झाबुआ (मध्यप्रदेश) की खबर 10 मई - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

सोमवार, 10 मई 2021

झाबुआ (मध्यप्रदेश) की खबर 10 मई

गांव बाहर लगाई व्यापाररीयो ने दुकाने पुलिस ने पांच पर दर्ज कि एफआईआर


jhabua news
पारा। कोरोना कर्फयु मे जहा जिले भर मे धारा 144 प्रभावशील व सभी दुर बाजार बंद हें। वही पारा नगर के कुछ दुकानदोरो ने प्रशासन कि आंखो मे धुल झोकने का कार्य करते हुए पारा नगर के बाहर रातीमाली मे अपनी कटलरी व कपडे कि दुकाने सजा दी। जब कि राज्य शासन वा कलेक्टर झाबुआ के आदेश के दुकानखेल कर बेठने पर पुर्णतया प्रतिबंध हे। पारा पुलिस चैकि प्रभारी श्याम कुमावत को जब रातीमाली मे दुकाने खुलने कि जानकारी मिली तो वे तत्काल दलबल सहीत वहा पर पहुचे व देखा कि 10 से 12 दूुकानदार अपनी दुकान खेाल कर बेठे हे व निर्बाध रुप अपना व्यापार कर रहे थे।  पुलिस ने तत्काल कार्यवाही करते हुवे 7 दुकानदोरो के चालान बनाए व पांच व्यापारीयो पर एफ आइ आर धारा 51 बी /60 रा आ प्र अधि 2006 एव धारा 188 ,269 270 भादवी मे दर्ज कि।

इन पर हुई एफआईआर - राहुल पिता सागरमल प्रजापति ने कपडे कि दुकान लगा कर ग्राहको को कपडा बेच रहा था।  कान्हा उर्फ प्रमोद पिता भंेरुलाल प्रजापति अपनी दुकान से ग्राहको को तेल मसाला व अन्य सामान बेच रहा था। आनंद पिता मांगीलाल राव अपनी दुकान पर ग्राहको को कटलरी सामान बेचरहा था। रविन्द्र पिता संन्तोष प्रतापत अपनी दुकान पर ग्राहको को तेल गुड बेच रहा था। सुनिल पिता ताराचंद प्रजापति अपनी दुकान पर ग्राहको को कटलरी का समान सहीत शक्कर बेच रहा था। वही शनिवार को एक अन्य दूुकानदार राजु भण्डारी अपनी दुकान कि आधि शटर खोलकर कपडे बेच रहा था जिसपर भी धारा 188 के तहत एफआईआर दर्ज की गई। इस प्रकार दो दिनो मे कुल 6 लोगो पर पारा पुलिस ने एफआईआर दर्ज कि जो कि सभी व्यापारी पारा निवासी हे।


प्राणवायु संबल अभियान -’

  • ’चैतन्य काश्यप फाउंडेशन ने मालवाचंल में दिए 40 लाख के आयातित आक्सीजन कंस्ट्रेटर ’
  • ’मंदसौर-नीमच जिले को 20 और आदिवासी अंचल झाबुआ-अलीराजपुर को भी मिले 20 आयातित आक्सीजन कंस्ट्रेटर’

jhabua news
झाबुआ । कोरोना काल में गंभीर मरीजों के उपचार के लिए साधनों का अभाव न हो, उसके लिए चैतन्य काश्यप फांउडेशन पूरे मालवाचंल के लिए मददगार बन रहा है। सोमवार को फाउंडेशन ने सांसदद्वय श्री सुधीर गुप्ता और गुमानसिंह डामोर के अनुरोध पर मंदसौर-नीमच तथा आदिवासी अंचल झाबुआ-अलीराजपुर जिले को 40 लाख के आयातित आक्सीजन कंस्ट्रेटर भेंट किएद्यजानकारी देते हुए भाजपा जिला मीडिया प्रभारी योगेंद्र नाहर ने  बताया की फाउंडेशन ने पूरे अंचल में अल्प समय के दौरान दो करोड़ दस लाख से अधिक राशि के आक्सीजन संयंत्र का प्रबंध करने में महत्ती भूमिका निभाई है। फाउंडेशन द्वारा मंदसौर एवं नीमच जिले हेतु मंदसौर सांसद सुधीर गुप्ता के अनुरोध पर 20 आयातित आक्सीजन कंस्ट्रेटर तथा सांसद गुमानसिंह डामोर के अनुरोध पर आदिवासी अंचल झाबुआ-अलीराजपुर के लिए 20 आयातित आक्सीजन कंस्ट्रेटर उपलब्ध करायें गए है। फाउंडेशन अध्यक्ष एवं रतलाम शहर विधायक चैतन्य काश्यप की पहल पर पूरे अंचल में फाउंडेशन द्वारा प्राणवायु संबल अभियान चलाया जा रहा है। श्री काश्यप के अनुसार कोरोना महामारी के इस दौर में मरीजों के उपचार के लिए आक्सीजन की सतत आवश्यकता पड़ रही है। फाउंडेशन इस आवश्यकता की पूर्ति के लिए हर स्तर पर प्रयासरत है। फाउंडेशन ने रतलाम मेडिकल कालेज में पूरे अंचल से आने वाले मरीजों की सुविधा हेतु 1.02 करोड़ की लागत से पीएसए आक्सीजन कंस्ट्रेटर प्लांट लगाने की पहल की है। इस प्लांट को आरंभ करने की प्रक्रिया सतत चल रही है और उम्मीद है कि अगले सप्ताह में यह प्लांट आरंभ हो जायेंगा। इस प्लांट में भी लिक्विड आक्सीजन की जरूरत नहीं पडेगी यह सीधे हवा से आक्सीजन बनायेंगा। इससे मेडिकल कालेज के आईसीयू में उपचाररत 150 बेड के मरीजों को निर्बाध रूप से आक्सीजन की पूर्ति हो सकेगी। प्राणवायु संबल अभियान के तहत हाल ही में  फाउंडेशन ने रतलाम मेडिकल कालेज में 70 लाख के आक्सीजन कंस्ट्रेटर मशीन से 60 बेड का आक्सीजन वार्ड शुरू करवाया है। इन आक्सीजन कंस्ट्रेटर मशीन में भी सीधे हवा से आक्सीजन बनने की व्यवस्था है। अभियान के तहत सोमवार को फाउंडेशन ने मंदसौर एवं नीमच जिले में 20 लाख तथा झाबुआ जिले में भी 20 लाख की लागत वाली आक्सीजन कंस्ट्रेटर मशीन प्रदान की, इससे इन जिलों में कोरोना महामारी के दौरान मरीजों के उपचार में काफी मदद मिलेगी। रतलाम शहर विधायक श्री काश्यप अपने फाउंडेशन के साथ-साथ अन्य स्तरों पर भी कोरोना पीड़ितों की सेवा के लिए सतत मदद कर रहे है। बदनावर में उनके द्वारा स्थापित काश्यप स्वीटनर्स प्रा.लि.ने रोगी कल्याण समिति बदनावर को 21 लाख रूपये की सहायता प्रदान की है। इसमें 10 लाख के आयतित आक्सीजन कंस्ट्रेटर दिये गये है तथा 11 लाख रूपये का चैक सीटी स्कैन मशीन हेतु सौंपा गया है। कोरोना काल में पूरा अंचल इन दिनों अधिक संक्रमण फैलने से चिंतित है, अंचल की इस चिंता को दूर करने में चैतन्य काश्यप फांउडेशन प्रेरणा का स्तोत्र बन गया है।


कोरोना संक्रमित परिवार के बच्‍चों की देखभाल करेगा महिला एवं बाल विकास विभाग


ऐसे बच्‍चे जिनके माता पिता का निधन कोरोना संक्रमण के कारण हो गया हैं अथवा जिनके माता पिता अभिभावक संक्रमण से पीडि़त होकर अस्‍पताल में भर्ती हैं । उनके बच्‍चों के भरण पोषण एवं देखभाल की जिम्‍मेदारी महिला एवं बाल विकास विभाग संभालेगा । जिला कार्यक्रम अधिकारीध् जिला बाल संरक्षण अधिकारी श्री अजय सिंह चौहान ने बताया कि स्‍पॉसरशिप फास्‍टर केयर जैसी योजनाओं के तहत फिट फेसिलिटी में संरक्षण प्रदान किया जाएगा । उन्‍होने बताया कि अगर इस प्रकार के बालक बालिकाए संज्ञान में आते हैं तो जिला कार्यक्रम अधिकारी  जिला बाल संरक्षण अधिकारी कार्यालयए परियोजना अधिकारी कार्यालयए आंगनवाड़ी केंद्र या फिर चाइल्‍ड लाइन के 1098 नंबर पर कॉल कर मदद ली जा सकती हैं । बालकों हेतु  अनुसूचित जाति बालक छात्रावास झाबुआ और बालिकाओं हेतु कन्‍या शिक्षा परिसर झाबुआ को फिट फेसिलिटी केन्‍द्र घोषित किया गया हैं इन केन्‍द्रों पर ऐसे बालक बालिकाओं को रखा जाएंगा । इन्‍हें बाल कल्‍याण समिति द्वारा मान्‍यता दी गई हैं ऐसे बच्‍चों के लालन पालन में स्‍वयंसेवी संस्‍था ओर सामाजिक कार्यकर्ताओं की भी मदद ली जाएगी 


थांदला में लगा जिलें का दूसरा ऑक्सीजन प्लांट, अब नगर सहित अंचल में नही होगी ऑक्सिजन की कमी से किसी की मौत - अनिल भंसाली


jhabua news
थांदला। मध्यप्रदेश में कोरोना संक्रमण से अनेक जिलें प्रभावित हुए है ऐसे में स्वास्थ्य उपकरणों व अन्य चिकित्सीय सुविधाओं के लिये शासन प्रशासन को प्रदेश की समाजसेवी जनता से मदद की उम्मीद रहती है। झाबुआ जिलें की थांदला तहसील के व्यापारी युवाओं ने मदद के हाथ आगे बढ़ाते हुए एक मिसाल पेश की है। कोरोना संक्रमण में मरीजों की सबसे ज्यादा जान ऑक्सीजन की अनुपलब्धता के कारण गई है ऐसे में थांदला के युवा समाजसेवी किराना व्यापारी संघ अध्यक्ष अनिल भंसाली की पहल पर अंचल के अनेक युवाओं ने साथ व सहयोग देते हुए जिलें का दूसरा ऑक्सीजन प्लांट लगा दिया है, इसके लिए उन्होंने 11 लाख रुपये की राशि जिला कलेक्टर अथवा प्रभारी मंत्री को सौंपने के लिए एकत्रित कर ली है वही इस प्लांट में लगने वाली बाकि राशि कलेक्टर अथवा सासंद निधि की रहेगी।


इस तरह कार्य करेगा ऑक्सीजन प्लांट

थांदला के शासकीय सिविल अस्पताल में लग चुके इस इस ऑक्सीजन प्लांट द्वारा आने वाले दिनों में 1 दिन में 1 लाख 22 हजार 4 सौ लीटर याने 85 लीटर प्रति मिनट वातावरण से ऑक्सीजन का निर्माण कंप्रेशर की सहायता से होगा जो 3 फिल्टर प्लांट से होकर गुजरेगा जो वेपर ऑक्सीजन गैस के रूप में अस्पताल में स्थापित पाईप लाइन के जरिये सीधा आवश्यक मरीज तक पहुँचेगा। इस ऑक्सीजन प्लांट से करीब 20 बेड के मरीजों को आसानी से ऑक्सीजन मिल सकेगी। जानकारी देते हुए बीएमओ डॉ अनिल राठौर व वरिष्ठ मेडिकल अधिकारी डॉ कमलेश परस्ते ने बताया कि अस्पताल में जन सहयोग से ऑक्सीजन प्लांट लगने से अब किसी मरीज की ऑक्सीजन की कमी से कोई जान नही जाएगी। यदि सामाजिक संगठन व जिला स्वास्थ्य प्रबंधन पहल करते हुए यहाँ अतिरिक्त मेडिकल स्टॉफ व कोविड ड्रग्स उपलब्ध करवाता है तो थांदला विधानसभा क्षेत्र के करीब 250 गाँव नगर में बेहतर स्वास्थ्य सेवाओं का लाभ उठा सकेंगे।


इनकी रही अहम भूमिका

नगर में पहला ऑक्सीजन प्लांट लगाने की परिकल्पना युवा अनिल भंसाली ने की जिसे मूर्त रूप देने के लिये नगर के सभी व्यापारी संगठन आगेआये जिनमें युवा समाजसेवी दिनेश सोलंकी (महाराजा सिनेमा) 2 लाख रुपये, नेचरल गोल्ड 1 लाख 50 हजार रुपये, किराना एसोसिएशन 1 लाख 50 हजार रुपये, शकुंतला वर्धमान तलेरा 1 लाख 11 हजार 111रुपये, भंसाली परिवार 1 लाख, बाबूलाल धमनिया 1 लाख रुपये, प्रफुल्ल पोरवाल, अर्जुन सोनी 50 हजार रुपये, कपड़ा एसोसिएशन 1 लाख 25 हजार रुपये, बिल्डिंग मेटेरियल 1 लाख 25 हजार रुपये, होटल एसोसिएशन 50 हजार  रुपये की मदद की है वही नगर के अन्य समाजसेवी, जनप्रतिनिधियों व प्रशासनिक अधिकारियों ने भी दानराशि देकर सहयोग किया है। इस तरह करीब 11 लाख रुपये का लक्ष्य पा लिया गया है वही नगर परिषद अध्यक्ष बंटी डामोर, उपाध्यक्ष मनीष बघेल, भाजपा जिला उपाध्यक्ष विश्वास सोनी, मयूर तलेरा, कमलेश दायजी, विपिन नागर, कमलेश लोढ़ा, नितिन नागर, प्रशांत उपध्याय, भाजपा मंडल अध्यक्ष समर्थ उपाध्याय, युवा अजय सेठिया, लायन्स क्लब, राष्ट्रीय मानवाधिकार एवं महिला बाल विकास आयोग सहित नगर के प्रबुद्ध युवावर्ग भी इनके साथ मिलकर फंड कलेक्शन कर जनता से सहयोग ले रहे है जिससे नगर के सिविल अस्पताल में अन्य जन उपयोगी उपकरणों की स्थापना की जा सके।


जिलाधीश को मातृ शोक ,कई धार्मिक, राजनैतिक एवं सामाजिक संगठनों ने दी श्रद्धांजलि ।


jhabua news
झाबुआ । गत दिनों झाबुआ जिले के नवनियुक्त सादगी पसंद  जिलाधीश श्री सोमेश जी मिश्रा की माताजी श्रीमती दीपिका जी मिश्रा का दुःखद निधन हो गया है ।श्रीमती मिश्रा धार्मिक प्रवृत्ति की होकर मिलनसार एवं मृदुस्वभावी महिला थी ।श्रीमती दीपिका मिश्रा जी के निधन पर पत्रकार विकाश परिषद के प्रदेश महाससचिव योगेन्द्र नाहर ,जिलाध्यक्ष मांगीलाल परमार ,माणकलाल जैन,  दौलत गोलानी ,भूपेंद्र गोड़, अहद खान ,सचिन बैरागी ,रितेश त्रिवेदी ,दौलत भावसार ,निक्की डामोर एवं अखिल भारतीय महासंघ से यशवंत भंडारी ,सुनील संघवी ,राजेन्द्र मेहता ,महेंद्र मुथा जैन सोशियल ग्रुप से  अध्यक्ष श्रीमती सुनीता बाबेल, सचिव अमित मेहता ,वैश्य महासंघ मनोहर सेठिया और बबलू सकलेचा ,सकल व्यपारी संघ से अध्यक्ष नीरज राठौर ,पंकज मोगरा ,कमलेश पटेल सकल जैन श्वेताम्बर श्री संघ झाबुआ,नीमा समाज ,ब्राह्मण समाज ,बोहरा समाज , राजपूत समाज एवं भारतीय जनता पार्टी एवम कांग्रेस सहित विभिन्न धार्मिक ,राजनैतिक एवं सामाजिक संगठनों ने श्रद्घांजलि अर्पित करते हुए मिश्रा परिवार पर हुए इस वज्रपात को सहन करने की शक्ति प्रदान करने की प्रार्थना की एवं मिश्रा परिवार को ढांढस बंधाया।


जिला अस्पताल में कलेक्टर श्री सोमेश मिश्रा ने 40 आॅक्सीजन कंसटेटर मशीन का वितरण किया


jhabua news
झाबुआ,। आज कलेक्टर श्री सोमेश मिश्रा ने अवकाश से लौटने के पश्चात् सीधे जिला अस्पताल झाबुआ पहंुचे जहां पर 40 आॅक्सीजन कंसटेटर मशीन का वितरण किया। सर्वप्रथम ब्लाक प्रोग्राम मेनेजर (बीपीएम) सुश्री रीना अलावा, सिविल अस्पताल राणापुर को 2 नवीन आॅक्सीजन कंसटेटर मशीन प्रदान की गई। इस दौरान सहायक कलेक्टर श्री आकाश सिंह, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डाॅ. श्री जे.पी.एस.ठाकुर, सविल सर्जन डाॅ. श्री बी.एस.बघेल उपस्थित थे। जिले में आॅक्सीजन कंसटेटर मशीन का वितरण इस प्रकार आज किया गया। जिला अस्पताल झाबुआ पूर्व की स्थापित 39, नवीन 12 कुल 51, उप स्वास्थ्य केन्द्र रामा पूर्व की स्थापित 01, नवीन 02 कुल 03, उप स्वास्थ्य केन्द्र पारा पूर्व की स्थापित 02, नवीन 01 कुल 03, उप स्वास्थ्य केन्द्र कल्याणपुरा पूर्व की स्थापित 02, नवीन 02 कुल 04, उप स्वास्थ्य केन्द्र मेघनगर पूर्व की स्थापित 01, नवीन 03 कुल 04, सिविल अस्पताल थांदला पूर्व की स्थापित 01, नवीन 10 कुल 11, सिविल अस्पताल पेटलावद पूर्व की स्थापित 03, नवीन 08 कुल 11, सिविल अस्पताल राणापुर पूर्व की स्थापित 02, नवीन 02 कुल 04, कोविड सेंटर गोपालपुरा हवाई पट्टी पूर्व की स्थापित 02, नवीन 00 कुल 02, योग पूर्व की स्थापित 53, नवीन 40 कुल 93, है। इस संबंध में कलेक्टर श्री सोमेश मिश्रा ने निर्देश दिए कि इसका उपयोग सुनिश्चित करें एवं प्रतिदिन फोटोग्राफ्स भी उपलब्ध करावे। जिससे यह ज्ञात रहे की इस आक्सीजन कंसेटेटर मशीन का उपयोग किया जा रहा है। इसके साथ सभी को 50-50 पानी की बाॅटल भी दी गई। इस अवसर पर प्रभारी पीआरओ श्री सुधीर कुशवाह उपस्थित थे।


जिले के प्रभारी सचिव को कोविड सेंटर में भर्ती मरीज ने कहा यहां पर घर से ज्यादा अच्छी सुविधांए उपलब्ध हो रही है-


jhabua news
झाबुआ। कोरोना संक्रमण एवं उसको रोकने के लिए किए गए प्रयास का जायजा लेने जिले के प्रभारी सचिव श्री लोकेश कुमार जाटव, आयुक्त कोष एवं लेखा, मध्यप्रदेश शासन, द्वारा कोविड सेंटर गोपालपुरा (हवाई पट्टी) झाबुआ का अवलोकन किया गया। यहां पर मनोरंजन की पर्याप्त व्यवस्था, बेड की उत्तम व्यवस्था, आॅक्सीजन, यहां का वातावरण, डाॅक्टर एवं स्टाफ की व्यवस्था, दवाइयों की व्यवस्था देखी यहां पर भर्ती कोविड पेशेंट से भी चर्चा की। कोविड-19 प्रभारी सचिव के जवाब में यहां के मरीज ने कहा कि यहां की व्यवस्था हमारे घर से भी ज्यादा अच्छी है। प्रभारी सचिव ने प्रसन्नता व्यक्त की एवं जिला प्रशासन द्वारा किए गए कार्यो को सराहा। प्रभारी सचिव जिला अस्पताल पहुंचे जहां पर कोविड-19 के वार्ड और आईसीयू वार्ड का अवलोकन किया। आक्सीजन की पर्याप्त उपलब्धता, दवाइयों, स्टाफ के बारे में जानकारी प्राप्त की एवं निर्देश दिए कि यहां पर जो पर रिक्त हैं उन्हें तत्काल भरे जावें। यदि पिछले 3 माह पूर्व कोई रिटायर्ड हुआ है और वह कार्य करना चाहता है तो उसे संविदा पर रख लिया जावे। प्रभारी सचिव द्वारा कलेक्टर सभाकक्ष में कोविड नियंत्रण के लिए समीक्षा बैठक में कलेक्टर श्री सोमेश मिश्रा ने पावन प्रजेंटेशन के माध्यम से बताया कि जिले में पर्याप्त दवाइयां, आॅक्सीजन की उपलब्धता अस्पताल और कोविड-19 मंे पर्याप्त बेड की व्यवस्था, मेडिकल किट, वैक्सीनेशन, ग्रामों में आयोजित हो रहे स्वास्थ्य शिविर, जिले की संवदेनशील पहल कलेक्टर केयर एवं चलित आॅक्सीजन वेन के बारे में प्रभारी सचिव को अवगत कराया। पुलिस अधीक्षक श्री आशुतोष गुप्ता द्वारा प्रभारी सचिव को अवगत कराया गया कि कोविड-19 लाॅकडाउन में अनावश्यक रूप से बाहर घूमने एवं शादी विवाह नहीं करने, डीजे का उपयोग नहीं करने हेतु निरंतर समझाइश दी जा रही है। उन्हें समझाया जा रहा है कि यह लाॅकडाउन आपके और आपके परिवार के हित में हैं यदि इसके पश्चात भी उल्लंघन करते हैं तो कानूनी कार्यवाही करने हेतु हमें बाध्य होना पडता है। जिला पंचायत के मुख्य अधिकारी श्री सिद्धार्थ जैन द्वारा कील कोरोना के लिए आशा कार्यकर्ता एवं एएनएम के माध्यम से जो कार्य किए जा रहे हैं उसका विस्तृत विवरण प्रस्तुत किया गया। इस दौरान अपर कलेक्टर श्री जे.एस.बघेल, अनुविभागीय अधिकारी राजस्व पेटलावद श्री शिशिर गेमावत, सहायक कलेक्टर श्री आकाश सिंह, डिप्टी कलेक्टर श्री अनिल भाना, अनुविभागीय अधिकारी राजस्व झाबुआ श्री सोहन कनाश, डिप्टी कलेक्टर सुश्री अंकिता प्रजापति, डिप्टी कलेक्टर सुश्री विशा माधवनी, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी श्री जे.पी.एस.ठाकुर, सिविल सर्जन डाॅ. बी.एस.बघेल, जिला टीकाकरण अधिकारी डाॅ. राहुल गणावा, सहायक आयुक्त श्री प्रशांत आर्य, डाॅ श्री पाटीदार डाॅ. श्री श्याम पंाचाल, समस्त बीएमओ, प्रभारी जिला जनसंपर्क अधिकारी श्री सुधीर कुशवाह उपस्थित थे।


टीकाकरण के लिए सूची में नाम आने पर ही निर्धारित सत्र, स्थल पर उपस्थित हो-


झाबुआ। ैमसतिमहपेजतंजपवदण्बवूपदण्हवअण्पद एवं आरोग्य सेतु एप से पंजीयन उपरांत दिनांक अनुसार टीकाकरण शेड्यूल में चयनित हितग्राहियों को ही सत्र स्थल पर टीकाकरण हेतु आने की पात्रता है, व नाम आने पर आवश्यकता होने पर टीकाकरण पूर्ण करवाने के लिये सत्र स्थल पर ऊपस्थित होने व न होने की स्थिती के आकलन हेतु कॉल की जाती है एवं टीकाकरण शेड्यूल में जिन हितग्राहियों का नाम नहीं होता है उन्हें विभाग की ओर से कॉल कर सत्र पर आने की सूचना नहीं दी जाती है एवं विभागीय अधिकारी कर्मचारियों के द्वारा किसी भी हितग्राही के साथ अभद्रतापूर्ण व्यवहार नहीं किया जाता है। दिनॉक 5/5/21 को भुमिका माहेश्वरी द्वारा अपने पद के प्रभाव का ईस्तेमाल कर अनुचित तरीके से टिका लगाए जाने का दबाव बनाया गया जिसके  लिये  समझाईश देकर नही लगाये हेतु निवेदन किए जाने पर भी मिडीया के माध्यम से अधिकारियों पर अभद्रता का आरोप लगाया गया है जो पूर्णतयाः निराधार है एवं जनता से अपील की जाती है कि वर्तमान व्यवस्था अनुसार कोवीन पोर्टल के अनुसार टीकाकरण हेतु सुची में नाम  आने पर निर्धारित सत्र स्थल पर पंजीयन के दौरान दिये गये मोबाईल नम्बर पर आये मेसेज व पहचान के दस्तावेज टीकाकरण में सलग्न अधिकारीगण/कर्मचारीगण को प्रस्तुत करे जिससे की सुगमता से टीकाकरण प्रक्रिया पूर्ण हो सके।


जिला चिकित्सालय में 2 पद ऑपरेशन थियेटर टेक्निशियन एनेस्थिसिया टेक्निशियन अस्थाई रूप  के पदों की पूर्ति हेतु आवेदन पत्र आमंत्रित किए गए हैं-

            

झाबुआ।कार्यालय मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी जिला झाबुआ के पत्र क्रमांक/ 2680 /आईडीएसपी/ दिनांक 9/5 /2021 में कोविड-19 के बढ़ते संक्रमण को दृष्टिगत रखते हुए जिला चिकित्सालय झाबुआ में 2 पद ऑपरेशन थियेटर टेक्निशियन/ एनेस्थीसिया टेक्निशियन के अस्थाई मानव संसाधन के रूप में 3 माह तक कार्यादेश दिया जाना है,  इच्छुक आवेदन पदों की पूर्ति होने तक प्रतिदिन कार्यालयीन समय में अपने आवेदन पत्र कार्यालय मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी झाबुआ मैं प्रस्तुत कर सकते हैं, पद से संबंधित शैक्षणिक योग्यता , मासिक मानदेय, आवेदन पत्र का निर्धारित प्रारूप कार्यालय सूचना पटल पर चस्पा किया गया है।

कोई टिप्पणी नहीं: