बिहार : बालू माफिया से साठगांठ के आरोप में 2 SP, 4 DSP समेत 13 अधिकारी सस्पेंड - Live Aaryaavart (लाईव आर्यावर्त)

Breaking

विजयी विश्व तिरंगा प्यारा , झंडा ऊँचा रहे हमारा। देश की आज़ादी के 75 वर्ष पूरे होने पर सभी देशवासियों को अनेकानेक शुभकामनाएं व बधाई। 'लाइव आर्यावर्त' परिवार आज़ादी के उन तमाम वीर शहीदों और सेनानियों को कृतज्ञता पूर्ण श्रद्धासुमन अर्पित करते हुए नमन करता है। आइए , मिल कर एक समृद्ध भारत के निर्माण में अपनी भूमिका निभाएं। भारत माता की जय। जय हिन्द।

बुधवार, 28 जुलाई 2021

बिहार : बालू माफिया से साठगांठ के आरोप में 2 SP, 4 DSP समेत 13 अधिकारी सस्पेंड

big-action-against-sand-mafia-bihar
पटना : बिहार सरकार ने बालू के अवैध खनन को लेकर बड़ी कार्रवाई की है। सरकार ने 2 एसपी, 4 डीएसपी, एक एसडीओ समेत 13 अधिकारियों को निलंबित कर दिया है। राज्य सरकार ने आरा के तत्कालीन एसपी राकेश कुमार दूबे और औरंगाबाद के तत्कालीन एसपी सुधीर कुमार पोरीका को निलंबित कर दिया है। इसके अलावा 4 डीएसपी, जिसमें पालीगंज के तत्कालीन डीएसपी तनवीर अहमद, आरा के तत्कालीन डीएसपी पंकज कुमार रावत, डिहरी के तत्कालीन एसडीपीओ संजय कुमार और औरंगाबाद सदर के तत्कालीन एसडीपीओ अनूप कुमार शामिल हैं। साथ ही सरकार ने बिहार सरकार ने कई अफसरों को सस्पेंड किया है। इनमें से बारुण के तत्कालीन CO बसंत राय, पालीगंज के तत्कालीन CO राकेश कुमार, कोइलवर के तत्कालीन CO अनुज कुमार व भोजपुर के MVI विनोद कुमार को सस्पेंड किया गया है। बिहार सरकार ने बालू माफिया से संबध रखने के आरोप में 4 तत्कालीन अनुमंडल पदाधिकारी को भी सस्पेंड किया है। भोजपुर SDPO पंकज कुमार रावत, पाली के SDPO तनवीर अहमद, डिहरी के SDPO संजय कुमार व डिहरी एसडीओ सुनील कुमार सिंह को सस्पेंड किया है। सभी प्रशासनिक अधिकारी के खिलाफ ईओयू की जांच जारी थी। जांच में तथ्य मिलने के बाद सभी को सस्पेंड किया गया है। मिली जानकारी के अनुसार इन सभी ने बालू माफिया के साठ-गांठ से बड़ी मात्रा में काली कमाई की है।

कोई टिप्पणी नहीं: