बिहार : कोरोनाकाल में कलाकारों को प्रोत्साहन राशि देगी बिहार सरकार - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

बुधवार, 19 मई 2021

बिहार : कोरोनाकाल में कलाकारों को प्रोत्साहन राशि देगी बिहार सरकार

artist-bihar-will-compenset
पटना : कोरोना महामारी के दौरान बिहार सरकार ने प्रदेश भर के कलाकारों के लिए कला का प्रदर्शन करने का अवसर लेकर आई है। इनमें से जिन कलाकारों का कार्य चयन समिति को अच्छा लगेगा, उन्हें राज्य सरकार द्वारा पुरस्कृत किया जाएगा। ऑनलाइन आवेदन के माध्यम से प्राप्त उनके कृतियों का मूल्यांकन एवं निष्पादन होगा। कला संस्कृति एवं युवा विभाग के मंत्री डॉ. आलोक रंजन ने बताया कि कोरोना काल में राज्य के कलाकारों की परेशानी को देखते यह निर्णय लिया गया है। कलाकार हमारी समाज के धरोहर हैं जिन को प्रोत्साहित करना हम सभी का कर्तव्य है।हम उसी जिम्मेदारी का निर्वहन करने का प्रयास कर रहे हैं। उन्होंने आशा व्यक्त किया कि सरकार के इस निर्णय से राज्य के सभी विधा के कलाकारों का मनोबल बढ़ेगा । विभाग द्वारा जारी दिशा-निर्देश के मुताबिक कलाकारों को 5 मिनट का वीडियो बनाना होगा। जो कि कोरोना वायरस की रोकथाम हेतु सरकार द्वारा चलाए जा रहे कार्यक्रम/जागरूकता तथा इस महामारी से बचाव संबंधित उपाय उदाहरण स्वरूप सरकार द्वारा जनहित में मुख्यमंत्री द्वारा जारी राशनकार्ड धारियों को मुफ्त अनाज की सहायता, मुक्त टीकाकरण, छात्रवृत्ति, वृद्धजन पेंशन, किसान सम्मान निधि, उज्ज्वला योजना आदि सहित अन्य बाहरी मजदूरों को सहायता, सामुदायिक किचन, अनुग्रह अनुदान, कल्याणकारी कार्यों एवं बचाव में चिकित्सा कर्मी, सफाई कर्मी, पुलिसकर्मी, मीडिया कर्मी, खाद्यान्न आदि आवश्यक आपूर्तिकर्ता को सहयोग एवं सम्मान आदि एवं जल जीवन हरियाली, सात निश्चय पार्ट-2 आदि महत्वपूर्ण सरकारी योजनाओं तथा महत्वपूर्ण पर्यटन स्थल और महत्वपूर्ण पर्व त्यौहार आदि के संबंध में संबंधित कलाकार अपनी कला की प्रस्तुति का 5 मिनट का वीडियो अपने स्थान पर ही तैयार करके विभाग द्वारा वेबसाइट पर उपलब्ध कराए गए लिंक पर अपलोड कर सम्मिट करेंगे। चयनित एकल प्रस्तुति को रु1500, दल की प्रस्तुति हेतु रु 10000, द्वितीय स्थान प्राप्त प्रस्तुति को रु 7000 और तृतीय स्थान प्राप्त प्रस्तुति को रु 5000 का पुरस्कार सीधे उनके बैंक खाते में किया जाएगा। कला संस्कृति एवं युवा विभाग ने बताया कि कलाकारों के कला का सम्मान करते हुए यथासंभव प्रोत्साहन प्रदान करने के लिए सांस्कृतिक कार्य निदेशालय द्वारा बिहार राज्य के सभी कलाकारों गीत, संगीत, नृत्य, नाटक, वाद्ययंत्र, पेंटिंग आदि सभी कलाओं से संबंधित कलाकारों सूचित किया जाता है कि बिहार राज्य कलाकार ऑनलाइन प्रवेश दे सकते हैं एक कलाकार की एक ही प्रवेश समान होगी एक कलाकार की एक अलग बादल प्रस्तुति में से किसी एक में ही भागीदारी मान्य होगी प्रवेश की अंतिम तिथि 15 जून 2021 किया जाता है प्रदर्शन योग्य न्यूनतम गुणवत्ता तक के वीडियो का चयन किया जाएगा ऑनलाइन आवेदन हेतु आवेदक को अपना रंगीन आधार कार्ड, पैन कार्ड, बैंक पासबुक, नाम पता पिन कोड सहित, बैंक खाता संख्या, आईएफएससी कोड, बैंक का नाम, शाखा, खाते का प्रकार सहित मोबाइल संख्या बैंक खाते से लिंक अपलोड करना अनिवार्य होगा एवं अच्छी गुणवत्ता के वीडियो का यूट्यूब लिंक बनाकर आवेदन में शेयर करेंगे। किसी भी तरह के फिल्मी गीतों अथवा फिल्मी गीतों पर आधारित नृत्य का वीडियो यूसी योजना के लिए अपात्र होगा। प्रस्तुति की रिकॉर्डिंग के समय सोशल डिस्टेंसिंग का पूर्ण पालन करना होगा। वीडियो में कलाकार अपने प्रदर्शन से पहले अपना पूरा परिचय देंगे, जैसे नाम बैंक खाता के अनुसार, पिता का नाम, पूर्ण पता पिन कोड सहित मोबाइल नंबर बैंक खाता संख्या तिथि बोलकर दर्ज करेंगे। फिर बताएंगे कौन सी कला का प्रदर्शन करने जा रहे हैं अर्थात कला का नाम बताएंगे फिर अपनी प्रस्तुति आरंभ करेंगे। ऑनलाइन के द्वारा प्राप्त आवेदन ही मान्य होगा, अन्य माध्यम से आवेदन स्वीकार नहीं किया जाएंगे। वीडियो रिकॉर्डिंग किसी मोबाइल कैमरे, कैमरे से की जा सकती है। उसको देख कर उस प्रस्तुति का आनंद ले सके और उसे मूल्यांकन समिति द्वारा डिजिटल प्लेटफॉर्म पर अपलोड करने योग्य समझा जाए। वीडियो पर बिहार सरकार का एकाधिकार होगा।

कोई टिप्पणी नहीं: