महाराष्ट्र में किसान खाद की बढ़ती कीमतों से चिंतित - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

मंगलवार, 18 मई 2021

महाराष्ट्र में किसान खाद की बढ़ती कीमतों से चिंतित

farmer-worrid-about-compost-price
औरंगाबाद, 18 मई, कोविड-19 महामारी के प्रकोप के बीच महाराष्ट्र के औरंगाबाद जिले में किसानों ने खाद की बढ़ती कीमतों पर चिंता जताई है और आगामी बुवाई सत्र से पहले सरकार से मदद मांगी है। इस बारे में संपर्क करने पर राज्य के कृषि मंत्री दादा भूसे ने पीटीआई-भाषा को बताया कि उन्होंने केंद्र सरकार को खाद के दाम कम करने के लिए पत्र लिखा है। उल्लेखनीय है कि केंद्र ने हाल ही में कहा था कि वह देश भर में किसानों को घटी दरों पर खाद की उपलब्धता सुनिश्चित करने के लिए फॉस्फैटिक एवं पोटासिक (पीएंडके) उर्वरकों के कच्चे माल की वैश्विक कीमतों में वृद्धि को समायोजित करने के लिए सब्सिडी पर विचार कर रहा है। पैठण के देवगांव के किसान दीपक जोशी ने कहा कि उर्वरकों की बढ़ती कीमतों ने उनके खेती के बजट को बिगाड़ दिया है। उन्होंने कहा कि पिछले साल कोरोना वायरस के चलते लागू लॉकडाउन से बाजार में खरीदार नहीं थे, जिससे उनकी फसल कम कीमत पर बिकी थी। उन्होंने बताया कि पहले खाद के दो बैग की कीमत लगभग 1,100 रुपये थी, लेकिन अब एक बैग की कीमत ही 1,925 रुपये है।

कोई टिप्पणी नहीं: