लाखो की चोरी को अंजाम देने वाले चोरों को किया गिरफ्तार - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

बुधवार, 5 मई 2021

लाखो की चोरी को अंजाम देने वाले चोरों को किया गिरफ्तार

  • कोरोना के चलते रिश्तेदार की मृत्यु में गया था परिवार , पड़ोसियों ने लोकडाउन का फायदा उठा वारदात को दिया अंजाम, लाखो का चोरी सामान बरामद,चोरी में शामिल अन्यों की तलाश जारी  

thieve-arrest
नई दिल्ली। देश मे कोरोना की दूसरी लहर ने देश मे कहर बरपा रक्खा है।जिसकी भेंट कई जिंदगियां चढ़ रही है। जहाँ एक तरफ लोग अपनो को खोने के गम में ग़मगीन है तो वही मौत का मातम मना रहे लोगो के घरो मे चोर सेंध लगा रहे है।ताज़ा मामला थाना सुल्तान पूरी इलाके के ब्लॉक पी/4 का है। जहाँ वहाँ के रहने वाले व्यक्ति मोहन लाल जोगी के घर में चोरों ने सेंध लगा लाखों रुपए नकद और लाखों रूपए मूल्य के गहनों पर हाथ साफ़ कर दिया। इसके बाद लॉकडाउन का फायदा उठाकर आसानी से फरार हो गए। दरअसल, मोहन लाल जोगी को कोरोना हो गया था जिसके चलते इलाज़ के दौरान उनकी मौत हो गई जिसके कारण घर वाले उनकी डेड बॉडी लेने और अंतिम क्रिया के लिए हॉस्पिटल ओर शमशान के चक्कर काट रहे थे। इसी दौरान चोरों को भी इस बात की भनक लग गई थी। इसके बाद बीते 24 अप्रैल को रात में ही कोरोना के कारण मौत हुई मोहन लाल के घर मे ताला तोड़कर लाखों रुपये केश ओर लाखों के गहनों पर हाथ साफ कर दिया। शोक में व्याप्त परिजनों को दूसरे दिन पता चला जहां परिजनों ने थाना सुल्तान पूरी में इस बाबत रिपोर्ट दर्ज करवाई।  लेकिन 3 दिनों तक चोरो का कोई पता नही था जबकी बीट कॉन्स्टेबल कृष्ण कुमार व अन्य पुलिस कर्मी सुल्तान पूरी थाना के प्रभारी मनोज कुमार  के  निर्देश पर इलाके में चोरो की तलाश सरगर्मी से कर रहे थे लेकिन मामला उस वक्त मोड़ खा गया जब  28 अप्रैल की सुबह मृतक मोहन लाल जोगी के दत्तक पुत्र अजय जोगी के घर वही गली में किराये के मकान में रहने वाली एक महिला आई उसने बताया कि की चोरी में उसका बेटा भी शामिल था। मृतक मोहन के परिजनों के पूछने पर उसने बताया कि चोर ओर कोई नहीं है। चोरी मृतक मोहन के घर के साथ मे रहने वाले पड़ोसी रिश्तेदार ने ही की है। जिसके बाद तुरंत इस बात की जानकारी सुल्तानपुरी थाना प्रभारी मनोज कुमार को दी गई जहाँ उन्होंने तत्परता दिखाते हुये सब इंस्पेक्टर दीपक कुमार एवम बीट ऑफिसर कृष्ण कुमार और कॉस्टेबल योगेश की टीम को भेजा जहाँ बीट अफसर कृष्ण कुमार ने तुरंत ही 2 लोगो को धर दबोचा ओर चोरी की इस वारदात को सुलझा ही नही लिया बल्कि चोरों से सवा लाख रुपये ओर कुछ ज्वैलरी भी बरामद भी बरामद कर ली।पुलिस को पूछताछ में पता चला कि चोरी की वारदात को अंजाम देने वालो में मोहन लाल जोगी का रिश्तेदार ओर पड़ोसी लाला उर्फ योगेश शामिल था जिसने अन्य शातिर चोर वेल्डिंग उसके दोस्त,ओर उसी गली में रहने वाले अजय उर्फ चूहा का गिरोह बनाया ओर मौका देख कोरोना से मौत के कारण फैले सन्नाटे का फायदा उठाकर घर का ताला तोड़कर लाखो की चोरी की वारदात को अंजाम दे दिया। थाना सुल्तान पुरी के प्रभारी इस्पेक्टर मनोज कुमार की तत्परता के चलते पीड़ित परिजनों की व्यथा को देखते हुये पुलिस टीम ने सरहनीय कार्य किय। सब इंस्पेक्टर दीपक की देखरेख में  बीट कॉस्टेबल कृष्ण कुमार व बीट कांस्टेबल योगेश की टीम ने इन शातिर चोर लाला उर्फ योगेश पुत्र पदम जोगी, अजय उर्फ चूहा पुत्र सुरेश को गिरफ्तार कर आईपीसी की धारा 379,411/34 के तहत सलाखों के पीछे भेज दिया है। वहीँ,चोरी का माल लेकर फरार हुये पेशेवर चोर वैल्डिंग व  उसके एक अन्य साथी की तलाश में जगह जगह सीसीटीवी फुटेज खंगाल कर छापेमारी की जा रही है। पुलिस का कहना है की जल्द ही फरार चोर भी उनकी गिरफ्त में होंगे। 

कोई टिप्पणी नहीं: