विदिशा (मध्यप्रदेश) की खबर 23 अप्रैल - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शुक्रवार, 23 अप्रैल 2021

विदिशा (मध्यप्रदेश) की खबर 23 अप्रैल

कोविड वैक्सीनेशन कार्य निर्धारित दिवसों में प्रातः दस बजे से


vidisha news
विदिशा विकासखण्ड के शहरी एवं ग्रामीण क्षेत्रों के निर्धारित सत्र स्थलों पर नियत दिवसों में निर्धारित समय पर वैक्सीनेशन कार्य किया जाएगा।  टीकाकरण प्रभारी डॉ डीके शर्मा ने बताया कि जिले की नवीन एवं पुरानी जिला चिकित्सालय में सातो दिनों में वैक्सीनेशन किया जाएगा। इसके अलावा सोमवार, बुधवार, गुरूवार एवं शनिवार को क्रमशः पीपलखेडा, करारिया, अहमदपुर, करैयाखेडा, मोहनगिरी एवं खामखेडा स्थल पर टीकाकरण कार्य प्रातः दस से सायं पांच बजे तक आयोजित किया जाएगा। 

’आपकी जिदंगी बहुत अनमोल हैं - मास्क लगाएं - आप सुरक्षित - दूसरा भी सुरक्षित’

  •  ’कोरोना वायरस के संक्रमण से बचने के लिये रखें सावधानियां’

कोरोना वायरस के संक्रमण से बचने के लिये सावधानियां रखना अतिआवश्यक है और कोरोना वायरस के प्रसार को रोकने के लिये हमें अपने व्यवहार में अनुकूल परिवर्तन लाना भी जरूरी है। मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी ने जनसामान्य से आग्रह किया है कि वे बार-बार अपनी आंख नाक और मुंह को छूनें से बचें, दूर से अभिवादन करें न किसी से हाथ मिलायें, न गले मिलें, आपस में दो गज की दूरी जरूर रखें। घर से बाहर निकलने पर हमेशा मॉस्क पहनें। खांसते और छींकते समय अपने मुंह तथा नाक को ढंककर रखें। श्वसन संबंधी शिष्टाचार का पालन करें। बार-बार साबुन तथा पानी अथवा अल्कोहलयुक्त सेनीटाईजर से हाथों को धोयें। सार्वजनिक स्थानों पर न थूकें, तंबाकू गुटका खैनी पान आदि खाकर यहां-वहां न थूकें। बार-बार छुएं जाने वाली सतहों को नियमित रूप से विसंक्रमित करें। अनावश्यक यात्रा से बचें । कोरोना को लेकर किसी से भेदभाव न करें। अनावश्यक भीड़भाड़ इकट्ठा न होने दें । अफवाहों पर ध्यान न दें और सोशल मीडिया पर किसी भी अपुष्ट जानकारी को प्रसारित न करें । सूचना के भरोसेमंद स्त्रोतों से ही जानकारी लें । आपस में सभी एक दूसरे को मनोवैज्ञानिक रूप से सहयोग प्रदान करें।


वरिष्ठ नागरिक बेघर अवस्था में हो या उनके साथ दुर्व्यवहार होता हो तो टोल फ्री नंबर 14567 पर सूचना दें’


वरिष्ठ नागरिक बेघर अवस्था में हो अथवा उनके साथ दुर्व्यवहार हो रहा हो तो टोल फ्री नंबर 14567 पर कॉल कर सूचित करें, ताकि संबन्धित विभागों के अधिकारियों द्वारा वरिष्ठ नागरिकों को सुरक्षा एवं आवश्यक सेवाएं दी जा सके एवं उनकी देखभाल की जा सके। विदित हो कि वरिष्ठ नागरिकों को सहायता एवं सेवा प्रदान करने हेतु भारत सरकार के सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्रालय एवं राष्ट्रीय सामाजिक सुरक्षा भारत सरकार द्वारा  राष्ट्रीय हेल्पलाइन (एल्डर हेल्पलाइन) स्थापित की गई है। मध्यप्रदेश में हेल्पलाइन 14567 का क्रियान्वयन सामाजिक न्याय एवं निशक्तजन कल्याण विभाग द्वारा हेल्पेज इंडिया भोपाल के माध्यम से किया जा रहा है। अपर कलेक्टर द्वारा मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत, अनुविभागीय अधिकारी द्व्य, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी, जिला शिक्षा अधिकारी, जिला कार्यक्रम अधिकारी महिला बाल विकास विभाग, महिला सशक्तिकरण के वन स्टॉप सेंटर, जिला शहरी विकास अभिकरण, जिला कोषालय अधिकारी, अपना घर वृद्ध आश्रम एवं तथागत समाज कल्याण समिति को  एल्डर हेल्पलाइन 14567 के प्रतिनिधियों का सहयोग करने एवं उनके द्वारा लाए गए नागरिकों के संबंधित प्रकरणों को प्राथमिकता से निवारण करने हेतु पत्र जारी किया गया है।


आक्सीजन की कमी नही होने दी जाएगी, आक्सीजन का बैकअप स्टॉक संधारित करने के निर्देश 


vidisha news
कलेक्टर डॉ पंकज जैन ने बताया कि विदिशा जिले की मेडिकल कॉलेज व जिला चिकित्सालय सहित अन्य चिकित्सा स्थलों पर ऑक्सीजन की कमी नहीं होने दी जाएगी। इसके लिए जिला प्रशासन द्वारा पूर्व में ही पुख्ता प्रबंध सुनिश्चित किए गए है। कलेक्टर डॉ जैन ने बताया कि प्रशासन कटिबद्ध है कि आक्सीजन की कमी कहीं भी जिले में नही होने दी जाएगी। खासकर शासकीय अस्पतालों में।  कलेक्टर डॉ जैन ने बताया कि जिले में मरीजो के लिए आक्सीजन की किसी भी प्रकार की बाधा उत्पन्न ना हो इसके लिए अब बैकअप स्टॉक के प्रबंध सुनिश्चित किए जा रहे है। गौरतलब हो कि गत रात्रि में मेडीकल कॉलेज में आक्सीजन की कमी होने की सूचना कलेक्टर के संज्ञान में आने पर कलेक्टर ने स्वंय पूरी रात्रि में मौजूद रहकर निगरानी की। कलेक्टर के प्रयासो से रात्रि में ही आक्सीजन का टैंकर विदिशा पहुंचा जिसे मेडीकल कॉलेज में स्थित आक्सीजन टेंक में भरने की कार्यवाही कलेक्टर की उपस्थिति में सम्पन्न हुई है। इस दौरान मेडीकल कॉलेज के डीन डॉ सुनील नंदेश्वर सहित अन्य अधिकारी मौजूद रहें। 

कोई टिप्पणी नहीं: