सीहोर (मध्यप्रदेश) की खबर 21 जून - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

मंगलवार, 22 जून 2021

सीहोर (मध्यप्रदेश) की खबर 21 जून

पौधारोपण कर मनाया योग दिवस किया गया टिकाकरण का शुभारंभ

sehore news

सीहोर। पौधारोपण कर योग दिवस मनाया गया। ग्रामवासियों की जीवन सुरक्षा के लिए टीकाकरण कार्य का शुभारंभ भी किया गया। कोरोना महामारी से बचने के लिए ग्रामवासियों को जागरूक किया गया। सोमवार को ग्राम पंचायत नयापुर नयाखेड़ा में योग दिवस पर विशेष कार्यक्रम ग्राम प्रधान प्रताप सिंह मेवाड़ा के मूख्य अतिथिय में आयोजित किया गया। शासकीय स्कूल परिसर में सर्वप्रथम पर्यावंरण सुरक्षा और ऑक्यीजन संर्वधन के लिए नीम,पीपल आम के पौधों का रोपण किया गया। शासकीय स्कूल के प्राधानाध्यपक भगवानदास प्रजापति के द्वारा सभी उपस्थित ग्राम वासियों को वैक्सीनेशन की शपथ दिलाई गई। ग्राम पंचायत के सचिव महेश राठौर ने ग्रामीणों को योग से होने वाले लाभों को बताया और नियमित योग करने के लिए आहवान किया। समाजसेवी लीलाकिशन मेवाड़ा ने कोरोना वायरस से बचने के लिए ग्रामवासियों को टिकाकरण के लिए प्रोत्साहित किया। कार्यक्रम में मुख्य रूप से श्याम वर्मा, संतोष प्रजापति, प्रदीप प्रजापति, प्रेमनारायण प्रजापति सहित अन्य ग्रामीणजन उपस्थित रहे। 

मुख्यमंत्री, स्वास्थ्य मंत्री - आशा उषा  ने पूछा 2 000  रुपये में कैसे घर चलायें  घर, आशा उषा और आशा सहयोगियों ने पीपलानी पहुंचकर दिया मुख्यमंत्री को ज्ञापन, अनिश्चित हड़ताल से आमजनता के सभी स्वास्थ्य सम्बन्धी अभियान हुए ठप्प

sehore news
सीहोर। आशा ऊषा आशा सहयोगी एकता यूनियन मध्य प्रदेश सीटू से जुडी आशा उषा और आशा सहयोगियों ने सोमवार को पीपलानी पहुंचकर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान को एकता यूनियन की प्रदेश सचिव ममता राठौर के नेतृत्व में लङ्क्षबत विभिन्न मांगों को पूरा करने को लेकर ज्ञापन दिया। आज आशा ऊषा आशा सहयोगी एकता यूनियन मध्य प्रदेश (सीटू) की आशा एवं सहयोगियों ने वैक्सीन के लिये महा अभियान की शुरुआत कर सीहोर जिले के पिपलानी से लौट रहे मुख्यमंत्री शिवराज चौहान को रास्ते में रोक कर ज्ञापन सौप कर उनसे बात की एवं आंगनवाडी कर्मियों के बराबर वेतन की मांग की। इसी तरह अभियान में रायसेन में आये प्रदेश के स्वास्थ्य मंत्री  प्रभुराम चौधरी को यूनियन की रायसेन जिला अध्यक्ष कृष्णा ठाकुर के नेतृत्व में ज्ञापन सौंपे। नीमच में आशा ऊषा आशा सहयोगी यूनियन (सीटू) की 200 से अधिक आशा एवं सहयोगियों ने वित्तमंत्री जगदीश देवडा के घर पहुंच कर ज्ञापन सौंप कर उनसे बात की। इस दौरान यूनियन के नेताओं ने मुख्यमंत्री एवं मंत्रियो से कहा कि सरकार कोरोना महामारी सहित तमाम महत्वपूर्ण अभियानों को पूरा करने वाली आशाओं को केवल 2000 रुपये वेतन दे रही है, इसका भी आधा हिस्सा विभाग के अभियानों में खर्च हो जाता है जो इस भीषण महंगाई में आशायें कैसे परिवार चलायें? आशाओं ने मंत्री से कहा कि वे मुख्यमंत्री से चचाज़् कर आशाओं को न्याय दिलाने के लिये तत्काल कदम उठाया जावे। जिले में स्वास्थ्य के क्षेत्र में अति महत्वपूर्ण काम कर रही आशा एवं सहयोगियों के शोषण के खिलाफ, जीने लायक वेतन की मांग को लेकर आशा ऊषा आशा सहयोगी के संयुक्त मोर्चे के आह्वान पर अनिश्चितकालीन हडताल को 21 दिन हो चुके है। एकता यूनियन की प्रदेश सचिव ममता राठौर ने बताया की वैक्सीन महा अभियान के दिन आशा एवं सहयोगियों ने बडी संख्या में जिला मुख्यालयों में प्रदर्शन करते हुये कलेक्टर के माध्यम से मुख्यमंत्री के नाम पर स्मरण पत्र सौंपे गये। स्मरण पत्र में वेतन वृद्धि सहित मांगो का निराकरण करते हुये प्रदेश में स्वास्थ्य अभियान में आये गतिरोध को खत्म करने के लिये पहल करने की अपील की। हडताल के सम्बन्ध में हडताल कर रही संगठनों ने कहा कि सरकार की खामोशी के चलते एक ओर सरकार के खिलाफ आशा एवं सहयोगियों में लगातार आक्रोश बढ रहा है वहीं हडताल का दायरा भी लगातार बढ रहा है। मुख्यमंत्री ने मांगों पर शीघ्र कार्यवाही का आशवासन दिया। प्रभाुराम चौधरी ने भी समाधान पहल करने का आशवासन दिया, जबकि वित्तमंत्री जगदीश देवडा ने कहा कि हम जल्दी ही मंत्रिमंडल में चर्चा कर मांगों का निराकरण करते हुये गतिरोध को समाप्त करने कदम उठाया जावेगा। वैक्सीनेशन पर नही गये आशा एवं सहयोगी-कहा वेतन बढाये बिना कोई काम नही स्वास्थ्य विभाग एवं जिला प्रशासन के दबाव तमाम प्रयासों के बावजूद अधिकांश जिलों में आशा एवं सहयोगियों ने सरकार के वैक्सीन की शुरुआत के लिये आयोजित महा अभियान में शामिल नही हुयी। आशा एवं सहयोगियों ने स्पष्ट कहा कि अभी तक सरकार के सभी अभियानों को जान को खतरे में डाल कर,तमाम हमले झेल कर भी अभियान चलाये है, लेकिन सरकार ने फिर भी हमारी एक नही सुनी, इसलिये हमें हडताल करनी पडी अब अब मांगों का निराकरण किये बिना हम काम पर नही लौटेगे। सरकार को पहले ही मालूम था कि 21 जून को अभियान की शुरुआत होना है, लेकिन सरकार मांगों का निराकरण कर स्थिति को सामान्य बनाने के लिये कोई प्रयास नही किया। इसलिये आशा एवं सहयोगियों की अनुपस्थिति के लिये सरकार की गैर जिम्मेदाराना रूख ही इसके लिये जिम्मेदर है। संयुक्त मोर्चे की ओर से आशा ऊषा आशा सहयोगी एकता यूनियन मध्य प्रदेश (सीटू)के प्रदेश अध्यक्ष ए टी पदमनाभन एवं आशा, ऊषा, आशा सहयोगिनी संघ की प्रदेश अध्यक्ष लक्ष्मी कौरव प्रदेश सचिव ममता राठौर ने मुख्यमंत्री से मांगों का निराकरण कर समाधान निकालने की अपील की है।

जिले में अब तक 138.7 मिलीमीटर औसत वर्षा दर्ज, बीते 24 घंटे में 3.8 मिलीमीटर औसत वर्षा

जिले में 01 जून से 21 जून 2021 तक 134.9 मिलीमीटर औसत वर्षा दर्ज की गई है जो कि गत वर्ष इसी अवधि में हुई औसत वर्षा से 80.2 मिलीमीटर कम है। जिले की वर्षा ऋतु में सामान्य औसत वर्षा 1148.4 मिलीमीटर है।  अधीक्षक भू-अभिलेख द्वारा दी गई जानकारी के अनुसार 01 जून से 21 जून 2021 तक जिले के वर्षामापी केन्द्र सीहोर में 157.4 मिलीमीटर, श्यामपुर में 124, आष्टा में 71, जावर में 44, इछावर में 165, नसरुल्लागंज में 195, बुधनी में 235, रेहटी में 118 मिलीमीटर वर्षा दर्ज की गई है।

बीते 24 घंटे में 8.1 मिलीमीटर औसत वर्षा
जिले में बीते 24 घंटे में 21 जून 2021 को प्रातः 08 बजे तक 3.8 मिलीमीटर औसत वर्षा दर्ज की गई। इस दौरान वर्षामापी केन्द्र आष्टा में 04, जावर में 02, इछावर में 12, नसरुल्लागंज में 07, रेहटी में 5.2 मिलीमीटर वर्षा दर्ज की गई है। जबकि सीहोर, श्यामपुर, बुधनी में वर्षा की स्थिति शून्य रही।

कोविड से बचाने में टीका पूर्णत: सक्षम - अवश्य टीका लगवायें

  • कोरोना से बचाव हेतु टीका अवश्य लगवाएं - स्वयं भी बचें और परिवारजनों को भी कोरोना से बचाएं, संभागायुक्त श्री कियावत ने की अपील
संभागायुक्त श्री कवींद्र कियावत  ने टीकाकरण के लिए प्रेरित करते हुये कहा कि मध्यप्रदेश और भोपाल संभाग में टीकाकरण का एक बड़ा अभियान होने जा रहा है। सभी पात्र लोग नजदीकी टीकाकरण केंद्र पर जाकर टीका अवश्य लगवाएं। संभागायुक्त श्री कियावत ने कहा कि हाल ही में जो अध्ययन हुए हैं उन अध्ययनों से यह सिद्ध हो गया है कि कोविड 19 के विरुद्ध जो टीके हैं  वे पूरी तरह से प्रभावी हैं और वही कोविड से बचाने में सक्षम है। इसलिए सभी लोगों से संभागायुक्त ने आग्रह किया  है कि टीका अवश्य लगवाएं, साथ ही यह भी आग्रह किया है कि किसी प्रकार की भ्रांतियों के कारण टीका लगवाने से न चूकें,स्वयं को और अपने परिवार को इस बीमारी से सुरक्षित रखने के लिए अवश्य टीका लगवाएं।

कोरोना से बचाव के लिए आम जीवन में अनुकूल व्यवहार का होना जरूरी

कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए लोगों को आम जीवन में 15 अनुकूल व्यवहारों को अपनाना जरूरी है। कोरोना से बचाव के लिए विशेषज्ञों ने 15 अनुकूल व्यवहार का पालन करने की आम लोगों को सलाह दी है। इन व्यवहारों को अपनाने की सलाह देते हुए लोगों से कहा है कि अभिवादन के लिए आपस में उचित दूरी रखते हुए एक दूसरे का अभिवादन करें, एक दूसरे से उचित दूरी बनाकर रखें, घर पर बना पुनः उपयोग होने वाला फेस कवर-मास्क हर समय पहनें, अपनी आँख, नाक या मुँह को छूने से बचें, अपनी श्वास स्वच्छता बनाएं रखें, अपने हाथों को नियमित रूप से और अच्छे से धोएं, अक्सर छुए जाने वाली सतहों को नियमित रूप से साफ और कीटाणुरहित करें। इसके अतिरिक्त तंबाकू उत्पादों का ना सेवन करें, ना सार्वजनिक स्थानों पर थूकें, अनावश्यक यात्रा ना करें, किसी के साथ भेदभाव ना करें, भीड़-भाड़ से बचें, सुरक्षित रहें, असत्यापित और नकारात्मक जानकारी को सोशल मीडिया पर प्रसारित ना करें, कोविड-19 के बारे में विश्वसनीय स्त्रोतों से जानकारी लें, कोविड-19 से संबंधित किसी भी तरह की जानकारी के लिए केन्द्रीय टोल फ्री हेल्पलाइन नम्बर 1075 या राज्यों के हेल्पलाइन नम्बरों पर कॉल करें तथा किसी भी तरह के मानसिक तनाव या परेशानी होने पर मनोसामाजिक सहायता सेवाओं का सहयोग लें।  

वंचित एवं कमजोर वर्ग के बच्चों को निःशुल्क ऑनलाइन प्रवेश मिलेगा

वंचित एवं कमजोर वर्ग के बच्चों को निःशुल्क ऑनलाईन प्रवेश प्रक्रिया सत्र 2020-21 एवं 2021-22 हेतु लाटरी के माध्यम से संपादित की जाएगी। प्रवेश की पात्रता में वंचित एवं कमजोर वर्ग के बच्चों में इस बार कोविड-19 से माता-पिता/अभिभावक की 01 मार्च 2021 से 30 जून 2021 तक की अवधि में मृत्यु होने की दशा में आवेदन कर सकेंगे। प्रवेश के लिए वंचित समूह एवं कमजोर वर्ग के आवेदकों द्वारा ऑनलाईन आवेदन पत्र में प्रविष्ट की जाने वाली समस्त जानकारी अपने मूल अभिलेखों से सही-सही प्रविष्ट की जावे। तत्पश्चात पालक द्वारा पोर्टल से आवेदन की पावती तथा सत्यापन प्रपत्र डाउनलोड किया जाएगा। इसी की दो प्रति में प्रिन्ट निकालकर अपने जन शिक्षा केन्द्र पर सत्यापन अवधि तक आवेदन पत्र में अंकित जानकारी अनुसार मूल दस्तावेज, फोटो, सत्यापन प्रपत्र तथा आवेदन प्राप्ति की आनलाईन पावती एवं आवेदन पत्र में पंजीकृत मोबाईल नं. 1 ओटीपी हेतु मोबाइल लाना अनिवार्य होगा। सत्यापन के उपरान्त सत्यापन की सूचना अभ्यर्थी को एसएमएस से प्राप्त होगी। सत्र 2021-22 में निःशुल्क प्रवेश हेतु पोर्टल पर ऑनलाईन आवेदन एवं त्रुटि सुधार हेतु समय-सीमा 30 जून 2021 तक होगी तथा दस्तावेजों का सत्यापन 01 जुलाई 2021 तक होगा तथा सत्र 2020-21 में निःशुल्क प्रवेश हेतु पोर्टल पर ऑनलाईन आवेदन एवं त्रुटि सुधार हेतु समय-सीमा 07 जुलाई से 20 जुलाई 2021 तक होगी तथा दस्तावेजों का सत्यापन 8 जुलाई से 21 जुलाई 2021 तक होगा। आवेदक की आयु के संबंध में सत्र 2021-22 हेतु गणना 16 जून 2021 की स्थिति में की जाएगी एवं जिन आवेदकों द्वारा सत्र 2020-21 हेतु आवेदन किए जाएंगे, उनकी आयु की गणना 16 जून 2020 की स्थिति में की जावेगी। यहां स्पष्ट किया जाता है कि सत्र 2020-21 में बच्चों को आवंटित कक्षा ‘‘नोशनल’’ होगी, अर्थात प्रवेशित बच्चा वास्तविक रूप से सत्र 2021-22 में प्रवेश की अगली कक्षा में अध्ययनरत होगा। पूर्व वर्षों में आरटीई के तहत प्रवेश उपरान्त अभ्यर्थी दोबारा आवेदन नहीं कर सकेगा। निःशुल्क प्रवेश हेतु स्कूलवार तथा कक्षावार आरक्षित सीटों की जानकारी आरटीई पोर्टल ahttp://rteportal.mp.gov.in से प्राप्त की जा सकती है। सत्रवार निःशुल्क प्रवेश हेतु जिला शिक्षा केन्द्र, जनपद शिक्षा केन्द्र एवं जन शिक्षा केन्द्रों में सम्पर्क कर समस्त जानकारी प्राप्त की जा सकती है। आवेदकों की सुविधा हेतु जनपद शिक्षा केन्द्र स्तर पर हेल्प डेस्क का गठन किया गया है।

समय से पूरी की जाएँ सभी सीवरेज परियोजनाएँ
  • योजनाएँ स्वीकृत करने के पूर्व उनकी उपादेयता सुनिश्चित कर लें मुख्यमंत्री श्री चौहान ने सीवरेज परियोजनाओं की प्रगति की समीक्षा की
मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि प्रदेश में स्वीकृत सभी सीवरेज परियोजनाओं का कार्य समय से पूर्ण किया जाए। परियोजनाओं को स्वीकृत करने से पहले उनकी उपादेयता सुनिश्चित करली जानी चाहिए। जनता के धन का बिल्कुल भी अपव्यय नहीं होना चाहिए। कार्यों की गुणवत्ता का भी पूरा ध्यान रखा जाए। मुख्यमंत्री श्री चौहान गत दिवस मंत्रालय में प्रदेश की नगरीय सीवेरज परियोजनाओं के कार्य एवं प्रगति की समीक्षा कर रहे थे। बैठक में नगरीय विकास एवं आवास मंत्री श्री भूपेन्द्र सिंह, प्रमुख सचिव नगरीय प्रशासन श्री मनीष सिंह, आयुक्त नगरीय विकास श्री निकुंज श्रीवास्तव आदि उपस्थित थे।

5 हजार 631 करोड़ की सीवरेज परियोजना
बैठक में बताया गया कि प्रदेश में वर्ष 2015 से अभी तक 5,631 करोड़ रूपए की लागत की 54 सीवरेज परियोजनाएँ स्वीकृत की गई हैं, जिनमें से 10 पूर्ण हो गई हैं, 37 प्रगतिरत है तथा 7 परियोजनाओं की निविदा/डीपीआर प्रक्रिया जारी है। इन परियोजनाओं में अभी तक कुल 2,863 करोड़ रूपए व्यय किए जा चुके हैं।

1159.44 करोड़ की 10 सीवेरज परियोजनाएँ पूर्ण
प्रदेश में 1159.44 करोड़ लागत की 10 सीवरेज परियोजनाएं पूर्ण की जा चुकी हैं। ये परियोजनाएँ सीहोर, विदिशा, खरगोन, देवास, इंदौर (दो परियोजनाएँ), ग्वालियर (मुरार), मुरैना, बुरहानपुर तथा नीमच जिलों में है।

13 परियोजनाएँ मार्च 2022 तक पूर्ण करने का लक्ष्य
13 सीवरेज परियोजनाएँ जून 2021 से मार्च 2022 तक पूरी कर ली जाएंगी। ये परियोजनाएँ हैं ग्वालियर (लश्कर-3, लक्ष्य जून-2021), रतलाम, धरमपुरी, बुधनी (लक्ष्य सितम्बर 2021), भिंड, अमरकंटक, ओंकारेश्वर (लक्ष्य दिसम्बर 2021) दतिया, गुना, भोपाल (कोलार), भोपाल (भोजवैटलेंड), अंजड तथा छिंदवाड़ा (लक्ष्य मार्च 2022)।

22 परियोजनाएँ मार्च 2023 तक पूर्ण करने का लक्ष्य
प्रदेश की 22 सीवरेज परियोजनाएँ जून 2022 से मार्च 2023 तक पूर्ण किए जाने का लक्ष्य हैं। ये परियोजनाएं हैं सागर, जबलपुर, उज्जैन, भोपाल (शाहपुरा), सांईखेड़ा, बड़वाह, महेश्वर, नसरूल्लागंज, शाजापुर, मंडलेश्वर, चित्रकूट, डिंडोरी, नेमावर (लक्ष्य जून 2022), भेड़ाघाट (लक्ष्य सितम्बर 2022), कटनी, सिंगरौली, होशंगाबाद, बड़वानी, सेंधवा, नरसिंहपुर, मंडला, (लक्ष्य दिसम्बर 2022) तथा रीवा परियोजना (लक्ष्य मार्च 2023)।

जून 2023 तक पूर्ण करें 9 परियोजनाएँ
मुख्यमंत्री श्री चौहान ने निर्देश दिए कि 9 परियोजनाओं को जून 2023 तक पूर्ण कर लिया जाए। ये परियोजनाएं हैं- सनावद, शहडोल, सतना, साँची, धामनोद, नागदा, खजुराहो, राजनगर तथा मैहर परियोजना।  

पहले जल स्त्रोत ढूँढ़ लें फिर पाइप लाइन डालें
मुख्यमंत्री श्री चौहान ने लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग की शिवपुरी शहर स्थित झीलों के पर्यावरण उन्नयन एवं संरक्षण की परियोजना तथा मंदाकिनी नदी संरक्षण परियोजना, चित्रकूट का कार्य भी समय से पूरा किए जाने के निर्देश दिए। उन्होंने यह भी निर्देश दिए कि जल जीवन मिशन के कार्यों में पहले जल स्त्रोत ढूँढ़ लिया जाए उसके बाद पाइप लाइन डाले जाने का कार्य किया जाए।  

इछावर में खाद्य मंत्री श्री सिंह ने किया टीकाकरण का शुभारंभ

sehore news
जिले में 21 जून को योग दिवस के साथ ही टीकाकरण महाअभियान का शुभारंभ किया गया। इछावर में खाद्य नागरिक आपूर्ति मंत्री श्री बिसाहू लाल सिंह ने टीकाकरण का शुभारंभ किया। इस मौके पर मंत्री श्री सिंह ने कहा कि टीकाकरण को महाअभियान के रूप में मनाया जा रहा है। इस अभियान में सभी को आगे आकर टीकाकरण करवाना है। क्योंकि कोरोना से बचने का महत्वपूर्ण उपाय कोविड का टीका ही है। साथ ही हमें कोविड अनुकूल व्यवहार को भी अपनाना होगा। उन्होंने कहा कि जो लोग वैक्सीनेशन करवा चुके हैं वह और लोगों को भी वैक्सीनेशन के लिए प्रेरित करें। उन्हें बताएं कि कोविड का टीका पूरी तरह सुरक्षित है सभी को लगवाना है।

कोरोना महामारी से बचाव की वैक्सीन ही संजीवनी बूटी है  - मुख्यमंत्री श्री चौहान

  • मुख्यमंत्री श्री चौहान ने ग्राम पीपलानी एवं  सिराली में  कोविड टीकाकरण केंद्र देखा और ग्राम वासियों से टीका लगवाने की अपील की

sehore news
मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने सीहोर जिले के नसरुल्लागंज जनपद के ग्राम पीपलानी और सिराली में कोविड टीकाकरण महाअभियान के तहत चल रहे टीकाकरण की गतिविधियां देखी।  इस अवसर पर उन्होंने कहा कि कोविड का टीका ही कोरोना महामारी से बचाव की संजीवनी बूटी है। श्री चौहान ने बताया कि टीकाकरण महाअभियान के पहले ही दिन प्रदेश में 10 लाख से अधिक लोगों को टीका लगाया जा चुका है। सीहोर जिले में लक्ष्य से अधिक 46264 लोगों का टीकाकरण किया जा चुका है। उन्होंने कहा कि टीकाकरण के इस महाअभियान को सभी ने सफल बनाने में सहयोग दिया है। इसके लिए जिला प्रशासन एवं जनप्रतिनिधियों, समाजसेवियों को बधाई दी ।  मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि कोविड वैक्सीन पूरी तरह सुरक्षित है और यह कोरोना संक्रमण को शरीर के अंदर ही खत्म कर देती है। इसलिए झूठी अफवाह और भ्रांतियों पर ध्यान न देकर कोविड का टीका लगवाएं और सुरक्षित रहें। वैक्सीन सुरक्षा कवच है। इसे आप भी लगवायें और दूसरों को भी वैक्सीन लगाने के लिए प्रेरित करें। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा है कि हम तीसरी लहर को आने ही न दें इसके लिए कोविड का टीका, 2 गज की दूरी, मास्क और कोरोना उपयुक्त व्यवहार अपनाएं। फिर भी  तीसरी लहर से प्रदेशवासियों को बचाने के लिये टीकाकरण महाअभियान चलाया जा रहा है। इसके साथ ही प्रदेश के सभी अस्पतालों में आवश्यक सुविधाएं सुनिश्चित की जा रही है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने नि:शुल्क वैक्सीनेशन की जो व्यवस्था की है, उससे न केवल मध्यप्रदेश, बल्कि पूरा राष्ट्र कोरोना संक्रमण से बच सकेगा। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि प्रदेश में कोरोना टीकाकरण के लिये जन-भागीदारी के सकारात्मक परिणाम मिलेंगे। उन्होंने इस महाअभियान में जन-भागीदारी में जुड़े़ सभी वर्गों के प्रति आभार माना है, जिनके सहयोग से टीकाकरण महाअभियान सफल हो रहा है। पिपलानी पहुंचने पर मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने ग्रामवासी पर्वत सिंह उइके को अपने सामने कोविड का टीका लगवाया। मुख्यमंत्री श्री चौहान द्वारा कुमारी मोनिका उइके और बबलू सल्लाम को वैक्सीनेशन लगाने का प्रमाण पत्र प्रदान किया। इस अवसर पर ग्राम पिपलानी और सिराली में मुख्यमंत्री श्री चौहान ने वृक्षारोपण भी किया। कार्यक्रम में कलेक्टर श्री चन्द्र मोहन ठाकुर, सीईओ जिला पंचायत श्री हर्ष सिंह, भाजपा जिला अध्यक्ष श्री रवि मालवीय, श्री गुरुप्रसाद शर्मा, श्री रघुनाथ सिंह भाटी, निर्मला बरेला सहित अन्य जनप्रतिनिधि उपस्थित थे। 

जिले में आज 2 व्यक्ति कोरोना पॉजिटिव  मिले, दो व्यक्ति रिकवर हुए, कुल रिकवर व्यक्ति की संख्या 10002, वर्तमान में कोरोना एक्टिव-पॉजिटिव की संख्या 11

पिछले 24 घंटे के दौरान प्राप्त रिपोर्ट में जिले में 02 भी व्यक्ति कोविड-19 पॉजिटिव मिले है। जो आष्टा जनपद अन्तर्गत कन्नोद रोड़ तथा शिवखेड़ी के रहने वाले हैं। सीएमएचओ कार्यालय से प्राप्त जानकारी के अनुसार जिले में अब तक कुल कोरोना पॉजिटिव व्यक्तियों की संख्या 10128 है। वर्तमान में एक्टिव पॉजिटिव 11 हैं। आज 02 व्यक्ति रिकवर हुए। कुल रिकवर व्यक्तियों की संख्या 10002 हैं। कुल कोविड संक्रमित मृत व्यक्तियों की संख्या 115 है । आज 901 सैम्पल लिए गए है। जांच के लिए सीहोर शहरी क्षेत्र से 221, श्यामपुर से 200, विकासखंड नसरुल्लागंज से 77, आष्टा से 215 एवं बुधनी से 35 तथा इछावर से 153 सेंपल लिए गए हैं। अभी तक कुल जांच के लिए भेजे गए सेंपल 164240 हैं जिनमें से 152183 सैंपलों की रिपोर्ट निगेटिव आई है। आज 815 सैंपलों की रिपोर्ट निगेटिव आई है। कुल 1858 सैंपलों की रिपोर्ट आना शेष है। पैथोलॉजी द्वारा कोरोना वायरस सेंपल की रिजेक्ट संख्या कुल 71 है। जिले में जो व्यक्ति होम क्वारंटाइन में हैं उनके निवास स्थान से सीधे संवाद हेतु जिला स्तरीय कोविड-19 कॉल सेंटर स्थापित किया गया है। जिसका संपर्क नंबर- 07562-1075 है। जिला स्तर पर जिला कोविड कमांड कंट्रोल सेंटर का मोबाइल नंबर 9425400273, 7987652577, 9425400453 पर कॉल सेंटर पर संपर्क किया जा सकता है। राज्य स्तर पर 104/181 नंबर पर कॉल करके भी टेलीमेडिसिन सेवा का लाभ लिया जा सकता है। 104 नंबर पर ई-परामर्श सेवा का भी लाभ लिया जा सकता है। होम क्वारंटाईन व्यक्तियों तथा उनके परिजनों के लिए हेल्पलाइन नंबर 18002330175 जारी किया गया है। होम क्वारंटाईन व्यक्ति अथवा उनके परिजन इमोशनल वेलनेस अथवा साइकोलॉजिकल सपोर्ट एवं अन्य जरूरी परामर्श मानसिक सेवा प्रदाताओं से नि:शुल्क प्राप्त कर सकते हैं।

कोविड टीकाकरण के महाअभियान में सीहोर जिला प्रदेश में चौथे स्थान पर रहा, लक्ष्य से अधिक टीकाकरण करने पर मुख्यमंत्री ने सभी को दी बधाई
  • कोविड टीकाकरण के महाअभियान को लेकर लोगों ने दिखाया भारी उत्साह, महाअभियान के पहले दिन 47971 लोगों ने लगवाया कोविड का टीका, 18 साल के युवा से लेकर 104 साल तक के बुजुर्गो ने दिखा उत्साह
sehore news
जिले में कोविड टीकाकरण महाअभियान के पहले दिन लोगों ने भारी उत्साह दिखाया। जिले में टीकाकरण महाअभियान के तहत 47971 लोगों को कोविड का टीकाकरण किया गया। शाम 7 बजे जारी प्रदेश स्तरीय टीकाकरण रिपोर्ट के अनुसार सीहोर जिला प्रदेश में चौथे स्थान पर रहा। लक्ष्य से अधिक टीकाकरण के लिए मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने जिला प्रशासन की पूरी टीम के साथ ही जनप्रतिनिधियों, समाजसेवियों, कोरोना वालेंटियर्स सहित सक्रिय भूमिका निभाने वाले सभी नागरिकों को बधाई दी। कलेक्टर श्री चन्द्र मोहन ठाकुर ने बताया कि जिले को टीकाकरण के लिए मिले 30000 के लक्ष्य से 18000 से अधिक लोगों का टीकाकरण किया गया। जिले में शाम 7 बजे तक 47971 लोगों ने कोविड का टीका लगाया। उन्होंने कहा कि जिला प्रशासन, जनप्रतिनिधियों, समाजसेवियों, कोरोना वालेंटियर्स, मीडिया, रचनाकारों, प्रबुद्ध नागरिकों, खिलाड़ियों के सक्रिय सहयोग से अभियान के पहले दिन टीकाकरण के निर्धारित लक्ष्य से अधिक टीकाकरण किया गया। इसके लिए उन्होंने सभी आभार व्यक्त किया। सुबह 07 बजे से ही बड़ी संख्या में लोग कोविड का टीका लगवाने के लिए टीकाकरण केन्द्र पहुंचने लगे। लोगों की सुविधा की दृष्टि से बस स्टेण्ड से लेकर पट्रोल पंप तक में टीकाकरण केन्द्र बनाये गए। पिछले कुछ दिनों से नगरीय तथा ग्रामीण क्षेत्रों में लगातार चलाए जा रहे जनजागरुकता अभियान का परिणाम है कि लोग घरों से बाहर निकले और उत्साह पूवर्क टीका लगवाने के लिए टीकाकरण केन्द्र पहुंचे। टीकाकरण अभियान के पहले दिन 18 वर्ष के युवा से लेकर 104 वर्ष तक बुजुर्गो ने उत्साह पूर्वक टीका लगवाया और उन सभी टीका लगवाने की अपील की है।

जिले में जनपदवार टीकाकरण की स्थिति
जिले में कुल 47971 नागरिकों का टीकाकरण किया गया। जिले सभी विकास खंडों में कुल 179 टीकाकरण सत्र आयोजित किए गए। आष्टा में 12099, बुधनी में 9808, इछावर में 6702, नसरुल्लागंज में 6968, श्यामपुर में 8252 तथा सीहोर शहरी क्षेत्र में 4141 नागरिकों का टीकाकरण किया किया गया।

जनप्रतिनिधियों एवं समाजसेवियों ने किया शुभारंभ
जिले में अलग-अलग स्थानों पर बनाए गए टीकाकरण केन्द्रों में टीकाकरण का शुभारंभ जनप्रतिनिधियों एवं समाजसेवियों द्वारा किया गया।  इस मौके पर उन्होंने नागरिकों से अपील करते हुए कहा कि सभी लोग कोविड का टीका अवश्य लगवाएं एवं अपने आसपास के लोगों को भी टीकाकरण केन्द्रों पर लेकर आएं और उन्हें भी कोविड का टीका लगवाएं।

104 वर्ष की क्षिप्रा बाई खुद टीका लगवाकर अन्य लोगों से टीका लगवाने की अपील  
टीकाकरण महाअभियान के दौरान कोविड का टीका लगवाने का उत्साह बुजुर्गो में भी देखा गया। नसरुल्लागंज विकासखंड अंतर्गत टीकाकरण केंद्र वासनिया खुर्द में 104 वर्षीय बुजुर्ग महिला क्षिप्रा बाई ने कोविड महाअभियान के अंतर्गत टीका लगवाया। श्रीमती क्षिप्रा बाई ने कहा टीका सबको लगवाना चाहिए, कोरोना से बचाव का यही एक रास्ता है। इसी प्रकार श्यामपुर विकासखंड अंतर्गत टीकाकरण केंद्र ग्राम पंचायत बिलकिसगंज में 100 वर्षीय बुजुर्ग महिला नफीसा बी पति अब्दुल हमीद ने कोविड महाअभियान के अंतर्गत टीका लगवाया। टीका लगाने के उपरांत नफीसा बी ने कहा कि टीका लगवाकर मैंने जिम्मेदार नागरिक होने की जिम्मेदारी पूरी की है। टीका बिना डरे सभी को लगवाना चाहिए। कोरोना से बचाव का यही एकमात्र उपाय है। जिला मुख्यालय पर बड़ा बाजार स्थित टीकाकरण केंद्र पर 85 वर्षीय शंकरलाल मोदी और 89 वर्षीय फूल कुंवर सोनी ने उत्साह पूर्वक कोविड का टीका लगवाया।

टीका लगवाने नागरिकों में भारी उत्साह
टीकाकरण महाअभियान के दौरान जिले भर में कोविड टीकाकरण को लेकर नागरिकों में भारी उत्साह देखा गया। टीकाकरण करवाने के लिए सभी वर्ग, सभी समुदाय के लोगों की सक्रिय भागीदारी रही।  युवाओं से लेकर बुजुर्गो तक में कोविड के टीके को लेकर उत्साह बना रहा। बुजुर्गो ने अपने परिजनों के साथ पहुंचकर कोविड का टीका लगवाया। सुबह 7 बजे से ही युवक-युवतियों, महिला-पुरुषों की लंबी कतारें देखी गई। लोगों अपने आवश्यक कार्य छोड़ सर्वप्रथम कोविड का टीका लगवाने टीकाकरण केन्द्र पहुंचे और टीका लगवाया।

टीकाकरण केन्द्रों को सजाया गया
टीकाकरण महाअभियान के शुभारंभ अवसर पर जिले में बनाए गए टीकाकरण केन्द्रों को सजाया गया कि लोग आकर्षित हो जाएं। टीकाकरण केन्द्रों को बैलून और फूलों से सजाया गया। जो दिनभर आकर्षण का केन्द्र बने रहे। टीका लगवाने के लिए आने वाले लोगों ने केंद्र पर की गई व्यवस्थाओं की सराहना की। कई केंद्रों पर टेलीविजन सेट भी रखे गए थे।

स्वागत के लिए बनाई रंगोली
टीकाकरण महाअभियान के शुभारंभ अवसर पर टीकाकरण केन्द्रों पर टीका लगवाने के लिए आने वाले लोगों के स्वागत के लिए रंगोली बनाई गई। टीकाकरण केन्द्रों पर रंगोली आकर्षण का केन्द्र बनी रहीं। जिससे लोगों में जागरूकता एवं टीका लगवाने की प्रेरणा भी देखी गई। टीका लगवाने वालों ने भी आस-पड़ोस के अन्य लोगों को भी कोविड का टीका लगवाने के लिए प्रेरित किया।

तिलक लगाकर किया गया स्वागत
टीकाकरण महाअभियान के शुभारंभ पर जिले में बनाए गए टीकाकरण केन्द्रों पर कोविड का टीका लगवाने आए नागरिकों का स्वागत कोरोना वालंटियर्स द्वारा तिलक लगाकर किया गया। इस दौरान उनसे अपील की गई कि स्वयं टीका लगवा कर दूसरों को भी टीका लगवाने केन्द्र पर लेकर आएं।

पेट्रोल पंप पर बनाया गया टीकाकरण केन्द्र
टीकाकरण अभियान में अधिक से अधिक टीकाकरण हो सके इसके लिए पेट्रोल पंप पर भी टीकाकरण केन्द्र बनाया गया है। जहां लोग आवागमन के दौरान पेट्रोल लेने आए तो कोविड का टीका भी लगवा कर गए। इससे लोग काफी खुश नजर आए क्योंकि एक ही समय में दो महत्वपूर्ण कार्य हुए।

एनएसएस स्वयंसेवकों ने निभाई अहम भूमिका, बनाया पंजीयन काउंटर
राष्ट्रीय सेवा योजना के स्वयंसेवकों ने बस स्टैंड पर नागरिकों की अधिकता देख व्यवस्था सुधारने के लिए एक पृथक पंजीयन काउंटर और वैक्सीन के लिए नागरिकों को प्रेरित कर अहम भूमिका निभाई।

कोई टिप्पणी नहीं: