सीहोर (मध्यप्रदेश) की खबर 29 जून - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

मंगलवार, 29 जून 2021

सीहोर (मध्यप्रदेश) की खबर 29 जून

सुसाइड लेटर लिखकर कलेक्ट्रेट पहुंचा था किसान , कलेक्टर चंद्रमोहन ठाकुर ने सुनी बुलाकर फरियाद

  • नायब तहसीलदार की  एक तरफा कार्रवाहीं से  पीडि़त है  डोवरा गांव का किसान

sehore-news
सीहेार। तहसील सीहोर मेंं पदस्थ नायब तहसीलदार  की एक तरफा कार्रवाहीं से पीडि़त किसान मंगलवार को सुसाइड लेटर लिखकर कलेक्ट्रेट पहुंचा था। टीएल बैठक होने के कारण तय समय पर जनसुनवाई नहीं हो सकीं। पीडि़त किसान जेब में सुसाइड लेटर रखकर जनसुनवाई शुरू होने का इंतजार करता रहा। कलेक्ट्रेट परिसर में मौजूद कुछ लोगों ने किसान के पास रखे लेटर सहित आपत्तिजनक सामग्री को देखा। किसान को लोगों ने समझाया। कुछ देर बाद टीएल बैठक खत्म हो गई। कलेक्टर डॉ चंद्रमोहन ठाकुर से मिलने पहुंचे विशिष्ठ नागरिकोंंं के बाद उक्त किसान को कलेक्टर श्री ठाुकर ने बुलाया और किसान की पूरी फरियाद सुनी। कलेक्टोरेट पहुंचे ग्राम डोवरा के 65 वर्षीय वृद्ध किसान किशौर सिंह दांगी ने कलेक्टर को रोते हुए बताया की पड़ोसी किसानों से मिलकर पटवारी गिरदावर और तहसीलदार ने सरकारी नक् शे में नाला होने पर भी तहसीलदार ने एक तरफा कार्रवाहींं करते पड़ोसी दबंग धनिक किसानों को लाभ पहुंचाने के लिए मेरे खेत से दस्तावेज दिखाने के बावजूद जबरन जेसीबी से नाला खोदबा दिया। विरोध करने पर तहसीलदार सैफाली जैन ने एफआईआर दर्ज कराने की धमकी भी दी। जबकी संबंधित दबंग किसानों के द्वारा सरकारी रास्ता पर अवैधानिक कब्जा किया गया है सरकारी जमीन पर भी अतिक्रमण कर रखा है इस के बाद भी उन पर कोई कार्रवाहीं राजस्व विभाग के द्वारा नहीं की जा रहीं है। किसान ने कहा गिरदावर पटवारी और तहसीलदार मैडम को देने के लिए साहब मेरे पास पैसा नहीं है की में दे पांॅॅऊ। इस लिए इन्होने मेरी भूमि का नक् श भी बिगाड़ दिया है। मुझे न्याय नहीं मिल रहा है मेरी जमीन में से नाला भी निकाल दिया है खेती भी नहीं कर सकता हूं साहब बाहूबलियों से में हार गया हुं बस अब एक हीं रास्ता बचा है की में परिवार के साथ में आप के सामने आत्महत्या कर लूं।

जरूरतमंद वृद्धो विकलांगो विधवाओं को पेंशन की राशि भी उपलब्ध नहीं कराई जा रही  

  • पात्र गरीबों को लाभ नहींं दिया तो कलेक्ट्रेट, गेट पर ताला जड़ देंगे सपा के कार्यकर्ता
  • नारेबाजी कर डिप्टी कलेक्टर को दिया सात दिनों को अल्टीमेटम

sehore news
सीहोर। आक्रोशित सपा महिला कार्यकर्ता मंगलवार को नारेबाजी करते हुए कलेक्ट्रेट पहुंची। जसमत गांव की पात्र गरीब ग्रामीण महिलाओं को सात दिनों के अंदर प्रधानमंत्री आवास योजना से लाभाविंत करने और जानबूझकर गरीब पात्र महिलाओं को योजना के लाभ से वंचित रखने वाले सरपंच सचिव पर सख्त कार्रवाहीं करने की मांग की गई। सपा जिलाध्यक्ष इंदिरा भील के नेतृत्व में कार्यकर्ताओं द्वारा डिप्टी कलेक्टर प्रगति वर्मा को ज्ञापन दिया। मांग पूरी नहीं होने पर कलेक्ट्रेट गेट पर ताला जड़ कर प्रदर्शन करने की चैतावनी जिला प्रशासन को दी गई। सपा जिलाध्यक्ष श्रीमती भील ने ज्ञापन के माध्यम से कहा की शासन की योजनाओं का लाभ पात्र गरीब तबके के नागरिकों को नहीं मिल पा रहा है। जरूरतमंद वृद्धो विकलांगो विधवाओं को पेंशन की राशि भी उपलब्ध नहीं कराई जा रही है। इसी प्रकार आष्टा तहसील के ग्राम जसमत के ग्रामवासियों के साथ लगातार भेदभाव दिया जा रहा है। सरकार सभी मूलभूत सुविधाएं उपलब्ध कराने का दावा कर रही है लेकिन जमीनी स्तर पर जरूरतमंदों को सुविधाएं उपलब्ध नहीं है प्रधानमंत्री आवास जैसी योजनाओं में भी ग्रामीण अंचलों में सरपंच सचिव अपात्र होने पर भी अपनों को लाभ दिला रहे है। जबकी पात्र होने पर भी वर्षो से झोपडिय़ों में रहने वाले गरिबों को सरकारी योजनाओं का लाभ नहीं दिया जा रहा है। किसान मजदूर गरीब हैरान परेशान है महंगाई के चलते जीना भी मुश्किल हो गया है। सपा कार्यकर्ताओं के साथ कलेक्ट्रेट पहुंची ग्रामीण वृद्ध महिलाओं ने बताया की कई बार वृद्धा पेंशन, विधवा पेंशन, विकलांग पेंशन के लिए पंवायत में आवेदन दिया लेकिन बिना जांच के हीं आवेदन निरस्त कर दिया गया। इसी प्रकार गरीबी रेखा का कार्ड भी नहीं बनाए जा रहे है पात्र हितग्राहियों को राशन पर्ची भी अबतक उपलब्ध नहीं कराई गई है। जिस कारण गरीब नागरिकों को परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। प्रदर्शन के दौरान लखन सिंह, लीलू, गीता, पूजा, कृष्णा बाई, मधु, बिंदु बाई, धापू बाई,  संतोष बाई , कविता ,किरण ,जगदीश संतोष ,आरती ,अवंता, रेखा, करण ,शीला, संगीता आशा ,रानी ,कमला बाई ,लक्ष्मी, भूरी बाई सहित बड़ी संख्या में सपा कार्यकर्ता उपस्थित रहे।

मूलभूत सुविधाओं से वंचित है प्रधानमंत्री आवास कॉलोनी आष्टा के रहवासी

  • नगर पालिका उपलब्ध नहीं करा रही है नाली पानी बिजली और सड़क
  • सीहोर पहुंचकर कलेक्टर को परेशान नागरिकों ने दिया ज्ञापन

sehore news
सीहोर। नवनिर्मित पीएम आवास कॉलोनी के रहवासी मंगलवार को कलेक्ट्रेट जनसुनवाई में पहुंचे रहवासियों ने कलेक्ट्रेट पहुंचकर जिलाधीश के नाम ज्ञापन दिया। नगर पालिका आष्टा ने दरगाह के पास पीएम आवास कॉलोनी विकसित कि है करीब यह 500 मकान बन रहे हैं जिसमें करीब 150 से अधिक हितग्राही अपने मकान बनाकर रह रहे हैं लेकिन पीएम आवास कॉलोनी में अभी तक मूलभूत सुविधाओं का अभाव बना हुआ है। नागरिकों ने बताया की कॉलोनी में पक्की सड़क नहीं होने से कीचड़ हो रहा है,नाली नहीं होने से घरों से निकला गंदा पानी सड़कों पर बह रहा है। काँलोनी में बिजली की व्यवस्था भी नहीं की जा रहीे है करीब 8 माह से कॉलोनी वासी अंधेरे में रहने को मजबूर है। प्रधानमंत्री आवास में रह रहे नागरिकों ने कहा की नगर पालिका और विद्युत विभाग से मात्र आश्वासन ही मिल रहा है। नागरिकों ने कई बार तहसील कार्यालय और नगर पालिका में ज्ञापन सौंपकर अधिकारियों को परेशानियों से अवगत कराया है लेकिन कोई सुनने को तैयार नही है। जिस कारण कॉलोनी में बिजली नहीं पहुंच पाई है। बिजली नहीं होने से बारिश में सबसे ज्यादा परेशानी उठाना पड़ रही है। बारिश में पूरी कॉलोनी में कीचड़ ही कीचड़ हो गया है जहरीले जीवों को डर बना हुआ है। जबकी पीएम आवास कॉलोनी रहे वासियों ने एसडीएम और मुख्य नगर पालिका अधिकारी आष्टा सहित क्षेत्रीय विधायक जनप्रतिनिधियों को भी अवगत करा चुके लेकिन कॉलोनी में मूलभूत सुविधाओं की कमी बनी हुई है।  पीएम आवास कॉलोनी के रहवासियों दिनेश मेवाड़ा, रमेशचंद गुप्ता, महेश ठाकुर, सतीश विश्वकर्मा, हरी मेवाड़ा, संतोष वर्मा, अतीकरहमान, बाबूलाल, भोले भाइर्, ओमप्रकाश शर्मा, रवि राठौर, दीपक परमार सहित अन्य ने ने जिला प्रशासन से काँलोनी में मूलभूत सुविधाएं उपलब्ध कराने की मांग की है। 

नेषनल लोक अदालत को सफल बनाने हेतु अधिवक्तागण की बैठक हुई सम्पन्न


sehore news
माननीय राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण जबलपुर के निर्देषानुसार एवं माननीय प्रधान जिला न्यायाधीष/अध्यक्ष महोदय श्री राजवर्धन गुप्ता के मार्गदर्षन में आज दिनांक 29 जून 2021 समय 03ः00 बजे से दिनांक 10 जुलाई 2021 को आयोजित होने वाली नेषनल लोक अदालत के सफल आयोजन हेतु अधिवक्तागण के साथ बैठक आयोजित हुई। जिसमें अपर जिला न्यायाधीष/सचिव जिला विधिक सेवा प्राधिकरण श्री मुकेष कुमार दांगी, श्री अनीस उद्दीन अब्बासी जिला विधिक सहायता अधिकारी सीहोर, श्री शरद जोषी अध्यक्ष अभिभाषक संघ, श्री अनिल कुमार दुबे अधिवक्ता, श्री संजय सक्सेना अधिवक्ता, श्रीमती रंजना शर्मा अधिवक्ता, श्रीमती रेखा सक्सेना अधिवक्ता, श्री राजेन्द्र कुषवाहा अधिवक्ता, श्री अवधनारायण दांगी अधिवक्ता, श्री लीलाकिषन गुर्जर अधिवक्ता, श्री रामकृष्ण शर्मा अधिवक्ता, श्री देवेन्द्र सिंह परमार अधिवक्ता, श्री सुभाष चैहान, श्री सुनील सिंह सिसोदिया अधिवक्ता, श्री एम.के. गौर अधिवक्ता, श्री मो. जीमल शेख अधिवक्ता, श्री मोहम्मद याद अधिवक्ता सम्मिलित हुए।  श्री मुकेष कुमार दांगी सचिव जिला विधिक सेवा प्राधिकरण सीहोर द्वारा दिनांक 10 जुलाई 2021 को आयोजित होने वाली नेषनल लोक अदालत मे अधिक से अधिक प्रकरणों का निराकरण में सहयोग प्रदान किये जाने की अपील की गई। श्री मुकेष कुमार दांगी द्वारा बैठक में उपस्थित समस्त अधिवक्ताओं को म.प्र. अपराध पीडित प्रतिकर योजना 2015 के बारे में विस्तार से जानकारी दी गई। म.प्र. अपराध पीडित प्रतिकर योजना 2015 की प्रतियां अधिवक्ताओं उपलब्ध कराई गई।  

जिले में अब तक 278.1 मिलीमीटर औसत वर्षा दर्ज, बीते 24 घंटे में 1.6 मिलीमीटर औसत वर्षा


जिले में 01 जून से 29 जून 2021 तक 278.1 मिलीमीटर औसत वर्षा दर्ज की गई है। जो कि गत वर्ष इसी अवधि में हुई औसत वर्षा से 13.1 मिलीमीटर कम है। जिले की वर्षा ऋतु में सामान्य औसत वर्षा 1148.4 मिलीमीटर है। अधीक्षक भूण्अभिलेख द्वारा दी गई जानकारी के अनुसार 01 जून से 29 जून 2021 तक जिले के वर्षामापी केन्द्र सीहोर में 264.6  मिलीमीटर, श्यामपुर में 211.0, आष्टा में 206.0, जावर में 193.0, इछावर में 225.0,  नसरुल्लागंज में 280.0, बुधनी में 289.0, रेहटी में 168.0 मिलीमीटर वर्षा दर्ज की गई है।


बीते 24 घंटे में 1.6 मिलीमीटर औसत वर्षा

जिले में बीते 24 घंटे में प्रातः 08 बजे तक 1.6 मिलीमीटर औसत वर्षा दर्ज की गई। वर्षामापी केन्द्र सीहोर में 0.0, श्यामपुर में 0.0, आष्टा में 5.0, जावर में 8.0, इछावर में 0.0, नसरुल्लागंज में 0.0, बुधनी में 0.0, रेहटी में 0.0 मिलीमीटर वर्षा दर्ज की गई है।


कोरोना वालिंटियर्स ने टीकाकारण महाअभियान में वैक्सीन लगवाने वाले व्यक्तियों का वैक्सिनेशन सेंटर पर किया स्वागत


कलेक्टर श्री चन्द्र मोहन ठाकुर के निर्देशानुसार पर जन अभियान परिषद के कोरोना वालंटियर्स द्वारा वैक्सीन सेंटर पर टीकाकरण महाअभियान के दौरान वैक्सीन लगवाने के लिए आने वाले व्यक्तियों का स्वागत किया। जन अभियान परिषद के ब्लॉक समन्वयक प्रदीप सिंह सेंगर ने बताया कि इस अभियान का उद्देश्य शत प्रतिशत वैक्सिनेशन युक्त मध्यप्रदेश बनाना है। जिसमें लोग उत्साह के साथ वैक्सीन लगवाने आ रहे हैं।


अभियान चलाकर सभी बच्चों एवं माताओं का कराएं टीकाकरण - संभागायुक्त श्री कियावत

  • संभागायुक्त ने महिला एवं बाल विकास विभाग की संभाग स्तरीय समीक्षा बैठक में दिये निर्देश

कोरोना महामारी के कारण छह जानलेवा बीमारियों से बचाव के  छूटे हुए नियमित टीके सभी बच्चों के साथ ही रूटीन के बच्चों का आंगनबाड़ियों में शत-प्रतिशत टीकाकरण कराया जाए। उक्ताशय के निर्देश संभागायुक्त श्री कवीन्द्र कियावत ने महिला एवं बाल विकास के अधिकारियों को दिये। श्री कियावत ने सोमवार को महिला एवं बाल विकास विभाग की योजनाओं की प्रगति की संभाग स्तरीय समीक्षा बैठक ली।


लाड़ली लक्ष्मी योजना में एक भी पात्र हितग्राही न छूटे

संभागायुक्त श्री कियावत ने निर्देश दिए कि सर्वे टीम बनाकर डोर टू डोर सर्वे कराया जाए। रिहायशी इलाकों में भी कई ऐसे घर होंगे जहाँ पात्र हितग्राही हो सकते हैं। नगर पालिका और नगरीय निकायों में मेप लेकर सघन सर्वे कराया जाए। आंगनबाड़ी कार्यकर्ता और सहायिका की टीम सर्वे में एक भी घर न छोड़े। सर्वे कर निश्चित फार्मेट में जानकारी लेख बद्ध करके लाएं। जितना अच्छा सर्वे होगा परिणाम उतने ही अच्छे आएंगे। सर्वेकर्ता टीम से प्रमाण-पत्र लें कि उनके क्षेत्र में कोई भी पात्र हितग्राही नहीं छूटा है।


टीकाकरण से छूटे बच्चों तथा गर्भवती माताओं का शत-प्रतिशत कराएं टीकाकरण


कोरोना महामारी के कारण सामान्य टीकाकरण से छूटे बच्चों एवं गर्भवती माताओं का अभियान चलाकर शत-प्रतिशत टीकाकरण कराएं। मंगलवार और शुक्रवार को आंगनबाड़ी में अधिकाधिक टीकाकरण के लक्ष्य को ध्यान में रखकर कारगर प्रयास किए जाएं।


परिवारों को पोषण के लिये आत्म निर्भर बनाएं

संभागायुक्त श्री कियावत ने पोषण वाटिका योजना की समीक्षा करते हुए कहा कि परिवारों को पोषण के लिये आत्म निर्भर बनाएं। प्रत्येक घर में थोड़ी बहुत जगह ऐसी होती है जिसमें साग-सब्जी या छोटे फलदार वृक्ष लगाए जा सकते हैं, इस तरह सभी सदस्यों को शुद्ध प्राणवायु के साथ ताजा फल और सब्जी भी मिलेगी जिसके उपयोग से शरीर की प्रतिरोधी क्षमता भी बढ़ेगी। सभी सुरक्षित चार दीवारी वाली आंगनबाड़ियों में सहजन, नीम, अमरूद, सीताफल आदि के पौधारोपण के साथ प्रति घर एक पोधे के लिए सबको प्रेरित करें। सभी को पौधों का महत्व समझाएं और लोगों को स्वस्थ जीवन से जोड़ें। इस मुहिम में स्थानीय, जनप्रतिनिधियों, सामाजिक संगठनों और अन्य विभागों को जोड़कर हर घर में पौधारोपण कराएं।


पिछले 10  से 12 साल में जन्मी बच्चियों की हो ट्रेसिंग

संभागायुक्त श्री कियावत ने निर्देश दिये कि पिछले 10 से 12 साल में जन्मी पंजीकृत बच्चियों का अभियान चलाकर ट्रेसिंग की जाए कि सभी बच्चियां अपने परिवार में सुरक्षित हैं कि नहीं। गुमशुदा ऐसी बच्चियां जिनकी थाने में रिपोर्ट न हुई हो पता सहित जानकारी दी जाए, ऐसी बच्चियों की प्राथमिकता के आधार पर तलाश की जाए।


कोरोना से निधन होने पर परिजनों को प्राथमिकता पर दिया जाए लाभ

संभागायुक्त श्री कियावत ने जिलेवार डीपीओ को निर्देश दिए कि कोरोना के कारण निधन हुए कर्मचारियों के परिजनों को प्राथकिता के आधार पर सभी संबंधित योजनाओं से लाभांवित करना सुनिश्चित करें। उन्होंने कहा कि स्वत्वों का भुगतान, परिवार पेशंन प्रकरण, अनुकम्पा नियुक्ति, एक्सग्रेशिया सभी का समय-सीमा पर निराकरण किया जाए। श्री कियावत ने फोस्टर योजना, मातृ वंदना योजना, बाल सेवा योजना सहित विभाग की अन्य सभी योजनाओं, सी.एम. हेल्पलाइन में लंबित शिकायतों की समीक्षा कर त्वरित निराकरण के निर्देश दिये। बैठक में संयुक्त संचालक महिला एवं बाल विकास एवं सभी जिलों के डीपीओ उपस्थित थे।


राज्य सेवा प्रारंभिक परीक्षा अब 25 जुलाई को


राज्य सेवा प्रारंभिक परीक्षा-2020 अब 25 जुलाई 2021, रविवार को आयोजित होगी। कोरोना महामारी के संक्रमण को ध्यान में रखते हुए और समग्र परिस्थितियों का मूल्यांकन करते हुए एवं अभ्यर्थियों के स्वास्थ्य और सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए राज्य सेवा प्रारंभिक परीक्षा की तिथि 20 जून 2021, को परिवर्तित करते हुए नवीन तिथि 25  जुलाई 2021 रविवार निर्धारित की गई है । यह जानकारी मध्यप्रदेश लोक सेवा आयोग के सचिव ने दी है ।


अगस्त में तीन हजार छोटी उद्योग इकाइयाँ प्रारम्भ होंगी - मंत्री श्री सखलेचा

एम.एस.एम.ई.दिवस पर श्री सखलेचा ने उद्यमियों को दी शुभकामनाएँ

सूक्ष्म,लघु एवं मध्यम उद्यम मंत्री श्री ओमप्रकाश सखलेचा ने उद्यमियों और नव उद्यमियों को शुभकामनाएँ देते हुए कहा कि मध्यप्रदेश में इस साल अगस्त में 3000 के करीब नई छोटी इकाइयाँ प्रारम्भ की जाएंगी मंत्री श्री सखलेचा ने 50 वें विश्व एमएसएमई दिवस पर शुभकामना संदेश देते हुए कहा कि मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चैहान के नेतृत्व में बहुत तेजी से नए उद्योग स्थापना के कार्य हो रहे हैं। पहले चरण में अप्रैल माह में 1891 इंडस्ट्री शुरू की और अगस्त तक तीन हजार और नए उद्योग सभी इंटरप्रेनर्स के सहयोग से शुरू होने वाले हैं। मंत्री श्री सखलेचा ने कहा कि शुभकामनाओं के साथ उद्यमियों को इस बात का भी विश्वास दिलाते हैं कि जब भी आपको जरूरत होगी मध्यप्रदेश सरकार आपके साथ हर कदम पर खड़ी रहेगी। उन्होंने कहा कि हमें संकल्प लेना है कि आज के दिन हम सब मिलकर ज्यादा से ज्यादा उद्योग लगाकर प्रदेश के लोगों को रोजगार उपलब्ध कराकर उनके जीवन में आर्थिक उन्नति की नई रोशनी प्रदान करने में सहयोग करेंगे।


कोरोना से उत्पन्न परिस्थितियों के कारण बच्चों को तनाव मुक्त रखने चाईल्ड हेल्पलाईन नंबर

 

कोरोना महामारी की वर्तमान स्थिति में लगातार समाचार सुनने, पढ़ने, देखने, चर्चा से बालगृह में रहने वाले बच्चों के साथ ही अन्य बच्चों के मन में भी भय व्याप्त हो सकता हैं। बच्चों में उत्पन्न मानसिक तनाव से बच्चों के मध्य हिंसा, प्रताड़ना, उपेक्षा के चलते तनाव, गुस्सापन, उग्रता आना स्वाभाविक हैं। ऐसे समय में बच्चों के लिए परामर्श सेवाएं अत्यंत आवश्यक हैं। इस विकट परिस्थिति में राज्य स्तर पर एवं जिला स्तर पर नामांकित विशेषज्ञों से चर्चाए परामर्श सेवाएं ली जा सकती है। बच्चों के स्वास्थ्य के संबंध में परामर्श प्रदान करने हेतु उपरोक्त सदस्यों द्वारा समय की उपलब्धता के आधार पर बच्चों की शारीरिक, मानसिक स्वास्थ्य संबंधी समस्याओं के उपचार, समाधान हेतु दूरभाष, ऑनलाईन वीडियो कॉल के माध्यम से निरूशुल्क परामर्श प्राप्त किया जा सकता हैं। बालकों के परामर्श हेतु कोविड के दौरान विपरित परिस्थितियों में रह रहे प्रतिकूल रूप से प्रभावित बच्चों की तत्काल सहायता हेतु 24×7 उपलब्ध चाईल्ड हेल्पलाईन नंबर 1098 या 181 {टोल फ्री नंबर} या व्हाट्सअप नंबर 9407896571 या scpshelpline@gmail.com पर संपर्क किया जा सकता हैं।


शिक्षा के बाद रोजगार सुनिश्चित हो विद्यालयों में बने शिक्षा का अच्छा वातावरण

स्थानीय विशेषताओं को भी पाठ्यक्रम में जोड़ा जाये मुख्यमंत्री श्री चैहान ने शिक्षा समूह के प्रस्तुतिकरण पर चर्चा की

मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चैहान ने कहा है कि शिक्षा का एक प्रमुख उद्देश्य यह होना चाहिए कि शिक्षा प्राप्ति के बाद विद्यार्थियों को रोजगार सुनिश्चित हो जाए। इसके लिए रोजगारोन्मुखी शिक्षा एवं कौशल विकास पर विशेष ध्यान दिया जाये। मुख्यमंत्री श्री चैहान ने कहा कि हमें ऐसे प्रयास करने चाहिए जिससे हर विद्यालय एवं महाविद्यालय में शिक्षा का अच्छा वातावरण बने। विद्यार्थियों में शिक्षा के प्रति रूचि बढ़े तथा शिक्षक पूरे मन से अध्यापन करें। हम सब भी विद्यार्थियों को प्रेरित करने का कार्य करें।


मेरे शिक्षक ने बनाया मुझे वक्ता

मुख्यमंत्री श्री चैहान ने कहा कि आज भी हमारे प्रदेश में बहुत से आदर्श शिक्षक हैं, जो विद्यार्थियों की प्रतिभाओं को अच्छी तरह निखारते हैं। अन्य शिक्षक भी उनसे प्रेरणा प्राप्त करें। मुझे याद है जब मैं अपने गाँव जैत में अध्ययन करता था मेरे एक शिक्षक प्रति शनिवार सभी बच्चों को कक्षाओं के बाद स्व-प्रेरणा से रामायण पढ़ाते थे। वे मुझसे रामायण की चैपाइयाँ तथा उनका अर्थ बताने के लिए कहते थे। धीरे-धीरे मैं अच्छा बोलना सीख गया। मेरे वक्ता बनने का श्रेय उन्हीं शिक्षक को जाता है। मैं ऐसे सभी शिक्षकों को हृदय से नमन करता हूँ। मुख्यमंत्री श्री चैहान ने कहा कि प्रदेश के विभिन्न क्षेत्रों की भिन्न-भिन्न विशेषताएँ हैं। इन सभी स्थानीय विशेषताओं का ज्ञान वहाँ के विद्यार्थियों को दिया जाना चाहिए। स्थानीय उत्पादों आदि के संबंध में जानकारी एवं प्रशिक्षण विद्यार्थियों के लिए रोजगार के अवसर बढ़ाएगा। मुख्यमंत्री श्री चैहान आज मंत्रालय में आत्म-निर्भर मध्य प्रदेश के अंतर्गत गठित मंत्री समूहों के प्रस्तुतिकरण के अंतर्गत शिक्षा समूह के प्रस्तुतिकरण पर चर्चा कर रहे थे। इस समूह के अंतर्गत स्कूल शिक्षा, उच्च शिक्षा, तकनीकी शिक्षा तथा चिकित्सा शिक्षा विभागों का प्रस्तुतिकरण दिया गया। बैठक में वन मंत्री श्री विजय शाह, चिकित्सा शिक्षा मंत्री श्री विश्वास सारंग, जनजातीय कार्य और अनुसूचित जाति कल्याण मंत्री सुश्री मीना सिंह, उच्च शिक्षा मंत्री श्री मोहन यादव, स्कूल शिक्षा राज्य मंत्री श्री इंदर सिंह परमार, पिछड़ा वर्ग एवं अल्पसंख्यक कल्याण राज्य मंत्री श्री रामखेलावन पटेल, मुख्य सचिव श्री इकबाल सिंह बैंस, प्रमुख सचिव श्रीमती रश्मि अरुण शमी आदि उपस्थित थे।


 उद्योगों के लिए स्किल्ड मेन पावर तैयार करें

मुख्यमंत्री श्री चैहान ने कहा कि विद्यार्थियों को विभिन्न कौशलों में प्रशिक्षण के माध्यम से उद्योगों के लिए स्किल्ड मेन पावर तैयार किया जाए। संबंधित उद्योगों में उनको एप्रेंटिशिप भी कराई जाए। भोपाल में बनाए जा रहे ग्लोबल स्किल पार्क में प्रशिक्षित हर विद्यार्थी को उसकी योग्यता के अनुरूप रोजगार दिलाया जाए।


म.प्र.नॉलेज कार्पोरेशन की स्थापना

मुख्यमंत्री श्री चैहान ने निर्देश दिए कि म.प्र. नॉलेज कार्पोरेशन की स्थापना का कार्य शीघ्र किया जाए।


विद्यालय एवं महाविद्यालय भवनों का हो निरंतर रख-रखाव

मुख्यमंत्री श्री चैहान ने निर्देश दिए कि प्रदेश में विद्यालयों एवं महाविद्यालयों के नवीन भवन बनाए जाने के साथ ही मौजूदा भवनों का निरंतर रख-रखाव किया जाए। प्रदेश के 50 महाविद्यालयों को बहुविषयक बनाया जाएगा। प्रदेश में 150 नवीन दूरस्थ अध्ययन केन्द्र स्थापित किए जाएंगे। स्मार्ट क्लास रूम बनाए जा रहे हैं।


9200 सी.एम.राइज स्कूल खुलेंगे

प्रदेश में 9200 सीण्एमण् राइज स्कूल खोले जाने की केबिनेट में स्वीकृति हो गई हैए जिनकी स्थापना चरणबद्ध रूप से की जाएगी। प्रदेश में 01 लाख 09 हजार शिक्षकों की तथा 470 शिक्षक प्रशिक्षकों की नियुक्ति की जानी है।


सहरिया, बैगा एवं भारिया जनजाति के लिए नए आई.टी.आई.

मुख्यमंत्री श्री चैहान ने कहा कि सहरियाए बैगा और भारिया जनजाति के लिए उनके क्षेत्रों में 03 नए आई.टी.आई. बनाए जाएंगे। शिवपुरी में सहरिया के लिए, छिंदवाड़ा क्षेत्र में भारिया जनजाति तथा शहडोल, अनूपपुर क्षेत्र में बैगा जनजाति के लिए आई.टी.आई.बनाया जाएगा।


वाइल्ड लाइफ व टूरिज्म पर कोर्सेज प्रारंभ होंगे

मुख्यमंत्री श्री चैहान ने कहा कि प्रदेश में वाइल्ड लाइफ तथा टूरिज्म पर कोर्सेज प्रारंभ किए जाएंगे। साथ ही विद्यालयों में कृषि एवं उद्यानिकी के पाठ्यक्रम भी जोड़े जाएंगे। हर स्कूल में खेल मैदान बनाए जाएंगे।


झंडावंदन, जन-गण-मन अनिवार्य

प्रदेश के सभी स्कूलों में प्रतिदिन झंडा वंदन तथा राष्ट्र गान जन-गण-मन अनिवार्य किए गए हैं। साथ ही कक्षा में विद्यार्थियों को रोटेशन के आधार पर आगे, पीछे बिठाने के निर्देश भी जारी किए गए थे। इनका पालन किया जाए।


10 संभागों में राष्ट्रीय स्तर के आई.टी.आई.

प्रदेश के सभी संभागीय मुख्यालयों पर राष्ट्रीय स्तर के आई.टी.आई.बनाए जाने हैं। अत्याधुनिक प्रयोगशालाओं का निर्माण किया जाना है। मुख्यमंत्री श्री चैहान ने इस कार्य को प्राथमिकता के आधार पर कराने के निर्देश दिए।


सभी मेडिकल कॉलेजेस में बढ़ाये सीट्स

मुख्यमंत्री श्री चैहान ने निर्देश दिए कि सभी मेडिकल कॉलेजेस में सीट्स बढ़ाई जाएं। पब्लिक-प्राइवेट पार्टनरशिप में नए मेडिकल कॉलेज खोले जाये। बताया गया कि मेडिकल कॉलेज इंदौर और भोपाल में 100-100 सीटें तथा रीवा में 50 सीटें बढ़ाई गई हैं।


सीएम हेल्पलाईन की शिकायतों का प्राथमिकता से करें निराकरण - कलेक्टर

  • मांग के अनुरूप खाद-बीज की उपलब्धता के कलेक्टर ने दिए निर्देश


टीएल मीटिंग

sehore news
कलेक्ट्रेट सभाकक्ष में आयोजित टीएल बैठक में कलेक्टर श्री चन्द्र मोहन ठाकुर ने विभागों के समय सीमा वाले पत्रों तथा विभागीय गतिविधियों की समीक्षा करते हुए लंबित पत्रों पर त्वरित कार्यवाही के निर्देश जिला अधिकारियों को दिए गए। उन्होंने विभागवार अनुकम्पा नियुक्ति के लंबित प्रकरणों की जानकारी लेते हुए कहा कि जिन शासकीय सेवकों की कोविड-19 के कारण मृत्यु हुई है] उनके अनुकम्पा नियुक्ति तथा परिवार पेंशन संबंधी प्रकरणों का शीघ्र निराकरण कराया जाए कलेक्टर श्री ठाकुर ने सीएम हेल्पलाईन, समाधान आनलाइन में लंबित शिकायतों की समीक्षा करते हुए सभी जिला अधिकारियों को प्राथमिकता के साथ शिकायतों का निराकरण कराने के निर्देश दिए। इसके साथ ही जिले में चल रहे अनेक विभागों के निर्माण एवं विकास कार्यों की जानकारी लेते हुए समय सीमा में पूर्ण करने के निर्देश दिए। बैठक में सीईओ जिला पंचायत, श्री हर्ष सिंह,अपर कलेक्टर श्रीमती गुचा सनोबर,डिप्टी कलेक्टर श्री आदित्य जैन,श्री ब्रजेश सक्सेना,एसडीएम श्री रवि वर्मा सहित सभी जिलाधिकारी उपस्थित थे।


वैक्सीनेशन महाअभियान

जिले में कोविड टीकाकरण की समीक्षा के दौरान कलेक्टर श्री चन्द्रमोहन ठाकुर ने कहा कि शासन के निर्देशानुसार एक जुलाई से तीन जुलाई तक वृहद स्तर वैक्सीनेशन महाअभियान चलाया जाएगा। उन्होंने कहा 21 जून को आरंभ से लेकर अभी तक जिला स्तर से लेकर ग्रामीण अंचल में पदस्थ अधिकारियों कर्मचारियों ने पूरी गम्भीरता और सक्रियता से काम किया है। उसी तरह आगामी दिनों में भी काम करने की जरूरत है। उन्होंने ने कहा कि वैक्‍सीन की उपलब्धता के अनुसार लक्ष्य से अधिक टीकाकरण किया जाए।


आक्सीजन प्लांट और सीटी स्कैन

कलेक्टर श्री ठाकुर ने स्वास्थ्य विभाग की गतिविधियों की समीक्षा के दौरान जिले के लिए स्वीकृत आक्सीजन प्लांट और सीटी स्कैन मशीन लगाने संबंधी जानकारी लेते हुए का कि आक्सीजन प्लांट के निर्माण संबंधी कार्यवाही को गति दी जाए। उन्होंने कहा कि जुलाई में सभी स्वीकृत आक्सीजन शुरू हो जाए यह सुनिश्चित किया जाए।


खाद-बीज की उपलब्धता

कृषि विभाग की समीक्षा के कामकाज की समीक्षा दौरान कलेक्टर श्री ठाकुर ने जिले में किसानों की मांग के अनुरूप् डीएपी और यूरिया की पर्याप्त मात्रा में उपलब्धता सुनिश्चित कराने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि सभी सोसायटियों पर आवश्यकतानुसार खाद की पर्याप्त उपलब्धता रहे, जिससे कि किसानों को परेशान न होना पड़े। बैठक में कृषि विभाग के जिलाधिकारी ने बताया कि 13 हजार टन यूरिया व 10 हजार टन डीएपी उपलब्ध है।


जिले में मूंग उपार्जन

जिले में मूंग उपार्जन तथा खरीदी केन्द्रों की जानकारी लेते हुए कलेक्टर श्री ठाकुर ने हुए कहा कि जिन केन्द्रों में मूंग की खरीदी प्रारंभ नहीं हुए है, वहां शुरू की जाए तथा जिन केन्द्रों पर खरीदी चल रही है वहां खरीदी व्यवस्था को ध्यान में रखते हुए किसानों को भेजे जाने वाले एसएमएस की संख्या बढ़ाई जाए। बैठक में जानकारी दी गयी कि जिले में 26216 किसानों ने पंजीयान कराया है जिसमें 26100 किसानों के पंजीयन का सत्यापन किया गया है। बैठक में कृषि अधिकारी ने जानकारी दी कि अभी तक 3000 हजार किसानों को एसएमएस भेजे गये हैं।


कुशल प्रबंधन से आपदा के दौरान रोकी जा सकती है जान-माल की हानि- कलेक्टर

  • बाढ़ पूर्व तैयारियों के कलेक्टर ने दिए निर्देश

 

sehore news
टीएल मीटिंग के दौरान जिलें में बाढ पूर्व तैयारियों के संबंध में कलेक्टर श्री चन्द्र मोहन ठाकुर ने कहा कि कुशल प्रबंधन से आपदा के दौरान जान-माल की हानि को रोका जा सकता है। उन्होंने बाढ़ पूर्व सभी आवश्यक कार्यवाही सुनिश्चित करने के निर्देश अधिकरियों को दिए। उन्होंने थाना स्तर पर आपदा प्रबंधन समिति एवं संबंधित विभागों के अधिकारियों कर्मचारियों की बैठक करने के निर्देश दिए।उन्होंने कहा कि बाढ़ के दौरान उपयोग में आने वाली बोट, नाव, लाइफजैकेट, रस्सी, टार्च आदि उपकरण दुरूस्त है या नहीं इसका परीक्षण कर लिया जाए। बैठक में कलेक्टर श्री ठाकुर ने कहा कि जिले में बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों को सूचीबद्ध कर लिया जाए। उन्होंने बाढ़ संभावित क्षेत्रों के लिए प्राथमिक चिकित्सा व्यवस्था की उपलब्धता सुनिश्चित करने के निर्देश दिए। साथ ही वर्षा के दौरान विभिन्न बीमारियों, जीव-जन्तुओं के काटने की घटनाओं में वृद्धि होती है इसलिए पर्याप्त मात्रा में दवाओं की उपलब्धता सुनिश्चित की जाए। कलेक्टर श्री ठाकुर ने बाढ़ संभावित क्षेत्रों के पुलों, रपटों, जानकारी क्षतिग्रस्त मार्गों की जानकारी लेते हुए आपातकालीन परिस्थितियों में सुरक्षित रास्तों की व्यवस्था के निर्देश दिए। उन्होंने सुरक्षित रास्तों की सूचना व्यवस्था के निर्देश दिए। उन्होंने नियमित रूप से कंट्रोल रूम को उपलब्ध कराने के भी निर्देश दिए। बैठक में सीईओ जिला पंचायत श्री हर्ष सिंह, अपर कलेकटर श्रीमती गुंचा सनोबर, डिप्टी कलेक्टर श्री आदित्य जैन एवं ब्रजेश सक्सेना सहित संबंधित अधिकारी उपस्थित थे।


जेल प्रहरी भर्ती परीक्षा परिणाम घोषित, शारीरिक दक्षता परीक्षा जुलाई में होगी


मध्यप्रदेश प्रोफेशनल बोर्ड भोपाल द्वारा आयोजित जेल प्रहरी भर्ती की लिखित परीक्षा का परिणाम घोषित कर दिया गया है। जेल अधीक्षक श्री संजय सहलाम ने जानकारी दी कि शारीरिक दक्षता परीक्षा जुलाई में आयोजित की जाएगी। दिसबंर 2020 में आयोजित की गई परीक्षा में सफल अभ्यार्थियों की द्वितीय चरण की परीक्षा नेहरू स्टेडियम भोपाल में 12 जुलाई से 16 जुलाई 2021 तक आयोजित की जाएगी।


जिले में आज एक भी व्यक्ति कोरोना पॉजिटिव नही मिला, वर्तमान में कोरोना एक्टिव पाजिटिव की संख्या 04


पिछले 24 घंटे के दौरान प्राप्त रिपोर्ट में जिले में आज एक भी व्यक्ति कोरोना पॉजिटिव नही मिला है। सीएमएचओ कार्यालय से प्राप्त जानकारी के अनुसार जिले में अब तक कुल कोरोना पॉजिटिव व्यक्तियों की संख्या 10131 है। वर्तमान में एक्टिव पॉजिटिव 04 हैं। कुल रिकवर व्यक्तियों की संख्या 10012 हैं। कुल कोविड संक्रमित मृत व्यक्तियों की संख्या 115 है । आज 966 सैम्पल लिए गए है। जांच के लिए सीहोर शहरी क्षेत्र से 235, श्यामपुर से 206, विकासखंड नसरुल्लागंज से 145, आष्टा से 225,  बुधनी से 56 तथा इछावर से 99 सेंपल लिए गए हैं। अभी तक कुल जांच के लिए भेजे गए सेंपल 171925 हैं जिनमें से 160445 सैंपलों की रिपोर्ट निगेटिव आई है। आज 725 सैंपलों की रिपोर्ट निगेटिव आई है। कुल 966 सैंपलों की रिपोर्ट आना शेष है। पैथोलॉजी द्वारा कोरोना वायरस सेंपल की रिजेक्ट संख्या कुल 00 है। जिले में जो व्यक्ति होम क्वारंटाइन में हैं उनके निवास स्थान से सीधे संवाद हेतु जिला स्तरीय कोविड-19 कॉल सेंटर स्थापित किया गया है। जिसका संपर्क नंबर- 07562-1075 है। जिला स्तर पर जिला कोविड कमांड कंट्रोल सेंटर का मोबाइल नंबर 9425400273, 7987652577, 9425400453 पर कॉल सेंटर पर संपर्क किया जा सकता है। राज्य स्तर पर 104/181 नंबर पर कॉल करके भी टेलीमेडिसिन सेवा का लाभ लिया जा सकता है। 104 नंबर पर ई परामर्श सेवा का भी लाभ लिया जा सकता है। होम क्वारंटाईन व्यक्तियों तथा उनके परिजनों के लिए हेल्पलाइन नंबर 18002330175 जारी किया गया है। होम क्वारंटाईन व्यक्ति अथवा उनके परिजन इमोशनल वेलनेस अथवा साइकोलॉजिकल सपोर्ट एवं अन्य जरूरी परामर्श मानसिक सेवा प्रदाताओं से नि%शुल्क प्राप्त कर सकते हैं।


आगामी 10 जुलाई को आयोजित होने वाली नेशनल लोक अदालत के संबंध में अधिवक्ताओं की बैठक आयोजित


आगामी 10 जुलाई को आयोजित होने वाली नेशनल लोक अदालत सफल बनाने संबंध में जिला न्यायाधीश एवं जिला विधिक सेवा प्राधिकरण अध्यक्ष श्री राजवर्धन गुप्ता ने समस्त अधिवक्तागण के साथ बैठक आयोजित की। बैठक में श्री गुप्ता ने नेशनल लोक अदालत में अधिक से अधिक प्रकरणों के निराकरण करने के निर्देश दिए। बैठक में अपर जिला न्यायाधीश/सचिव जिला विधिक सेवा प्राधिकरण श्री मुकेश कुमार दांगी, जिला विधिक सहायता अधिकारी श्री अनीस उददीन अब्बासी, अध्यक्ष अभिभाषक संघ श्री शरद जोशी, अधिवक्ता श्री अनिल कुमार, श्री संजय सक्सेना, श्रीमति रंजना शर्मा, श्रीमति रेखा सक्सेना, श्री राजेन्द्र कुशवाह, श्री अवधनारायण दांगी, श्री लीलाकिशन गुजर, श्री रामक़ष्ण शर्मा, श्री देवेन्द्रसिंह परमार, श्री सुभाष चौहान, श्री सुनीलसिंह सिसोदिया, श्री एम.के गौर, मोहम्मद जीमल शेख, मोहम्मद याद आदि उपस्थित थे।


ऑक्सीजन उत्पादक इकाइयों को प्रोत्साहित करने के प्रस्ताव का कार्योत्तर अनुमोदन

  • मुख्यमंत्री श्री चौहान की अध्यक्षता में मंत्रि-परिषद की बैठक

मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान की अध्यक्षता में आज मंत्रालय में मंत्रि-परिषद की बैठक हुई। बैठक में कोविड-19 संकट के दृष्टिगत वर्तमान में उपलब्ध ऑक्सीजन उत्पादन क्षमता में वृद्वि करने के लिए ऑक्सीजन उत्पादक इकाइयों को प्रोत्साहित करने के उद्देश्य से विशिष्ट सुविधाएँ प्रावधानित करने संबंधी मुख्यमंत्री श्री चौहान द्वारा 13 मई 2021 को समन्वय में दिये गये अनुमोदन तथा विभाग द्वारा जारी आदेश एक मई 2021 का कार्योत्तर अनुमोदन किया गया।


मुख्यमंत्री सोलर पंप योजना में संशोधन

राज्य में कृषि को प्रोत्साहन देने के लिए मुख्यमंत्री सोलर पम्प योजना की अवधि को मार्च 2024 तक बढ़ाया गया था। सोलर पम्प के उपयोग से प्रदेश में कृषि क्षेत्र को बढ़ावा मिल सकेगा। इस योजना में राज्य के सभी कृषक पात्र है। यह योजना प्राथमिकता पर प्रदेश के उन दूर-दराज के क्षेत्रों में भी क्रियान्वित की जाएगीए जहाँ विद्युत वितरण कंपनियों द्वारा विद्युत अधो-संरचना का विकास नहीं किया जा सका है। इस योजना में 5 एच.पी.डी.सी. पम्प ही प्रयोग किए जाएंगे और उससे अधिक क्षमता के दोनों एच.पी.डी.सी. पम्प प्रयोग किए जाएंगे। भारत सरकार की मूल योजना अनुसार राज्य शासन की ओर से और अधिक से अधिक कृषकों को योजना का लाभ देने के उद्देश्य से अनुदान की राशि 30 प्रतिशत तक सीमित किये जाने का प्रस्ताव स्वीकृत किया गया। सोलर पम्प के उपयोग से डीजल पम्पों को हटाया जा सकेगा जिससे पर्यावरण भी सुरक्षित होगा। 


डायल-100 सेवा का संचालन

मंत्रि-परिषद ने केन्द्रीकृत पुलिस कॉल सेन्टर एवं नियंत्रण कक्ष तंत्र डॉयल-100 सेवा को निरंतर रखने के लिए पूर्व स्वीकृत निविदाकार बी.व्ही.जी. इंडिया लिमिटेड की अनुबंध अवधि 31 मार्च 2021 को समाप्ति उपरांत 3 माह विस्तारित करने की समन्वय में प्रदान की गयी स्वीकृति का अनुसमर्थन किया। पूर्व स्वीकृत निविदाकार बी.व्ही.जी. इंडिया लिमिटेड को एक जुलाई 2021 से 6 माह की अवधि अथवा नवीन निविदा की स्वीकृति की दशा में नवीन चयनित निविदाकार द्वारा डॉयल-100 सेवा के संचालन का कार्य प्रारंभ करने की तिथि तक जो भी अवधि कम हो, पूर्व स्वीकृत अनुबंध की शर्तों पर न्यूनतम मजदूरी की दरों में हुई वृद्वि आदि के कारण अनुबंधित दरों में 15 प्रतिशत अधिक बढ़ी हुई दर से संचालन की स्वीकृति प्रदान की गई।                                       


अन्य निर्णय

मंत्रि-परिषद ने वार्ड क्र. 5 गोरतरा रोड, जिला शहडोल स्थित शहडोल बस डिपो परिसम्पत्ति  के निर्वर्तन के लिए जारी निविदा में निविदाकारों को वित्तीय निविदा राशि एवं उनके द्वारा ई.नीलामी में लगाई गई बोली राशि को उच्चतम पाए जाने से एच.1 निविदाकार की निविदा बोली मूल्य 11 करोड़ 33 लाख 50 हजार रूपए की स्वीकृति तथा निविदाकार द्वारा निविदा बोली मूल्य का 100 प्रतिशत जमा करने के उपरांत परिसम्पत्ति के निर्वर्तन के लिए अनुबंध रजिस्टी के निष्पादन की कार्यवाही जिला कलेक्टर द्वारा किये जाने का निर्णय लिया गया।


मुख्यमंत्री श्री चौहान ने मंत्री श्री तुलसी सिलावट और सुश्री उषा ठाकुर से वन-टू-वन चर्चा की


मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने आज मंत्रालय में जल संसाधन मंत्री श्री तुलसी सिलावट और पर्यटन एवं संस्कृति मंत्री सुश्री उषा ठाकुर से वन-टू-वन चर्चा की। इस दौरान उन्होंने विभागीय योजनाओं और कार्यों की जानकारी प्राप्त की तथा आवश्यक निर्देश दिए।


सिंचाई का रकबा बढ़ाया जाएगा

मुख्यमंत्री श्री चौहान से चर्चा के दौरान जल संसाधन मंत्री श्री तुलसी सिलावट द्वारा बताया गया कि आगामी 4 वर्षों में मध्यप्रदेश में सिंचाई के रकबे को 35 लाख हेक्टेयर से बढ़ाकर 41 लाख हेक्टेयर किया जाएगा। प्रदेश सरकार के कृषि को लाभ का धंधा बनाने के संकल्प पर पूरी गति के काम हो रहा है। श्री सिलावट ने केन-बेतवा लिंक परियोजना के लिए मुख्यमंत्री श्री चौहान को धन्यवाद दिया। इस परियोजना से बुंदेलखण्ड क्षेत्र की तस्वीर बदल जाएगी। श्री सिलावट ने प्रदेश में कोविड नियंत्रण, टीकाकरण और स्मार्ट सिटी पुरस्कारों में मध्यप्रदेश की उपलब्धियों के लिए मुख्यमंत्री श्री चौहान का आभार व्यक्त किया।


विभागीय कार्यों और योजनाओं को गति

मुख्यमंत्री श्री चौहान से चर्चा के दौरान पर्यटन एवं संस्कृति मंत्री सुश्री उषा ठाकुर ने बताया कि प्रदेश में पर्यटन की अपार संभावनाओं को देखते हुए पर्यटन को बढ़ाने के सभी प्रयास किए जा रहे हैं। विभागीय कार्यों और योजनाओं को गति दी जा रही है।


युवा शक्ति कोरोना मुक्ति अभियान, 1280 विद्यार्थियों को दिया गया प्रशिक्षण


sehore news
चंद्रशेखर आजाद शासकीय स्नातकोत्तर अग्रणी महाविद्यालय में युवा शक्ति कोरोना अभियान के अंतर्गत प्रत्येक दिन दो सेशन में विधार्थियों का उन्मुखीकरण आयोजित किया जा रहा है। प्रशिक्षण में महाविद्यालय की प्राचार्य डॉ. आशा गुप्ता ने विद्यार्थियों को मार्गदर्शन एवं कोरोना संबंधी सुरक्षा के उपायों की विस्तार से जानकारी देते हुए बताया कि 29 जून 2021 को प्रथम सत्र में 55 विधार्थियों को प्रशिक्षण दिया गया। द्वितीय सत्र में 25 विद्यार्थियों को प्रशिक्षित किया गया। समस्त विद्यार्थियों का कोवी संदेश ऐप पर पंजीयन करवा कर जानकारी दी गई। जिन विद्यार्थियों ने वैक्सीनेशन नहीं करवाया है,  उन्हें तत्काल वैक्सीनेशन करवाने हेतु प्रेरित किया गया। यह अभियान महाविद्यालय में 19 जून 2021 से चलाया जा रहा है। अब तक लगभग 1280 विद्यार्थियों को प्रशिक्षण दिया है।


अब 01 जुलाई को होगा टीकाकरण, टीकाकरण का 26 हजार 600 लक्ष्य निर्धारित

  • 01 जुलाई को कोविडशील्ड वैक्सीन का प्रथम तथा द्वितीय डोज लगाया जाएगा
  • 03 जुलाई को कोवैक्सीन का डोज ही लगाया जाएगा

जिले में कोविड टीकाकरण महाअभियान के तहत 29 एवं 30 जून को लगाएं जाने वाला वैक्सीनेशन अब 01 जुलाई को किया जाएगा।  कोविड.19का टीका 29 तथा 30 जून मंगलवार तथा बुधवार को जिले के किसी भी सेंटर पर नहीं लगाया जाएगा। अब टीकाकरण का आगामी सत्र 01 जुलाई 2021 गुरूवार को संपूर्ण जिले में आयोजित किया जाएगा। इस संबंध में मिशन संचालक ने वीडियो कांफ्रेस के माध्यम से प्रदेश के समस्त मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी तथा जिला टीकाकरण अधिकारियों को निर्देश दिए है। जिले में 01 जुलाई 2021 गुरूवार को आयोजित टीकाकरण सत्र के लिए 26 हजार 600 टीकों का निर्धारित लक्ष्य प्रदान किया गया है। जिला टीकाकरण अधिकारी डाण् एमके चंदेल ने जानकारी देते हुए बताया कि 01 जुलाई को आयोजित सत्रों में सिर्फ कोविडशील्ड का ही प्रथम तथा द्वित्तीय डोज एव 03 जुलाई को आयोजित सत्रों में मात्र कोवैक्सीन का द्वित्तीय डोज ही लगाया जाएगा।


आरडीसी के टोल प्लॉजा पर अधिमान्य पत्रकारों को छूट जारी है . लोक निर्माण मंत्री श्री भार्गव

फास्टेग में दर्ज कराना होगा वाहन नम्बर और अधिमान्यता कार्ड

लोक निर्माण मंत्री श्री गोपाल भार्गव ने कहा है कि लोक निर्माण विभाग अंतर्गत मध्यप्रदेश सड़क विकास निगम के टोल प्लॉजा पर जनसम्पर्क विभाग से अधिमान्य पत्रकारों को छूट की प्रक्रिया जारी है। प्रबंध संचालक मध्यप्रदेश सड़क विकास निगम श्री शशांक मिश्रा द्वारा स्पष्ट किया गया है कि मध्यप्रदेश सड़क विकास निगम के अंतर्गत आने वाले सभी टोल प्लॉजा पर छूट की श्रेणी में जनसम्पर्क विभाग से जारी अधिमान्य कार्डधारी पत्रकारों को यह सुविधा मुहैया कराई जा रही है। श्री मिश्रा ने स्पष्ट किया है कि जिन टोल प्लॉजा पर फास्टेग सुविधा है और संबंधित व्यक्ति को टोल.फ्री की सुविधा उपलब्ध है] वह व्यक्ति, अधिमान्य पत्रकार एक बार टोल बूथ कार्यालय में अपना परिचय-पत्र दिखाकर वाहन पंजीयन क्रमांक एवं फास्टेग का विवरण दर्ज करवा देंगेए तो भविष्य में फास्टेग अकाउंट इंटिग्रेट होने के उपरांत छूट की निरंतरता बनी रहेगी। उन्होंने कहा कि टोल प्लॉजा पर नगद और डिजिटल लेने.देन की सुविधा उपलब्ध कराई जा रही है। अगर टोल प्लॉजा पर काम करने वाली एजेंसी द्वारा अधिमान्य पत्रकार को परिचय-पत्र दिखाने के बाद भी छूट प्रदान नहीं की जाती है तो संबंधित के विरूद्ध मुख्य अभियंता मध्यप्रदेश सड़क विकास निगम 45-ए, अरेरा हिल्स- भोपाल में शिकायत दर्ज करा सकते हैं।


जिलें में अधिकांश खरीफ रकबें में हुआ बुआई का कार्य


sehore news
इस वर्ष जिले में अभी तक अधिकांश क्षेत्र में खरीफ फसल जिसमें सोयाबीन, मूँग, उड़द, ज्वार, मक्का की बोनी का कार्य लगभगपूर्ण हो चुका है। धान की बुआई एवं रोपण का कार्य जारी है। मौसम में परिवर्तन के कारण जिले में ज्वार एवं मक्का फसल में स्टेमफ्लाई एवं तना छेदक कीट की समस्या कुछ क्षेत्र में देखी जा रही है। किसान अपनी फसल का निरंतर निरीक्षण करते रहे एवं कीट दिखाई देने पर तुरंत क्लोरपायरीफास 50 ई.सी.$साइपरमेथ्रिन 5 ईसी का 40 एमएल प्रति पम्प तथा प्रोफेनाफास 40 ई.सी. $ साइपरमेथ्रिन 4 ईसी का 30 एमएल प्रति पम्प का शीघ्र ही छिड़काव करें। साथ ही सोयाबीन फसल में गर्डल-बीटल कीट के प्रकोप की संभावना है जिसके लिये नियमित अपनी फसल का निरीक्षण करें एवं 10-15 दिवस की फसल अवस्था पर प्रोफेनाफास 40 ईसी $ साइपरमेथ्रिन 4 ईसी की 30 एमएल प्रति के हिसाब से छिड़काव करें।

कोई टिप्पणी नहीं: