विदिशा (मध्यप्रदेश) की खबर 28 जून - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

मंगलवार, 29 जून 2021

विदिशा (मध्यप्रदेश) की खबर 28 जून

लंबित आवेदनों की समीक्षा बैठक सम्पन्न, सडकों से हटाए गए अतिक्रमण की साप्ताहिक रिपोर्ट प्रस्तुत करें


vidisha news
कलेक्टर डॉ पंकज जैन ने आज विभिन्न विभागो में लंबितआवेदनों की समीक्षा की। उन्होंने राजीव आवास योजना से लाभांवित हितग्राही को बुनियादी सुविधाओं की पूर्ति सुनिश्चित कराने के निर्देश मुख्य नगरपालिका अधिकारी को दिए है। नगरपालिका क्षेत्र की ऐसी दुकाने जो किराएदारो के द्वारा स्वंय संचालित नही की जा रही है बल्कि अन्य किसी को किराए पर अथवा पगडी पर दी गई है ऐसी दुकानो के प्रस्ताव निरस्त कराने हेतु की गई कार्यवाही से मुख्य नगरपालिका अधिकारी ने अवगत कराया है।  कलेक्टर डॉ जैन ने माधवगंज क्षेत्र में नगरपालिका का एक कर्मचारी तैनात कर चालानी कार्यवाही क्रियान्वित करें ताकि अव्यवस्थित रूप से व्यसायिककर्ताओं पर फाइन वसूलने की कार्यवाही की जा सकें।  कलेक्टर डॉ जैन ने बैठक के दौरान बताया कि विदिशा नगरपालिका के कार्यो की समीक्षा मंगलवार की सायं पांच बजे से पृथक से आयोजित की जाएगी जिसमें निकाय संबंधी तमाम कार्य जैसे राजस्व वसूली के अलावा अन्य वसूली सहित निकाय से संबंधित समस्यायुक्त प्राप्त आवेदनों पर निराकरण हेतु क्या पहल की गई है कि समीक्षा की जाएगी।  कलेक्टर डॉ जैन ने कहा कि जिले में वैक्सीनेशन कार्य के साथ-साथ विभागीय अधिकारी अन्य रूटीन कार्यो की ओर भी विशेष ध्यान देना सुनिश्चित करें। उन्होंने सीएम हेल्पलाइन के तहत दर्ज आवेदन यदि वे स्केप होते है तो संबंधित अधिकारी के खिलाफ सख्त कार्यवाही की जाएगी। उन्होंने स्पष्ट कहा कि एल-वन, एल-टू स्तर पर जबाव दाखिल किए बिना आवेदन अगले स्तर पर चले जाते है और निराकरण हेतु विभाग प्रमुख अथवा अन्य के द्वारा पत्राचार किया जाता है तो संबंधित विभाग के जिलाधिकारी के खिलाफ कठोर कार्यवाही की जाएगी।  कलेक्टर डॉ जैन ने पौधरोपण कार्य पर प्रकाश डालते हुए कहा कि ऐसे शासकीय कार्यालय जहां भूमि रिक्त है उन क्षेत्रों में ऐेसे पौधे रोपित किए जाए जो एक ही वर्ष में सर्वाइप कर जाएं। आगामी माह तक पौधरोपण कार्य के लिए तय कार्ययोजना के अनुसार मूर्तरूप दिया जाए इस कार्य में जनप्रतिनिधियों के अलावा गणमान्य नागरिकों का भी सहयोग प्राप्त किया जाए।  कलेक्टर डॉ पंकज जैन ने जिला शिक्षा अधिकारी श्री अतुल मुदगल को निर्देश दिए है जिले में पीआईयू द्वारा निर्मित किए जा रहे 16 स्कूल भवनों का भ्रमण कर जायजा ले और उनमें क्या सुधार कार्य आवश्यक है व पूर्ण भवनो में किसी अन्य कार्य कराने की आवश्यकता तो नही है इत्यादि का पालन प्रतिवेदन पीआईयू को देते हुए प्रतिलिपि जिला कार्यालय को आवश्यक रूप से प्रेषित करें।  कलेक्टर डॉ जैन ने सडको के निर्माण कार्यो को संपादित कराने वाले विभागो के जिलाधिकारियों को निर्देश दिए है कि सड़को के शोल्डरों से अतिक्रमण हटाने की कार्यवाही में तेजी लाएं इस कार्य में आवश्यकता पडे तो स्थानीय राजस्व अधिकारियों का पूरा सहयोग लिया जाए। उन्होंने संबंधित विभागो के अधिकारियों को निर्देश दिए है कि सड़को के शोल्डरो से हटाए गए अतिक्रमणों का सम्पूर्ण विवरण प्रति सप्ताह पालन प्रतिवेदन के रूप में जिला कार्यालय को उपलब्ध कराना सुनिश्चित करें।  नवीन कलेक्ट्रेट के बेतवा सभागार कक्ष में आयोजित उक्त बैठक में शिक्षा,, स्वास्थ्य, खाद्य, कॉ-आपरेटिव बैंक, लीड बैंक, एमपीडी, पीडब्ल्यूडी, पीएचई, आरईएस, श्रम, सामाजिक न्याय, जिला पंजीयक, उ़द्यानिकी, उद्योग, जिला योजना, प्रधानमंत्री ग्रामीण सड़क, ग्रामीण विकास विभाग, लेण्ड रिकार्ड इत्यादि विभागो में लंबित आवेदनों पर अब तक की गई कार्यवाही से संबंधित विभाग के अधिकारी द्वारा जानकारी प्रस्तुत की गई है। इस बैठक में जिला पंचायत सीईओ श्रीमती नीतू माथुर, अपर कलेक्टर श्री वृदांवन सिंह, संयुक्त कलेक्टर द्वय श्री रोशन राय और श्री कुमार शानू देवडिया, डिप्टी कलेक्टर श्रीमती अमृता गर्ग, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी श्री केएस अहिरवार  के अलावा विभिन्न विभागो के अधिकारी मौजूद रहें। 

 

केन्द्रीय मंत्री श्री पटेल के जन्म दिवस पर पौधरोपण व मास्क का वितरण 


vidisha news
केन्द्रीय संस्कृति एवं पर्यटन राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) श्री प्रहलाद सिंह पटेल के आज जन्म दिवस पर विदिशा जिले में विविध कार्यक्र्रमों का आयोजन किया गया था। प्रातःकाल अटल बिहारी वाजपेयी उद्यान परिसर में पौधरोपण कार्यक्रम किया गया इसके पश्चात् अहमदपुर चौराहा और पीतल मील चौराहा पर मास्क का वितरण कर कोरोना से बचाव के उपायों से अवगत कराया गया है।  जनप्रतिनिधियों के द्वारा अटल उद्यान में स्थापित अटल बिहारी वाजपेयी की प्रतिमा पर माल्यार्पण किया गया साथ ही उक्त उद्यान में विभिन्न प्रकार के पौधरोपण कार्यो में सहभागिता निभाई गई है।  इस अवसर पर केन्द्रीय मंत्री श्री पटेल की दीघार्य हो की शुभकामनांए जनप्रतिनिधियों द्वारा व्यक्त की गई है।  अटल उद्यान में आयोजित पौधरोपण कार्यक्रम में विदिशा नगरपालिका के पूर्व अध्यक्ष श्री मुकेश टण्डन, भाजपा जिलाध्यक्ष डॉ राकेश जादौन, श्री संदीप सिंह डोंगर, श्री मनोज कटारे, श्री शैलेन्द्र भदौरिया, श्रीमती मंजरी जैन, श्री लक्ष्मीकांत मरखेडकर के अलावा अन्य जनप्रतिनिधि, सामाजिक संगठनों के पदाधिकारी तथा गणमान्य नागरिकों ने पौधरोपण कार्य में सहभागिता निभाई है। विदिशा नगरपालिका के पूर्व अध्यक्ष श्री मुकेश टण्डन के अलावा श्री अनुज लोधी, श्रीमती मंजरी जैन सहित अन्य जनप्रतिनिधियों, सामाजिक संगठनों के पदाधिकारियों ने पीतल मील चौराहे पर श्रमिको सहित अन्य को कोरोना से बचाव के लिए मास्क पहनने की प्रेरणा दी है वही ऐसे व्यक्ति जिनके पास मास्क नही था उन्हें मौके पर मास्क वितरण का कार्य किया है। 


वन भूमि से अतिक्रमण हटाने हेतु कार्ययोजना अनुसार संपादन करें  


vidisha news
कलेक्टर डॉ पंकज जैन ने आज समस्त अनुविभागीय राजस्व अधिकारियों के साथ-साथ खण्ड स्तरीय अन्य अधिकारियों को वीडियो कांफ्रेसिंग के माध्यम से सम्बोधित किया है। एनआईसी के व्हीसी कक्ष में वन संरक्षक श्री राजवीर सिंह, मध्यप्रदेश वन विकास निगम के डीएफओ श्री वासनिक के अलावा जिला पंचायत सीईओ श्रीमती नीतू माथुर, अपर कलेक्टर श्री वृदांवन सिंह, संयुक्त कलेक्टर श्री रोशन राय समेत अन्य विभागो के अधिकारी मौजूद थे। कलेक्टर डॉ जैन ने व्हीसी के माध्यम से समस्त एसडीएम व वन विभाग के अधिकारियों को सचेत करते हुए कहा कि वन भूमि से अतिक्रमण की समस्या का निराकरण करने हेतु क्या कार्य करने है से स्वंय तथा अधीनस्थ स्टाफ को भलीभांति अवगत कराएं। उन्होंने कहा कि वन भूमि पर अतिक्रमण के संबंध में समय-समय पर विभिन्न स्त्रोतो से शिकायते प्राप्त हो रही है पूर्व में जिले के लटेरी अनुविभाग क्षेत्र में बडी मात्रा में अतिक्रमण हटाने की कार्यवाही की गई। इस दौरान आपसी विवादो के कारण कानून व्यवस्था की स्थिति को निर्मित करने में कई प्रकार की बाधाएं परलिक्षित हुई है।  कलेक्टर डॉ पंकज जैन ने वन भूमि से अतिक्रमण की समस्या के निराकरण हेतु निर्धारित कार्ययोजना अनुसार कार्यो का सम्पादन करने के निर्देश संबंधितों को दिए है। उन्होंने वीडियो कांफ्रेसिंग के दौरान स्पष्ट सचेत करते हुए कहा कि निर्धारित कार्ययोजना का मूर्तरूप देने में राजस्व, पुलिस, व वन विभाग के अधिकारी तथा अमले का समन्वय आवश्यक है अतः अतिक्रमण विमुक्ति कार्यवाही के दौरान पूर्व उल्लेखित अधिकारी मौजूद रहें और अतिक्रमण से विमुक्त की गई जमीन पर पुनः किसी का अतिक्रमण ना हो इसके लिए पौधरोपण कार्यक्रम को मूर्तरूप दिया जाए।  कलेक्टर डॉ जैन ने दो जुलाई तक अतिक्रमको की सूची प्राप्त कर वनकर्मियों की बैठक लेकर वन भूमि पर हुए अतिक्रमण की व्यक्तिवार सूची संधारित करने की कार्यवाही पूर्ण करने के निर्देश दिए है। इसी प्रकार आठ जुलाई तक सूचियां प्राप्त करने के पश्चात् वन अधिकारियों के साथ स्थलो का निरीक्षण करें। निरीक्षण के दौरान इस बात का विशेष ध्यान रखा जाए कि कोई अतिक्रमणकारी छूट ना पाए।  कलेक्टर डॉ जैन ने दस जुलाई तक जांच करने के निर्देश दिए है तदानुसार वन भूमि पर अतिक्रमणकर्ताओं के द्वारा किन-किन शासकीय योजनाओं का लाभ लिया है अथवा लिया जा रहा है। दस जुलाई उपरांत स्वंय अतिक्रमण हटाने का अवसर देकर स्थानीय परिस्थितियों के अनुसार अतिक्रमण हटाने का प्लान, वन, पुलिस और राजस्व अधिकारियों के साथ तैयार कर जिला कार्यालय को उसकी जानकारी प्रेषित करें। सभी एसडीएमों से प्लान प्राप्त होने के अनुसार जिला स्तरीय बैठक 15 जुलाई तक आयोजित करने के निर्देश दिए है। उपरोक्त कार्ययोजना के तहत निर्धारित समय सीमा में कार्यो को सुनिश्चित कराने हेतु संबंधित विभागो को अधिकृत किया गया है यदि उनके द्वारा कार्यो में किसी भी प्रकार की लापरवाही बरती जाती है तो उनके खिलाफ सख्त कार्यवाही प्रस्तावित की गई है। कलेक्टर डॉ जैन ने समस्त एसडीएमों को निर्देश दिए है कि वन भूमि पर अतिक्रमण कार्य को शस्त्र लायसेंस जारी हुआ है क्या। यदि हुआ है तो किसकी अनुशंसा  पर कब की रिपोर्ट देते हुए संबंधित का लायसेंस निरस्त करने हेतु स्पष्ट कारण अंकित कर प्रेषित करें ताकि किसी भी अतिक्रमणकारी के पास सशस्त्र लायसेंस ना हो।  वन संरक्षक श्री राजवीर सिंह ने बताया कि आरएफ और पीएफ दो प्रकार की वन भूमि होती है इसमें पीएफ स्तर की भूमि पटटो के रूप में वितरित की गई है अतः निरीक्षण के दौरान यह देखना सुनिश्चित करेंगे कि अमूक हितग्राही को आवंटित की पट्टा भूमि पर हितग्राही का स्वंय का कब्जा है या अन्य के द्वारा कब्जा किया गया है साथ ही आवंटित भूमि पर ही कब्जा है या उससे अधिक पर।  वन संरक्षक श्री राजवीर सिंह ने विभागीय अधिकारियों को स्पष्ट सचेत किया है कि कलेक्टर द्वारा जो डेड लाइन कार्यो के लिए निर्धारित की है उसका पालन समय सीमा में कराया जाना सुनिश्चित करें। वन भूमि पर अतिक्रमण संबंधी जानकारी स्थानीय अमले को आवश्यक होगी अतः सूचीबद्ध करते वक्त इस बात का विशेष ध्यान रखा जाए कि कोई भी अतिक्रमणकारी चाहे वह कितना भी सम्पन्न क्यों ना हो छूट ना पाएं। उपरोक्त कार्य को मिशन मोढ के रूप में क्रियान्वित करना है ताकि कानून व्यवस्था की स्थिति में कही भी अव्यवस्था निर्मित ना हो सकें। कलेक्टर डॉ जैन ने वीडियो कांफ्रेसिंग समीक्षा के दौरान मूंग उपार्जन का सत्यापन अतिक्रमण से विमुक्त कराई गई भूमि पर पौधरोपण, समस्त शासकीय परिसम्पति का राजस्व अभिलेखो में इन्द्राज कराने, विद्युत पोलो को सडक के किनारे ऐसे स्थलों पर स्थापित कराएं जिससे भविष्य में किसी भी प्रकार से आवागमन अवरूद्व ना हो सकें।  कलेक्टर डॉ जैन ने समस्त एसडीएम, जनपदों के सीईअे व निकायो के अधिकारियों को निर्देश दिए है कि वर्ष 2021 में मृतको को शासन की योजना का लाभ दिलाया जाना था। मृतक के संबंधित परिजन को किस योजना से लाभांवित किया गया है कि रिपोर्ट तैयार कर जिला कार्यालय को उपलब्ध कराना सुनिश्चित करें। उन्होंने आबादी सर्वे के अलावा वैक्सीनेशन कार्यो के साथ-साथ राजस्व कार्यो पर विशेष ध्यान देने के निर्देश दिए है। 

कोई टिप्पणी नहीं: