सीहोर (मध्यप्रदेश) की खबर 14 मई - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शुक्रवार, 14 मई 2021

सीहोर (मध्यप्रदेश) की खबर 14 मई

कोरोना महामारी से दो स्थाई कर्मियों की मौत के बाद  संघ ने की कर्मियों को कोरोना योद्धा घोषित करने की मांग


सीहोर। लोक निर्माण विभाग स्थाई कर्मी संघ यूनियन जिलाध्यक्ष इंदिरा भील ने मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान से सभी विभागों के स्थाई कर्मियों को कोरोना योद्धा घोषित करने की मांग की है। कोरोना से पीडि़त लोक निर्माण विभाग आष्टा के दो स्थाई कर्मियों की मौत समुचित ईलाज के अभाव में हो चु़की है। लोक निर्माण विभाग स्थाई कर्मी संघ यूनियन जिलाध्यक्ष श्रीमति भील ने कहा की मुख्यमंत्री के द्वारा लगातार सभी वगों की मदद के लिए कोरोनाकाल में घोषणाएं की जा रही है लेकिन जिला प्रशासन के साथ कोरोना की जंग में बराबर का साथ निभा रहे स्थाई कर्मियों का ध्यान नहीं रखा जा रहा है। जिसकारण स्थाई कर्मियों में सरकार के रवैया को लेकर रोष बना हुआ है। जबकी कोरोना से पीडि़त लोक निर्माण विभाग आष्टा के दो स्थाई कर्मियों की मौत भी समुचित ईलाज नहीं मिलने के कारण हो चुकी है। दोनों कर्मचारी ड्यूटी के दौरान हीं कोरोना से संक्रमित हो गए थे। लोक निर्माण विभाग स्थाई कर्मियों से रातदिन काम काराया जा रहा है लेकिन कोंरोना से बचने के लिए कोई भी उपकरण नहीं दिए जा रहे है। यूनियन जिलाध्यक्ष श्रीमति भील और जिलापधिकारी कारी मदनलाल, सेवाराम, मेहरबान सिंह, बापू सिंह ने स्थाई कर्मियों के लिए बजट पारित करने और कोरोना योद्धा घोषित करने की मांग की है।


जिले में शांतिपूर्ण एवं कोविड 19 की गाइड लाइन का पालन करते हुए ईद की नमाज अदा की गई


sehore news
जिले भर में आज ईद का त्यौहार शांतिपूर्ण तरीके से मनाया गया। कोरोना कर्फ्यू के दौरान सभी स्थानों पर कोविड-19 गाइडलाइन का पालन करते हुए नमाज शांति पूर्ण रुप से संपन्न हुई। ईद का त्योहार अपने-अपने घरों में रहकर मनाया जा रहा है। जिला मुख्यालय सहित जिले के सभी स्थानों पर ईदगाह पर चार-पांच लोगों द्वारा नमाज अदा की गई। साथ ही सभी ने अपने-अपने घरों में रहकर नमाज अदा की।


जिले में किल कोरोना अभियान के तहत घर-घर जाकर किया जा रहा स्वास्थ्य परीक्षण


sehore news

कोरोना संक्रमण की रोकथाम एवं बचाव के लिए संचालित किल कोरोना अभियान के तहत संपूर्ण जिले में लोगों का स्वास्थ्य परीक्षण किया जा रहा है। रेहटी सहित अनेक ग्रामों में सर्वे टीम द्वारा घर-घर पहुंचकर सर्दी, जुखाम, बुखार के मरीजों को दवाईयां प्रदान की। साथ ही उन्हें मास्क लगाने एवं सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करने के लिए भी जागरुक किया।


कोविड वैक्सीनेशन-दिव्यांगजनों के लिए हो मोबाइल टीकाकरण केन्द्र


आयुक्त नि:शक्तजन कल्याण श्री संदीप रजक ने प्रदेश के दिव्यांगजनों के कोविड वैक्सीनेशन के लिए मोबाइल टीकाकरण केन्द्र और ऑनलाइन वैक्सीनेशन रजिस्ट्रेशन के बजाए केन्द्र पर ही तुरंत पंजीयन की सुविधा की माँग की है। लोक स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण आयुक्त को भेजे पत्र में श्री रजक ने भारत सरकार के सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्रालय द्वारा दिव्यांगजनों की सुरक्षा के सिलसिले में जारी नीति के पक्ष में उडीसा उच्च न्यायालय द्वारा दिव्यांगजनों को टीकाकरण में प्राथमिकता और विशेष व्यवस्था संबंधी निर्णय से भी अवगत कराया है।   श्री रजक ने कहा कि कुछ क्षेत्रों में दिव्यांगजन विभिन्न कारणों से ऑन लाइन पंजीकरण सुविधा का लाभ उठाने मे सक्षम नहीं है। दिव्यांगों के लिए वैक्सीनेशन सेंटर पर ही विशेष ऑफ लाइन सुविधा उपलब्ध कराई जाए। ग्रामीण क्षेत्रों में दिव्यांगों का वैक्सीनेशन मोबाइल टीकाकरण केन्द्र से हो। श्री रजक ने कहा कि कई वैक्सीनेशन सेंटर पर दिव्यांग भी लंबी कतारों में खड़े हो रहें है। यह उनके स्वास्थ्य की दृष्टि से उचित नहीं है। विशेषकर दृष्टिबाधित दिव्यांगों के कई जगह स्पर्श का सहारा लेने से संक्रमण का खतरा बढ़ जाता है। अतरू उन्हें केन्द्र पर एक दिव्यांग सहायक भी उपलब्ध कराया जाए।


प्रदेश में तेन्दूपत्ता संग्रहण 15 मई से होगा प्रारंभ


वन मंत्री डॉ. कुँवर विजय शाह ने कहा है कि प्रदेश में तेन्दूपत्ता संग्रहण का कार्य 15 मई से प्रारंभ होगा। तेन्दूपत्ता संग्रहण में लगे मजदूरों को ज्यादा से ज्यादा काम मिले, इसकी व्यवस्था सुनिश्चित की जायेगी। वन मंत्री डॉ. शाह खण्डवा जिला मुख्यालय से वेब लिंक के जरिये विभाग की समीक्षा कर रहे थे। वन मंत्री ने निर्देश दिये कि इस बात का विशेष ध्यान रखा जाये कि तेन्दूपत्ता संग्रहण कार्य से मजदूरों की रोजी-रोटी चलती है। तेन्दूपत्ता अच्छी क्वालिटी का मिलने की स्थिति में यह कार्य रोका नहीं जाये। वन मंत्री ने बताया कि तेन्दूपत्ता संग्रहण के टारगेट को बढ़ाया जाकर विभाग द्वारा अन्य गोडाउन को किराये पर लिया जायेगा। वन मंत्री ने कहा कि जंगली जानवर पानी के अभाव में शहर-गाँव की तरफ आ रहे हैं। इसलिये ट्रेक्टर के माध्यम से जंगलों में पेयजल की समुचित व्यवस्था की जाये। इससे वन्य-प्राणियों की सुरक्षा के साथ आम लोगों का जीवन सुरक्षित किया जा सकेगा। वन मंत्री ने बताया कि विभाग द्वारा यह निर्णय लिया गया है कि वन अपराधों में जिन वाहनों को राजसात किया गया है, अब उनको टेंडर के माध्यम से नीलामी की प्रक्रिया निर्धारित की गई है। जो राजसात वाहन चलने की स्थिति में होंगे, उनका उपयोग विभाग द्वारा किया जायेगा। वन अपराधों में राजसात किय गये वाहनों को ऑनलाइन नीलाम किये जाने की प्रक्रिया 6 महीने के अंदर पूर्ण की जायेगी। वन मंत्री कुँवर शाह ने कहा कि जो कार्य माह जून तक प्रस्तावित हैं, उन्हें कोविड प्रोटोकाल का पालन सुनिश्चित करते हुए समय पर पूर्ण किया जाना सुनिश्चित किया जाये। उन्होंने कहा कि तेन्दूपत्ता फड़ों पर पानी और थर्मल गन की व्यवस्था के साथ ही बिना मास्क के फड़ पर कोई संग्राहक न आये, यह सुनिश्चित किया जाये। वन मंत्री ने कहा कि वनों की सुरक्षा प्रभावी रूप से की जाये। इसके लिये यदि नियमों में किसी बदलाव या संशोधन की जरूरत हो, तो अपने सुझाव एक सप्ताह के अंदर वन बल प्रमुख को उपलब्ध करायें।   


कोरोना महामारी से जीविकोपार्जन का सहारा छिन चुके परिवारों को प्रदेश सरकार देगी पाँच हजार रुपये प्रतिमाह पेंशन : मुख्यमंत्री श्री चौहान


मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि कोरोना महामारी से अनेक परिवारों में कोई भी कमाने वाला और पालन-पोषण करने वाला सदस्य जीवित नहीं बचा है। ऐसे परिवारों के सामने जीवन यापन का संकट पैदा हो गया है। बच्चों के पिता एवं अभिभावक और बुजुर्गों के बुढ़ापे की लाठी उनके युवा बेटे तथा परिवार के कमाने वाले सदस्य अब इस दुनिया में नहीं है। जीविकोपार्जन का सहारा छिन चुके ऐसे परिवारों को प्रदेश सरकार द्वारा पाँच हजार रुपये प्रतिमाह पेंशन दी जायेगी। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा अनाथ बच्चों, बुजुर्गों और परिवारों को जीवन यापन में कोई परेशानी नहीं होने नहीं दी जायेगी। प्रदेश सरकार पूरा ध्यान रखेगी। अनाथ बच्चों की शिक्षा का नि:शुल्क प्रबंध किया जाएगा, जिससे वे अपनी पढ़ाई बिना बाधा जारी रख सकें। अनाथ बच्चों, बुजुर्गों और परिवारों को पात्रता नहीं होने के बाद भी नि:शुल्क राशन दिया जाएगा। उनके भोजन की समस्या का समाधान होगा। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि अनाथ बच्चों और बुजुर्गों के परिवार और अनाथ हुए परिवार का कोई सदस्य यदि काम-धंधा करना चाहता है तो उसको प्रदेश सरकार की गारंटी पर बिना ब्याज का ऋण उपलब्ध कराया जाएगा। ऐसे दुरूखी परिवार जिनका कोई सहारा नहीं है उनका सहारा प्रदेश की सरकार है। अनाथ बच्चे हमारे प्रदेश के बच्चे हैं। इनकी देखभाल प्रदेश करेगा, प्रदेश सरकार करेगी। राज्य सरकार किसी भी बच्चे को बेसहारा नहीं छोड़ सकती है। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि कोरोना महामारी ने कई परिवारों को तोड़ कर रख दिया है। अनेक बच्चों के सिर से उनके माता-पिता, अभिभावक और उनका पालन-पोषण करने वाले  परिवार जनों का साया छिन गया है। बच्चों के जीवन यापन की समस्या खड़ी हो गई है। परिवार में कोई कमाने वाला नहीं है। 


आयुष्मान निरामयम् योजना के अंतर्गत कार्डधारकों का निःशुल्क होगा कोविड उपचार, कोटवारों द्वारा किया जा रहा लोगों को जागरुक


sehore news
मुख्यमंत्री कोविड उपचार योजना एवं आयुष्मान भारत योजना अंतर्गत पात्र हितग्राहियों के कोविड-19 के नि:शुल्क उपचार के लिए जन जागरूकता ऑडियो का जिले में कोटवारों द्वारा प्रचार-प्रसार किया जा रहा है। कोटवारों द्वारा ऑडियो के माध्यम से बताया जा रहा है कि आयुष्मान निरामयम् योजना के अंतर्गत आयुष्मान कार्डधारक हितग्राहियों का निःशुल्क उपचार जिले चिन्हित अस्पताल में होगा। आयुष्मान कार्डधारक परिवार का कोई भी सदस्य, जिसका आयुष्मान कार्ड नहीं बना है वह कोविड पॉजिटिव होने के उपरांत मान्यता प्राप्त अस्पतालों में पहुंचता है तो वह उक्त दस्तावेजों के आधार अस्पताल में एडमिट हो सकता है।


जिले में 108 व्यक्ति कोरोना पॉजीटिव मिले, वर्तमान में कोरोना एक्टिव-पॉजीटिव की संख्या 1095

  • एक कोरोना संक्रमित मरीज की उपचार के दौरान मृत्यु, कुल मृत्यु संख्या 112

पिछले 24 घंटे के दौरान 108 व्यक्ति कोरोना पॉजीटिव मिले। सीहोर शहरी क्षेत्र से 21 व्यक्ति पॉजीटिव मिले हैं। जो चाण्क्यपुरी, पचामा, पान चौराहा, हाउसिंगबोर्ड, फंदा रोड़, ब्रहमपुरी कॉलोनी, शिवाजी कॉलोनी, इंदौर नाका, शुगर फैक्ट्री चौराहा, बडियाखेड़ी, नेहरु कॉलोनी, बड़ा बाजार, मुरली रोड़, इंद्रा नगर, एनएम प्रशिक्षण केन्द्र, पुलिस लाइन, चौपाल सागर, शीतल विहार, रेलवे फाटक के पास, न्यू बस स्टेण्ड, रेलवे कॉलोनी के निवासी हैं। नसरुल्लागंज क्षेत्र से 31 व्यक्तियों की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है जो बापचा, पीपलठोन, खण्डागांव, नसरुल्लागंज के वार्ड नंबर 02, लाड़कुई, बडगांव, गोपालपुर, मंडी नसरुल्लागंज, हमीदगंज, तुमड़ी, अंबा, बगवाड़ा, श्यामपुरा, गिल्लोर, तिगली, नंदगांव, ससली, पटरानी, खरसानिया, चकल्दी, इटारसी, छिदगांव, गिलहरी, लाचौर, बांसदेव, बोरखेड़ी, पलासीकला, बोरखेड़ा जागीर के निवासी हैं। इछावर क्षेत्र अन्तर्गत 10 व्यक्ति पॉजिटिव मिले हैं संक्रमित व्यक्ति धांमदा, भाउखेड़ी, चैनपुरा, सीएचसी परिसर, रामनगर, इछावर के वार्ड नंबर एक के निवासी हैं।  श्यामपुर क्षेत्र से 11 व्यक्ति पॉजिटिव मिले हैं संक्रमित व्यक्ति रोला, डेंडी, मुहाली, संग्रामपुर, मगरदी, दोराहा, बिलकिसगंज, बिजोरी, सेमरादांगी, अलादाखेड़ी, हालियाखेड़ी, जमोनिया तालाब, शाहपुर कोडिया, बरखेड़ा, जमोनिया, सेमरादांगी के निवासी है। बुधनी क्षेत्र से 09 व्यक्तियों की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है जो बुधनी वार्ड नंबर 13, 04, पवन कॉलोनी, बकतरा, जैत, तालपुरा, रेहटी, निन्नोर, शाहगंज, रिचोड़ा के निवासी हैं। आष्टा क्षेत्र से 26 व्यक्तियों की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है जो सगुन गार्डन, मैना, खामखेड़ा जत्रा, चोपाटी बायपास, अरनिया, पार्वती थाना, बोरखेड़ा, कॉलोनी चौराहा, कन्नोद मिर्जी, कन्नोद रोड, मुरावर, शास्त्री कॉलोनी, हुसैनखेड़ी, आमलारामजीपुरा, बमूलिया खीची, किलेरामा, मगरखेड़ी, गवाखेड़ा, मूड़ला, जावर थाना एरिया, गांधी चौक, सिंकदर बाजार, रघुनाथपुरा, रामपुराकला, आदर्श कॉलोनी, सेवदा, पड़ली, मालवीय नगर, बांदरिया हाट के निवासी हैं। सीएमएचओ कार्यालय से प्राप्त जानकारी के अनुसार जिले में अब तक कुल कोरोना पॉजीटिव व्यक्तियों की संख्या 8814 है। वर्तमान में एक्टिव पॉजिटिव 1095 हैं। आज 147 व्यक्ति रिकवर हुए। कुल रिकवर व्यक्तियों की संख्या 7607 हैं। कुल कोविड संक्रमित मृत व्यक्तियों की संख्या 112 है । पिछले 24 घंटों के दौरान जिला चिकित्सालय स्थित कोविड-19 डीसीएचसी में एक संक्रमित व्यक्ति की उपचार के दौरान मृत्यु हुई है। आज 771 सैम्पल लिए गए है। जांच के लिए सीहोर शहरी क्षेत्र से 127, श्यामपुर से 151, विकासखंड नसरुल्लागंज से 140, आष्टा से 92 एवं बुदनी विकासखंड से 152 तथा इछावर से 109 सेंपल लिये गए हैं। अभी तक कुल जांच के लिए भेजे गए सेंपल 113458 हैं जिनमें से 103802 सेंपलों की रिपोर्ट निगेटिव आई है। आज 672 सेंपलों की रिपोर्ट निगेटिव आई है। कुल 771 सेंपलों की रिपोर्ट आना शेष है। पैथालॉजी द्वारा कोरोना वायरस सेंपल की रिजेक्ट संख्या कुल 71 है। जिले मे जो व्यक्ति होम क्वारन्टाईन में हैं उनके निवास स्थान से सीधे संवाद हेतु जिला स्तरीय कोविड-19 कॉल सेंटर स्थापित किया गया है। जिसका संपर्क नंबर- 07562-1075 है। जिला स्तर पर जिला कोविड कमाण्ड कंट्रोल सेंटर का मोबाइल नंबंर 9425400273, 7987652577, 9425400453 पर कॉल सेंटर पर संपर्क किया जा सकता है। राज्य स्तर पर 104/181 नंबर पर कॉल करके भी टेलीमेडिसिन सेवा का लाभ लिया जा सकता है। 104 नंबर पर ई-परामर्श सेवा का भी लाभ लिया जा सकता है। होम क्वारन्टाईन व्यक्तियों तथा उनके परिजनों के लिए हेल्पलाईन नंबंर 18002330175 जारी किया गया है। होम क्वारन्टाईन व्यक्ति अथवा उनके परिजन इमोशनल वेलनेस अथवा साइकॉलाजीकल सपोर्ट एवं अन्य जरूरी परामर्श मानसिक सेवा प्रदाताओं से नि:शुल्क प्राप्त कर सकते हैं।


12 से 16 सप्ताह पर लगेगा कोविशील्ड का दूसरा डोज


ऐसे व्यक्ति जिन्हें कोविशील्ड का प्रथम डोज लग चुका है उन्हें कोविशील्ड वैक्सीन का दूसरा डोज अब 12 से 16 हफ्ते पर ही लगेगा। जिला टीकाकरण अधिकारी डॉ.एम.चंदेल ने जानकारी दी कि अब कोविशील्ड लगाने वाले व्यक्ति प्रथम डोज लगवाने के उपरांत नवीन निर्धारित अवधि 12 से 16 सप्ताह के अंतराल पर ही द्वित्तीय डोज लगाने हेतु कोविड-19 टीकाकरण सत्र स्थल पर उपस्थित होंगे।  


मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कोविड-19 प्रबंधन के संबंध में प्रदेश की जनता को किया संबोधित


sehore news
मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कोविड-19 प्रबंधन के संबंध में प्रदेश की जनता को किया। उन्होंने कहा कि आज बहुत महत्वपूर्ण दिन है। आज अक्षय तृतीया, भगवान परशुराम की जयंती और ईद है। मैं आप सभी को हार्दिक बधाई देता हूं। आज मैं उनको भी याद करना चाहता हूं जो कोरोना संक्रमण के कारण हमसे बिछड़ गये। इस महामारी ने हम से कई अपनों को छीना है। कोरोना वारिर्यस को भी हमने खोया है। जब ये सोचते हैं तो मन व्यथित होता है। पीड़ा गहरी है। दर्द बड़ा है लेकिन इसे सहते हुये हमे आगे बढ़ना होगा। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि कोई बच्चा अपने आप को अनाथ न समझे। हमारे होते हुये किसी बच्चे को अनाथ नहीं रहने दिया जायेगा। हमने योजना बनाई कि ऐसे बेटा-बेटी जिनके परिवार का कमाने वाला नहीं रहा ऐसे बच्चों को 5,000 रुपये पेंशन दी जाएगी। उन्हें नि:शुल्क राशन दिया जायेगा। शिक्षा की नि:शुल्क व्यवस्था की जायेगी। उन्होंने कहा कि सवा साल से हमारे कोरोना वॉरियर्स इस संक्रमण को मिटाने के लिये लगातार जूझ रहे हैं। केंद्र सरकार के सहयोग से बिस्तर, ऑक्सीजन, वेंटिलेटर की निरंतर व्यवस्था कर रहे हैं। इसके लिये मैं प्रधानमंत्री श्री को धन्यवाद देता हूँ। आज हम इस कोरोना की इस लड़ाई में बेहतर स्थिति में है, ये संभव हुआ तो बस आपके सहयोग से। आपने कोरोना कर्फ्यू लगाया जिस कारण संक्रमण नियंत्रित हो सका। इसे पूरी तरह से कैसे समाप्त किया जा सकता है उसे लेकर मैं आपसे चर्चा करना चाहता हूं। उन्होंने निर्देश दिए कि कलेक्टर्स जनप्रतिनिधियों के साथ मिल के संक्रमण की चेन तोड़ें। कालाबाजारी किसी भी कीमत पर न हो। 80 से ज्यादा लोगों पर हम रासुका की कार्रवाई कर चुके हैं। ऐसे अपराधियों को किसी कीमत पर नहीं छोड़ना है। कई अस्पताल सेवा के भाव से काम कर रहे हैं लेकिन कुछ ऐसे भी हैं जो गड़बड़ कर रहे हैं, उनको हम छोड़ेंगे नहीं। जिला क्राइसिस मैनेजमेंट ग्रुप के लिये एक और काम है। आपके जिलों में जो बच्चे अनाथ हो गये हैं। उनकी सूची बनाइये। श्री चौहान ने कहा कि आज हमने तय किया है कि जो कोविड केयर सेंटर हैं उन्हें पोस्ट कोविड केयर सेंटर भी बनाया जायेगा। अगर कोई घर पर ठीक होकर भी कोई दिक्कत महसूस कर रहा है तो वो पोस्ट कोविड केयर सेंटर जा सकता है। पूरे प्रदेश में 5,000 ऑक्सीजन बेड हम और बढ़ा रहे हैं। बच्चों के लिये भी ऑक्सीजन बेड हम तैयार कर रहे हैं। अस्पतालों में माहौल अच्छा रहना चाहिये। ताकि मरीज अवसाद में न आयें। उनका मनोबल भी बढ़ाते रहा जाये। हमारे जो कोरोना वॉरियर्स हैं जो अभी मरीजों के इलाज में लगे हैं उनको सम्मानित करने की योजना हम बना रहे हैं। आज हमने तय किया कि पत्रकारों को भी योजना के तहत कवर किया जायेगा। मुख्यमंत्री श्री शिवराज के संबोधन के दौरान एनआईसी कक्ष में सीईओ जिला पंचायत श्री हर्ष सिंह, एसपी श्री एसएस चौहान सहित अन्य अधिकारी उपस्थित थे।


संवाद सेतु हेल्प डेस्क शुरू, जिला चिकित्सालय के कोविड वार्ड में भर्ती संक्रमित मरीज

  • वीडियो काल के जरिए परिजनों से कर सकेंगे चर्चा

sehore news
जिला चिकित्सालय में कोविड-19 संवाद सेतु हेल्प डेस्क प्रारंभ किया गया है। मिशन संचालक राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन के निर्देश पर संचालित संवाद सेतु हेल्प डेस्क के माध्यम से अस्पताल के कोविड वार्ड में भर्ती संक्रमित मरीज अपने परिजनों से वीडियो काॅल के माध्यम से बातचीत कर हाॅल बता सकेंगे । मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ.सुधीर कुमार डेहरिया ने बताया कि प्रतिदिन दो बार अस्पताल में भर्ती संक्रमित मरीज बातचीत कर सकेंगे इसके लिए उन्हें टोकन वितरित किया जाएगा। दोपहर 12 से 02 बजे तथा शाम को 5 से 7 बजे दो शिफ्ट में संवाद सेतु के सफल क्रियान्वयन के लिए काउंसलरों की ड्यूटी लगाई गई है। इस सुविधा के प्रारंभ होने से संक्रमित मरीजों के परिजन उनका हालचाल जान सकेगे वहीं मोबाइल पर वीडियो काॅल के माध्यम से एक-दूसरे से रूबरू भी हो सकेंगे।

कोई टिप्पणी नहीं: