विदिशा (मध्यप्रदेश) की खबर 17 मई - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

सोमवार, 17 मई 2021

विदिशा (मध्यप्रदेश) की खबर 17 मई

प्रशासनिक अनियमितताओं के खिलाफ कांग्रेस देगी सांकेतिक धरना

  • विदिमुख्यमंत्री जी ने सिंगल क्लिक से विदिशा जिले के 15204 तेन्दूपत्ता हितग्राहियों के खातो में 5993183 जमा की , हितग्राहियों से व्हीसी के माध्यम से संवाद 

vidisha news
मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने आज सिंगल क्लिक के माध्यम से विदिशा जिले के 15 हजार 204 संग्राहक हितग्राहियों को प्रोत्साहन राशि 5993183 रूपए हितग्राहियों के खातो में जमा कराए है।  मुख्यमंत्री श्री चौहान ने वीडियो कांफ्रेसिंग के माध्यम से विदिशा जिले की ग्राम सियासी प्राथमिक वनोपज सहकारी समितिपुरा के लाभांवित हितग्राही मुन्नालाल से संवाद किया है। हितग्राही मुन्नालाल ने साधुवाद व्यक्त करते हुए प्रोत्साहन राशि मिलने पर प्रसन्नता व्यक्त की है। वन विभाग के एसडीओ श्री राजीव श्रीवास्तव ने बताया कि एनआईसी के व्हीसी कक्ष में जिले के दस हितग्राही मौजूद रहें। इन हितग्राहियों ने भी मुख्यमंत्री जी के लाइव उदबोधन को देखा सुना है। मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कोरोना संक्रमण काल में सावधानीपूर्वक तेन्दूपत्ता तोडने, अन्य वनोपज का संग्रहण के संबंध में चर्चा की हैं इस दौरान ग्राम के संबंध में भी जानकारी उनके द्वारा प्राप्त की गई हैं एसडीओ फारेस्ट श्री श्रीवास्तव ने बताया कि तेन्दूपत्ता संग्राहक प्रोत्साहन राशि वर्ष 2018-19 का आज वन क्लिक के माध्यम से वितरण किया गया है।


ग्राम भदारबडागांव में लॉक डाउन का कडाई से पालन, जिला पंचायत अध्यक्ष तथा सीईओ को ग्राम में प्रवेश की सौजन्यतापूर्वक मनाही


vidisha news
विदिशा जिले के ग्राम भदारबडागांव में ग्रामवासियों द्वारा ही लॉकडाउन की समयावधि तय कर उसका कडाई से पालन ग्रामीणजन कर रहे है। गांव के बाहर नियत स्थलों पर स्वंय ग्रामीणजन चौकीदारी के दायित्व का निर्वहन कर रहे है। सोमवार को जिला पंचायत अध्यक्ष श्री तोरण सिंह दांगी तथा जिला पंचायत सीईओ श्रीमती नीतू माथुर ने ग्राम भदारबडागांव में कोरोना से संक्रमितों की जानकारी लेने हेतु गांव में जैसे ही प्रवेश मार्ग पर अस्थायी बेरिकेट के समीप सुरक्षा दायित्वों का निर्वहन कर रहे ग्रामवासियों ने जिपं अध्यक्ष व सीईओ से दोनो हाथ जोडकर विनम्रतापूर्वक कहा कि हमारे गांव में कोरोना कर्फ्यू प्रभावशील है अतः गांव के अन्दर स्वास्थ्य विभाग के अमले व डाक्टर को ही आने जाने दिया जा रहा है बाहरी अन्य किसी भी अधिकारियों, नागरिकों को प्रवेश पूर्णतः वर्जित हैं हम सब गांव के लोग बारी-बारी से चौकीदारी कर  रहे है ताकि कोई भी व्यक्ति बाहरी व्यक्ति गांव के अन्दर न कर सकें।  जिला पंचायत अध्यक्ष श्री तोरण सिंह दांगी ने बताया कि किल कोरोना अभियान तीन के तहत गांव में डोर-टू-डोर सर्वे में चिन्हित बीमारों का कोरोना टेस्ट कराया गया है जिसमें छह लोग पॉजिटिव आए है इसमें से तीन स्वंय अपने घरो मेंं तथा तीन पंचायत भवन में बनाए गए आइसोलेशन वार्ड में रह रहे है। गांव में स्वास्थ्यकर्मी को ही दवाईयों वितरित करने हेतु आने जाने की अनुमति दी गई है।  जिला पंचायत सीईओ श्रीमती नीतू माथुर ने बताया कि स्वास्थ्य विभाग के माध्यम से गांव में ही उपचारित हो रहे मरीजो के स्वास्थ्य की जानकारी प्राप्त की जा रही है ग्रामीणजनों द्वारा कोरोना के संक्रमण चैन को तोडने के लिए की गई पहल अनुकरणीय हैं ऐसे समय ग्रामवासी द्वारा एक जुटता का परिचय देकर कोरोना को हराने में कोई कोर कसर नही छोडी जा रही है। उन्होंने बताया कि ग्रामवासियों की क्राइसेस मैनेजमेंट समिति द्वारा लिए गए निर्णय अनुसार गांव में स्वंय ही पांच दिन का लॉकडाउन लगाया गया है और आज उनके द्वारा दो दिन की ओर वृद्धि की गई है। ग्रामवासियों की सजगता और कोविड गाइड लाइन पालन की प्रतिबद्धता हम सबको प्रेरणा देने का कार्य कर रही है।  ग्राम क्राइसेस मैनेजमेंट समिति की 12 मई को सम्पन्न हुई बैठक में सर्वसम्मति से निर्णय लिया गया था कि बिन्दुवार 12 मई की दोपहर 12 बजे से 17 मई की सुबह छह बजे तक कर्फ्यू का पालन किया जाएगा। जिसमें रोज सुबह आठ से नौ बजे तक एवं शाम सात से आठ बजे तक छूट दी गई थी। कर्फ्यू अवधि मेंं सभी अपने-अपने घरों में रहेंगे। बाहर निकलने पर समिति को आवश्यक कार्यवाही करने हेतु अधिकृत किया गया था। ग्राम से कोई भी व्यक्ति बाहर नही जाएगा एवं कोई भी बाहरी व्यक्ति गांव में प्रवेश नही करेगा। गांव में जो सात व्यक्ति कोरोना पॉजिटिव है उनको घर पर ही होम कोरोन्टाइन किया जाएगा। यादि उनके घर पर रूकने की व्यवस्था नही होती है तो पंचायत भवन में रखने के प्रबंध सुनिश्चित किए जाएंगे। पंचायत सचिव श्री रामदयाल ने बताया कि ग्राम की क्राइसेस मैनेजमेंट समिति में उप सरपंच श्री मोहन सिंह, श्री मोती सिंह, श्री भगवान सिंह, श्री प्रीतम सिंह, श्री वीर सिंह रघुवंशी, श्री रणधीर सिंह, श्री लक्ष्मीनारायण शर्मा, राजकुमारी शर्मा, अनीता अहिरवार, श्री शिवराज सिंह, श्री बलवीर सिंह, श्री महेश गिर ने सर्वसम्मति से निर्णय लेकर पालन करा रहे है।


पोस्ट कोविड ट्रीटमेंट वार्ड 


vidisha news
कलेक्टर डॉ पंकज जैन ने बताया कि विदिशा की अटल बिहारी वाजपेयी शासकीय चिकित्सा महाविद्यालय में पोस्ट कोविड 19 ट्रीटमेंट वार्ड बनाया गया है उक्त वार्ड में ऐसे मरीज जिनको आक्सीजन अथवा अस्पताल में भर्ती होना जरूरी है परन्तु उनका कोविड 19 टेस्ट निगेटिव हो चुका है। ऐसे मरीजो के लिए मेडिकल कॉलेज अस्पताल में पोस्ट कोविड ट्रीटमेंट वार्ड की सुविधा मुहैया कराई जा रही है।  कलेक्टर डॉ जैन ने बताया कि पोस्ट कोविड ट्रीटमेंट वार्ड में मरीजो के रिश्तेदारो को सीमित समय में मिलने की अनुमति प्रदाय की जा रही है तथा स्टाफ भी पीपीई किट की बाध्यता के बिना निगरानी कर सकेंगे। उक्त वार्ड में सिर्फ उन मरीजो को ही रखा जाएगा जो अस्पताल में पॉजिटिव होने के बाद एक निश्चित समय सीमा व्यतीत होने के उपरांत उनका वायरल लोड निगेटिव हो चुका हो।


ग्राम पंचायत स्तरो पर कोरोना टीएल बैठको का आयोजन हुआ 


vidisha news
जिला मुख्यालय पर जिस प्रकार प्रत्येक सोमवार को लंबित आवेदनों की समीक्षा की जाती है ठीक उसी तर्ज पर जिले के ऐसे ग्राम पंचायत स्तर पर कोरोना टीएल बैठको का आयोजन प्रत्येक सोमवार को प्रातः 11 बजे से एक साथ आयोजित की जा रही है। आज सम्पन्न हुई बैठको की जानकारी देते हुए अपर कलेक्टर श्री वृदांवन सिंह ने बताया कि ग्राम पंचायतों मेंं आयोजित कोरोना टीएल बैठको की बकायदा कार्यवाही विवरण जिला मुख्यालय पर जमा कराने के प्रबंध सुनिश्चित किए गए है इसके लिए अधिकारियों को आवश्यक जबावदेंही सौंपी गई है। खासकर ग्राम स्तरीय अमले को।  अपर कलेक्टर श्री वृदांवन सिंह ने बताया कि जिले की ऐसे ग्राम पंचायते जिन ग्राम पंचायतों में कोरोना से संक्रमित मरीज पाए गए है अथवा संक्रमित है। उन ग्राम पंचायतों में कोरोना वायरस गाइड लाइन के अनुपालन में की जाने वाली कार्यवाही से आमजनों को खासकर ग्रामीणजनो को अवगत कराकर कोरोना संक्रमण की चैन को तोडना है और प्रभावितों को अविलम्ब आवश्यक दवाईयों की पूर्ति सुनिश्चित कराई जानी है।  ग्राम पंचायत स्तर और वार्ड स्तर पर प्रति सोमवार 11 बजे से कोरोना टीएल बैठक अनिवार्य रूपे स आयोजित की जानी है। इस बैठक में समस्त विभागो के ग्रामीण, कर्मचारी, अनिवार्य रूप से उपस्थित रहेंगे। पंचायत, राजस्व, कृषि, महिला एवं बाल विकास विभाग, स्वास्थ्य, सिंचाई, जन अभियान परिषद, वन आदि विभागो के मैदानी कर्मचारी उपस्थित रहेंगे। संबंधित विभाग के जिलाधिकारियोंं को निर्देश जारी किए गए है कि अपने अधीनस्थों को प्रति सोमवार की बैठक में उपस्थित रहने हेतु निर्देशित करें। इस बैठक में ग्राम पंचायत, वार्ड स्तरीय काईसेस मैनजमेंट समिति के सदस्य भी उपस्थित रहेंगे। उक्त बैठक में कोरोना संक्रमण की रोकथाम, कोरोना संबंधी सर्वेक्षण, होम आइसोलेशन में रह रहे कोरोना मरीजो का प्रबंधन, ग्राम और वार्ड में कोरोना कर्फ्यू का पालन कराया जाना आदि विषयों पर कार्यवाही करेंगे। एसडीएम, सीईओ, सीएमओ, बीएमओ, सीडीपीओ समन्वय संबंधी कार्य का संपादन करेंगे।


टीकाकरण सत्रो का विस्तार 


18 प्लस के व्यक्तियों को कोविड 19 से बचाव हेतु सभी विकासखण्डो पर टीकाकरण सत्रों का आयोजन किया जा रहा है। इसी कडी में अब जिले में टीकाकरण सत्रों का विस्तार किया गया है। 19 मई से जिले के दस स्थलों पर टीकाकरण कार्य किया जाएगा।  मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ केएस अहिरवार ने बताया कि तीन नए सत्र जो बढाए गए है उनमें विदिशा विकासखण्ड में शहरी प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र करैयाखेडा अहमदपुर चौराहे के पास, बासौदा विकासखण्ड में त्योंदा तथा नटेरन विकासखण्ड में नटेरन शामिल है। टीकाकरण सत्रों आयोजन जिन तिथियों में किया जाएगा उनमें 19, 20 ,22, 24, 27, 29 एवं 31 मई को आयोजित किया जाएगा। सत्र आयोजन तिथि के एक दिन पूर्व प्रातः नौ से 11 बजे के बीच संबंधित विकासखण्ड चिकित्सा अधिकारी कार्यालय द्वारा प्रारंभ की जाएगी। विदिशा ब्लाक हेतु चयन प्रक्रिया सीएमएचओ कार्यालय की टीकाकरण शाखा द्वारा प्रारंभ की जाएगी। ग्यारसपुर एवं नटेरन विकासखण्ड के शमशाबाद टीकाकरण सत्र हेतु 19 मई तक के पूर्व की सभी तिथियां बुक हो चुकी है।  18 प्लस के व्यक्ति टीकाकरण हेतु कोविड पोर्टल या आरोग्य सेतु एप से अपना ऑनलाइन पंजीयन कर अपने नजदीकी टीकाकरण सत्र का चयन कर सकते है। पंजीकृत मोबाइल पर टीकाकरण दिनांक एवं टीकाकरण स्थल पर पहुंचने का समय की सूचना मैसेज के माध्यम से प्राप्त होने पर सत्र पर टीकाकरण हेतु संबंधित पहुंचकर टीकाकरण कार्य करा सकेंगे। किसी भी सत्र स्थल पर पंजीयन कार्य नही किया जाएगा।


कोरोना संक्रमित अधिकारियों, कर्मचारियों के समुचित इलाज व निगरानी के लिए टीम गठित 


कलेक्टर एवं जिला आपदा प्रबंधन समिति के अध्यक्ष डॉ पंकज जैन के द्वारा जिले में पदस्थ समस्त अधिकारी, कर्मचारी अपने कर्तव्य के निष्पादन के दौरान कोरोना से संक्रमित हो रहे है। आपदा प्रबंधन के दौरान ऐसे अधिकारी, कर्मचारियों के समुचित इलाज व स्वास्थ्य पर निगरानी रखने हेतु जिला स्तरीय समिति गठित करने का आदेश जारी कर दिया है।  कलेक्टर द्वारा गठित समिति का अध्यक्ष अपर कलेक्टर श्री वृदांवन सिंह को दायित्वा सौंपा गयाहै इसके अलावा समिति में तीन सदस्य भी शामिल किए गए है उनमें शिक्षा विभाग के क्रीडा अधिकारी श्री विनोद चौधरी, 9826741865, भू अभिलेख के राजस्व निरीक्षक श्री अभिनव रिछारिया 7587976700 तथा कलेक्ट्रेट कार्यालय के सहायक ग्रेड तीन श्री भगत सिंह रजावत 9806272699 समिति में शामिल है। उक्त समिति समय-समय पर समस्त विभागो से अद्यतन जानकारियां प्रापत कर संक्रमित अधिकारियों, कर्मचारियों के समुचित इलाज एवं समुचित निगरानी संबंधी कार्यो की हर रोज समीक्षा कर अद्यतन स्थिति से वरिष्ठों को अवगत कराएंगे। 


कोविड-19 के लक्षण आते ही चिकित्सक से सलाह लें


कोविड-19 वैक्सीनेशन के साथ साथ मास्क लगाना, दो गज की दूरी बनाये रखना, हाथों को सेनेटाइज करना या साबुन और पानी से हाथ धोना, भीड भरी जगह पर ना जाना आदि की सलाह सिविल सर्जन द्वारा दी गई है। जिला चिकित्सालय के कोविड-19 के वार्ड व टीकाकरण कराने आने वाले लोगों को सलाह दी गई। ऐसे व्यक्ति जो ब्लड प्रेशर, डायबिटीज, किडनी, अस्थमा, कैंसर आदि से पीडित हैं उन्हें सर्दी, जुखाम, खांसी, बुखार, सांस लेने में तकलीफ, सिर दर्द, भूख न लगना, दस्त लगना आदि के लक्षण होने पर वे अपने घर पर ही पारंपरिक उपचार लेते हैं, ठीक होने की उम्मीद में 5 से 7 दिन गुजार देते हैं जिन्हें स्वास्थ्य लाभ होने के बजाय उनकी बीमारी और जटिल हो जाती है। उन्हें अस्पताल में भर्ती करना पड़ता है, ऐसी स्थिति में कोविड 19 जांच पॉजिटिव आती है तो उपचार और जटिल हो जाता है। ऐसे मरीजों को ऑक्सीजन सपोर्ट या आईसीयू में भर्ती कर उपचार करना पड़ता है। ऐसे बीमारियों से प्रभावित व्यक्तियों को सलाह दी है कि वे सर्दी, खांसी, बुखार, सांस लेने में तकलीफ, सिर दर्द, हाथ पैरों में दर्द, शरीर में ऐठन, भूख न लगना, खाने व सूंघने में स्वाद का पता न लगना आदि लक्षणों के आते ही चिकित्सक से परामर्श लेकर आवश्यक जांच करवाकर समय रहते पूर्ण उपचार लेकर स्वस्थ हो जिससे वे समय पर परिवार को सुरक्षित रख सकें।


खण्ड स्तरीय कोरोना समीक्षा प्रत्येक मंगलवार को 


अपर कलेक्टर श्री वृदांवन सिंह ने बताया कि जिले के सभी विकासखण्ड मुख्यालयों पर अब प्रत्येक मंगलवार की प्रातः 11 बजे से कोरोना संबंधी बैठकों का आयोजन कर विकासखण्ड स्तर पर किए गए प्रबंधो की समीक्षा की जाएगी। अपर कलेक्टर ने ततसंबंध में समस्त एसडीएमों को अपने-अपने स्तर पर तैयार कर बैठको का आयोजन कर की गई कार्यवाही से जिला कार्यालय को अवगत कराने के निर्देश प्रसारित किए है। क्रमांक 87/अहरवालशाः- कोविड-19 को लेकर जिला प्रशासन, स्वास्थ्य विभाग की लापरवाहियों के खिलाफ कांग्रेस पार्टी ने पूर्व में लॉकडाउन समाप्त होने के बाद 18 मई को माधवगंज चैराहे पर धरना प्रदर्शन करने का ऐलान किया था। चूंकि जिला प्रशासन ने लॉकडाउन को 31 मई तक बढ़ा दिया है जिसके पालन में कांग्रेस पार्टी के नेता जिला प्रशासन व स्वास्थ्य विभाग की अनियमितताओं के खिलाफ विधायक कार्यालय में कल प्रातः 10ः30 बजे से 12ः00 बजे तक धरना देंगे। इस धरना प्रदर्शन में कोविड गाइडलाइंस का पालन करते हुए सीमित संख्या में कार्यकर्ता व नेता सम्मिलित होंगे। साथ ही अनेक कांग्रेस पार्टी के कार्यकर्ता इस धरना प्रदर्शन के समर्थन में अपने-अपने घरों में धरना देकर सोते हुए जिला प्रशासन को जगाने का प्रयास करेंगे।

कोई टिप्पणी नहीं: