सीहोर (मध्यप्रदेश) की खबर 23 अप्रैल - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शुक्रवार, 23 अप्रैल 2021

सीहोर (मध्यप्रदेश) की खबर 23 अप्रैल

कोरोना मरीजों के ईलाज के लिए वरिष्ठ समाजसेवी अखिलेश राय ने अस्पताल को प्रदान की तीन ऑक्सीजन कॉन्सट्रेटर मशीनें,श्रीराय ने 12 और मशीनों का दिया कंपनी को आर्डर


sehore news
सीहोर। कोरोना संक्रमित मरीजों और परिजनों को चिंता करने की जरूरत नहीं है। जिले के वरिष्ठ समाजसेवी अखिलेश राय विधायक सुदेश राय ने शुक्रवार को जिला अस्पताल पहुंचकर मुख्य चिकित्सा स्वास्थ्य अधिकारी डॉ सुधीर डेहरिया और जिला अस्पताल प्रभारी डॉ आनंद शर्मा को कोरोना संक्रमित मरीजों के समुचित उपचार के लिए हेलीकॉप्टर से मंगाकर तीन ऑक्सीजन कॉन्सट्रेटर मशीनें प्रदान की है। शहर में बड़ते कोरोना वायरस संक्रमित नागरिकोंं की संख्या को ध्यान में रखते हुए समाजसेवी श्री राय ने 12 और ऑक्सीजन कॉन्सट्रेटर मशीनों का आर्डर बम्बे की कंपनी को दिया है। निर्माणाधीन ऑक्सीजन प्लांट में श्री राय के द्वारा सहयोग किया जा रहा है। जिला अस्पताल पहुंचे श्री राय ने कहा की स्थिति भयानक बनी हुई है संक्रमित लोगों की संख्या बड़ रहीं है स्थित को कंट्रेाल करने के लिए कलेक्टर अजय गुप्ता सहित मुख्य चिकित्सा जिला स्वास्थ्य अधिकारी सहित जिला अस्पताल के इंचार्ज डॉक्टर पूरी विभाग की टीम के साथ मरीजों के उपचार मेंं लगे हुए है। मरीज तेजी से ठीक भी हो रहे है। अस्पताल में किसी भी मरीज की ऑक्सीजन की कमी से मुत्यु नहीं हो इस के लिए हेलीकॉप्टर से मंगाकर तीन ऑक्सीजन कॉन्सट्रेटर मशीनें प्रदान की है और 12 और ऑक्सीजन कॉन्सट्रेटर मशीनों का आर्डर बम्बे की कंपनी को दिया है। जल्दी ही यह मशीने भी जिला अस्पताल को मिल जाऐगी। उन्होने कहा की कोरोना संक्रमित मरीज और उनके परिजन परेशान नहीं हो अस्पताल में समुचित स्वास्थ्य सुविधाए उपलब्ध कराने के पूरे प्रयास किए जा रहे है। मुख्य चिकित्सा जिला स्वास्थ्य अधिकारी डॉ सुधीर डेहरिया ने बताया की ऑक्सीजन प्लांट जल्दी हीं बनकर तैयार होगा। सभी मनीजों को इस प्लांट से पर्याप्त ऑक्सीजन मिलेगी।वरिष्ठ समाजसेवी अखिलेश राय ने भी तीन ऑक्सीजन कॉन्सट्रेटर मशीनें प्रदान की गई है इन मशीनों का उपयोग कोरोना के गंभीर मरीजों के अपचार के लिए किया जाएगा। उन्होने कहा की एक ऑक्सीजन कॉन्सट्रेटर से माध्यम से दो मरीजों को सफलता पूर्वक ऑक्सीजन दी जा सकती है। जिला अस्पताल के इंजार्च डॉ आनंद शर्मा ने कहा की निश्चित रूप से प्राण वायू ऑक्सीजन की कमी बनी हुई है। जरूरत से काफी कम ऑक्सीजन उपलब्ध है। एैसे हालातों में वरिष्ठ समाजसेवी अखिलेश राय ने अति उपयोगी ऑक्सीजन कॉन्सट्रेटर मश्ीीने प्रदान कर जिला अस्पताल को बहुत बढा सहयोग किया है। कोरोना संक्रमित मरीजों के लिए श्री राय का समर्पण सराहनीय कदम है। समस्त शहर और डॉक्टर की तरफ से श्री राय का हम आभार व्यक्त करते है। 

सीहोर सहित प्रदेश अनेक जिलों में ऑक्सीजन की उपलब्धता के लिए एयर सेपरेशन यूनिट की स्थापना के आदेश जारी

  • भारत सरकार द्वारा स्वीकृत 8 प्लांट में से 4 शुरू रू 4 अगले सप्ताह में शुरू होंगे

प्रदेश में कोविड संक्रमण की रोकथाम और कोविड-19 संक्रमित मरीजों को बेहतर से बेहतर इलाज उपलब्ध करवाने के लिए राज्य सरकार हरसंभव प्रयास कर रही है। इसके अंतर्गत ऑक्सीजन की कमी को दूर करने के लिए प्रदेश के लगभग सभी जिलों के जिला अस्पतालों में नये ऑक्सीजन प्लांट की स्थापना के साथ एयर सेपरेशन यूनिट की स्थापना और ऑक्सीजन प्रदाय की व्यवस्था की जा रही है।   


खण्डवा-ऑक्सीजन प्लांट - भारत सरकार द्वारा प्रदेश के लिए स्वीकृत 8 ऑक्सीजन प्लांट में से चार ऑक्सीजन प्लांट खंडवा, उज्जैन, शिवपुरी और सिवनी जिले में शुरू हो गये हैं। दो प्लांट मंदसौर और जबलपुर में अगले 2 दिन में और रतलाम, मुरैना जिले में अगले एक सप्ताह में शुरू हो जायेंगे। 


37 जिलों के लिये एयर सेपरेशन यूनिट सिवनी-ऑक्सीजन प्लांट के कार्यादेश जारी किये हैं।

इसके अलावा राज्य शासन ने सीहोर जिला अस्पताल सहित प्रदेश के 13 जिलों के जिला अस्पतालों में ऑक्सीजन की उपलब्धता के लिए एयर सेपरेशन यूनिट की स्थापना के कार्यादेश जारी कर दिये हैं। इन जिलों में सीहोर, कटनी,  बैतूल, बड़वानी,  नरसिंहपुर, खरगोन, बालाघाट,  भोपाल (काटजू हॉस्पिटल),  रायसेन,  सतना, गुना,  सागर और विदिशा शामिल हैं। राज्य शासन द्वारा 24 अन्य जिलों क्रमश: देवास, धार,  मण्डला,  होशंगाबाद,  पन्ना,  दमोह,  छतरपुर, सीधी,  भिण्ड,  उमरिया,  नीमच,  झाबुआ,  सिंगरौली,  टीकमगढ़,  अशोकनगर,  बुरहानपुर,  अनूपपुर,  आगर-मालवा,  श्योपुर,  शाजापुर,  डिण्डोरी,  अलीराजपुर,  निवाड़ी (सी.एच.सी.) और हृरदा के जिला अस्पतालों में एयर सेपरेशन यूनिट की स्थापना की स्वीकृति भी दे दी गई है। पाँच जिलों में नई तकनीकी की एएसयू- इसके अलावा पाँच जिलों क्रमश: भोपाल, इंदौर, ग्वालियर, रीवा और शहडोल के जिला अस्पतालों में नयी सी.एस.आई.आर. तकनीक से एयर सेपरेशन यूनिट की स्थापना की स्वीकृति भी दी गई है। इस तकनीक से देश में पहली बार मध्यप्रदेश के इन जिलों में ही एयर सेपरेशन यूनिट की स्थापना की जा रही है। ऑक्सीजन कंसन्ट्रेटर यूनिट भी उपलब्ध- राज्य शासन द्वारा अस्पतालों में 2000 ऑक्सीजन कंसन्ट्रेटर यूनिट जिला स्तर पर उपलब्ध करवा दी गई है। इन यूनिटस का उपयोग कोविड-19 संक्रमित व्यक्तियों के उपचार में सुनिश्चित किया जा रहा है। इसके अलावा भोपाल जिले में कोविड केयर सेन्टरों में उपयोग के लिये 150 ऑक्सीजन कंसन्ट्रेटर यूनिट उपलब्ध करवाई गई है। अभी प्रदेश में 800 ऑक्सीजन कंसन्ट्रेटर यूनिट और उपलब्ध करवाने के प्रयास किये जा रहे हैं। साथ ही राज्य शासन ने आज प्रति मिनट 10 लीटर क्षमता की 2500 ऑक्सीजन कंसन्ट्रेटर यूनिट की खरीदी के आदेश जारी कर दिये हैं। 


"विश्व मलेरिया दिवस" पर आशा फोन इन कार्यक्रम का प्रसारण रविवार को


"विश्व मलेरिया दिवस" पर आशा फोन कार्यक्रम 25 अप्रैल रविवार को सुबह 09:55 से 10:55 तक आकाशवाणी भोपाल से प्रसारित किया जाएगा। कार्यक्रम के दौरान श्रोता आकाशवाणी के फोन नंबर 0755-2660902, 2660903 पर सवाल पूछ सकते हैं। जिला कार्यक्रम अधिकारी सीहोर ने समस्त आशा, महिलाएं स्वास्थ्य कार्यकर्ता, आंगनवाड़ी कार्यकर्ता कार्यक्रम का ग्राम आरोग्य केन्द्र में बैठकर रेडियों पर स्थानीय ग्रामीण महिलाओं के साथ सुनने तथा गांव के अन्य ग्रामीणों को कार्यक्रम की जानकारी देने के लिए कहा है। उन्होंने बताया कि इस कार्यक्रम का मुख्य उदद्श्य मलेरिया जैसी घातक बिमारी के प्रति लोगों को जागरुक करना एवं मलेरिया के लक्ष्ण उत्पन्न होने पर तुरंत जांच एवं उपचार कराना है। 


जिले में डोर टू डोर सर्वे कार्य निरंतर जारी


sehore news
कोविड-19 के बढ़ते हुए संक्रमण को देखते हुए प्रारंभिक स्तर पर ही पता लगाने तथा समुचित इलाज के लिए डोर टू डोर सर्वे का कार्य आशा, एएनएम तथा आंगनवाड़ी कार्यकर्ता द्वारा निरंतर किया जा रहा है। आशा, एएनएम तथा आंगनवाड़ी कार्यकर्ता द्वारा घर घर जाकर मरीजों से उनके स्वास्थ्य के बारे में जानकारी ली जा रही है। साथ ही थर्मल स्कैनर से फीवर तथा ऑक्सीमीटर से ऑक्सीजन सीजन लेवल चेक किया जा रहा है एवं कोविड-19 के संभावित लक्षण मिलने पर उन्हें स्वास्थ्य केंद्र भेजा जा रहा है। आंगनवाडी कार्यकर्ताओं द्वारा लोगों को कोविड-19 संक्रमण से बचाव के लिए भी जागरुक किया जा रहा है। साथ ही मास्क लगाने, सोशल डिस्टेंसिंग बनाने एवं हाथों को सेनेटाईज करने आदि की सलाह दी जा रही है। 


कोविड केयर सेंटरों की नियमित निगरानी की व्यवस्था हो- मुख्यमंत्री श्री चौहान


मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि कोविड केयर सेंटरों की नियमित निगरानी की व्यवस्था हो। उन्होंने कहा कि भोजन की गुणवत्ता, साफ-सफाई और औषधियों की उपलब्धता और समझाइश पर विशेष ध्यान दिया जाए। मुख्यमंत्री श्री चौहान कोरोना संक्रमण नियंत्रण के लिए गठित कोर ग्रुप की बैठक को निवास से वर्चुअली संबोधित कर रहे थे। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने ऑक्सीजन की उपलब्धता, रेमडेसिविर इंजेक्शन तथा अन्य मेडिकल सामग्री की आपूर्ति और परिवहन की स्थिति की जानकारी ली। पॉजिटिव रोगियों को मेडिकल किट वितरण, उनके होम आइसोलेशन की स्थिति और कोविड केयर सेंटर की व्यवस्थाओं के संबंध में भी जानकारी प्राप्त की गई। प्रदेश में 9035 मरीज स्वस्थ हुए बैठक में जानकारी दी गई कि कल 9035 व्यक्ति स्वस्थ होकर विभिन्न अस्पतालों से डिस्चार्ज हुए। इसके साथ ही भोपाल और इंदौर में संक्रमण का आंकड़ा स्थिर हुआ है। पन्ना, कटनी, छतरपुर सहित उत्तरप्रदेश से लगे जिलों में पॉजिटिविटी रेट अधिक है।


ऑक्सीजन आपूर्ति की समीक्षा - मुख्यमंत्री श्री चौहान ने ऑक्सीजन आपूर्ति व्यवस्था की समीक्षा कर जिलेवार आवश्यकतानुसार आपूर्ति के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि राज्य स्तर से जिस जिले के लिए ऑक्सीजन आवंटित की गई उसे समय रहते सुनिश्चित किया जाए। एयर प्रेशर यूनिटों की स्थापना के कार्य को गति देने के साथ जिलों में ऑक्सीजन कंसंट्रेटर और छोटे सिलेंडरों की आपूर्ति की व्यवस्था पर भी ध्यान दिया  जाए।


ऑक्सीजन टैंकरों की पॉइंट टू पॉइंट निगरानी- बैठक में जानकारी दी गई कि उत्पादन केन्द्र से ऑक्सीजन टैंकरों के चलने से लेकर संबंधित जिले तक ऑक्सीजन की नियमित आपूर्ति के लिए पॉइंट टू पॉइंट समीक्षा की जा रही है। होम आइसोलेशन अंतर्गत रोगियों के स्वास्थ्य की जानकारी भी नियमित रूप से ली जा रही है। पॉजिटिव रोगियों को मेडिकल किट उपलब्ध कराई जा रही है। प्रदेश के 52 जिलों में 137 कोविड सेंटरों में 7 हजार 437 बिस्तरों की क्षमता उपलब्ध हो गई है। इनमें से 2386 बिस्तर भरे हुए हैं। लोक निर्माण विभाग द्वारा कोविड केयर सेंटरों की स्थापना का कार्य निरंतर जारी है। इसके लिए आठ पैरामीटर निर्धारित कर उनकी नियमित समीक्षा कलेक्टर और स्वास्थ्य विभाग द्वारा की जा रही है। ग्राम स्तर पर होगी आयसोलेशन व्यवस्था ग्रामीण अंचल में मोबाइल एप द्वारा संक्रमण की स्थिति की निगरानी की व्यवस्था भी की जा रही है। समीक्षा बैठक में बताया गया कि प्रदेश में आ रहे सभी प्रवासी श्रमिकों और कुंभ यात्रियों के आइसोलेशन की व्यवस्था ग्राम स्तर पर की गई है।


रेमडेसिविर की कालाबाजारी करने वालों पर रासुका लगायें : मुख्यमंत्री श्री चौहान

  • मुख्यमंत्री श्री चौहान ने उच्च स्तरीय बैठक में दिए निर्देश

मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि रेमडेसिविर इंजेक्शन की कालाबाजारी करने वालों के विरुद्ध रासुका के तहत कार्यवाही की जाए। ऑक्सीजन आपूर्ति के संबंध में गलत अफवाह उड़ाने वालों और भ्रामक जानकारियाँ देने वालों के खिलाफ भी कार्यवाही हो। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने निवास से कोरोना संक्रमण की स्थिति पर वर्चुअली उच्च स्तरीय बैठक ली। मुख्य सचिव श्री इकबाल सिंह बैंस, अपर मुख्य सचिव गृह श्री राजेश राजौरा, पुलिस महानिदेशक श्री विवेक जौहरी सम्मिलित हुए। जनता के सहयोग से लगा कोरोना कर्फ्यू प्रभावी- मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि कोरोना कर्फ्यू के लिए जिस तरह से जनता आगे आई है और सभी ने सहयोग किया है, उससे संक्रमण फैलने की गति कम हुई है। जनता के साथ जनता के सहयोग से कोरोना कर्फ्यू को बनाए रखना जरूरी है। हमारा लक्ष्य प्रदेश की जनता को संक्रमण से बचाना है। अतः घर पर ही रहें अनावश्यक बाहर न निकले और संक्रमण की चैन को तोड़े। हमारा लक्ष्य है कि प्रदेश के पॉजिटिव हुए लोगों को जल्द से जल्द स्वास्थ्य लाभ मिले। ऑक्सीजन आपूर्ति -मुख्यमंत्री श्री चौहान ने जानकारी दी कि ऑक्सीजन आपूर्ति के लिए डीआरडीओ सहित केंद्र सरकार स्तर पर लगातार बातचीत जारी है। ऑक्सीजन की आपूर्ति में हर संभव सहयोग मिल रहा है। कोरोना संक्रमण पर नियंत्रण और इलाज की व्यवस्था के संबंध में मंत्रियों को सौंपे गए दायित्व का प्रभावी क्रियान्वयन सुनिश्चित किया जाए। टीकाकरण के लिए लोगों को प्रेरित करना आवश्यक है - मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने के लिए योग से निरोग कार्यक्रम और काढ़ा वितरण जैसी गतिविधियाँ आरंभ की जा रही हैं। प्रदेश में टीकाकरण को गति दी जा रही है। वैक्सीनेशन के लिए लोगों को प्रेरित करना आवश्यक है। एक मई से 18 साल से अधिक आयु के सभी लोगों का निरूशुल्क टीकाकरण होगा।  


योग से निरोग अभियान शुरू किया जावेगा-मुख्यमंत्री श्री चौहान

  • मुख्यमंत्री ने नगरीय जनप्रतिनिधियों को किया संबोधित, कोरोना की चैन तोडने में सभी सहभागी बने

मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि कोविड संक्रमण महामारी से निजात पाने के लिए कोरोना की चैन को तोडने में सभी सहभागी बनें। साथ ही 30 अप्रैल 2021 तक घर में रहकर कोरोना संक्रमण से सुरक्षित रहे। जिससे कोरोना संक्रमण की चैन अवश्य टूटेगी। इसी दिशा में योग से निरोग अभियान शुरू किया जावेगा। जिसमें 10 मरीजों पर एक योग शिक्षक रहेगा। यह योग शिक्षक रोग प्रतिरोधक क्षमता बढाने की भी समझाइश देगा। वे राज्य स्तरीय वीसी के माध्यम से नगरीय जनप्रतिनिधियों को संबोधित कर रहे थे। मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि कोरोना संक्रमण से निजात दिलाने की दिशा में काढा बनाने का अभियान शुरू किया जावेगा। जिससे रोग प्रतिरोधक क्षमता सभी में बढेगी। उन्होंने कहा कि नगरीय क्षेत्र के जनप्रतिनिधि मेडीकल किट वितरण में सहयोग करे। उन्होने कहा कि शहरी क्षेत्रो में सेनेटाईजर का काम होता रहे। जिससे स्वच्छता को बल मिलेगा। साथ ही संक्रमण दूर होगा। उन्होने कहा कि मुख्यमंत्री पथ विक्रेता योजना के अतंर्गत 10-10 हजार रूपयें गरीबो को उपलब्ध कराये गये है। उनकी रोजी रोटी चलती रहे। इस दिशा में उन्हे तीन माह का राशन देने की व्यवस्था की जा रही है। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि इस योजना के हितग्राहियों को 01-01 हजार रूपये उनके खाते में डालने की तत्कालीक व्यवस्था की जा रही है। उन्होने कहा कि जिन व्यक्तियों को दोनो टीके लग चुके है। ऐसे व्यक्ति कोरोना संक्रमण में स्वस्थ होकर निकलेगे। उन्होने कहा कि 45 वर्ष से अधिक उम्र के व्यक्तियों को टीका लगाने में नगरीय क्षेत्र के जनप्रतिनिधि अपनी महती भूमिका का निर्वहन करे। उन्होने कहा कि संक्रमित व्यक्ति को कोरोना का पूर्ण उपचार लेने की सलाह दे। इस दिशा में स्वयंसेवी संस्थाओं को जोडा जाकर कोविड केयर सेंटर में मदद की जावे। मुख्यमंत्री ने जनप्रतिनिधियों से अपील की कि टीकाकरण अभियान में बढ-चढ कर हिस्सा लेकर इस उम्र के व्यक्तियों को टीका अवश्य लगाये। उन्होंने कहा कि 01 मई से 18 वर्ष से अधिक  उम्र के व्यक्तियों को टीका लगाने के लिए अभियान शुरू किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि छोटी संख्या में प्रवासी मजदूर आ रहे है। यह मजदूर शहरी क्षेत्र में भी आयेगे। उनको दीनदयाल रसोई योजना आदि के माध्यम से भोजन कराने की व्यवस्था की जा सकती है। जिसमें हम सभी को अपनी जिम्मेदारी निभानी चाहिए। संकट बडा है, कोरोना की चैन तोडने में सभी सहभागी बने, जिसके अंतर्गत मास्क का उपयोग, सोशल डिस्टेसिंग का पालन, सेनेटाईजर का उपयोग तथा साबुन से हाथ धोने के बारे में आम लोगो को जागरूक करें। जिससे निश्चित तौर पर कोरोना संक्रमण को हम अवश्य जितेगे। साथ ही मृत्यु से अमृत की ओर बढने में कामयाब होगे।   


कोरोना संक्रमण के विरूद्ध आर्ट ऑफ लिविंग करेगा मध्यप्रदेश का सहयोग

  • योग, आयुर्वेद और मनोबल बनाए रखने पर मरीजों को मार्गदर्शन की व्यवस्था , मुख्यमंत्री श्री चौहान ने की श्री रविशंकर से बात

मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि कोरोना संक्रमण के विरूद्ध रोग-प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने और कोरोना से प्रभावित व्यक्तियों के स्वास्थ्य में सुधार के लिए योग और आयुर्वेद का सहयोग लिया जाएगा। इस दिशा में श्री रविशंकर ने राज्य सरकार को सहयोग का आश्वासन दिया है। इस संबंध में श्री रविशंकर से फोन पर बात हुई है।  आर्ट ऑफ लिविंग की टीम योग, आयुर्वेद और मरीजों की मनोस्थिति को कमजोर तथा नकारात्मक होने से बचाने और उनका मनोबल बनाए रखने के लिए आवश्यक मार्गदर्शन देने में सहयोग प्रदान करेगी। कोविड महामारी को लेकर मन में बैचेनी, व्यग्रता, चिंता, तनाव और अवसाद जैसी स्थितियों को बनने से रोकने में सहयोग करने के साथ संक्रमण अवधि में उपचार के दौरान मरीज को स्वास्थ्यप्रद पौष्टिक आहार लेने के संबंध में भी मार्गदर्शन उपलब्ध कराया जाएगा। होम आयसोलेशन तथा कोविड केयर सेंटर में रह रहे व्यक्तियों को वीडियो कॉल, फोन कॉल के माध्यम से योग, प्राणायाम, आसन तथा आहार के संबंध में मार्गदर्शन उपलब्ध कराया जाएगा। जन अभियान परिषद इस गतिविधि में आवश्यक समन्वय और सहयोग करेगा।


डोर-टू-डोर सर्वे में कोई घर न छूटे- कलेक्टर श्री गुप्ता


कोरोना संक्रमण की रोकथाम के लिए जिले के ग्रामीण क्षेत्रों में डोर टू डोर सर्वे किया जा रहा है ताकि प्रारंभ में ही कोविड के संभावित लक्षणों के मरीजों को चिहिन्त कर उपचार किया जा सके। सर्वे में आशा एएनएम एवं आंगनबाड़ी कार्यकर्ता द्वारा सर्दी, जुकाम और बुखार के मरीजों का परीक्षण कर कोविड के लक्ष्ण पाये जाने पर इलाज के लिये स्वास्थ्य केन्द्र भेजा जा रहा है। कलेक्टर श्री अजय गुप्ता ने सर्वे दलों को अत्याधिक गंभीरता से सर्वे करने के निर्देश देते हुए कहा कि सर्वे में कोविड संभावित लक्ष्ण वालो लागों को चिन्हित कर लिया जाये तो इससे कोरोना संक्रमण को रोकने में बड़ी मदद मिलेगी साथ ही लोगों को समय पर उपचार मिलने से वे जल्द स्वस्थ्य होंगे। श्री गुप्ता ने सर्वे दलों को यह निर्देश दिए हैं कि कोई भी घर से सर्वे न छुटे। उन्होंने संबंधित विभागों के अधिकारियों से कहा कि वे भी सर्वे की मॉनीटरिंग कर यह सुनिश्चित करें कि यह कार्य पूरी गम्भीरता से और तेजी से किया जाये। श्री गुप्ता ने ग्रामीण क्षेत्रों के स्वास्थ्य केन्द्रों के चिकित्सा स्टॉफ को यह निर्देश दिये हैं कि गांवों से सर्वे के उपरान्त कोरोना संक्रमण के लक्ष्णों वाले व्यक्तियों त्वरित जांच एवं उपचार किया जाये। उन्होंने कुंभ या बाहर से आने वाले व्यक्तियों की जानकारी लेना एवं उनकी जांच के भी निर्देश दिए हैं। उन्होंने ग्राम पंचायतों में बनाये जो रहे कोरेन्टाइन सेंटर में सभी व्यवस्थाएं शासन द्वारा जारी दिशा निर्देशों के अनुरूप की जाएं।


किसानों को एक अरब 81 करोड़ 97 लाख से अधिक राशि का भुगतान किया गया

  • 40912 किसानों से 3 लाख 17 हजार 780 मीट्रिक टन गेहूं की खरीदी

जिले में खरीदी केंद्रों पर सभी व्यवस्थाओं के बीच किसानों से खरीदी कार्य सुचारु रुप से जारी है। जिला प्रशासन द्वारा खरीदी केंद्रों पर किसानों की सुविधाओं के लिए समुचित प्रबंध किए जाने के साथ-साथ कोरोना नियंत्रण के लिए पर्याप्त उपाय किए गए हैं। कलेक्टर श्री अजय गुप्ता ने सभी अधिकारियों को निर्देश दिये कि वे उपार्जन केन्द्रों का सतत निरीक्षण करें और यह देखें की किसानों को फसल बेचने में किसी प्रकार की कोई भ्री असुविधा न हो। अधिकारियो द्वारा उपार्जन केन्द्रों का सतत निरीक्षण किया जा रहा है। जिला आपूर्ति अधिकारी श्री शिव कुमार तिवारी ने जानकारी दी कि जिले में कुल एक लाख 9 हजार 178 किसानों ने पंजीयन कराया है। आज दिनांक तक 40 हजार 912 किसानों से 3 लाख 17 हजार 780 मेट्रिक टन गेंहू खरीदा जा चुका है। जिसमें से 2 लाख 56 हजार 716 मेट्रिक टन गेंहू का परिवहन किया जा चुका है। उन्होंने बताया कि अभी तक किसानों के खातों में 1 अरब 81 करोड़ 97 लाख 85 हजार 418 रुपये की राशि जमा की जा चुकी है। 


"योग से निरोग" कार्यक्रम का शुभांरभ


भारत सरकार आयुष विभाग द्वारा जारी गाइड लाइन के अनुसार एवं मध्यप्रदेश शासन द्वारा आयोजित ''योग से निरोग'' कार्यक्रम का वर्चुअल शुभारंभ मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान द्वारा शुक्रवार को किया गया। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने बताया कि कोरोना प्रभावित होम आईसोलेटेड रोगियों का मनोबल बनाए रखने तथा रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने के लिए "योग से निरोग" कार्यक्रम के अन्तर्गत योग प्रशिक्षकों द्वारा ऑनलाईन (वीडिया/ऑडिया/कॉल) से रोगियों को योग, ध्यान आसन, प्राणायाम का व्यक्तिगत अभ्यास कराया जाएगा। जिला स्तर पर जिला आयुष अधिकारी व जिला शिक्षा अधिकारी कार्यक्रम की मॉनीटरिंग करेंगे।   


293 व्यक्तियों को लगा कोरोना का प्रथम एवं द्वितीय टीका


मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान के निर्देश पर प्रदेश के साथ ही सीहोर जिले में कोविड टीकाकरण किया जा रहा है। जिले में कुल 10 केन्द्रों पर 293 व्यक्तियों को कोरोना का प्रथम एवं द्वितीय टीका लगाया गया। शुक्रवार को शहरी सीहोर सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र सहित जिला चिकित्सालय क़े 1 सत्र में कुल 173, बुदनी के 3 सत्र में 36, श्यामपुर के 6 सत्र में 84 व्यक्तियों को कोविड का प्रथम एवं द्वितीय टीका लगाया गया।


कंट्रोल रूम में डाटा एंट्री कार्य के लिए कम्प्यूटर ऑपरेटर की लगाई ड्यूटी


जिला स्तर पर कोविड कमांड एवं कंट्रोल सेंटर ई-दक्ष कार्यालय कलेक्ट्रेट में स्थापित किया गया है। कंट्रोल रूम में डाटा एंट्री कार्य के लिए कलेक्टर श्री अजय गुप्ता द्वारा सहायक वर्ग एवं कंप्यूटर ऑपरेटर की ड्यूटी लगाई गई है। साथ ही निर्देश दिए गए हैं कि संबंधित कर्मचारी तत्काल अपनी उपस्थिति सुनिश्चित करें। कलेक्टर की पूर्व अनुमति के बिना किसी भी दिशा में अवकाश स्वीकृत नहीं होगा। कलेक्टर श्री गुप्ता ने जिन कर्मचारियों की ड्यूटी लगाई गई है उनमें महिला सशक्तिकरण विभाग से कंप्यूटर ऑपरेटर श्री रविन्द्र रघुवंशी-9907380133 एवं आईटीआई से ट्रेनर श्री महेन्द्र श्रीवास्तव-9300987480 को प्रातः 8:00 बजे से अपरान्ह 2:00 बजे तक, महिला पॉलिटेक्निक कॉलेज से श्री जावेद कुरैशी-9926323029 एवं जिला उद्यानिकी विभाग से श्री जितेन्द्र-8109272010 को अपरान्ह 2:00 बजे से रात्रि 8:00 बजे तक तथा जिला शिक्षा केन्द्र से श्री शोहेब अंसारी-9131816165 को रात्रि 8:00 बजे से प्रातः 8:00 बजे तक शामिल हैं। संबंधित कर्मचारी नोडल अधिकारी कार्यपालन यंत्री जल संसाधन विभाग श्री दीपक चौकसे-9329762943 से समन्वय कर ड्यूटी संपादित करेंगे। नोडल अधिकारी द्वारा जरूरत अनुसार ड्यूटी समय में परिवर्तन किया जा सकता है। यह आदेश तत्काल प्रभाव से लागू हो होकर आगामी आदेश तक प्रभाव सील रहेगा।  


पंचायतों में बनाए जा रहे हैं कोरेंटाइन सेंटर


sehore news
वर्तमान में तेजी से बढ़ रहे कोविड-19 संक्रमण को दृष्टिगत रखते हुए सभी पंचायतों में कोरेंटाइन सेंटर बनाए जा रहे हैं। इन कोरेंटाइन सेंटरों में पेयजल, सैनिटाइजर, बिस्तर सहित सभी आवश्यक सुविधाएं उपलब्ध कराई जा रही हैं। जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्री हर्ष सिंह ने सभी संबंधित अधिकारियों को निर्देश दिए हैं कि पंचायतों में बनाए जा रहे हैं कोरेंटाइन सेंटरों में शासन द्वारा जारी दिशा निर्देशों तथा कोविड-19 गाइड लाइन का पालन सुनिश्चित किया जाए।


कोरोना संक्रमित मरीज मिलने पर बनाए जा रहे माईक्रोकंटेंमेंट एरिया


sehore news
जिले में कोरोना संक्रमण की रोकथाम के लिए कलेक्टर श्री अजय गुप्ता के निर्देश पर जहां कोरोना संक्रमित मरीज मिल रहे हैं, उस घर या एरिये को माइक्रो कंटेंटमेन्ट एरिया बनाए जा रहे है। माइक्रो कंटेंटमेंट बनाए जाने से करोना संक्रमण के प्रसार पर विराम लगेगा। माइक्रो कंटेंटमेंट एरिया में जिला प्रशासन द्वारा लोगों को अपनी रोजमर्रा की चीजे उपलब्ध कराई जा रही हैं। इसके अलावा नियमित स्वास्थ्य परीक्षण किया जा रहा है और दवाएं दी जा रही है।


जिले में 197 व्यक्ति कोरोना पॉजिटिव मिले, वर्तमान में कोरोना एक्टिव-पॉजीटिव की संख्या 1124, 3 कोरोना संक्रमितों की मृत्यु, मृतकों की कुल संख्या 72


पिछले 24 घंटे के दौरान 197 व्यक्ति कोरोना पॉजीटिव मिले। इनमें सीहोर शहरी क्षेत्र के 55 व्यक्ति कोरोना पॉजिटिव मिले हैं। जो बड़ा बाजार, ए-1 सिटी, मोती बाग, लुनिया चौराहा, लाड़कुई, कस्बा, कंचन विहार, जेएनएन सीहोर, जयंती कॉलोनी, जनता कॉलोनी, हासिंग बोर्ड, गंज, फिश मार्केट, इंग्लिशपुरा, क्रिसेन्ट रेसीडेंसी, तहसील चौराहा, शुगर फैक्ट्री, सिंधी कॉलोनी, सुभाष नगर, शिव आराध्य कॉलोनी, शीतल विहार, रेलवे स्टेशन रोड़, रॉय बिल्डिंग, पुलिस लाईन, पलटन एरिया, नेहरु कॉलोनी के निवासी हैं। इसी तरह आष्टा क्षेत्र से 33 व्यक्तियों की रिपोर्ट पॉजीटिव प्राप्त हुई है जो अलीपुर, सियाखेड़ी, पुराना दशहरा मैदान, निपानिया कला, खजूरिया, खाचरौद, खबड़ा, कजलास, बड़ा बाजार, आष्टा स्थानीय क्षेत्र, मेवाड़ा कॉलोनी, जावर, सेकूखेड़ा, लंगापुरा, बजरंग कॉलोनी, रायल मार्केट के निवासी हैं। बुदनी क्षेत्र अन्तर्गत 45 व्यक्ति संक्रमित मिले हैं। जो बुदनी के वार्ड नंबर 09, मालीबायां, बुदनी के वार्ड नंबर 09, 03,12, 13, 14, 11, 08, 06, सेमरी, नीनोर, शाहगंज, नगपुरा, मकोड़िया, हथनोरिया, खेड़ीसिलेगना, रेहटी, भकुल, मधुबन कॉलोनी, तालपुरा, पिपरिया, बुदनी थाना एरिया के निवासी हैं। इसी प्रकार नसरुल्लागंज क्षेत्र से 24 व्यक्ति पॉजीटिव मिले हैं जो नसरुल्लागंज के वार्ड नंबर 14, 09, 08, 02, 15, नीमोटा, कोर्ट एरिया, इटावा, गोपालपुर, धोलपुर, खलवा, मेन रोड़ नसरुल्लागंज, बाईबोड़ी, राला, भादाकुई, अमीरगंज, लाड़कुई के निवासी हैं। इछावर अन्तर्गत 23 व्यक्ति संक्रमित पाए गए जो इछावर के वार्ड नंबर 07, 06,  02, 14, 11, 04, 06, 08 पांगरा, पीलूखेड़ी, नीलबड़, भोपाल नाका, बालापुरा, अमलाहा, नयापुरा, दिवड़िया, बरखेड़ा, खेरी, बलोडिया के निवासी हैं। श्यामपुर क्षेत्र से 17 व्यक्ति संक्रमित मिले हैं जो सिराड़ी, सिकंदरगंज, सैकड़ाखेड़ी, खेलड़ी, खारी, दोराहा, बिल्किगंज, दोराहा, अमलाय, कुरनिया, बरखेड़ा, बिशनखेड़ी, नापली, पचामा, बावड़िया, जमुनिया, खजूरिया, श्यामपुर, बरखेड़ी, पडलिया के निवासी हैं। जिला चिकित्सालय स्थित डेडिकेटेट कोविड हेल्थ सेंटर (डीसीएचसी) में पिछले 24 घंटे के दौरान 3 कोरोना संक्रमित व्यक्तियों की मृत्यु हो गई। मृतकों में तीनों महिलाएं शामिल हैं। सीएमएचओ कार्यालय से प्राप्त जानकारी के अनुसार वर्तमान में जिले में एक्टिव पॉजिटिव 1124 हैं। आज 153 व्यक्ति रिकवर हुए। कुल रिकवर व्यक्तियों की संख्या 4042 हैं। कुल कोविड संक्रमित मृत व्यक्तियों की संख्या 72 है । आज 841 सैम्पल लिए गए है। जांच के लिए सीहोर शहरी क्षेत्र से 128, श्यामपुर से 135, विकासखंड नसरुल्लागंज से 103, आष्टा से 245 एवं बुदनी विकासखंड से 137 तथा इछावर से 93 सेंपल लिये गए हैं। जिले में कुल कोरोना पॉजीटिव व्यक्तियों की संख्या 5238 है जिसमें से 72 की मृत्यु हो चुकी है 4042 स्वस्थ होकर डिस्चार्ज हो गए है। तथा वर्तमान में एक्टिव/पॉजीटिव की संख्या 1124 है। आज 841 सैंपल जांच हेतु लिए गए। कुल जांच के लिए भेजे गए सेंपल 97037 हैं जिनमें से 90434 सेंपलों की रिपोर्ट निगेटिव आई है। आज 634 सेंपलों की रिपोर्ट निगेटिव आई है। कुल 1294 सेंपलों की रिपोर्ट आना शेष है। पैथालॉजी द्वारा कोरोना वायरस सेंपल की रिजेक्ट संख्या  कुल 71 है। जिले मे जो व्यक्ति होम क्वारन्टाईन में हैं उनके निवास स्थान से सीधे संवाद हेतु जिला स्तरीय कोविड-19 कॉल सेंटर स्थापित किया गया है। जिसका संपर्क नंबर- 07562-1075 है। जिला स्तर पर मोबाइल नंबंर 9425400273, 7987652577, 9479595519 पर कॉल सेंटर पर संपर्क किया जा सकता है। राज्य स्तर पर 104/181 नंबर पर कॉल करके भी टेलीमेडिसिन सेवा का लाभ लिया जा सकता है। 104 नंबर पर ई-परामर्श सेवा का भी लाभ लिया जा सकता है। होम क्वारन्टाईन व्यक्तियों तथा उनके परिजनों के लिए हेल्पलाईन नंबंर 18002330175 जारी किया गया है। होम क्वारन्टाईन व्यक्ति अथवा उनके परिजन इमोशनल वेलनेस अथवा साइकॉलाजीकल सपोर्ट एवं अन्य जरूरी परामर्श मानसिक सेवा प्रदाताओं से नि:शुल्क प्राप्त कर सकते हैं।


डॉ नरेन्द्र सोंधिया को कारण बताओ नोटिस जारी


बिना सूचना के अनुपस्थित रहने तथा अपने कर्तव्यों के प्रति घोर लापरवाही बरतने पर बुधनी एसडीएम श्री शैलेंद्र हिनोतिया ने डॉ. नरेंद्र सोंधिया को कारण बताओ नोटिस जारी किया है।

कोई टिप्पणी नहीं: