विदिशा (मध्यप्रदेश) की खबर 29 अप्रैल - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

गुरुवार, 29 अप्रैल 2021

विदिशा (मध्यप्रदेश) की खबर 29 अप्रैल

सहकारी समीतियों की ऋण अदायगी की तारीख 30 मई की जाए - विधायक भार्गव     


विदिशाः- विधायक भार्गव ने जिले के किसानों की परेषानी को देखते हुए मुख्यमंत्री, कृषि मंत्री एवं सहकारिता मंत्री को पत्र लिखकर किसानों को ओवरड्यू ब्याज के भुगतान से बचाने के लिए सहकारी समीतियों में ऋण अदायगी की तारीख 23 अप्रैल से बढाकर 30 मई करने की मांग की। विधायक भार्गव ने बताया कि किसानों की ऋण अदायगी करने के लिये फसल पर निर्भर रहना पडता है। सरकार द्वारा 30 मई 2021 फसलों की खरीदी की तारीख तय की गई है, जब तक किसान के खातों में फसल बेंचने के पष्चात् राषि प्राप्त नहीं होती तब तक ऋण की अदायगी संभव नहीं है। कोरोना गाईडलाईन्स के चलते कृषि उपज मण्डीयाॅ बंद है एवं राष्ट्रीयकृत बैंकों एवं सहकारी बैंकों में लेन-देन का समय भी घटा दिया गया है। बैंकों में ऋण अदायगी की वजह से किसानों की भारी भीड उमड रही हैं एवं कोरोना की गाईडलाईन्स का भी पालन नहीं हो पा रहा है जिससे संक्रमण फैलने का खतरा अधिक है।  वहीं विधायक भार्गव ने मुख्यमंत्री को पत्र लिखकर मांग की विदिषा मेडिकल काॅलेज के लिए 12 के.एल. आॅक्सीजन की आपूर्ति प्रतिदिन की जाए। केाविड केयर सेंटर विदिषा जिले के नागरिकों को सुविधा प्रदान करने के लिए बनाया गया है लेकिन आॅक्सीजन की कमी के चलते जिले के गंभीर मरीजों को भी भर्ती नहीं किया जा रहा है। इसके लिए आवष्यक है कि विदिषा के नागरिकों के लिए प्राथमिकता के आधार पर उपचार की व्यवस्था होनी चाहिए। कोविड केयर सेंटर में मरीजों को भर्ती करने के लिए नेताओं एवं अधिकारीयों से सिफारिष करवानी पड रही है इसका विरोध करते हुए विधायक भार्गव ने कहा कि हर जरूरतमंद मरीज को उचित ईलाज मुहैया करना सरकार एवं जिम्मेदार अधिकारियों का कर्तव्य है इसमें भेदभाव करना उचित नहीं है। कोविड केयर सेंटर में नर्सिंग स्टाफ बढाकर प्रत्येक 10 मरीजों पर नर्स/वार्ड बाॅय की ड्यूटी लगाई जाए। मरीजों के परिजन मरीजों की जानकारी लेने के लिए भटकते रहते हैं जिला प्रषासन द्वारा व्यवस्था होना चाहिए की मरीजों के परिजनों को मरीज के स्वास्थ्य के संबंध में दिन में 2 बार जानकारी प्रदान की जाए जिससे लोगों में कोविड केयर सेंटर की स्वास्थ्य सेवाओं के प्रति सकारात्मक माहौल बन सके।


’18 वर्ष से अधिक की आयु वर्ग के व्यक्तियों का एक मई से होगा टीकाकरण’


कलेक्टर डॉ पंकज जैन ने जिले के सभी नागरिकों से अपील की हैं कि कोरोना से बचाव की गाइड लाइन का पालन करें कोविड-19 संक्रमण को खत्म करने के लिये 01 मई से 18 वर्ष से अधिक उम्र के सभी लोग भी वैक्सीन लगवायें। इसके लिए cowin.gov.in पर अपना रजिस्ट्रेशन करायें और वैक्सीनेशन सेंटर पर नंबर आने पर वैक्सीन लगवायें।  कोविड-19 संक्रमण की रफ्तार  को रोकने और संक्रमण खत्म करने के लिये वैक्सीनेशन शुरू हो गया है। 1 मई से 18 वर्ष से अधिक उम्र के सभी लोग वैक्सीन लगवायें। इसके लिए  अपना रजिस्ट्रेशन करायें और वैक्सीनेशन सेंटर पर नंबर आने पर वैक्सीन लगवायें। कलेक्टर ने कहा कि 18 वर्ष से अधिक उम्र के व्यक्ति स्वयं भी वैक्सिंग लगवाए और परिवार को भी वैक्सीन लगवाएं । उन्होंने कहा है कि अधिक से अधिक पात्र व्यक्ति वैक्सीनेशन करवाएं ताकि कोरोना को हराया  जा सके । कलेक्टर डॉ जैन ने कहा कि जब तक दवाई नहीं तब तक ढिलाई नहीं के वाक्य का अनुसरण करें। उसके साथ ही दवाई भी और कड़ाई भी को भी आत्म सात करे, यह कोरोना संक्रमण से बचाव के कुछ बहुत ही आसान और बहुत ही सरल उपाय हैं। लोगों को यह सुनिश्चित करना है, मास्क लगाकर रखें,  सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करें, अनावश्यक चीजों को ना छूएं, भीड़-भाड़ वाली जगह पर ना जाएं और लोगों से दो गज की दूरी बनाकर रहें। उन्होंने कहा कि उम्मीद है यदि हम सब इन नियमों का पालन करेंगे तो परिवार और अन्य लोगों को संक्रमण से बचा सकेंगे और कोरोना संक्रमण की गति को भी रोक पाएंगे। उन्होंने कहा कि अभी कुछ समय में कोरोना संक्रमण से प्रभावित मरीजों की संख्या में बढ़ोत्तरी हो रही है। कोरोना संक्रमण को रोकने के लिये जरूरी है कि घर से बाहर ना निकलें यदि घर से बाहर निकलना अति आवश्यक हो तो मास्क लगाकर ही निकलें, सार्वजनिक, भीड़-भाड़ वाली जगहों पर जाने से बचे, चेहरे से मास्क नहीं हटाये। विशेषकर बात करते समय मास्क लगाये रखें, सार्वजनिक जगहों पर दो गज की दूरी बनाकर रखें, सर्दी, खांसी, बुखार आने पर कोरोना की जाँच तुरंत करायें एवं अन्य लोगों से दूरी बनाकर रखें।


कुरवाई के तीन गांवो में टोटली लॉक डाउन


vidisha news
कलेक्टर डॉ पंकज जैन ने बताया कि विदिशा जिले के कुरवाई अनुविभाग क्षेत्र के तीन गांव क्रमशः गिरवासा, करमढी और  पठारी को टोटली लॉक डाउन किया गया है।  कलेक्टर डॉ पंकज जैन ने बताया कि टोटली लॉक डाउन किए गए तीनो ग्रामो में क्रमशः दस-दस कोरोना वायरस के संक्रमण से संक्रमित पेसेंट होने के कारण उक्त कार्यवाही की गई हैं। कुरवाई एसडीएम श्रीमती आरती यादव ने बताया कि लॉकडाउन पूर्ण रूप से लागू किए गए तीनो गांव में बाहरी व्यक्तियो के प्रवेश को प्रतिबंधित किया गया है यदि गांव का कोई व्यक्ति जो बाहर गया व्यक्ति वापस आता है तो उसे गांव के पंचायत भवन में बनाए गए आइसोलेशन कक्ष में ठहरने के प्रबंध सुनिश्चित किए गए है।


’18 वर्ष से अधिक उम्र के सभी बिजली कार्मिक टीकाकरण हेतु करायें ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन’


मध्य क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी के 18 वर्ष से अधिक उम्र के सभी कार्मिकों को कोरोना वायरस संक्रमण से बचाव के लिये प्राथमिकता के आधार पर वैक्सीनेशन किया जायेगा। वैक्सीनेशन कार्यक्रम एक मई 2021 से प्रारंभ किया जायेगा। मध्य क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी के प्रबंध संचालक ने कहा है कि कंपनी के 18 वर्ष से अधिक उम्र के सभी कार्मिकों को कोविड-19 संक्रमण से बचाव के लिये प्राथमिकता के आधार पर वैक्सीनेशन किया जाएगा। इस संबंध में क्षेत्रीय मुख्य महाप्रबंधकों एवं महाप्रबंधकों को निर्देश जारी कर कहा गया है कि वृत्त एवं संभागीय स्तर पर कार्मिकों के टीकाकरण के लिये शासन के पोर्टल पर ऑनलाइन पंजीयन कराना सुनिश्चित करें। साथ ही महाप्रबंधक वृत्त कार्यालय द्वारा स्वास्थ्य विभाग एवं जिला कलेक्टर से संपर्क कर जिला स्तर पर शिविर लगाकर बिजली कार्मिकों का टीकाकरण प्राथमिकता के आधार पर सुनिश्चित किया जाये। प्रत्येक कार्मिक के टीकाकरण के प्रमाण-पत्र का रिकार्ड पद-स्थापना स्थान कार्यालय में रखना सुनिश्चित करें। मध्य क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी ने अपील की है कि कोविड-19 संक्रमण से बचाव के लिये 18 वर्ष से अधिक उम्र के सभी बिजली कार्मिक राज्य शासन के पोर्टल पर अपना रजिस्ट्रेशन कराकर अनिवार्य रूप से टीकाकरण करायें।


’कोरोना की दवाइयों एवं कोरोना पीडितों के नाम पर ऑनलाईन वित्तीय, ठगी से बचाव के लिए राज्य सायबर पुलिस ने जारी की एडवाइजरी’


अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक राज्य सायबर श्री योगेश चौधरी ने एडवाइजरी जारी करते हुए कहा है कि वर्तमान कोरोना महामारी का फायदा उठाते हुये सायबर अपराधी विभिन्न सोशल मीडिया व अन्य माध्यमों से कोरोना की दवाईयों व कोरोना पीडितों के नाम पर ऑनलाईन वित्तीय ठगी कर धोखाधड़ी को अंजाम दे रहे हैं। अपराधी अपने मोबाईल नम्बर को विभिन्न प्रचार माध्यम, सोशल मीडिया तथा सर्च परिणाम के द्वारा प्रचारित करते है तथा कोरोना के इलाज में युक्त दवाईयाँ, इंजेक्शन की आपातकालीन प्रदाय करने वाली संस्था होने का दावा करते है। उस नम्बर पर बात करने पर सामग्री प्रदाय हेतु राशि एडवांस में किसी एकाउंट में डलवाकर, सामग्री न प्रदाय कर पीड़ित व्यक्ति के साथ ठगी की जाती है। अपराधी किसी कोरोना पीडित व्यक्ति की तस्वीर व्हाट्सएप ग्रुपों में डालकर यह बताते हैं कि यह उनके मां-पिता या भाई-बहन हैं, इनके उपचार के लिये उनके पास पैसा नहीं है और खाते की जानकारी देकर पैसा मांगते हैं। ऐसा देखने में आया है कि कई लोग सेवाभाव में ऐसे अकाउंट में पैसा डाल देते हैं, जबकि ऐसा कोई व्यक्ति कहीं किसी अस्पताल में भर्ती होता ही नहीं है। वे सोशल मीडिया के माध्यम से लोगों को बताते है कि उनके पास आक्सीजन कंसन्ट्रेटर व आक्सीजन सिलेंडर उपलब्ध है और वे शीध्र डिलीवरी आप तक पहुंचाने की जवाबदारी लेकर आपसे किसी अन्य अकॉउट में पैसे डलवा लेते हैं तथा संपर्क से बाहर हो जाते है। ऐसे कई माध्यमों से लोगों के साथ आर्थिक धोखाधड़ी के अपराध बढ़ रहे हैं। श्री चौधरी ने कहा कि इन प्रकार की धोखाधड़ी से बचने के लिए कुछ सावधानी बरतें। उन्होंने कहा कि जब तक की आपको पुष्टी न हो जाये कभी भी किसी अन्जान व्यक्ति के अकॉउंट में पैसे ट्रासफर न करें। न ही ऐसे किसी व्यक्ति द्वारा भेजी गयी किसी लिंक पर क्लिक करें। सोशल मीडिया अथवा अन्य संचार माध्यमों से ऑक्सीजन, लॉजिस्टिक दवाइयाँ तथा इजेक्शन के लिये सर्च करने पर दिखाई देने वाले किसी भी नम्बर पर विश्वास न करें एवं राशि जमा करने के पूर्व उस संस्था तथा दावे का सत्यापन कर लेना उचित है।  किसी भी प्रकार की दवाइयां ध् इंजेक्शन, कंसन्ट्रेटर, आक्सीजन आदि ऑनलाइन मंगाने के लिये उनकी कंपनी के नाम वाले अकॉउंट में ही पैसा डालें, किसी भी व्यक्ति के पर्सनल खाते में नहीं। हो सके तो कैश ऑन डिलीवरी ऑप्शन ही चुनें। पहले पुष्टि कर लें कि ऐसा कोई व्यक्ति किसी अस्पताल में वाकई एडमिट है या नहीं। ऐसा करने के लिये आप उस अस्पताल की वेबसाइट पर जाकर उस पर दिये नम्बरों पर बात करके जानकारी ले सकते हैं। यदि आपके साथ ऐसा कोई अपराध हो तो उसकी शिकायत अपने नजदीकी पुलिस थाने में या www.cybercrime.gov.in टोल फ्री नम्बर 15526 पर करें। 


’एकलव्य मॉडल आवासीय विद्यालय चयन परीक्षा-आवेदन की अंतिम तिथि आज’


एकलव्य मॉडल आवासीय विद्यालय में शैक्षणिक पदों के लिये आवेदन-पत्र आमंत्रित किये गये है।उक्त संस्था द्वारा राज्यों से एकलव्य मॉडल आवासीय विद्यालयों (ईएमआरएस) के लिये शिक्षण स्टॉफ जैसे प्राचार्य (प्रिंसिपल), उप प्राचार्य (वाइस-प्रिंसिपल), पीजीटी और टीजीटी की भर्ती के लिये ऑनलाइन आवेदन आमंत्रित किये गये हैं। आवेदन 30 अप्रैल 2021 तक जमा कराये जा सकते हैं। ईटीएसएसई 2021 के लिये ऑनलाइन आवेदन, शैक्षिक योग्यताएँ, शिक्षण अनुभव और अन्य पात्रता मानदण्ड आदि के संबंध में ब्योरे सूचना बुलेटिन https://recruitment.nta.nic.in पर उपलब्ध हैं।


कलेक्टर ने ग्राम सौराई का भ्रमण किया  कोरोना से बचाव उपायों की जानकारी दी


vidisha news
कलेक्टर डॉ पंकज जैन  ने आज विदिशा अनुविभाग क्षेत्र के ग्राम सौराई का भ्रमण कर जायजा लिया और कोरोना से संक्रमित परिवारजनों के होमआइसोलेशन हेतु किए गए प्रबंधों का जायजा लिया है । गौरतलब हो कि ग्राम सौराई में कोरोना से 11व्यक्ति संक्रमित  पाए गए हैं। कलेक्टर डॉ जैन ने भ्रमण के दौरान स्थानीय रहवासियों को कोरोना से बचाव के उपायों का अनिवार्यता पालन करने की अपील की है । कलेक्टर डॉ जैन ने ग्राम में पदस्थ स्वास्थ्य ,महिला बाल विकास और राजस्व अमले को संयुक्त रूप से संपूर्ण ग्राम में डोर टू डोर पहुंचकर कोरोना संक्रमण के बचाव उपायों की जानकारी देने तथा संक्रमितों  की ऑक्सीजन सैचुरेशन लेवल तथा तापमान की जानकारी प्राप्त करते रहने के निर्देश दिए हैं। इस दौरान बरती जाने वाली सावधानियों से भी उन्होंने अवगत कराया है।  कलेक्टर डॉ जैन ने  कहा कि संक्रमितों एवं उनके परिवारजनो को आवश्यक दवाइयां अविलंब आपूर्ति कराने की जवाबदारी स्थानी अमले को सौंपी है । भ्रमण के दौरान मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी ने स्वास्थ्य संबंधी गतिविधियों के उन्नयन हेतु संचालित किए जाने वाले कार्यक्रमों तथा कोरोना से बचाव के उपायों से भी अवगत कराया है इस अवसर पर स्थानीय एसडीएम गोपाल सिंह वर्मा भी साथ मौजूद रहे 


मुख्यमंत्री जी ने वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से कोरोना संक्रमण के नियंत्रण उपायों  कि समीक्षा की


vidisha news
मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने आज कोरोना संक्रमण के नियंत्रण हेतु जिलों में किए जा रहे प्रयासों की अद्यतन स्थिति तथा क्राइसेस मैनेजमेंट ग्रुप के सदस्यों से संवाद कर संक्रमण नियंत्रण के उपाय पर गहन चर्चा की है। मुख्यमंत्री  जी द्वारा जिलों को दो वर्गों में बांटा गया है जिसके तहत आज प्रथम वर्ग में विदिशा सहित आठ शामिल जिलों में संपादित किए गए कार्यों की समीक्षा की है। विदिशा के एनआईसी कक्ष में इस अवसर पर कुरवाई विधायक श्री हरि सिंह सप्रे सिरोंज विधायक श्री उमाकांत शर्मा शमशाबाद विधायक श्रीमती राजश्री सिंह बासौदा  विधायक  श्रीमती  लीना  जैन भाजपा जिला अध्यक्ष श्री डॉक्टर राकेश जादौन के अलावा क्राइसेस मैनेजमेंट समिति के अन्य सदस्य गण तथा कलेक्टर डॉ पंकज जैन पुलिस अधीक्षक विनायक वर्मा सहायक कलेक्‍टर श्री अनिल कुमार राठौर,  जिला पंचायत सीईओ श्रीमती नीतू माथुर अपर कलेक्टर श्री वृंदावन सिंह मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉक्टर के एस अहिरवार एनआईसी के डीआईओ श्री एम एल अहिरवार भी मौजूद रहे

कोई टिप्पणी नहीं: