सीहोर (मध्यप्रदेश) की खबर 26 जुलाई - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

मंगलवार, 27 जुलाई 2021

सीहोर (मध्यप्रदेश) की खबर 26 जुलाई

जिले में अब तक 464.5 मिलीमीटर औसत वर्षा दर्ज, बीते 24 घंटे में 29.4 मिलीमीटर औसत वर्षा


जिले में 01 जून से 26 जुलाई, 2021 तक 464.5 मिलीमीटर औसत वर्षा दर्ज की गई। जो कि गत वर्ष इसी अवधि में औसत वर्षा से 414.8 मिलीमीटर कम है। जिले की वर्षा ऋतु में सामान्य औसत वर्षा 1148.4 मिलीमीटर है। अधीक्षक भू-अभिलेख द्वारा दी गई जानकारी के अनुसार 01 जून से 26 जुलाई, 2021 तक जिले के वर्षामापी केन्द्र सीहोर में 441.1, मिलीमीटर,  श्यामपुर में 523.0, आष्टा में 461.0 जावर में 436.0, इछावर में 468.0, नसरूल्लागंज में 488.0,  बुधनी में 555.0, रेहटी में 353.6 मिलीमीटर वर्षा दर्ज की गई है।


बीते 24 घंटे में 29.4 मिलीमीटर औसत वर्षा

जिले में बीते 24 घंटे में प्रात: 08 बजे तक 29.4 मिलीमीटर औसत वर्षा दर्ज की गई। वर्षामापी केन्द्र सीहोर में 59.1 मिलीमीटर, श्यामपुर में 32.0, आष्टा में 37.0 जावर में 32.0, इछावर में 46.0, नसरूल्लागंज में 9.0,  बुधनी में 13.0, रेहटी में 7.4 मिलीमीटर वर्षा दर्ज की गई है।


पोस्ट मैट्रिक छात्रवृत्ति एवं आवास सहायता योजना, 31 तक कर सकते हैं ऑन लाईन आवेदन


अनुसूचित जनजाति के विद्यार्थियों की पोस्ट मैट्रिक छात्रवृत्ति एवं आवास सहायता योजना के ऑनलाईन आवेदन के लिए पोर्टल MPTAAS वर्तमान में खुला हुआ है और यह पोर्टल 31 जुलाई तक आवेदन स्वीकार करेगा । आयुक्त आदिवासी विकास भोपाल ने बताया है कि अनुसूचित जनजाति के विद्यार्थियों की पोस्ट मैट्रिक छात्रवृत्ति एवं आवास सहायता योजना के ऑनलाईन आवेदन की प्रक्रिया MPTAAS पोर्टल पर वर्तमान में चालू है । उन्होंने कहा कि पात्र विद्यार्थी 31 जुलाई तक पोस्ट मैट्रिक छात्रवृत्ति 2020-21 के लिए पोर्टल पर आवेदन कर सकते हैं । इसी प्रकार आवास सहायता योजना की द्वितीय किश्त माह जनवरी से जून 2021 के लिए अनुसूचित जनजाति वर्ग के विद्यार्थी दी गई समय सीमा में ऑनलाईन उक्त् पोर्टल पर ही आवेदन कर सकेंगे ।


मलेरिया के लक्षण दिखाई देने पर तत्काल खून की जांच करायें


लोक स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग द्वारा एडवाइजरी में लोगों से सतर्क रहने की अपील की गई है कि वर्षा ऋतु के आगमन के साथ मच्छर जनित रोग मलेरिया की भी संभावनाएँ होने लगी हैं। मलेरिया परजीवी का संक्रमण संक्रमित मादा एनाफिलीज मच्छर के काटने से फैलता है। यह मच्छर रुके हुए साफ पानी में पैदा होता है, अतः घर के आस-पास कहीं भी खुले स्थान पर पानी एकत्रित न होने दें। एडवाइजरी में कहा गया है कि हर सप्ताह कूलर, पानी की टंकी आदि को खाली कर सफाई करें। ऐसे स्थान जहाँ पानी की निकासी संभव न हो और अनावश्यक जल भराव हो वहाँ केरोसिन या जला हुआ तेल डालें। मच्छरदानी लगाकर सोएं। खिडकियों और दरवाजों पर मच्छरों को रोकने के लिये जाली लगायें। पूरी बाँह के कपड़े पहनें। मलेरिया के लक्षणों में ठंड लगकर तेज बुखार आना, पसीना आकर बुखार उतर जाना, रुक-रुक कर बुखार आना, सिर दर्द और उल्टी होना तथा बैचेनी, कमजोरी, सुस्ती महसूस होना शामिल है। मलेरिया के लक्षण दिखाई देने पर तत्काल शासकीय स्वास्थ्य संस्था अथवा आशा कार्यकर्ता से संपर्क कर खून की जांच करायें।


स्वयं रीडिंग भेजकर प्राप्त करें बिजली का बिल, लकी ड्रा के माध्यम से स्मार्ट फोन मिलने का मौका भी पाएं


म.प्र. पूर्व क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी द्वारा उपभोक्ताओं को सेल्फ फोटो रीडिंग की सुविधा प्रदान की गई है। कुछ बिजली उपभोक्ता घर बैठे अपने मीटर की रीडिंग स्मार्ट बिजली एप के माध्यम से स्वयं अपलोड कर वास्तविक रीडिंग का बिजली बिल प्राप्त कर रहे हैं। बिजली उपभोक्ताओं द्वारा 27 जुलाई तकफोटो रीडिंग अपलोड करना अनिवार्य है। सेल्फ फोटो रीडिंग के प्रति उपभोक्ताओं को प्रोत्साहित करने के लिए कंपनी द्वारा एक ईनामी योजना भी लागू की गई है जिसके तहत उपभोक्ता द्वारा अपलोड की गई फोटो रीडिंग स्पष्ट एवं मान्य होने पर लकी ड्रा निकाला जाएगा तथा चयनित                             


उपभोक्ताओं को स्मार्ट फोन ईनाम में दिया जाएगा।

कोविड -19 महामारी के कारण, संक्रमण से बचाव के लिए मीटर रीडर को उपभोक्ता के परिसर के बाहर स्थापित मीटर की रीडिंग करने के निर्देश दिए गए हैं ताकि उपभोक्ता एवं मीटर रीडर दोनों ही सुरक्षित रहें। ऐसे उपभोक्ता जो सेल्फ फोटो रीडिंग का उपयोग कर रहे हैं उन्हें अपलोड की गई रीडिंग का बिल भेजा जा रहा है।


कैसे भेजे सेल्फ फोटो रीडिंग     

स्मार्ट बिजली एप डाउनलोड करने के लिए कंपनी द्वारा बिजली उपभोक्ताओं के रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर पर मैसेज के माध्यम से लिंक भेजी गई है। एप को डाउनलोड करने के बाद पहली बार मोबाइल नंबर एवं ईमेल आईडी के साथ रजिस्टर्ड करना होगा। नए उपभोक्ता ‘‘गेस्ट यूजर’’ विकल्प का उपयोग कर भी रीडिंग अपलोड कर सकते हैं। रीडिंग अपलोड करने के लिए स्मार्ट बिजली एप के ‘‘मीटर रीडिंग-अपलोड फोटो’’ विकल्प को चुनें। अपना आईवीआरएस नंबर दर्ज करने पर उपभोक्ता का विवरण डिस्प्ले होगा। मीटर में दिखाई दे रही क्रं. वाली रीडिंग को टाइप करें तथा फोटो विकल्प के माध्यम से फोटो लेकर उसे सबमिट करें। स्पष्ट फोटो की रीडिंग मान्य होने पर उपभोक्ता का बिजली बिल जनरेट होगा। अधिक जानकारी के लिए 1912 पर संपर्क किया जा सकता है। बिजली उपभोक्ता स्मार्ट बिजली एप को गूगल प्ले स्टोर से भी डाउनलोड कर सकते हैं तथा एप में उपलब्ध अन्य सुविधाओं का उपयोग कर बिजली संबंधी किसी भी समस्या का निराकरण भी करवा सकते हैं।


नवीन पशुधन बीमा योजनांतर्गत बीमा कराने की अपील


पशुपालक अपने पशुधन का बीमा करायें। राष्ट्रीय पशुधन मिशन अंतर्गत नवीन पशुधन बीमा योजना का क्रियान्वयन किया जा रहा है। योजना में पशुपालकों को पशु की मृत्यु होने पर हुई आर्थिक हानि में राहत मिलती है। योजना में समस्त पशुधन जैसे गाय, भैंस, घोड़ा, बकरी आदि को शामिल किया गयाहै। योजनांतर्गत प्रति परिवार अधिकतम पांच पशुओं का बीमा करा सकते हैं। बीमे की अधिकतम राशि 55 हजार रूपये तक हो सकती है तथा प्रीमियम दर एक वर्ष के लिए 2.92 प्रतिशत है जिसमें सामान्य वर्ग के लिए 50 प्रतिशत अनुदान तथा बीपीएल, एससी, एसटी के लिए 70 प्रतिशत अनुदान शासन द्वारा दिया जाता है। पशुपालक अधिक जानकारी के लिए अपने निकटतम पशु चिकित्सालय प्रभारी से संपर्क कर सकते हैं।


किसानों को नमी संरक्षण की सलाह


कृषि विभाग द्वारा किसानों से अपने खेतों में निंदाई, गुड़ाई करने, कुल्फ़ा चलाने, डोरा चलाने, आदि शस्य क्रियाएं अपना कर भूमि में नमी संरक्षण करने की सलाह दी है। भूमि में दरारें पड़ने पर सिंचाई सुविधा उपलब्ध होने पर सिंचाई करें। सोयाबीन फसल में तंबाकू की इल्ली या चने की इल्ली का प्रकोप होने पर कीट विशेष ’’फीरोमोन ट्रेप, तथा टी-आकार’’ की आकार की खुटीयां लगाने के कीट भक्षी पक्षीयों द्वारा संख्या नियंत्रित की जा सकती है तथा पूर्व मिश्रित कीटनाशक नोवाल्युरौन+इंडोक्साकार्ब का 850 मि.ली लीटर/है. की दर से छिंडकाव करने से तंबाकू की इल्ली या चने की इल्ली को नियंत्रित किया जा सकता है। सफेद मक्की एवं एफीड(माहो) के लिये पीला चिपचिपा ट्रेप लगायें, कुछ क्षेत्रों में चक्र भ्रंग का प्रकोप देखा गया है। इसके रोकथाम हेतु ग्रसित भाग को तोड़कर नष्ट करें तथा अनुंशसित कीटनाशक प्रोफेनोफास 50 ई.सी/1200 मि.ली लीटर/है. की दर से या इमामेक्टिन बेंजोएट 450 मि.ली लीटर/है. की दर से 500 लीटर पानी में मिलाकर स्प्रे करें एवं मक्का फसल में यदि फाल आर्मी वर्म नजर आए, तो इमामेक्टिन बेंजोएट दवा 220 ग्राम प्रति है.के मान से छिड़काव करें।


भोपाल सम्भाग के कृषकों से अधिसूचित फसलों का बीमा कराने की अपील


उप संचालक, कृषि ने सम्भाग के सभी किसानों से प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के तहत अधिसूचित खरीफ फसलों का बीमा करवाने की अपील की है। बीमा स्वैच्छिक है। उन्होंने बताया कि कृषक खरीफ अनुसार प्रीमीयम दर तिलहन एवं दलहनी फसलों के लिये बीमित राशि का 2 प्रतिशत या वास्तविक दर जो भी कम हो, फसल बीमा करने की अंतिम तिथि 31 जुलाई है। भारत सरकार द्वारा खरीफ 2021 से सभी कृषको हेतु योजना को स्वैच्छिक और एैच्छिक किया गया है। इसी अनुक्रम में योजना में प्रावधान किया गया है कि अल्पकालीक फसल ऋण लेने वाले ऋणी कृषक जो अपनी फसलों का बीमा नहीं करवाना चाहते है वे कृषक बीमांकन की अंतिम तिथि 31 जुलाई से 07 दिवस पूर्व सम्बन्धित बैंक से लिखित में आवेदन कर निर्धारित प्रपत्र में भरकर योजना से बाहर जा सकते है। अल्पकालीप फसल ऋण प्राप्त करने वाले कृषको की फसलों का बीमा सम्बन्धित बैंक द्वारा किया जायेगा। अऋणी कृषक जिनका बैंक में बचत खाता है, अपनी अधिसूचित फसलों का बीमा बैंक, लोक सेवा केन्द्र एवं कार्यरत बीमा कंपनी के अधिकृत एजेंट के माध्यम से आवश्यक दस्तावेज जैसे फसल बीमा प्रस्ताव फार्म, आधार कार्ड, पहचान पत्र, वोटर कार्ड, राशन कार्ड, पैन कार्ड, समग्र आईडी, ड्राईविंग लायसेंस, भू-अधिकार पुस्तिका, पटवारी या ग्राम पंचायत सचिव द्वारा जारी बुवाई प्रमाण-पत्र, प्रस्तुत कर अपनी अधिसूचित फसलों का बीमा करवा सकते है। अधिक जानकारी के लिये क्षेत्र के वरिष्ठ कृषि विकास अधिकारी एवं ग्रामीण कृषि विस्तार अधिकारी से सम्पर्क किया जा सकता है। 


शिक्षकों का 26 से 31 जुलाई में होगा टीकाकरण


प्रदेश में उच्च शिक्षा एवं स्कूल शिक्षा विभाग के अन्तर्गत आने वाले सभी महाविद्यालयों एवं विद्यालयों में कार्यरत शिक्षकों और कर्मचारियों का कोविड-19 टीकाकरण एक अभियान के रूप में किया जायेगा। इसके लिये मुख्य सचिव ने सभी कलेक्टर्स और मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारियों को निर्देशित किया है कि 26 से 31 जुलाई में यह अभियान संचालित किया जाए। टीकाकरण अभियान का आयोजन जिला मुख्यालय एवं विकासखंडों में सुविधा युक्त महाविद्यालयों का चयन कर नियत तिथि में सुबह 9 से शाम 5 बजे तक किया जायेगा। इस अभियान में आदिम जाति कल्याण विभाग के विद्यालय सहित सभी शासकीय/अशासकीय महाविद्यालयों एवं विद्यालयों के शिक्षकों एवं कर्मचारियों को कोविड-19 टीके के प्रथम/द्वितीय डोज़ लगाया जाना सुनिश्चित किया जाएगा। निर्देशित किया गया है कि सभी शिक्षा संस्थानों से समन्वय स्थापित कर वर्कप्लेस कोविड-19 टीकाकरण सत्र हो। साथ ही इस अभियान के दौरान टीकाकरण केन्द्रों पर कोविड-19 अनुकूल व्यवहार का सख्ती से पालन करने के निर्देश दिये गये हैं।


एडवांस सर्टिफिकेट इन प्रिसिज़न इंजीनियरिंग में प्रवेश प्रारंभ, आवेदन की अंतिम तिथि 30 जुलाई


गोविन्दपुरा स्थित ग्लोबल स्किल पार्क कैम्पस में एडवांस सर्टिफिकेट इन प्रिसिज़न इंजीनियरिंग में प्रवेश प्रारंभ है। आवेदन की अंतिम तिथि 30 जुलाई निर्धारित की गई है। इच्छुक  आवेदक  www.globalskillspark.mp.gov.in पर नि:शुल्क रजिस्ट्रेशन करा सकते है। इस संबंध में अधिक जानकारी के लिए श्रीमती वर्षा मिश्रा से 8269433474 अथवा 9893346258 पर संपर्क किया जा सकता है।


कोरोना संक्रमण में कमी का मतलब यह नहीं की लापरवाह हो जाएं: मुख्यमंत्री श्री चौहान

  • अभी भी सजग और सतर्क रहना जरूरी

मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि प्रदेश में कोरोना मरीजों की संख्या में काफी कमी आई है। प्रदेश में आज कोरोना के मात्र 12 पॉजिटिव प्रकरण आये हैं और 13 मरीज स्वस्थ होकर डिस्चार्ज हुए हैं। प्रदेश की कोरोना पॉजिटिविटी दर 0.01 प्रतिशत है। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि कोरोना के प्रकरण कम जरूर हुए है, लेकिन अभी भी कोरोना संक्रमण के प्रति सजग और सतर्क रहने की जरूरत है। जरा सी लापरवाही कोरोना को पुन: निमंत्रण देने के समान है। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि राज्य सरकार कोरोना की संभावित तीसरी लहर से निपटने के लिये सभी प्रयास कर रही है। प्रदेश में तेजी से स्वास्थ्य सुविधाओं के विस्तार के साथ चिकित्सकीय अधोसंरचनाओं का निर्माण किया जा रहा है। विशेष रूप से अस्पतालों में आईसीयू बेड्स की संख्या बढ़ाने के साथ ऑक्सीजन की उपलब्धता को सुनिश्चित करने के लिये ऑक्सीजन प्लांट स्थापित किये जा रहे हैं। हमारा प्रयास यह है कि कोरोना की दूसरी लहर के समय जो कमियाँ रह गई थीं, उन्हें प्राथमिकता से दूर करते हुए पुख्ता इंतजाम किये जा रहे हैं। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि प्रदेश में कोरोना संक्रमण की जाँच का कार्य अभी भी जारी है। आज प्रदेश में 72 हजार 360 जाँचें की गई। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने अपील की है कि यदि किसी को भी कोरोना का कोई लक्षण आता है तो तुरंत जाँच करायें। उन्होंने कहा कि सभी शासकीय अस्पतालों में कोरोना उपचार की सभी माकूल व्यवस्थाओं के साथ ऑक्सीजन की उपलब्धता भी सुनिश्चित की गई है। जरूरत इस बात की है कि समय रहते जाँच के साथ उपचार भी करवायें। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि कोरोना के उपचार के लिये जितनी जरूरत अस्पताल, दवाओं और ऑक्सीजन की होती है, उससे कहीं जरूरी है कि आम नागरिक कोरोना वैक्सीन के साथ कोविड अनुकूल व्यवहार भी अपनायें। प्रदेश में कोविड-19 टीकाकरण का महाअभियान लगातार जारी है। मेरी प्रदेशवासियों से अपील है कि जिन्होंने अभी तक वैक्सीन नहीं लगवाई, वे तत्काल वैक्सीन लगवा लें, क्योंकि कोरोना से बचने के लिये वैक्सीन सुरक्षा कवच का काम करती है। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कोरोना से बचाव के लिये अनुकूल व्यवहार अपनाने की अपील प्रदेशवासियों से की है।


कारगिल दिवस शौर्य और पराक्रम की स्मृति का दिवस - मुख्यमंत्री श्री चौहान

  • अमृत महोत्सव के रूप में मनाया जाएगा 75वां स्वतंत्रता दिवस

मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि कारगिल दिवस हमारे सैनिकों के शौर्य, साहस और पराक्रम की गौरवगाथा की स्मृतियों को ताजा करता है। देश अपने वीर सपूतों को प्रणाम करता है। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी की मन की बात में कारगिल दिवस के जिक्र पर आज ट्वीट के माध्यम से यह संदेश दिया। उन्होंने कहा कि आगामी स्वतंत्रता दिवस पूरे देश में अमृत महोत्सव के रूप में मनाया जाएगा। प्रधानमंत्री श्री मोदी के आव्हान पर मध्यप्रदेश में अमृत महोत्सव के आयोजन की श्रंखलाएँ शुरू हो चुकी हैं। देश के साथ मध्यप्रदेश में भी 75वां स्वतंत्रता दिवस अमृत महोत्सव के रूप में मनाया जाएगा।


मुख्यमंत्री ने दी प्रिया मलिक को बधाई

मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने हंगरी के बुडापेस्ट वर्ल्ड कैडेट कुश्ती चैम्पियनशिप के 73 किलोग्राम वर्ग की कुश्ती में स्वर्ण पदक जीतने पर देश की बेटी प्रिया मलिक को हार्दिक बधाई दी है। उन्होंने कहा कि देश की बेटी प्रिया मलिक और देश के अन्य सभी खिलाड़ी नित ऐसे इतिहास रचकर माँ भारती को गौरान्वित करते रहें।


प्रधानमंत्री की मन की बात को सुना

मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने रविवार को प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी की मन की बात को सुना। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि हमारे प्रधानमंत्री जी की सोच राष्ट्रहित और चहुमुखी विकास से ओतप्रोत है। उन्होंने स्थानीय उत्पादों को बढ़ावा देने के लिये लोकल फॉर वोकल की जो अवधारणा दी, वह आज पूरे राष्ट्र में कारगर हो रही है। स्थानीय स्तर पर लोगों द्वारा तैयार की जा रही सामग्री को अन्य देशों में काफी सराहा जा रहा है। मध्यप्रदेश में महिला स्व-सहायता समूहों द्वारा उत्पादित सामग्री को मार्केट उपलब्ध कराने के प्रयास लगातार किये जा रहे हैं। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में मध्यप्रदेश को विकास और प्रगति की नई ऊंचाइयों पर पहुँचाने के लिये सतत प्रयत्नशील हैं। उनके द्वारा आत्म-निर्भर भारत के दिये गये मंत्र को मध्यप्रदेश में प्रभावी रूप से लागू किया गया है। प्रदेश के विकास के लिये आत्म-निर्भर मध्यप्रदेश का रोडमेप बना कर उसका अमल भी शुरू किया जा चुका है। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि प्रधानमंत्री जी के मार्गदर्शन में अत्याधुनिक तकनीक से निर्मित इंदौर का लाइट हाउस देश के अन्य राज्यों को दिशा दिखाने वाला सिद्ध होगा।  


मुख्यमंत्री श्री चौहान 26 जुलाई को ‘आयुष क्षेत्र में संभावनाएँ’ विषय पर बैठक लेंगे    अ.ज.जा वर्ग के लिए आयुष आधारित आर्थिक उन्नयन योजना का होगा प्रस्तुतीकरण


मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान 26 जुलाई को दोपहर 3.30 बजे से मंत्रालय में ‘आयुष क्षेत्र में संभावनाएँ’ विषय पर बैठक लेंगे। बैठक में मुख्य रूप से मध्यप्रदेश के अनुसूचित जनजातीय क्षेत्रों के निवासियों के लिए तैयार की गई आयुष आधारित आर्थिक उन्नयन योजना ‘देवारण्य’ का प्रस्तुतीकरण एवं उस पर चर्चा की जाएगी। बैठक का आयोजन मध्यप्रदेश राज्य नीति एवं योजना आयोग द्वारा किया जाएगा। योजना में जनजातीय बाहुल्य क्षेत्रों में रोजगार एवं आजीविका के अवसर बढ़ाने के लिए आयुष आधारित गतिविधियों को बढ़ाया जाएगा। इसके अंतर्गत औषधीय एवं सुगंधित पौधों की खेती, उन पर आधारित उद्योग, दवा निर्माण, भंडारण, प्र-संस्करण, विपणन, आदिवासी क्षेत्रों में ग्रामीण और स्वास्थ्य पर्यटन को बढ़ावा देना, स्व-सहायता समूहों को सशक्त करना, नर्सरी स्थापित करना आदि कार्य किए जाएंगे। यह योजना आयुष विभाग द्वारा केन्द्रीय ग्रामीण विकास मंत्रालय, आयुष मंत्रालय और राष्ट्रीय औषधीय पादप बोर्ड आदि के सहयोग से चलाई जाएगी। इसमें मनरेगा तथा अन्य योजनाओं का अभिसरण किया जाएगा। प्रथम चरण में यह योजना प्रदेश के 5 जिलों सतना, झाबुआ, बैतूल, होशंगाबाद तथा डिण्डोरी में लागू की जाना प्रस्तावित है।


जिले में लगातार वर्षा को दृष्टिगत रखते हुए कलेक्टर ने अधिकारियों को अलर्ट रहने के दिए निर्देश

  • कलेक्टर ने विभागों के समय सीमा वाले पत्रों की समीक्षा कर त्वरित कार्यवाही के दिए निर्देश
  • अनुकम्पा नियुक्ति एंव पेंशन संबंधी प्रकरण लंबित न रहें - कलेक्टर श्री ठाकुर

sehore news
कलेक्ट्रेट सभाकक्ष में आयोजित टीएल बैठक में कलेक्टर श्री चन्द्र मोहन ठाकुर ने विभागों के समय सीमा वाले पत्रों तथा विभागीय गतिविधियों की समीक्षा करते हुए लंबित पत्रों पर त्वरित कार्यवाही के निर्देश जिला अधिकारियों को दिए। उन्होंने सीएम हेल्पलाइन में लंबित शिकायतों की समीक्षा करते हुए सभी जिला अधिकारियों को शीघ्र निराकरण कराने के निर्देश दिए। श्री ठाकुर ने गत दो दिनों से हो रही लगातार वर्षा को दृष्टिगत रखते हुए एसडीएम,  तहसीलदार सहित सभी संबंधित अधिकारियों को अलर्ट रहने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि जिन क्षेत्रों में बाढ़ की संभावना रहती है तथा जल भराव वाले नगरीय क्षेत्रों से निरंतर संपर्क बनाये रखने के निर्देश दिए। ताकि आवश्कयता पड़ने पर त्वरित बचाव-राहत की कार्यवाही तुरंत की जा सके। श्री ठाकुर ने राजस्व न्यायालयों के प्रकरणों की समीक्षा करते हुए नामांतरण, बटवारा सहित सभी लंबित प्रकरणों का जल्द निराकरण करने के निर्देश दिए। श्री ठाकुर ने आत्म निर्भर मध्यप्रदेश कार्यक्रम के तहत बुधनी प्रज्जवल के लिए बनायी गयी कार्य योजना की समीक्षा की। कलेक्टर श्री ठाकुर ने अनुकम्पा नियुक्ति के प्रकरणों की जानकारी लेते हुए कहा कि जिन शासकीय सेवकों की कोविड-19 के कारण मृत्यु हुई है, उनके परिजनों की अनुकम्पा नियुक्ति तथा परिवार पेंशन संबंधी प्रकरणों का शीघ्र निराकरण कराया जाए। उन्होंने खाद्य विभाग की समीक्षा के दौरान कहा कि आगामी माह की सात तारीख को अन्न उत्सव मनाया जाएगा। सभी राशन दुकानों से हितग्राहियों को राशन वितरण करने तथा इस दौरान स्थानीय जनप्रतिनिधियों को आमंत्रित करने के निर्देश दिए। उन्होंने कृषि विभाग की समीक्षा के दौरान जिले में डीएपी और यूरिया की पर्याप्त मात्रा में उपलब्धता सुनिश्चित कराने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि सभी सोसायटियों पर आवश्यकतानुसार खाद की पर्याप्त उपलब्धता रहे, जिससे कि किसानों को परेशान न होना पड़े। बैठक में कलेक्टर श्री ठाकुर ने विभागवार सेवा पुस्तिका के सत्यापन की समीक्षा के दौरान जिला अधिकारियों को निर्देश दिए कि वे अधीनस्थ शासकीय सेवकों की सेवा पुस्तिका का सत्यापन तथा अपडेशन सुनिश्चित कराएं। ताकि सेवानिवृत्ति पर स्वत्वों के भुगतान में परेशानी ना हो। बैठक में जिला पंचायत सीईओ श्री हर्ष सिंह, अपर कलेक्टर श्रीमती गुंचा सनोबर सहित अन्य जिला अधिकारी उपस्थित थे।


पंचायत सचिव संगठन के प्रदेशाध्यक्ष दिनेश शर्मा ने की संगठन की सर्जरी


sehore news
सीहोर। मध्यप्रदेश पंचायत सचिव संगठन की एक विशेष बैठक का आयोजन ग्राम कांकडख़ेड़ा के माता जी के मंदिर में प्रदेशाध्यक्ष दिनेश शर्मा की उपस्थित में किया गया। इस मौके पर संगठन की सर्जरी करते हुए प्रदेशाध्यक्ष श्री शर्मा ने कहा कि संगठन में उन्हीं कार्यकर्ताओं को पद देने की बात कही जो सक्रिय होंगे और जो निष्क्रिय लोग होंगे उन्हें संगठन में पद से मुक्त किया जाएगा। हमें हमारी मांगों के लिए हमेशा संघर्ष करना है। इसके लिए संगठन में कुछ बदलाव किए है। जिसमें सीहोर जिले का अध्यक्ष महेश राठौर, इछावर ब्लाक अध्यक्ष पद पर राम स्वरूप वर्मा को बनाया गया है। इसके अलावा सीहोर के सचिवों को भी प्रदेश में स्थान मिला है। जिसमें सचिव ओम प्रकाश शर्मा को प्रदेश उपाध्यक्ष, विजय त्यागी एवं मुकेश सेन को प्रदेश संगठन मंत्री, राजकुमार नामदेव को प्रदेश सचिव, वरिष्ठ सदस्य प्रहलाद सिंह ठाकुर को प्रदेश सह संयोजक, संभागीय स्तर पर विक्रम सिंह ठाकुर आष्टा को संभागीय महा सचिव एवं लक्ष्मीचंद्र वर्मा को संभागीय प्रवक्ता नियुक्त किया गया है। इस मौके पर नव नियुक्त जिलाध्यक्ष श्री राठौर ने कहा कि मुझे जो भी जिम्मेदारी मिली उसका ईमानदारी से निर्वहन करुंगा। इस मौके पर जिलाध्यक्ष श्री राठौर के जिले भर के सचिव संगठनों के पदाधिकारियों ने बधाई दी है। 


संयुक्त मोर्चा ने सरकार की सदबुद्धि के लिए हवन यज्ञ के साथ किया विरोध प्रदर्शन


sehore news
सीहोर। लंबे समय से अपनी मांगों पर डटे शहर के जनपद कार्यालय मंडी में पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग के संयुक्त मोर्चा ने सावन के पहले सोमवार को  सरकार की सदबुद्धि के लिए हवन यज्ञ किया और विरोध प्रदर्शन किया। यहां पर सबसे पहले पूर्ण विधि-विधान से धरना प्रदर्शन करने वालों ने भगवान शिव का अभिषेक किया और अब मंगलवार को विधायक सुदेश राय को ज्ञापन सौंपा जाएगा। पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग के संयुक्त मोर्चा के संयोजक प्रमोद राठौर, सह संयोजक राजू नामदेव, प्रवक्ता अखिलेश मेवाड़ा, ओम प्रकाश पटेल, भारत मेवाड़ा, ओम प्रकाश शर्मा, महेश राठौर, विजय त्यागी, घनश्याम मेवाड़ा, महेश जयसवाल राधेश्याम, मुकेश,रमेश उजला,लखन गौर, भरत भाई पद्म मालवीय, सुरेश परमार, लखन ठाकुर, राजेन्द्र  पंवार धर्मेन्द्र पाठक ओमप्रकाश पचवरिया विश्राम सिंह मीणा, खालिद भाई दीनदयाल, यशपाल, मनोहर मालवीय, जनक सिंह गोयल, हरनाम मेवाड़ा, रामभरोस, भरत सिंह, मेवाड़ा, सुनीता, दिनेश बरफा, शशांक शर्मा, ओपी कुशवाहा, दिपाली निगम, अंबुजा सिंह, पायल ठाकुर संजय शर्मा रघवीर बैरागी नीरज दुबे श्याम मेवाड़ा मनीष गुप्ता  आदि शामिल है। संयुक्त मोर्चा के मीडिया प्रभारी मुकेश पाटीदार ने बताया कि पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग राज्य शासन विभाग का एक बहुत बडा अमला है, जिसके अंगतर्ग ग्राम पंचायत से लेकर संचालनालय के संवर्ग तक हजारों कर्मचारी, अधिकारी सम्मिलित है। जिसमें कई अल्प वेतन में एवं कई कर्मचारी अपने सेवाओ की असुरक्षा से चिंतित होकर शासन प्रशासन के निर्देशो का कढाई से पालन करते हुए, केन्द्र और राज्य सरकार के पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग के चलाये जा रहे अभियान और योजनाओ में 18 घंटे तक सेवा देकर, अपनी जान की परवाह किये बिना कोविड़-19 सहित हर अभियान को पूरा करने में पूरी निष्ठा के साथ कार्य करे रहे है। लेकिन किसी भी कर्मचारी संवर्ग की मांगो पर कोई भी निराकरण नही किया गया है। मोर्च द्वारा प्रस्तुत की जा रही मांगे ऐसी है पिछले दिनों संघ के सदस्यों ने पूरे प्रदेश में मुख्यमंत्री के नाम ज्ञापन सौपंकर अपनी मांगो के निराकरण के लिए सामूहिक रूप से निवेदन किया था, लेकिन मांगो का निराकरण नही होने की दशा में और सरकार द्वारा कोई पहल नही करने के कारण संयुक्त मोर्चा द्वारा अनिश्चित कालीन कलमबंद आन्दोलन शुरू किया है। अब जब तक हमारी मांगे पूरी नहीं होगी हम आंदोलन करते रहेंगे। 


तोक्यो ओलंपिक में शामिल खिलाडिय़ों के उत्साहवर्धन के लिए लगाई दौड़


sehore news
सीहोर। लंबे समय से फौज में शामिल होने के लिए अभ्यास कर रहे युवाओं ने तोक्यो ओलंपिक में शामिल भारतीय खिलाडिय़ों के उत्साहवर्धन के लिए शहर में बारिश की बौछारों के मध्य रैली के रूप में दौड़ लगाई। इस संबंध में जानकारी देते हुए कोच सचिन वर्मा और आयुष नागिया ने बताया कि शहर के बीएसआई खेल मैदान पर बड़ी संख्या में कोरोना गाइड लाइन का पालन करते हुए सेना में शामिल होने के इच्छुक युवाओं को कोचिंग दी जा रही है। वहीं बीएसआई के युवाओं ने एक साथ देश के लिए ओलंपिक में शामिल खिलाडिय़ों का उत्साहवर्धन में एक रैली निकालकर लगातार तीन घंटे तक दौड़ लगाई। शहर सहित आस-पास के स्थानों पर रैली में शामिल युवाओं ने भारत माता की जय के नारे के साथ मैदान पर वापसी की। इस मौके पर कोच श्री वर्मा ने कहा कि सेना में शामिल युवाओं में भारत के खिलाडिय़ों जीत की इच्छा है और उन्होंने इस मौके पर सावन के दौरान भगवान शिव की नियमित रूप से आराधना का निर्णय लिया है। 


योग वेदांत सेवा समिति ने आयोजित किया कायज़्क्रम

sehore news
सीहेार। योग वेदांत सेवा समिति महिला उथान मंडल के द्वारा गणेश मंदिर रोड स्थित आश्रम में गुरू पूणिज़्मा उत्सव के उपलक्ष्य में रविवार को विशेष धामिज़्क कायज़्क्रम आयोजित किया गया। श्रावक श्राविकाओं के द्वारा गुरुदेव का मानसिक पूजन किया। श्रद्धालुओं ने गुरुदेव के बताए साधना मागज़् पर आगे बढऩे का संकल्प भी लिया। भजन कीतज़्न सत्संग के कायज़्क्रम में आयोजित किए गए। ग्रामीण क्षेत्रों से बड़ी संख्या में श्रद्धालुओं हिस्सा लिया। आरती के बाद प्रसाद का वितरण किया गया।

 
सात अगस्त को समारोह पूर्वक मनाएं अन्न उत्सव - कलेक्टर

कलेक्टर श्री चन्द्र मोहन ठाकुर ने 07 अगस्त को होने वाले अन्न उत्सव को समारोह पूर्वक मनाने के निर्देश जिला आपूर्ति अधिकारी को दिए। उन्होंने कहा कि सभी पीडीएस दुकानों से अन्न उत्सव में सभी पात्र हितग्राहियों को खाद्यान्न वितरण सुनिश्चित करें । कलेक्टर श्री ठाकुर ने कहा कि खाद्यान्न वितरण नए बैग में हितग्राहियों को दिया जाए। श्री ठाकुर ने यह सुनिश्चित करने के निर्देश दिए कि सभी पीडीएस की दुकानें समय पर खुले। उन्होंने कहा कि अन्न उत्सव के दौरान आयोजित कार्यक्रमों में स्थानीय जनप्रतिनिधियों को आमंत्रित किया जाए।


जिले में कोविड-19 गाइडलाइन का पालन करते हुए संचालित की जा सकेगी कक्षाएं

जिले के शासकीय, अशासकीय विद्यालयों तथा शैक्षणिक संस्थानों की कक्षाएं 26 जुलाई से स्कूल शिक्षा विभाग द्वारा जारी कैलेंडर, एसओपी के अनुसार संचालित करने के कलेक्टर श्री चन्द्र मोहन ठाकुर ने निर्देश दिए हैं। स्कूल शिक्षा विभाग द्वारा जारी दिशा निर्देशों तथा कोविड-19 के प्रोटोकॉल का पालन करने की शर्तों के अनुसार कक्षाएं संचालित की जा सकती है।

संस्था प्रमुखों को दिए टीकाकरण कराने के निर्देश

उच्च शिक्षा एवं स्कूल शिक्षा विभाग के अंतर्गत आने वाले समस्त महाविद्यालय तथा विद्यालयों में कार्यरत शिक्षकों एवं कर्मचारियों का कोविड-19 टीकाकरण कार्य किया जाना है। कलेक्टर श्री चन्द्र मोहन ठाकुर ने जिले के समस्त महाविद्यालय तथा विद्यालयों शिक्षकों एवं कर्मचारियों को टीकाकरण के निर्देश सभी संस्था प्रमुखों को दिए है। यदि स्टाफ के किसी सदस्य  ने टीका नहीं लगवाया है तो तुरंत टीका लगवाने के लिए निर्देशित करें।


कोरोना वालेंटियर्स द्वारा वैक्सीनेशन अभियान में किया जा रहा है सहयोग

sehore news

मध्यप्रदेश जन अभियान परिषद सीहोर के कोरोना वालंटियर्स कोविड टीकाकरण के वैक्सीनेशन अभियान में कोरोना वालेंटियर्स घर-घर लोगों को टीका लगवाने के लिए प्रेरित कर रहें है। वॉलटियर्स टीकाकरण केन्द्रों पर भी रजिस्ट्रेशन में सहयोग कर रहें है।    इस अभियान का उद्देश्य शतप्रतिशत वैक्सीनेशन युक्त सीहोर जिला बनाना है। विकासखंड समन्वयक प्रदीप सिंह सेंगर ने कोरोना वालंटियर्स को कहा कि वॉलंटियर्स लोगों में संक्रमण के नियंत्रण के लिए वैक्सीन लगवाने के लिए घर-घर जाकर समझाकर लोगों की भ्रांतियां दूर कर रहें है। वैक्सीन ही एकमात्र बचाव है। वैक्सीनेशन सेंटर पर कोरोना वालंटियर्स रवि सोनी, रमिला परमार, पूजा सेन, प्राची सेन सहित अन्य वॉलिंटियर्स सहयोग कर रहे है।



राजपूत कृषि सेवा केन्द्र का उर्वरक लायसेंस किया निलंबित

 
राजपूत कृषि सेवा केन्द्र अहमदपुर का उर्वरक लाइसेंस तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया गया। श्यामपुर तहसील के अहमदपुर स्थित राजपूत कृषि सेवा केंद्र द्वारा नेशनल फर्टीलाईजर लिमिटेड के किसान ब्राण्ड यूरियां उर्वरक की 580 बोरी कुछ कृषकों के नाम अपूर्ण देयक जारी कर अवैध परिवहन कराया जा रहा था। अवैध परिवहन कराये जाने पर उर्वरक नियत्रंण आदेश के तहत उर्वरक की जप्ति बनाकर कलेक्टर कार्यालय में प्रस्तुत किया गया। प्रकरण में संबंधित विक्रेता का उर्वरक लायसेंस तत्काल प्रभाव से निलंबित किया गया। साथ ही जब्त उर्वरक को सेवा सहकारी समिति मर्यादित पानविहार श्यामपुर के माध्यम से विक्रय कर प्राप्त राशि को समिति के खाते में जमा करने के आदेश दिए।

जिले में आज कोई भी व्यक्ति कोरोना पॉजिटिव नहीं मिला, वर्तमान में कोरोना एक्टिव पॉजिटिव की संख्या शून्य

पिछले 24 घंटे के दौरान प्राप्त रिपोर्ट में जिले में आज कोई भी व्यक्ति कोरोना पॉजिटिव नहीं मिला है। सीएमएचओ कार्यालय से प्राप्त जानकारी के अनुसार जिले में अब तक कुल कोरोना पॉजिटिव व्यक्तियों की संख्या 10142 है। वर्तमान में एक्टिव पॉजिटिव शून्य हो गई हैं। कुल रिकवर व्यक्तियों की संख्या 10020 हैं। आज 963 सैम्पल लिए गए है। जांच के लिए सीहोर शहरी क्षेत्र से 140, श्यामपुर से 180, विकासखंड नसरुल्लागंज से 146, आष्टा से 250,  बुधनी से 122 तथा इछावर से 125 सेंपल लिए गए हैं। अभी तक कुल जांच के लिए भेजे गए सेंपल 201670 हैं जिनमें से 190174 सैंपलों की रिपोर्ट नेगेटिव आई है। आज 999 सैंपलों की रिपोर्ट निगेटिव आई है। कुल 1283 सैंपलों की रिपोर्ट आना शेष है। पैथोलॉजी द्वारा कोरोना वायरस सेंपल की रिजेक्ट संख्या कुल 71 है।

टीकाकरण महाअभियान के तहत शाम 5 बजे तक 34474 लोगों ने लगवाया कोविड टीका

जिले में कोविड टीकाकरण महाअभियान के तहत 34474 लोगों को कोविड का टीकाकरण किया गया। सीएमएचओ श्री सुधीर डेहरिया ने बताया कि जिले में सोमवारको शाम 5 बजे तक 34474 लोगों को कोविड का टीका लगाया गया। सुबह 08 बजे से ही लोग कोविड का टीका लगवाने के लिए टीकाकरण केन्द्र पहुंचने लगे। लोगों की सुविधा की दृष्टि से अनेक टीकाकरण केन्द्र बनाये गए। टीकाकरण महाअभियान में 18 वर्ष के युवा से लेकर बुजुर्गो ने भी टीका लगवाया।

जिले में जनपदवार टीकाकरण की स्थिति
जिले में कुल 34474 नागरिकों का टीकाकरण किया गया। जिले सभी विकास खंडों में कुल 140 टीकाकरण सत्र आयोजित किए गए। आष्टा में 8282, बुदनी में 4427, इछावर में 4465, नसरूल्लागंज में 7205, श्यामपुर में 6826 तथा सीहोर शहरी क्षेत्र में 3269 नागरिकों का टीकाकरण किया किया गया।

भोपाल स्मार्ट सिटी के अधिकारियों ने बुधनी नगर का निरीक्षण किया

sehore news
स्मार्ट सिटी भोपाल से आये अधिकारियों ने बुधनी नगर के प्रमुख चौराहों व बाजार के साथ ही शहर के महत्वपूर्ण क्षेत्रों का निरीक्षण किया गया। इस दौरान कलेक्टर श्री चन्द्र मोहन ठाकुर ने बुधनी नगर से संबंधित सभी महत्वपूर्ण स्थानों की जानकारियां दी। उल्लेखनीय है कि प्रदेश के नगरों को स्मार्ट सिटी बनाने की योजना के तहत वर्तमान और भविष्य की आवश्यकताओं को दृष्टिगत रखते हुए नगर के विकास की कार्ययोजना तैयार की जाना है। स्मार्ट सिटी के लिए शासकीय कार्यालयों, शासकीय भवनों, अस्पताल, स्कूल-कॉलेज, बस स्टैंड, मार्केट, मंडी, पुरातात्विक महत्व के स्थलों तथा पर्यटन स्थलों का विकास के साथ ही आदर्श एवं सुन्दर नगर लिए सभी आवश्यक आधारभूत संसाधनों के संबंध में विचार विमर्श किया गया। इस दौरान कलेक्टर श्री चन्द्र मोहन ठाकुर, सीईओ जिला पंचायत श्री हर्ष सिंह, अपर कलेक्टर श्रीमती गुंचा सनोबर सहित अन्य अधिकारी उपस्थित थे।


टीकाकरण महाअभियान के तहत 41494 लोगों ने लगवाया कोविड टीका

जिले में कोविड टीकाकरण महाअभियान के तहत 41494 लोगों को कोविड का टीकाकरण किया गया। सीएमएचओ श्री सुधीर डेहरिया ने बताया कि जिले में सोमवार को 41494 लोगों को कोविड का टीका लगाया गया। सुबह 08 बजे से ही लोग कोविड का टीका लगवाने के लिए टीकाकरण केन्द्र पहुंचने लगे। लोगों की सुविधा की दृष्टि से अनेक टीकाकरण केन्द्र बनाये गए। टीकाकरण महाअभियान में 18 वर्ष के युवा से लेकर बुजुर्गो ने भी टीका लगवाया।

जिले में जनपदवार टीकाकरण की स्थिति
जिले में कुल 41494 नागरिकों का टीकाकरण किया गया। जिले सभी विकास खंडों में कुल 140 टीकाकरण सत्र आयोजित किए गए। आष्टा में 11426, बुदनी में 4767, इछावर में 4734, नसरूल्लागंज में 7907, श्यामपुर में 9063 तथा सीहोर शहरी क्षेत्र में 3597 नागरिकों का टीकाकरण किया किया गया।


शासकीय सेवकों को एक जुलाई 2020 एवं 1 जनवरी 2021 को देय वार्षिक वेतन वृद्धि मिलेगी
  • मुख्यमंत्री श्री चौहान के निर्देश पर आदेश जारी

मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान के निर्देश पर शासकीय सेवकों को एक जुलाई 2020 एवं 1 जनवरी 2021 को देय वार्षिक वेतन वृद्धि मिलेगी। वित्त विभाग ने सभी विभागों के लिये आज इस आशय के निर्देश जारी कर दिये हैं। वित्त मंत्री श्री जगदीश देवड़ा ने कहा कि प्रदेश सरकार कर्मचारी हितैषी है प्रदेश के शासकीय अधिकारी-कर्मचारियों को मिलने वाले सभी स्वत्यों को नियमानुसार दिया जायेगा। वित्त विभाग ने स्पष्ट किया है वाषिक वेतन वृद्धि जुलाई / जनवरी माह में देय होती है। चूंकि राज्य शासन द्वारा वेतन वृद्धि को स्थगित करने या रोकने के आदेश नहीं किये गये हैं इसलिये शासकीय सेवकों को वार्षिक वेतन वृद्धियों का भुगतान पात्रता के अनुसार किया जायेगा। जिन शासकीय सेवकों की वार्षिक वेतनवृद्धि जनवरी 2022 में देय होगी उनके संबंध में भी गणना के निर्देश दिये दिये हैं। जुलाई 2020 /जनवरी 2021 की वेतन वृद्धि के वित्तीय लाभ/ एरियर्स की राशि के संबंध में अलग से निर्णय लिया जायेगा। राज्य शासन के अधीन सभी उपक्रम निगम, मंडल, स्थानीय निकाय विकास प्राधिकरण, आयोग, विश्वविद्यालय के कर्मियों को भी जुलाई 2020 और जनवरी 2021 की वार्षिक वेतनवृद्धि तत्समय देय नहीं रही थी। अत: इस संबंध में निर्देश संबंधित प्रशासकीय विभाग द्वारा अलग से जारी किये जायेंगे। वेतनवृद्धि के लिये जो फार्मूला वित्त विभाग ने दिया है उसके अनुसार यदि शासकीय सेवक का वेतनमान लेवल 12 (56100-177500) है और जून 2020 में मूल वेतन रूपये 69000 है तो एक जुलाई 2020 में काल्पनिक वार्षिक वेतनवृद्धि 71100 होगी (जिसका वास्तविक भुगतान नहीं हुआ) और एक जुलाई 2021 को देय वार्षिक वेतन वृद्धि रूपये 73200 (जुलाई 2020 की काल्पनिक वेतनवृद्धि शामिल करते हुए) प्रदाय की जायेगी। जिन शासकीय सेवकों की वार्षिक वेतनवृद्धि जनवरी 2022 में देय होगी उनकी गणना भी इसी अनुसार की जायेगी।

कोई टिप्पणी नहीं: