बिहार : कोविड-19 वैक्सीनेशन के लिए 02 जुलाई को होगा मेगा कैम्प का आयोजन - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

बुधवार, 30 जून 2021

बिहार : कोविड-19 वैक्सीनेशन के लिए 02 जुलाई को होगा मेगा कैम्प का आयोजन

  • * आमजन की सुविधा के मद्देनजर 380 से अधिक बनाये जायेंगे सेशन साइट
  • * वैक्सीनेशन के लिए सभी आवश्यक तैयारियां ससमय करें पूर्ण: जिलाधिकारी
  • * सफलतापूर्वक संचालन के लिए सेक्टर ऑफिसर, सेशन इंचार्ज, मोबेलाईजर आदि की प्रतिनियिुक्त करने का निर्देश
  • *सेशन साइट वाइज व्यू लिस्ट तैयार कर वेरिफिकेशन करने का निर्देश

vaccine-mega-camp-betiya
बेतिया. पश्चिम चम्पारण के जिलाधिकारी, श्री कुंदन कुमार ने कहा कि ज्यादा से ज्यादा लोगों को कोविड-19 टीका से लाभान्वित करने के उदेश्य से 02 जुलाई 2021 को मेगा कैम्प का आयोजन किया जाना है.इसके लिए सभी आवश्यक तैयारियां ससमय पूर्ण कर ली जाय ताकि सफलतापूर्वक मेगा कैम्प का आयोजन किया जा सके. उन्होंने निर्देश दिया कि वैक्सीनेशन साइट पर वैक्सीनेशन के लिए आवश्यक संसाधन हर हाल में उपलब्ध कराना सुनिश्चित किया जाय.जिलाधिकारी कार्यालय प्रकोष्ठ में वैक्सीनेशन कार्य प्रगति की समीक्षा के दौरान अधिकारियों को निर्देशित कर रहे थे. उन्होंने कहा कि सेशन साइट चिन्हित करने में इस बात का विशेष ख्याल रखा जाय कि किन स्थलों पर ज्यादा से ज्यादा लोग टीका लेने के लिए उपस्थित हो सकते हैं.सेशन साइट के लिए स्कूल, आंगनबाड़ी केन्द्र, पंचायत सरकार भवन आदि को चिन्हित किया जा सकता है. जिलाधिकारी ने निर्देश दिया कि वैक्सीनेशन साइट के सफल संचालन के लिए सेशन इंचार्ज (शिक्षक को प्राथमिकता के तौर पर) की प्रतिनियुक्ति की जाय.साथ ही पांच सेशन साइट पर एक सेक्टर ऑफिसर की भी प्रतिनियुक्ति की जाय. सेक्टर ऑफिसर एवं सेशन इंचार्ज प्रत्येक दो घंटे के अंतराल पर सेशन साइट से संबंधित कार्य प्रगति की अद्यतन रिपोर्ट कंट्रोल रूम को उपलब्ध करायेंगे.वहीं कंट्रोल रूम के माध्यम से पल-पल सेशन साइट से संबंधित जानकारी यथा-कितने लोगों ने टीका लिया, टीका की कमी तो नहीं है, एचआर, एनएनएम, डाटा ऑपरेटर अनुपस्थित तो नहीं है आदि का फीडबैक लिया जाय. जिलाधिकारी ने सख्त निर्देश दिया कि हर हाल में प्रातः 08.00 बजे से सेशन साइट प्रारंभ हो जाना चाहिए. सभी मेडिकल टीम सभी प्रतिनियुक्त कर्मियों, वैक्सीन के साथ सेशल साइट पर ससमय उपस्थित रहेंगे.सिविल सर्जन को इसका सख्ती के साथ अनुपालन सुनिश्चित कराने का निर्देश दिया गया. समीक्षा के क्रम में बताया गया कि 02 जुलाई को निर्धारित मेगा कैम्प के लिए अबतक 380 सेशन साइट चिन्हित कर लिये गये हैं तथा इसी के अनुरूप, मेडिकल टीम, वाहन आदि व्यवस्था सुनिश्चित की जा रही है. जिलाधिकारी ने निर्देश दिया कि सेशल साइट पर वैक्सीन की उपलब्धता को ध्यान में रखते हुए जिले के सभी 34 एपीएचसी को वैक्सीन स्टोरेज प्वाइंट चिन्हित करते हुए पर्याप्त मात्रा में वैक्सीन डोज की उपलब्धता सुनिश्चित की जाय. एपीएचसी के कर्मी बाईक तथा अन्य वाहन के साथ अलर्ट मोड में रहेंगे ताकि किसी सेशन साइट पर वैक्सीन की कमी होने पर त्वरित गति से वैक्सीन उपलब्ध कराया जा सके. जिलाधिकारी ने कहा कि आमजन को वैक्सीन लेने के लिए मोटिवेट करने के लिए मोबलाईजर के रूप में आंगनबाड़ी सेविका-सहायिका, आशा कार्यकर्ता, जीविका दीदियां, विकास मित्र, टोला मरकज कार्यकर्ता, डीलर, पीआरएस, शिक्षकों को युद्धस्तर पर लगाया जाय ताकि ज्यादा से ज्यादा लोगों को कोविड-19 वैक्सीन से लाभान्वित किया जा सके.प्रत्येक मोबालाईजर 50-50 व्यक्तियों का व्यू लिस्ट तैयार करेंगे.साथ ही व्यू लिस्ट का वेरिफिकेशन करना भी आवश्यक है ताकि व्यक्तियों का रिपिटेशन नहीं होने पाये. प्रखंडों के वरीय प्रभारी पदाधिकारियों, सभी एसडीएम को निर्देश दिया गया कि मेगा कैम्प के सफलतापूर्वक संचालन के लिए किये जा रहे कार्यों का लगातार अनुश्रवण एवं समीक्षा करेंगे. संबंधित प्रखंडों के सेशन इंचार्ज, सेक्टर ऑफिसर के साथ मिटिंग करेंगे तथा उन्हें प्रशिक्षित करेंगे. इसके साथ ही मुखिया, वार्ड सदस्य आदि जनप्रतिनिधियों के साथ भी बैठक करेंगे. समीक्षा के क्रम में एसडीएम, बगहा, बेतिया एवं नरकटियागंज द्वारा क्षेत्र भ्रमण के दौरान अनुभवों को साझा किया गया तथा सुझाव दिया गया.इस अवसर पर सिविल सर्जन, डाॅ0 अरूण कुमार सिन्हा, जिला प्रतिरक्षण पदाधिकारी, जिला शिक्षा पदाधिकारी, डीपीएम, जीविका, सभी एसडीएम, सभी प्रखंड विकास पदाधिकारी, सभी अंचलाधिकारी, सभी एमओआईसी आदि उपस्थित रहे.

कोई टिप्पणी नहीं: