जो काम 70 वर्षों में नहीं हुआ, मोदी ने उसे सात साल में कर दिखाया' - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

बुधवार, 23 जून 2021

जो काम 70 वर्षों में नहीं हुआ, मोदी ने उसे सात साल में कर दिखाया'

modi-works-seven-years-for-farmer
नयी दिल्ली, 22 जून, भारतीय जनता पार्टी ( भाजपा) के राष्ट्रीय अध्यक्ष जगत प्रकाश नड्डा ने कहा है कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने किसानों के हितों में जो काम 70 सालों में नहीं हुआ, वह मात्र सात वर्षो में कर दिखाया और किसानों की आय दोगुनी करने के लिए तथा किसानों को बिचौलियों के चंगुल से निकालने के लिए श्री मोदी तीन कृषि कानून लेकर आए। भाजपा के किसान मोर्चा पदाधिकारी बैठक कार्यक्रम के उद्घाटन सत्र को संबोधित करते हुए श्री नड्डा ने मंगलवार को यहाँ कहा, "किसान सम्मान निधि योजना के तहत अब तक देश के 10 करोड़ से अधिक किसानों के खाते में 1.36 लाख करोड़ रुपये से अधिक की राशि पहुंचाई जा चुकी है। कोरोना काल में ही चार किस्तों में 60,000 करोड़ रुपये से अधिक राशि किसानों के खाते में पहुंची है।" उन्होंने कहा, "प्रधानमंत्री ने प्रति बोरी खाद की सब्सिडी भी बढ़ा कर 1,200 रुपये अर्थात् मूल्य का 50 फीसदी कर दी है, जिससे किसानों को काफी लाभ हुआ है। किसानों के लिए तीन हज़ार रुपये मासिक पेंशन की व्यवस्था भी की गई है। " भाजपा अध्यक्ष ने कहा, "जो लोग न्यूनतम समर्थन मूल्य (एमएसपी ) के ख़त्म होने का भ्रम फैला हो रहे थे, उन्हें ये मालूम होना चाहिए कि इस बार एमएसपी पर गेहूं और धान, दोनों की रिकॉर्ड खरीद हुई है। इससे रिकॉर्ड संख्या में करोड़ों किसानों को लाभ हुआ है। " उन्होंने कहा, " भाजपा किसान मोर्चा के सभी पदाधिकारियों को सरकार की योजनाओं और जनता के बीच एक सेतु की भूमिका निभानी चाहिये। दायित्व में जिम्मेदारी तथा कर्तव्य-बोध भी होता है। किसान मोर्चा के कार्यकर्ताओं को अपनी जिम्मेदारी तथा कर्तव्यों को समझते हुए समाज के लिए नेता और पार्टी के लिए विस्तारक की भूमिका निभानी चाहिए।किसान मोर्चा के कार्यकर्ताओं को एक राजनीतिक विद्यार्थी की तरह रहना चाहिए तथा जीवन में हर समय कुछ नया सीखने की प्रवृत्ति बनानी चाहिए। " श्री नड्डा ने कहा कि भाजपा ने 'ई-चिंतन कार्यक्रम' शुरू किए हैं। 'प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना' ,'सॉइल हेल्थ कार्ड योजना', 'प्रधानमंत्री किसान क्रेडिट योजना' 'नीम कोटेड यूरिया' जिनका लाभ सीधे किसानों को मिल रहा है। कार्यक्रम के इस अवसर पर भाजपा किसान मोर्चा के राष्ट्रीय अध्यक्ष राजकुमार चाहर , किसान मोर्चा के प्रभारी एवं पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव भूपेन्द्र यादव और केंद्रीय कृषि राज्य मंत्री कैलाश चौधरी के साथ किसान मोर्चा के सभी नवनियुक्त राष्ट्रीय पदाधिकारी उपस्थित थे। 

कोई टिप्पणी नहीं: