झारखण्ड : यूएपीए का इस्तेमाल कर जेल में बंद कर मारने का काम : दीपांकर - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शनिवार, 10 जुलाई 2021

झारखण्ड : यूएपीए का इस्तेमाल कर जेल में बंद कर मारने का काम : दीपांकर

uapa-misusing-government
रांची. भाकपा माले के राष्ट्रीय महासचिव दीपांकर भट्टाचार्य ने फादर स्टेन की मौत के विरोध में देश भर में उठ रहे आवाज को संगठित करने पर जोर दिया.  उन्होंने कहा केंद्र सरकार के खिलाफ उठे आक्रोश को संगठित राजनीतिक दिशा देने की जरूरत है जिसकी पहल झारखंड से होनी चाहिए. उन्होंने कहा एकजुट होकर ही केंद्र के खिलाफ आवाज उठाई जा सकती है. ह्यूमन राइट्स एक्टिविस्ट (Human Rights Activist) फादर स्टेन स्वामी (Father Stan Swamy) की मौत के बाद राजनीतिक पार्टियों का विरोध तेज हो गया है.भाकपा माले ने प्रदेश कार्यालय में फादर स्टेन स्वामी को श्रद्धांजलि दी. इस दौरान माले ने स्टेन स्वामी की मौत को सत्ता प्रायोजित हत्या करार दिया. भाकपा माले के राष्ट्रीय महासचिव दीपांकर भट्टाचार्य ने स्टेन स्वामी को श्रद्धांजलि अर्पित करने के बाद उनकी मौत के लिए केंद्र सरकार को जिम्मेदार ठहराया. उन्होंने कहा विचाराधीन कैदियों और विस्थापन के सवाल पर लगातार लड़ने वाले योद्धा स्टेन स्वामी को केंद्र की सरकार ने विचाराधीन बंदी और विस्थापित करके मार डाला, ताकि सभी जन आंदोलन करने वाले भयभीत हो सकें और अपने हक के लिए आवाज नहीं उठा सके. दीपांकर भट्टाचार्य ने कहा जो भी लोग असहमति और विरोध का स्वर ऊंचा कर रहे हैं, उसे केंद्र सरकार एनआईए ( National Investigation Agency)और यूएपीए (Unlawful Activities Prevention Act)का इस्तेमाल कर जेल में बंद कर मारने का काम कर रही है.

कोई टिप्पणी नहीं: