बिहार : कुछ लोगों ने जमकर पिटाई कर दी - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

बुधवार, 30 जून 2021

बिहार : कुछ लोगों ने जमकर पिटाई कर दी

helth-worker-attacked
धनरूआ. पल्स पोलियो अभियान व कोरोना टीकाकरण साथ-साथ  जारी है. पल्स पोलियो अभियान 27 जून से शुरू होकर 01 जुलाई तक चलेगा.इसमें जो बच्चे छूट जाएंगे उन्हें बी टीम द्वारा 3 जुलाई को पोलियो की खुराक दी जाएगी.इस अभियान में जीरो माह से 5 वर्ष तक के बच्चों को डोर टू डोर जाकर पोलियो की खुराक पिलाए जाते है. पोलियो की खुराक पिलाने में वर्तमान में एएनएम की जगह आंगनबाड़ी सेविका व आशा कार्यकर्ता काम कर रही हैं. गत रविवार 27 जून को पोलियो अभियान शुरू हुआ.पोलियो की खुराक देने आंगनबाड़ी सेविका व आशा कार्यकर्ता गांव में पहुंची.गांव वालों के द्वारा स्वागत करने के बदले सेविका व आशा के साथ मारपीट कर दी गयी.यह हादसा राजधानी पटना के धनरुआ के हुलासचक वीर पंचायत के डोमन बिगहा गांव में हुआ. रविवार को डोमन बिगहा में पोलियो की खुराक पिलाने गई टीम को कोरोना टीकाकर्मी समझकर कुछ लोगों ने जमकर पिटाई कर दी.पिटाई करने वालों का कहना है कि परिवार जनों के गैरहाजिर में पोलियो की खुराक दी गयी. बताया गया कि डोमन बिगहा गांव में कुछ असामाजिक तत्वों ने कोरोना टीकाकर्मी समझ कर पोलियो टीम की पिटाई कर दी.इस दौरान पोलियोकर्मी के सभी कपड़े फाड़ दिया गया. जख्मी कार्यकर्ता पति जितेंद्र कुमार ने स्थानीय थाना में गांव के कुछ लोगों पर प्राथमिकी दर्ज कराई है. वहीं असामाजिक तत्वों ने महिला को भी नहीं छोड़ा. पोलियो कर्मियों पर जानलेवा हमला करने वाले गांव के प्रेमन सिंह का पुत्र मंटू कुमार हैं,जिसने अपने सहयोगियों के साथ हमला का अंजाम दिया. इस हमला को लेकर प्राथमिक स्वास्थ्य धनरूआ के सभी स्वास्थ्य कर्मचारियों के बीच दहशत का माहौल व्याप्त है. इसके आलोक में सुरक्षा की मांग करने लगे है. जबकि धनरुआ पुलिस जांच जुट गई है.सुनीता देवी, घायल कर्मी ने कहा कि हमारी टीम पर जानलेवा हमला किया गया है, सभी कर्मियों में दहशत का माहौल है. सेविका और आशा को उसके परिजनों ने किसी प्रकार गांन से बाहर निकाला.दोनों सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र धनरूआ पहुंचे.चिकित्सा पदाधिकारी के समक्ष हंगामा करते हुए कार्य करने से इंकार कर दिया.मौजूद अन्य सेविका व आशा को जब इसकी जानकारी हुई तो वे सभी चिकित्सा पदाधिकारी के कक्ष में पहुंच आरोपित युवक समेत अन्य के खिलाफ कार्रवाई करने की मांग की.चिकित्सा पदाधिकारी विनय कुमार सेविका व आशा कार्यकर्ता के द्वारा दिये गये आवेदन को कार्रवाई करने की अनुशंसा करते हुए थानाध्यक्ष के पास भेज दिया. थानाध्यक्ष ने आवेदन के आधार पर आरोपित मंटू कुमार समेत अन्य के खिलाफ सरकारी कार्य में बाधा व मारपीट के साथ छेड़खानी व नकदी समेत आभूषण छीन लेने का मामला धनरूआ थाने में दर्ज कर लिया गया. थानाध्यक्ष राजू कुमार ने कहा कि केस दर्ज कर लिया गया.पुलिस मामले की छानबीन करते हुए आगे की कार्रवाई कर रही है.दोषियों को बख्शा नहीं जाएगा.

कोई टिप्पणी नहीं: