मधुबनी : जिले की कई महत्वपूर्ण नदियां खतरे के निशान से ऊपर - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

मंगलवार, 13 जुलाई 2021

मधुबनी : जिले की कई महत्वपूर्ण नदियां खतरे के निशान से ऊपर

madhubani-river-cross-denger-level
मधुबनी, 13 जुलाई, आज दिनांक-13.07.2021 को जिलान्तर्गत बाढ़ की स्थिति के सम्बन्ध में महत्वपूर्ण नदियों यथा धौंस नदी खतरे के निशान से 0.38 मीटर ऊपर एवं कमला बलान नदी, झंझारपुर में खतरे के निशान से 0.25 मीटर ऊपर बह रही है l भूतही बलान एवं जयनगर में कमला बलान की स्थिति के निशान से नीचे बहने की स्थिति में है l जिले में पिछले 24 घंटे में 0.2 मीo मीo वर्षापात हुई है, वहीं जिला से सटे नेपाल के वैसे क्षेत्र जो जिला के नदियों को प्लावित करती है, में 6.69 मीo मीo वर्षा की सूचना प्राप्त है l जिला के बिस्फी प्रखंड एवं बेनीपट्टी प्रखंड में बारिश का पानी कतिपय पंचायतों में जमा है परन्तु बसावटों के अंदर जल जमाव के कारण विस्थापन की समस्या नहीं है l माधवापुर अंचल अंतर्गत क्षतिग्रस्त बांध की मरम्मती का कार्य कराया जा रहा है l बनाही को जाने वाली सड़क करहारा से मल्लाह टोल है एवं दूसरी तरफ नवटोलिया को जाने वाली पथ कुर्सी से बसीपट्टी है l उक्त दोनों कटाव का मोटरेबूल होने की सूचना कार्यपालक अभियंता ग्रामीण कार्य विभाग, कार्य प्रमंडल झंझारपुर द्वारा दी गई है l जिला अंतर्गत कुल 3869.74 हेक्टेयर में धान का विचड़ा जल जमाव से प्रभावित हुई, जिसमें 33% से अधिक प्रभावित रकवा 983.36 हेक्टेयर है l इसी प्रकार धान रोपनी से सम्बंधित कुल प्रभावित रकवा 11705.04 हेक्टेयर है जिसमें 33% से अधिक प्रभावित रकवा 9286.96 हेक्टेयर है l

कोई टिप्पणी नहीं: