विदिशा (मध्यप्रदेश) की खबर 19 जून - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

रविवार, 20 जून 2021

विदिशा (मध्यप्रदेश) की खबर 19 जून

कलेक्टर ने पीले चावल देकर वैक्सीन लगवाने का निमंत्रण दिया


vidisha news
कोविड 19 वैक्सीनेशन महाअभियान 21 जून से शुरू होगा इसके लिए निर्धारित आयु वर्ग के व्यक्ति टीकाकरण स्थल पर पहुंचे। जनजागरूकता के हरेक आयामो का उपयोग करते हुए जिले के हरेक नागरिको से विभिन्न स्तरो पर अपील प्रसारित की जा रही है। कलेक्टर डॉ पंकज जैन ने आज विदिशा शहर के विभिन्‍न क्षेत्रों में पहुंचकर स्थानीय नागरिकों को पीले चावल देकर वैक्सीन लगवाने का निमंत्रण दिया है। इस दौरान उन्होंने कोविड के संक्रमण से बचाव के लिए वैक्सीन की आवश्यकता महत्वता के संबंध में भी जानकारी भ्रमण के दौरान दी है। कलेक्टर डॉ पंकज जैन ने शनिवार को विदिशा नगर के जिन क्षेत्रों में पहुंचकर स्वंय एवं अधीनस्थ अमले के माध्यम से पीले चावल देकर टीकाकरण हेतु आमंत्रित किया है उनमें बजरिया, काछीपुरा, बोहरा गली, कोजडा, भोईपुरा, तोपपुरा इत्यादि क्षेत्रों में पीले चावल से आमंत्रित किया गया हौ इस अवसर पर विभिन्‍न समुदाय के सामाजिक संगठनो के वरिष्ठजनो के अलावा एसडीएम श्री गोपाल सिंह वर्मा, मुख्य नगरपालिका अधिकारी श्री सुधीर सिंह, तहसीलदार श्रीमती सरोज अग्निवंशी मौजूद रहीं। 


टीकाकरण जन आंदोलन बनें और शत प्रतिशत लक्ष्यों की प्राप्ति हो 


vidisha news
कोविड 19 वैक्सीनेशन महाअभियान 21 जून से शुरू होगा इसके लिए निर्धारित आयु वर्ग के व्यक्ति टीकाकरण स्थल पर पहुंचे। जनजागरूकता के हरेक आयामो का उपयोग करते हुए जिले के हरेक नागरिको से विभिन्न स्तरो पर अपील प्रसारित की जा रही है। जिले के प्रत्येक अनुविभाग स्तर पर एक साथ समीक्षा बैठक आयोजित कर टीकाकरण के इस महा अभियान को जन अभियान के रूप में परिवर्तित करने पर बल दिया गया है। अपर कलेक्टर श्री वृदांवन सिंह ने लटेरी में वैक्सीनेशन महा अभियान के संबंध में बैठक आयोजित कर उद्धेश्यों की प्राप्ति के लिए किए गए प्रबंधो का जायजा लिया है। उन्होंने अभियान को अधिक से अधिक सफल बनाने में जनभागीदारी पर बल दिया है।  एसडीएम श्री तन्मय वर्मा सहित अन्य ने गणमान्य नागरिकों के साथ स्थानीय मार्केट में दुकानो पर पहुंचकर पीले चावल से वैक्सीनेशन कराने हेतु आमंत्रित किया है। इसी प्रकार सिरोंज, कुरवाई, ग्यारसपुर, बासौदा, अनुविभाग क्षेत्र मेंं भी बैठके आयोजित कर वैक्सीनेशन के इस महाअभियान को सफल बनाने हेतु विचारमंथन उपरांत रणनीति के अनुसार लक्ष्यों की प्राप्ति के लिए प्रबंध सुनिश्चित किए गए है। 


आदिवासी बस्ती में जनजागरूकता का संदेश 


vidisha news
कोविड 19 वैक्सीनेशन महाअभियान 21 जून से शुरू होगा इसके लिए निर्धारित आयु वर्ग के व्यक्ति टीकाकरण स्थल पर पहुंचे। जनजागरूकता के हरेक आयामो का उपयोग करते हुए जिले के हरेक नागरिको से विभिन्न स्तरो पर अपील प्रसारित की जा रही है। विदिशा एसडीएम श्री गोपाल सिंह वर्मा ने शनिवार को विदिशा शहर के जतरापुरा में पहुंचकर स्थानीय आदिवासियों से रू-ब-रू होकर उन सभी को वैक्सीनेशन के लिए प्रेरित किया है। इस दौरान उन्होंने बताया कि हमारे लिए वैक्सीनेशन की आवश्यकता क्यों है। कोरोना के संक्रमण से बचाव में वैक्सीनेशन अति आवश्यक है। 


फ्लैक्स के माध्यम से टीकाकरण कराने का संदेश 


vidisha news
टीकाकरण अभियान के प्रचार-प्रसार के लिए विशेष प्रकार के आयरन फ्रेम बोर्ड जनसम्पर्क विभाग के द्वारा जिला मुख्यालय के साथ-साथ खण्ड मुख्यालयों पर संबंधित ऐजेन्सी के द्वारा लगाए गए है जिसमें कोरोना का टीका लगवाना है अपनो का जीवन बचाना है जैसे महत्वपूर्ण मानव जीवन रक्षक संदेशो का आमजन सुगमता से अवलोकन सह वाचन कर रहे है। जिले के प्रमुख चौराहो तथा कार्यालयों के अलावा सार्वजनिक स्थलों पर उपरोक्त फ्लैक्सो का लगाने का कार्य किया गया है। 


टीकाकरण: कोविड संक्रमण से बचाव का सबसे बड़ा हथियार  

• डॉ. राजेश टिक्कस 

 जैसा कि सर्वविदित है कि विगत 14-15 माह से हम सभी भारतवर्ष के लोग तथा संपूर्ण विश्व कोविड-19 नामक संक्रमण से गुजर रहा है। इस संकमण ने हमारी रोजमर्रा की जिंदगी को बहुत प्रभावित किया है । इस बीच हमने कोरोना की पहली लहर और दूसरी लहर के प्रकोप को भी सहा है। इस कोविड संक्रमण की अलग-अलग प्रकार की लहर के दौरान बहुत सारे लोगों के रिश्तेदारों, पारिवारिक सदस्यों तथा मित्र मंडली में से कई लोगों के स्वास्थ्य को गंभीर हानि हुई है। कुछ प्रकरणों में लोगों को अपनी जान गँवानी पड़ी है। अतः दोस्तों, फिर यह बीमारी सर नहीं उठा सके, फिर हमें यह सब सहन न करना पड़े, फिर यह बीमारी विकराल रूप धारण न कर सके तथा वैसे दिन न देखना पड़े, इसके लिये हमें कुछ सावधानियाँ रखनी आवश्यक है।जैसे विगत एक वर्ष से बातें भी हो रही हैं कि कोरोना वायरस के संक्रमण से बचने के लिये हमें कुछ नियमों का पालन करना चाहिये। इनमें सबसे पहला नियम ये आता है कि हमें सही तरीके से मास्क का उपयोग करना चाहिये। इसके अलावा नियमित रूप से साबुन से हाथों को धोना है तथा सोशल डिस्टेंसिंग के नियमों का पालन करना है। सामाजिक दूरी का ध्यान रखते हुए पब्लिक प्लेस में प्रत्येक व्यक्ति से दो गज की दूरी का ध्यान रखना है। इससे भी ज्यादा आवश्यक है कि जितना हो सके भीड़-भाड़ वाली जगहों में जाने से बचें। हमें पहले से भी ज्यादा अब इन सभी नियमों का ध्यान रखना आवश्यक है। इसके अलावा जो बहुत बड़ा हथियार है जिससे इस कोविड- 19 के संक्रमण पर विजय प्राप्त कर सकते हैं, वो है वैक्सीनेशन या टीकाकरण टीकाकरण अर्थात कोविड से बचाव हेतु टीका लगवाना। हमारे देश में वर्तमान में कोविड से बचाव हेतु दो टीके उपलब्ध है। इनमें से एक वैक्सीन पूरी तरह से भारत में ही निर्मित हुई है तथा दूसरी का निर्माण भारत में हो रहा है। ये दोनों ही वैक्सीन कोविड संकमण से बचाव में कारगर है तथा इनके डोज की उचित मात्रा व दोनों डोज लगवाने पर कोविड संक्रमण से बहुत हद तक बचाव हो जाता है। जब हम टीकाकरण के द्वारा अपना बचाव कर लेते हैं तो परोक्ष रूप से हम दूसरों का भी कोविड संक्रमण से बचाव कर लेते हैं। कोविड 19 से बचाव हेतु लगाई जा रहा वैक्सीन पूरी तरह से सुरक्षित है। हमारी सरकार हमारे स्वास्थ की सुरक्षा हेतु पूरी तरह से जागरूक है तथा वह लगातार प्रयासरत है कि इस बीमारी से हमारा बचाव हो सके। इस कार्य हेतु वैक्सीनेशन एक बड़ा हथियार है। अत: मेरा सभी लोगों से अनुरोध है कि वैक्सीनेशन जरूर करवायें। इस तरह न केवल आप कोविड संक्रमण से स्वयं का बचाव कर सकते हैं बल्कि अपने परिजनों, मित्रों तथा मिलने-जुलने वालों एवं आस-पास के सभी लोगों को कोविड से बचाने के लिये अपना उत्तरदायित्व निभाते हैं। जब आप स्वयं संक्रमित नहीं होंगे तो आपके परिवार में छोटे बच्चे, अन्य परिजन तथा आपके संपर्क में आने वाले व्यक्तियों तक कोविड संकमण आपके द्वारा संचारित नहीं होगा । जैसा कि हमें पता है कि वर्तमान में 18 वर्ष तथा इससे अधिक आयु वर्ग के व्यक्तियों के लिये वैक्सीनेशन की सुविधा उपलब्ध है तो 18 वर्ष और अधिक की आयु के लोग वैक्सीनेशन अवश्य करवायें। वर्तमान में 18 वर्ष की आयु से कम अर्थात बच्चों के लिये वैक्सीनेशन उपलब्ध नहीं है, जब इस आयु वर्ग का वैक्सीनेशन होगा, तब भी इस आयु वर्ग के सभी बच्चों को टीका लगवाना चाहिए। जब हम खुद वैक्सीनेटेड हो जाते हैं तो गंभीर बीमारियाँ हमें नहीं होती है तथा किसी न किसी रूप में यह हमारे परिवार को भी सुरक्षित करता है। परिवार के अन्य लोगों का यदि वैक्सीनेशन हो जाता है तो बच्चों को स्वयं ही इस संक्रमण से सुरक्षा मिल जाती है। प्रायः देखने में आ रहा है कि वैक्सीनेशन से संबंधित अनेक भ्रांतियाँ लोगों के बीच में फैली हुई है जैसे वैक्सीनेशन के उपरांत उन्हें गंभीर साइड इफेक्ट हो जाएंगे या उनके स्वास्थ पर विपरीत असर पड़ेगा वास्तव में ये भ्रांतियाँ निराधार है तथा इनके प्रमाण में कोई वैज्ञानिक तथ्य नहीं है। वैक्सीनेशन के कोई गंभीर साइड इफेक्ट नहीं है, हाँ कुछ साधारण साइड-इफेक्ट देखे जा सकते हैं जैसे हल्का बुखार आना, बदन दर्द होना तथा सरदर्द आदि जो 1-2 दिन में स्वतः ही ठीक हो जाते हैं। वैक्सीनेशन के दौरान ऐसा होना स्वभाविक बात है तथा ये साइड इफेक्ट भी सबको नहीं होते हैं। इस तरह के साइड इफेक्ट कई अन्य वैक्सीन में जैसे बच्चों को अन्य रोगों से बचाव हेतु लगाये जाने वाले वैक्सीन में भी देखे जाते हैं। ये उसी तरह के साइड-इफेक्ट है, जो बिलकुल भी चिंताजनक नहीं है। यह भी ध्यान देने योग्य है कि वैक्सीन से हमें जो कोविड-19 जैसी गंभीर एवं जानलेवा बीमारी से सुरक्षा मिल रही है, उसकी तुलना में ये छोटे-छोटे साइड इफेक्ट बहुत ही नगण्य हैं। अत: मेरी सलाह है कि भांतियों में तथा तथ्यहीन अफवाहों में न आएँ। बिना किसी झिझक के बेफिक होकर वैक्सीन लगवाएँ तथा खुद को और अपने प्रियजनों को कोविड-19 के संक्रमण से बचाएँ। वैक्सीनेशन पूरी तरह से सुरक्षित है। इसका सबसे बड़ा उदाहरण है कि चिकित्सक, पैरामेडिकल स्टॉफ, नर्स तथा अन्य फ्रंटलाइन वर्कर जैसे पुलिस, आपातकालीन सेवा प्रदान करने वाले कर्मचारी तथा अत्यावश्यक सेवाओं हेतु तैनात कर्मियों का टीकाकरण हो चुका है तथा ये पूरी तरह से स्वस्थ हैं। उन्होंने टीका लगवाकर कोविड-19 से अपना बचाव कर लिया है। कोविड-19 संक्रमण से स्वयं को और खुद के संपर्क में आने वाले सभी व्यक्तियों हेतु वैक्सीन का सुरक्षा कवच सुनिश्चित कर वे 24 घण्टे आपकी सेवा में उपस्थित हैं। अतः स्वयं के प्रति और अपने परिवार और समाज के प्रति इस वैश्विक आपदा के समय अपनी जिम्मेदारी निभाएँ और टीका अवश्य लगवाएँ। वैक्सीनेशन के उपरांत भी मास्क का नियमित उपयोग करना है तथा सोशल डिस्टेसिंग का पालन करना है। भीड़-भाड़ वाले स्थानों में नहीं जाना है। इस तरह हम कोरोना वायरस के विरुद्ध हमारी जंग जीत सकते हैं।

(लेखक म.प्र. इंडियन एकेडमी ऑफ पीडिट्रियाक्स के सचिव और गांधी मेडिकल कॉलेज, भोपाल में प्रोफेसर बाल्य एवं शिशु रोग विभाग है।)


जिले में 35 हजार पांच सौ व्यक्तियों का टीकाकरण करने का लक्ष्य 


कोविड 19 वैक्सीन महा अभियान का शुभांरभ जिले में भी 21 जून को उत्सव के रूप में आयोजित किया जाएगा। इसके लिए जिले में तमाम प्रबंध सुनिश्चित किए गए हैं। कलेक्टर डॉ पंकज जैन ने बताया कि विदिशा जिले में पहले दिन 35 हजार पांच सौ व्यक्तियों का टीकाकरण करने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है। उपरोक्त कार्य के लिए 175 स्थलों पर टीकाकरण सत्र संचालित किए जाएंगे। वैक्सीन महा अभियान का 21 से 30 जून तक सुव्यवस्थित रूप से आयोजन हो ओर निर्धारित लक्ष्यों की प्राप्ति सुगमता से हो इसके लिए हर स्तर पर व्यापक प्रचार-प्रसार कर ऐसे 18 से अधिक आयु वर्ग के व्यक्ति जिनके द्वारा अब तक कोविड 19 वैक्सीनेशन नही कराया गया है वे निर्धारित टीकाकरण स्थल पर पहुंचे की सूचनाओं से उन्हें अवगत कराया जा रहा है।  कलेक्टर डॉ जैन ने बताया विदिशा जिले में सम्पूर्ण वैक्सीन महा अभियान चुनावी तर्ज पर क्रियान्वित किया जाएगा। विदिशा शहर के टीलाखेडी को छोडकर शेष अन्य दो-दो वार्डो को मिलाकर एक-एक टीकाकरण सत्र संचालित किया जाएगा। जिले में कुल 175 टीकाकरण सत्र आयोजित किए जाएंगे जिसमें सर्वाधिक विदिशा एवं बासौदा विकासखण्ड में 6500-6500 का टीकाकरण किया जाएगा इसके लिए विदिशा विकासखण्ड में चालीस, बासौदा में 35 टीकाकरण स्थल संचालित किए जाएंगे। जबकि शेष पांच विकासखण्डो में क्रमशः 4500-4500 व्यक्तियों का टीकाकरण किया जाएगा इसके लिए प्रत्येक विकासखण्ड क्रमशः ग्यारसपुर, कुरवाई, सिरोंज, लटेरी, नटेरन सहित हर एक में क्रमशः बीस-बीस स्थलों पर टीकाकरण कार्य सम्पादित किया जाएगा। आयु वर्ग अनुसार व्यक्तियों का कोविड टीकाकरण कार्य प्रथम डोज एवं जिनको द्वितीय डोज लगना बाकी है उन सबके लिए प्रोटोकॉल अनुसार टीकाकृत किया जाएगा।  प्रत्येक टीकाकरण स्थल के लिए प्रेरक नियुक्त किए गए है जिसकी संख्या निर्धारित नही है। कोविड 19 वैक्सीन के सफल क्रियान्वयन हेतु स्वास्थ्य विभाग द्वारा ब्लाकवार टीकाकरण अधिकारी नियुक्त किए है जिसके अनुसार विदिशा विकासखण्ड के पीपलखेडा हेतु डॉ गजेन्द्र बघेल, ग्यारसपुर हेतु डॉ बीपी शर्मा, बासौदा एवं त्योंदा के लिए डॉ महेन्द्र बाजोरिया, सिरोंज के लिए डॉ सुरेश अग्रवाल, लटेरी हेतु डॉ चंद्रभान धाकड़, नटेरन के लिए डॉ नेहा चौकसे तथा कुरवाई विकासखण्ड के लिए डॉ मिथलेश कुर्मी को जबावदेंही सौंपी गई है। इसके अलावा वैक्सीन महाअभियान कार्यक्रम अवधि में जिला स्तर पर डॉ दिनेश कुमार की निगरानी में कंट्रोल रूम संचालित किया जाएगा। इसके लिए मोबाइल नम्बर 9827323366 तथा सहायक श्री हरिओम वर्मा 9131681677 से किसी भी प्रकार की टीकाकरण संबंधी समस्या से अवगत कराया जा सकता है। इसी प्रकार प्रत्येक विकासखण्ड में भी एक-एक कंट्रोल रूम संचालित किया जा रहा है।


नोडल अधिकारी नियुक्त


कोविड 19 संक्रमण के रोकथाम एवं बचाव के लिए वैक्सीनेशन महा अभियान 21 से 30 जून तक के लिए कलेक्टर डॉ पंकज जैन के द्वारा विकासखण्डवार अभियान की सतत मानिटरिंग के लिए नोडल अधिकारी नियुक्त करने का आदेश जारी कर दिया है।  कलेक्टर द्वारा जारी आदेश में उल्लेख है कि शमशाबाद, नटेरन विकासखण्ड के लिए कॉ-आपरेटिव बैक के सीईओ श्री विनय प्रकाश सिंह 7089902700 तथा पीएचई के ईई श्री एसके जैन, 7987300278 को, ग्यारसपुर के लिए जिला आबकारी अधिकारी श्री शैलेष जैन 7987300278 तथा डीपीसी श्री एसपी जाटव 9827543553, विदिशा के लिए जिला संयोजक श्री नरेन्द्र अवस्थी 9009212745 तथा जिला पंजीयक श्री उपेन्द्र कुमार झा 9584828183, बासौदा के लिए जिला खनिज अधिकारी श्री मेहताब सिंह रावत 8109880046 तथा उद्योग विभाग के महाप्रबंधक श्री पीडी वंशकार 9893091046, सिरोंज के लिए सहकारिता विभाग के उपायुक्त श्री केके द्धिवेदी 9926442810, ग्रामीण सडक विकास प्राधिकरण के महाप्रबंधक श्री केसी सोनी 9425425998 को लटेरी विकासखण्ड के लिए कृषि विभाग के सहायक संचालक श्री महेन्द्र सिंह ठाकुर 9685086465 तथा ग्रामीण सडक विकास प्राधिकरण के महाप्रबंधक श्री एसपी आर्य 9425148843 को तथा कुरवाई विकासखण्ड के लिए नियुक्त नोडल अधिकारी महिला एवं बाल विकास विभाग के जिला कार्यक्रम अधिकारी श्री बृजेश शिवहरे 9407273520 तथा उपवन मण्डलाधिकारी श्री राजीव श्रीवास्तव 9424790951 को नोडल नियुक्त किया गया है। 


कलेक्टर ने धर्मगुरूओं, सामाजिक संगठनो से संवाद कर सहयोग की अपील की 

  • धर्मगुरूओं, समाजसेवी सहित अन्य कोविड वैक्सीन के प्रेरक बनें

vidisha news
कोविड 19 वैक्सीनेशन महाअभियान 21 जून से शुरू होगा इसके लिए निर्धारित आयु वर्ग के व्यक्ति टीकाकरण स्थल पर पहुंचे। इस हेतु जनजागरूकता के हरेक आयामो का उपयोग करते हुए जिले के नागरिकों से विभिन्न स्तरो पर अपील प्रसारित की गई हैं। कलेक्टर डॉ पंकज जैन ने आज धर्मगुरूओं, सामाजिक संगठनो, व्यापारियों के अलावा स्वंयसेवी संस्थाओं के प्रतिनिधियों से पृथक-पृथक चर्चा कर कोविड 19 वैक्सीनेशन महा अभियान जो 21 से 30 जून तक जिले में संचालित किया जाएगा। इस महाअभियान के उद्धेश्यों की प्राप्ति के लिए आमजनों का सहयोग अतिआवश्यक है। उन्होंने आयोजित बैठको में जिले में किए जा रहे प्रबंधो से अवगत कराते हुए सभी से आव्हान किया है कि टीकाकरण स्थल तक हर वर्ग के व्यक्ति पहुंचे ताकि कोरोना जैसी संक्रमण बीमारी के बचाव हेतु वैक्सीनेशन अवश्य कराएं।  सभी धर्मगुरूओं, सामाजिक संगठनों के अलावा अन्य के द्वारा बैठकों में पूर्ण सहयोग कर जिले के सभी नागरिकों को कोविड संक्रमण से  बचाव के लिए वैक्सीनेशन अतिआवश्यक है और मानव जीवन रक्षक के रूप में वैक्सीनेशन जैसे महत्वपूर्ण कार्य में पूर्ण सहयोग देने, महा अभियान शुभांरभ के पूर्व वार्डो में पहुंचकर नागरिकों के घरो में व्यक्तिगत संदेश प्रसारित करने की जबावदेंही ली है साथ ही टीकाकरण सत्र स्थल पर प्रेरक के रूप में मौजूद रहने पर सहमति दी गई है।

कोई टिप्पणी नहीं: