बिहार : चोरी का आरोप लगा अपराधियों ने सुरेन्द्र राय की हत्या कर दी - Live Aaryaavart (लाईव आर्यावर्त)

Breaking

विजयी विश्व तिरंगा प्यारा , झंडा ऊँचा रहे हमारा। देश की आज़ादी के 75 वर्ष पूरे होने पर सभी देशवासियों को अनेकानेक शुभकामनाएं व बधाई। 'लाइव आर्यावर्त' परिवार आज़ादी के उन तमाम वीर शहीदों और सेनानियों को कृतज्ञता पूर्ण श्रद्धासुमन अर्पित करते हुए नमन करता है। आइए , मिल कर एक समृद्ध भारत के निर्माण में अपनी भूमिका निभाएं। भारत माता की जय। जय हिन्द।

गुरुवार, 29 जुलाई 2021

बिहार : चोरी का आरोप लगा अपराधियों ने सुरेन्द्र राय की हत्या कर दी

surendra-murder-patna
पटना. पाटलिपुत्र थाना क्षेत्र में है मैनपुरा मोहल्ला.यहां पर दबंगों का वर्चस्व है.इस दबंग का कहर हवा हवाई चलाने वाले ई रिक्शा चालक सुरेंद्र राय पर बरपा.10 हजार रुपये चोरी का आरोप लगाकर अपराधियों ने सुरेन्द्र राय की हत्या कर दी.वह भी उसकी मां और पत्नी के सामने कर दी. इस घटना के बाद आक्रोशित परिजनों ने शव रखकर सड़क जाम कर दिया. दबंग सुरेंद्र राय को रस्सी से बांधकर डंडा से पिटायी करने लगा. जबतक की वह दम नहीं छोड़ा.सुरेन्द्र की मां और पत्नी भी सामने में छटपटाती रह गई, लेकिन अपराधियों ने उनकी एक ना सुनी और उसकी बेरहमी से पिटाई करते रहे. राजधानी पटना में अपराध थमने का नाम नहीं ले रहा है. मामला पाटलिपुत्र थाना क्षेत्र के मैनपुरा इलाके का है, जहां 10 हजार रुपये चोरी का आरोप लगाकर अपराधियों ने सुरेन्द्र राय की हत्या उसकी मां और पत्नी के सामने कर दी. इस घटना के बाद आक्रोशित परिजनों ने शव रखकर सड़क जाम कर दिया.


घटना के बारे में बताया जाता है कि सुरेन्द्र बुधवार की रात खाना खाने के लिए घर आया था, तभी कुछ युवक उसे बुलाकर गंगाघाट की तरफ ले गए. सुरेन्द्र का घर भी गंगाघाट के पास ही है. इसके बाद उस पर 10 हजार रुपये चोरी करने का आरोप लगाकर उसे बांधकर पीटने लगे. सुरेन्द्र की मां और पत्नी भी सामने में छटपटाती रह गई, लेकिन अपराधियों ने उनकी एक ना सुनी और उसकी बेरहमी से पिटाई करते रहे. घटना की जानकारी मिलते ही आनन-फानन में स्थानीय लोगों ने गंभीर रूप से घायल सुरेन्द्र को पीएमसीएच में भर्ती करवाया, जहां इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई. इस घटना के बाद आक्रोशित परिजनों और ग्रामीणों ने पोस्टमार्टम के बाद शव को मैनपुरा से कुर्जी जाने वाली सड़क पर रखकर यातायात को घंटों बाधित रखा. "इस मामले में संलिप्त दो अपराधियों को गिरफ्तार किया जा चुका है. इनमें से एक का नाम सोनालाल है. तीसरे अपराधी की तलाश की जा रही है. इधर आक्रोशित परिजनों को समझाने-बुझाने का प्रयास किया जा रहा है." -मो. अहमद खान, डीएसपी लॉ एंड ऑर्डरसड़क जाम की सूचना मिलते ही तीन थानों की पुलिस मौके पर पहुंच गई. डीएसपी स्तर के कर्मचारी के साथ मौके पर भारी संख्या में सुरक्षाबल गए और लोगों को समझाने-बुझाने के बाद जाम शांत करवाया जा सका. इस घटना के बारे में स्थानीय लोगों ने बताया कि मृतक सुरेन्द्र उस वक्त गंगाघाट पर शराब की पार्टी कर रहा था और उसके बाद घर लौटा था, तभी उसे फिर से कुछ लोग बुलाकर ले गए और पिटाई कर दी. सुरेन्द्र 35 साल का था. वह ई-रिक्शा चलाने का काम करता था. उसकी तीन बेटियां और एक बेटा है. परिजनों ने कहा कि सुरेन्द्र की कमाई से ही घर चलता था. अब इन मासूमों का लालन-पालन कौन करेगा. परिजनों ने पुलिसवालों पर भी लापरवाही का आरोप लगाया है. सुरेंद्र राय की बेटी आंचल कुमारी कहती हैं कि हमलोग नानी के घर गये थे.हमलोग तीन बहन और एक भाई हैं.एक बहन दिव्यांग है.

कोई टिप्पणी नहीं: