बिहार : विधान परिषद के 24 सदस्यों का कार्यकाल समाप्त - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शुक्रवार, 16 जुलाई 2021

बिहार : विधान परिषद के 24 सदस्यों का कार्यकाल समाप्त

24-mlc-retice-in-bihar
पटना : बिहार विधान परिषद के 24 सदस्यों का कार्यकाल आज समाप्त हो रहा है। इससे बिहार विधान परिषद में सदस्यों की संख्या 75 से घटकर 51 रह जाएगी। जिन विधान पार्षदों का कार्यकाल 16 जुलाई को खत्‍म होने हो रहा है। उनमें रजनीश कुमार, सच्चिदानंद राय, रीना यादव, राधाचरण साह, टुन्‍ना जी पांडेय, संतोष कुमार सिंह, मनोरमा देवी, राजन कुमार सिंह, बबलू गुप्‍ता, सलमान रागिब, सुबोध कुमार, दिनेश प्रसाद सिंह, हरिनारायण चौधरी, दिलीप जायसवाल, अशोक अग्रवाल, संजय प्रसाद शामिल हैं। इसके अलावा नूतन सिंह, सुमन कुमार, आदित्‍य नारायण पांडेय एवं राजेश राम का कार्यकाल भी 16 जुलाई को खत्‍म हो जाएगा। 


मालूम हो कि ये सदस्य स्थानीय निकाय से निर्वाचित होकर विधान परिषद पहुंचे थे। अब ये पद राज्य में त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव होने तक खाली रहेंगे। वहीं इनके खाली रहने से इसका सबसे अधिक भाजपा की संख्‍या पर असर पड़ेगा क्योंकि उनके सबसे ज्यादा 12 विधान पार्षदों का कार्यकाल खत्म हो रहा है। गौरतलब है कि बिहार विधान परिषद में भाजपा के अबतक कुल 26 विधान परिषद के सदस्य थे, लेकिन अब संख्या घटकर 14 रह जाएगी। इसके अलावा सदन में जदयू के 29 विधान परिषद सदस्य थे। वहीं जदयू के 6 विधान परिषद सदस्य का कार्यकाल खत्म हो रहा है, ऐसे में उनकी संख्या भी घटकर 23 हो गई है। इसके अलावा कांग्रेस के एक और राजद के भी एक विधान परिषद सदस्य की संख्या कम हुई है। वहीँ, तीन विधायक कोटे के विधान परिषद सदस्य और एक निर्दलीय उम्मीदवार का कार्यकाल खत्म हो रहा है।

कोई टिप्पणी नहीं: