से सीएम हेल्पलाइन के लंबित आवेदनों के निराकरण हेतु विशेष पहल पुनः शुरू करने के निर्देश दिए है। यदि निराकरण की पहल आशातीत प्रतीत नही हुई तो अवकाश के दिनों में विशेष निराकरण हेतु अधिकारियों को कलेक्ट्रेट में रोका जाएगा। कलेक्टर डॉ जैन ने नरवाई में आग ना लगाएं का व्यापक प्रचार-प्रचार करने के निर्देश देते हुए धारा 144 के अंतर्गत जारी आदेश के तहत कार्यवाही करने के निर्देश दिए हैं उन्होंने नरवाई में आग को अति घातक बताते हुए संबंधितों पर पुलिस में प्रकरण दर्ज कराने की सख्त कार्यवाही करने के निर्देश एसडीएमो को दिए है।  कलेक्टर डॉ पंकज जैन ने बताया कि जिले में कोरोना वायरस कोविड 19 के द्वितीय बेव का संक्रमण बढता जा रहा है अतः बचाव के उपायों से आमजनों को अवगत कराएं और जो नियमों की अनदेखी करते है उनके खिलाफ कार्यवाही करने में तेजी लाएं। उन्होंने कोविड कंट्रोल सेन्टर, फीवर क्लीनिक मेंं परीक्षण के लिए आने वालो के मध्य सोशल डिस्टेन्सिग का पालन हो। चिकित्सक की सहमति के उपरांत ही मरीज का सेम्पल लिया लाए ना कि कोई भी व्यक्ति आकर यह बोलने लगे कि उसे कोरोना टेस्ट करान है सेम्पल लें। इस प्रकार के किसी भी दबाव में चिकित्सकगण कदापि ना आएं।  कलेक्टर डॉ जैन ने बताया कि दूसरे राज्यों, धार्मिक तीर्थ स्थलों पर जाने वालो के लिए कोविड रिपोर्ट की प्राप्ति के लिए जो टेस्ट कराया जाएगा उसकी अनुमति संबंधित एसडीएम से निर्धारित प्रपत्र में अनुमति प्राप्ति रिपोर्ट लेकर आएंगे तभी सेम्पल लिया जाएगा।  कलेक्टर डॉ जैन को जिन विभागो के जिलाधिकारियों द्वारा लंबित आवेदनों पर की गई कार्यवाही से अवगत कराया है उनमेंं जिला पंचायत, शिक्षा विभाग, स्वास्थ्य विभाग, डीपीसी, खाद्य विभाग, कॉ-आपरेटिव, वित्त संस्था, ऊर्जा विभाग, पीडब्ल्यूडी, पीएचई, आदिम जाति कल्याण, पंजीयन, जिला योजना एवं सांख्यिकी, खनिज, पशु चिकित्सा, परिवहन, उद्योग एवं व्यापार केन्द्र, अधीक्षक भू-अभिलेख, सामाजिक न्याय, महिला एवं बाल विकास विभाग इत्यादि शामिल है।


कोरोना दूत मंच शुरू हुआ 


vidisha news
विदिशा जिला मुख्यालय पर कोरोना संक्रमण के विस्तार को रोकने के लिए कोरोना दूत मंच बनाए गए है। उक्त मंच में ऐसे व्यक्ति जिनके द्वारा मास्क का उपयोग उचित तरीको से नही किया जा रहा है अथवा मास्क पहना ही नहीं है उन सभी को कोरोना दूत मंच पर बिठाकर आमजनों के समक्ष प्रदर्शित किया जा रहा है। कलेक्टर डॉ पंकज जैन ने स्वंय आज 11 बजे नीमताल चौराहे पर पहुंचकर कोरोना दूत मंच के सामने से गुजरने वाले ऐसे व्यक्ति जिनके द्वारा मास्क का उपयोग नही किया गया है ऐसे वाहन चालको को अपने सामने कोरोना दूत मंच पर बैठाया है। उपरोक्त कार्यवाही के दौरान मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ केएस अहिरवार भी साथ मौजूद रहें।


नोडल अधिकारी उपार्जन केन्द्रो पर नही पहुंचे तो निलंबित होंगे


अपर कलेक्टर श्री वृदांवन सिंह ने आज जिले में क्रियान्वित उपार्जन कार्यो की समीक्षा की। उन्होंने समस्त एसडीएमो को निर्देश दिए है कि प्रत्येक उपार्जन केन्द्र पर यदि कोई नोडल अधिकारी नही पहुंचता है तो उसके खिलाफ निलंबन की कार्यवाही प्रस्तावित करें। अपर कलेक्टर श्री वृदांवन सिंह ने किसानो को ध्यानगत रखते हुए प्रत्येक उपार्जन केन्द्रो पर किए जाने वाले प्रबंधों की समीक्षा करते हुए एसडीएमो को निर्देश दिए है कि उपार्जन केन्द्रो की समीक्षा हर रोज आयोजित करें ताकि उपार्जन केन्द्रो पर किसी भी प्रकार की अव्यवस्था निर्मित ना हो सकें। उन्होंंने समय पर परिवहन हो के लिए पुख्ता प्रबंध सुनिश्चित करने के भी निर्देश दिए है। अपर कलेक्टर श्री वृदांवन सिंह ने कहा कि राजस्व मामलो के निराकरण में राजस्व अधिकारियों के द्वारा 90 प्रतिशत डिस्पोजल किया जा रहा  है उक्त गति को बनाए रखने की अपेक्षा उनके द्वारा व्यक्त करते हुए राजस्व रिकार्डा की जानकारी अपडेट रखने प्रकरणों, साक्ष्यों, अभिलेखो के रखरखाव पर विशेष ध्यान देने की बात उनके द्वारा की गई है। उन्होंने अनुविभागीय राजस्व अधिकारियों से कहा कि अन्य विभागो के कार्यो की भी सतत मानिटरिंग करें।  


कोरोना संक्रमण की रोकथाम हेतु निकाय क्षेत्र में दल गठित 


कलेक्टर डॉ पंकज जैन ने विदिशा नगरीय क्षेत्र में कोरोन के बढते संक्रमण को ध्यानगत रखते हुए रोकथाम के लिए पांच-पांच वार्डा के मध्य दल गठित करने का आदेश जारी कर दिया है। उपरोक्त दल जिन कार्यो का सम्पादन करेंगे उनमें कोरोना मरीज चिन्हित होने पर माइक्रोकंटेनमेंट जोन बनाया जाना, कंटेनमेंट क्षेत्र के निवासियों का आवागमन निषिद्ध करना, कंटेनमेंट के प्रत्येक निवासी का विवरण संकलित कर निगरानी करना, प्रत्येक कंटेनमेंट क्षेत्र के हर एक होम आइसोलेशन के मरीज एवं अन्य निवासियों से घोषणा पत्र भरवाना तथा उसका पालन कराना सुनिश्चित करेंगे। यदि किसी के द्वारा घोषणा पत्र का उल्लंघन किया जाता है तो उसके खिलाफ एफआईआर दर्ज कराने की कार्यवाही सम्पादित कराएंगे।  कंटेनमेंट क्षेत्र के मोहल्ले या वार्ड में निवासरत शासकीय कर्मचारियों की सूची संधारित करने तथा निगरानी कार्य में उनका सहयोग लेने और कंटेनमेंट एरिया का नियमित सेनेटाइजर कराना, प्रभारी के क्षेत्र के निवासियों का वैक्सीनेशन कराना, मास्क ना लगाने पर अर्थदण्ड आरोपित करना के अलावा समय-समय पर सौंपे जाने वाले अन्य कार्यो के दायित्वों का निर्वहन करेंगे।  कलेक्टर डॉ पंकज जैन के द्वारा विदिशा नगरीय क्षेत्र के वार्ड प्रभार हेतु दल गठित किए है जिसके अनुसार वार्ड क्रमांक एक से पांच तक का दल प्रभारी जिला खनिज अधिकारी श्री मेहताब सिंह 8109880046 को, वार्ड छह से दस के लिए मध्यप्रदेश मध्य क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी लिमिटेड के कार्यपालन यंत्री श्री आकाश त्रिपाठी 9406902501 को और जिला संयोजक श्री नरेन्द्र अवस्थी 9009212745 को दल प्रभारी का दायित्व सौंपा गया है। इसी प्रकार वार्ड 11 से 15 तक के लिए महिला एवं बाल विकास विभाग के सहायक संचालक श्री विवेक शर्मा, 9425464669 को, वार्ड नम्बर 16 से 20 तक हेतु जिला व्यापार एवं उद्योग केन्द्र के महाप्रबंधक श्री पीडी वंशकार 9893091046 को तथा वार्ड 21 से 25 के लिए सहकारिता विभाग के उपायुक्त श्री केके द्धिवेदी, 9926442810 को, वार्ड क्रमांक 26 से 30 हेतु जिला आबकारी अधिकारी श्री शैलेष जैन 7987300278 को जबकि वार्ड क्रमांक 31 से 35 के लिए प्रधानमंत्री ग्राम सडक प्राधिकरण विदिशा के जिला प्रबंधक श्री केसी सोनी 9425425998 पर तथा वार्ड 36 से 39 के लिए दल प्रभारी पिछडा वर्ग के सहायक संचालक श्री एएस कुरैशी 9425443106 और परियोजना अधिकारी शहरी श्री संजय सिंह 9893145866 को दायित्व सौंपा गया है। प्रत्येक दल प्रभारी के साथ-साथ सहायक प्रभारी, पुलिस प्रभारी, दल सहायक भी तैनात किए गए है


जिला स्तरीय कंटेनमेट सेल का गठन  


कलेक्टर डॉ पंकज जैन ने विदिशा जिले के सम्पूर्ण क्षेत्र में बढते कोरोना संक्र्रमण की निगरानी एवं रोकथाम के लिए जिला स्तरीय कंटेनमेंट सेल गठन करने का आदेश जारी कर दिया है। कलेक्टर द्वारा गठित सेल में अपर कलेक्टर श्री वृदांवन सिंह 9926484610, लोक निर्माण विभाग के कार्यपालन यंत्री श्री हेमंत कुमार राजपूत 9179089507 को तथा श्रम पदाधिकारी श्री सुधीश कमल 8750745277 को शामिल किया गया है प्रकोष्ठ के लिए दल सहायक भी नियुक्त किए गए है।


वर्षारूपी जल सहज हेतु जल संचयन अभियान शुरू हुआ


vidisha news
वर्षारूपी जल को अधिक से अधिक सहेजने के लिए जल संचयन अभियान की शुरूआत विदिशा जिले में भी आज सोमवार पांच अपै्रल से शुरू हुई है। भोपाल संभागायुक्त श्री कवीन्द्र कियावत द्वारा पूर्व में जारी किए गए निर्देशो के अनुपालन में आज विदिशा जिले में सम्पन्न हुई कार्यवाही की जानकारी देते हुए जिला पंचायत के अतिरिक्त सीईओ श्री दयाशंकर सिंह ने बताया कि जिले की 577 ग्राम पंचायतो में जीर्णोद्वार, जल संरचना निर्माण कार्य स्वीकृत किए गए है मनरेगा के अंतर्गत जीर्णोद्वार तालाब निर्माण, मरम्मत कार्य की शुरूआत आज से हुई है। विदिशा जिले की 161 पंचायतो में तालाबो का जीर्णोद्वार कार्य की शुरूआत हुई है उपरोक्त कार्यो के लिए कुल 2361.62 लाख रूपए की प्रशासकीय स्वीकृति जारी की गई है। आज 14 तालाबो का लेआउट कार्य किया गया है वही 13 कार्य प्रारंभ किए गए है।  कुरवाई विधायक श्री हरिसिंह सप्रे ने कुरवाई विकासखण्ड के ग्राम शाहपुर में विधिवत पूजा अर्चना कर जल संचयन अभियान के कार्य की शुरूआत की है इसी प्रकार विदिशा विकासखण्ड में भोपाल संभाग की अपर आयुक्त की उपस्थिति में ग्राम पंचायत खरी में जल संचय कार्य की शुरूआत की गई है। जिला पंचायत के अतिरिक्त सीईओ श्री सिंह ने बताया कि बासौदा विकासखण्ड में 20, ग्यारसपुर में 14, कुरवाई में 21, लटेरी में 16, नटेरन में 19, सिरोंज में 34 तथा विदिशा में 37 तालाबो का जीर्णोद्वार कार्य अभियान के तहत संपादित किया जाना है।


उपार्जन कार्य की जानकारी 


रबी सीजन में समर्थन मूल्य पर उपार्जित गेंहू, चना की पांच अपै्रल सोमवार को की गई खरीदी कार्य की जानकारी देते हुए डिप्टी कलेक्टर एवं प्रभारी जिला आपूर्ति अधिकारी श्रीमती अमृता गर्ग ने बताया कि सोमवार पांच अपै्रल को 924 किसानो से कुल 103138.95 कि्ंवटल गेंहू समर्थन मूल्य पर क्रय किया गया है इस प्रकार आज दिनांक तक कुल 1263 कृषको से 116164.04 कि्ंवटल गेंहू क्रय किया गया है।  चना उपार्जन संबंधी आज सम्पन्न हुए कार्यो की जानकारी देते हुए श्रीमती गर्ग ने बताया कि पांच अपै्रल को कुल 11 किसानो से 120.50 कि्ंवटल चना खरीदी का कार्य किया गया है जबकि अब तक 19 किसानो के द्वारा समर्थन मूल्य पर उपार्जन केन्द्रो पर कुल 155 कि्ंवटल चना का विक्रय किया गया है।


48 सेम्पल पॉजिटिव प्राप्त हुए


मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ केएस अहिरवार ने बताया कि सोमवार पांच अपै्रल को विदिशा जिले में कोरोना संक्रमण के 48 सेम्पल पॉजिटिव प्राप्त हुए है। जिसमें सर्वाधिक विदिशा विकासखण्ड में 28 इसके अलावा नटेरन में आठ तथा सिरोंज विकासखण्ड में सात, बासौदा में चार तथा कुरवाई विकासखण्ड में एक सेम्पल पॉजिटिव प्राप्त हुआ है। 

कोई टिप्पणी नहीं: