अगर शास्त्री अच्छा प्रदर्शन रहे हैं तो हटाने की क्या जरूरत है : कपिल - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

सोमवार, 5 जुलाई 2021

अगर शास्त्री अच्छा प्रदर्शन रहे हैं तो हटाने की क्या जरूरत है : कपिल

no-need-to-remove-shastri-kapil-dev
नयी दिल्ली, पांच जुलाई, भारत के पूर्व कप्तान कपिल देव का मानना है कि अगर रवि शास्त्री अच्छे नतीजे दे रहे हैं तो उन्हें भारतीय क्रिकेट टीम के मुख्य कोच के पद से हटाने की कोई वजह नहीं है । अक्टूबर नवंबर में संयुक्त अरब अमीरात में होने वाले टी20 विश्व कप के बाद शास्त्री का करार खत्म होने वाला है ।उनका आगे इस पद पर बने रहना इस बात पर भी निर्भर करता है कि वह फिर से आवेदन करना चाहते हैं या नहीं । ऐसी अटकलें हैं कि बीसीसीआई राष्ट्रीय क्रिकेट अकादमी के मौजूदा प्रमुख राहुल द्रविड़ को मुख्य कोच बना सकता है जो इस समय सीमित ओवरों की श्रृंखला के लिये टीम के साथ श्रीलंका दौरे पर हैं । कपिल ने कहा ,‘‘ मुझे नहीं लगता कि इस बारे में अभी बात करने की जरूरत है । देखते हैं कि श्रीलंका में प्रदर्शन कैसा रहता है ।’’ उन्होंने कहा ,‘‘ नये काोच को तैयार करने में कोई बुराई नहीं है । लेकिन अगर रवि शास्त्री अच्छा प्रदर्शन कर रहे हैं तो उन्हें हटाने की भी कोई वजह नहीं है । इससे कोचों और खिलाड़ियों पर अनावश्यक दबाव बनता है ।’’ शास्त्री के कोच रहते भारत ने आस्ट्रेलिया में दो बार टेस्ट श्रृंखला जीती । टीम 2019 विश्व कप के सेमीफाइनल और विश्व टेस्ट चैम्पियनशिप के फाइनल में पहुंची जहां उसे न्यूजीलैंड ने हराया । विराट कोहली की अगुवाई में भारतीय टीम इंग्लैंड में पांच टेस्ट मैचों की श्रृंखला खेलेगी जबकि शिखर धवन की कप्तानी में टीम श्रीलंका में सीमित ओवरों की श्रृंखला खेलेगी । कपिल ने कहा ,‘‘ भारत के पास खिलाड़ियों का बड़ा पूल है । अगर खिलाड़ियों को मौका मिलता है और भारत इंग्लैंड और श्रीलंका में दो अलग अलग टीमें उतारकर जीत सकता है तो इससे बेहतर क्या होगा ।’’

कोई टिप्पणी नहीं: