मेघालय-असम सीमा पर स्थिति नियंत्रण में : संगमा - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

मंगलवार, 27 जुलाई 2021

मेघालय-असम सीमा पर स्थिति नियंत्रण में : संगमा

control-on-assam-meghalaya-border-sangma
शिलांग/गुवाहाटी, 27 जुलाई, असम और मेघालय की अंतर राज्यीय सीमा पर तनाव बढ़ने के एक दिन बाद मेघालय के मुख्यमंत्री कोनराड संगमा ने मंगलवार को कहा कि स्थिति नियंत्रण में है। उन्होंने दोनों राज्यों के जिला प्रशासकों और लोगों से किसी भी प्रकार का आक्रामक रुख अख्तियार करने से बचने का आह्वान किया। संगमा ने कहा कि दोनों राज्य सीमा विवाद का मैत्रीपूर्ण समाधान निकालने के लिए काम कर रहे हैं और उन्होंने सोमवार तथा मंगलवार को असम के मुख्यमंत्री से बात की है। उन्होंने कहा कि जिरंग के विधायक सोस्थेनेस सोहतुन को घटनास्थल पर जाने और मामले की रिपोर्ट मेघालय सरकार को सौंपने का जिम्मा दिया गया है। इसके अलावा मेघालय के मुख्य सचिव एम एस राव और री भोई जिले के उपायुक्त को भी असम के अपने समकक्षों से बात करने का निर्देश दिया गया है। भारतीय जनता पार्टी के विधायक सनबोर शुल्लै द्वारा मंत्री के रूप में शपथ लेने के लिए आयोजित समारोह से इतर संगमा ने संवाददाताओं से कहा, “अभी स्थिति नियंत्रण में है। मैं दोनों पक्षों से शांति कायम रखने का आग्रह करता हूं क्योंकि दोनों सरकारें समस्या का मैत्रीपूर्ण समाधान निकालने के लिए काम कर रही हैं।” उन्होंने कहा, “हम स्थानीय लोगों और (दोनों तरफ के) प्रशासन से कोई भी आक्रामक रुख अख्तियार नहीं करने का आग्रह कर रहे हैं। राज्य सरकारों को मैत्रीपूर्ण समाधान निकालने का अवसर देना चाहिए।” असम और मेघालय के बीच सीमा विवाद नया नहीं है और सोमवार को उपजे तनाव के बाद मेघालय ने कथित तौर पर गुवाहाटी के खानापाड़ा इलाके में बिजली के खंबे लगाने का प्रयास किया।

कोई टिप्पणी नहीं: