सीहोर (मध्यप्रदेश) की खबर 31 जुलाई - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शनिवार, 31 जुलाई 2021

सीहोर (मध्यप्रदेश) की खबर 31 जुलाई

सेवावधि कार्यकाल 62 वर्ष पूर्ण होने पर कार्यालयीन स्टॉक साथियों द्वारा भावभिनी विदाई


sehore news
सीहोर सहकारिता विभाग सीहोर के कार्यरत सहायक पंजीयक श्री एन. के. शाक्य एवं सहकारी निरीक्षक के पद पर कार्यरत श्री डी. सी. जैन का सेवावधि कार्यकाल 62 वर्ष पूर्ण होने पर कार्यालयीन स्टॉक साथियों द्वारा भावभिनी विदाई दी गई । इस अवसर पर कार्यालय में श्री भूपेन्द्र प्रताप सिंह उपायुक्त सहकारिता द्वारा सभी साथियों की उपस्थिति में  वृक्षारोपण किया गया । तत्पश्चात भूपेन्द्र प्रताप सिंह उपायुक्त सहकारिता द्वारा सम्बोधित करते हुए कहाकि शाक्य जी सहायक पंजीयक पदपर भोपाल राजधानी में 5 वर्ष रहे । इसी से उनके कार्यप्रणाली समझ सकते हैं । यह मिलनसार मृदुभाषी रहे हैं । सीहोर में 5 माह का कार्यकाल रहा है। श्री डी. सी. जैन सहकारी निरीक्षक पदपर 1985 से सीहोर में पदस्थ हुए और मात्र 1 वर्ष बाहर रहे । श्री जैन के अपने कार्य पूर्ण निष्ठा, लगन से किया में हमारे दोनों साथियों की उज्जवल भविष्य की कामना करता हूँ और समाजसेवा आध्यात्म की ओर रहे । जिला सहकारी संघ मर्यादित सीहोर के मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्री तेजसिंह ठाकुर द्वारा दोनों अधिकारियों का साथ एवं श्रीफल द्वारा सम्मान किया । इस अवसर पर कार्यालयीन कर्मचारी गण उपस्थित रहे तथा श्री जैन. को बैंण्ड बाजे के साथ घर तक छोड़ा गया ।

अन्याय अत्याचार बेरोजगारी और मंहगाई का लेकर प्रसपा करेगी कलेक्ट्रेट का घेराव, जिले में जारी है बैठकों का दौर


sehore news
सीहोर। प्रदेश में बढ़ते अन्याय अत्याचार बेरोजगारी और बढ़ती मंहगाई को लेकर प्रजातांत्रिक समाधान पार्टी जिला मुख्यालय पर आगामी 7 अगस्त जंगी प्रदर्शन करेगी। प्रदर्शन की तैयारियों को लेकर पूरे जिले में प्रसपा नेताओं कार्यकर्ताओं के द्वारा बैठके आयोजित की जा रही है। कार्यकर्ताओं को एकजुट किया जा रहा है। इछावर विधानसभा क्षेत्र में प्रसपा नेता राजेश मालवीय के नेतृत्व में कार्यकर्ताओं की विशेष बैठक का आयोजित की गई। प्रसपा राष्ट्रीय अध्यक्ष कमल सिंह चौहान ने कहा की प्रदेश में कमजोर वर्ग पर अत्याचार किया जा रहा है अबतक कई मामले सामने आ चुके है। इसी प्रकार शिक्षित युवा बेरोजगारी से परेशान है सरकार उन्होन रोजगार उपलब्ध कराने में नाकाम है। बढ़ती मंहगाई ने भी गरीब मजदूर तबके का जीना मुश्किल हो गया है। पेट्रोल डीजल रसोई गैस और अन्य खाद्यन्न सामग्री की कीमतों को लगातार बढाया जा रहा है। जिस कारण काफी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। इन्ही सब मुददों को लेकर 7 अगस्त शनिवार को प्रदर्शन किया जाएगा। 

विश्व स्तनपान सप्ताह का आयोजन आज से


स्तनपान शिशुओं को आवश्यक पोषण प्रदान करने का सबसे अच्छा तरीका है। स्तनपान को प्रोत्साहित करने और दुनियाभर के शिशुओं के स्वास्थ्य में सुधार लाने के लिए हर वर्ष एक से 7 अगस्त तक विश्व स्तनपान सप्ताह मनाया जाता है। संचालक महिला-बाल विकास श्रीमती निधि निवेदिता ने बताया कि मध्यप्रदेश में प्रति वर्ष जन्म लेने वाले 14 लाख बच्चों में से केवल 4.8 लाख बच्चों को जन्म के तुरंत बाद जीवन रक्षक खीस कोलोस्ट्रम मिलता है। लगभग 9 लाख बच्चे इससे वंचित रहते हैं। उन्होंने बताया कि केवल 8 लाख बच्चों को 6 माह तक माँ का दूध दिया जाता है, 5.8 लाख बच्चे इससे वंचित रह जाते हैं। जन्म से 24 घंटे के बाद स्तनपान शुरू कराने से शिशुओं के मौत का खतरा 2.4 गुना बढ़ जाता है। श्रीमती निवेदिता ने बताया कि स्तनपान एवं ऊपरी आहार से शिशु मृत्यु दर में 19 प्रतिशत की कमी लाई जा सकती है। समाज को भी अपनी जिम्मेदारी निभानी होगी। परिवार के सदस्यों को यह समझना आवश्यक है कि स्तनपान विशेष रूप से विभिन्न संक्रामक बीमारियों से बचाने में सक्षम है, क्योंकि यह सीधे माँ से रोग प्रतिकारक क्षमता को स्थानांतरित करके शिशु की रोग प्रतिरोधक प्रणाली को मजबूत कर देता है। संचालक श्रीमती निधि निवेदिता ने बताया कि विश्व स्तनपान सप्ताह पर सभी जिलों में साप्ताहिक वेबिनार, स्थानीय भाषा में स्लोगन का पोस्टर एवं वीडियो का प्रचार, मीडिया का संवेदीकरण, स्तनपान कराने वाली महिलाओं को सफल गाथाओं का संकलन कर रेडियो में प्रसारण, डिजिटल पिक्चर स्टोरी प्रतियोगिता, पोषण प्रशिक्षण आदि कार्यक्रम आयोजित होंगे।


जिले में 98 प्रतिशत बोवनी का कार्य हुआ पूरा, कृषि विभाग की समीक्षा बैठक हुई सम्पन्न


sehore news
किसान कल्याण तथा कृषि विकास भोपाल के संयुक्त संचालक श्री बीएल बिलैया ने सीहोर में बैठक आयोजित कर में मूंग उपार्जन प्रगति की समीक्षा की। उन्होंने खरीफ में बोये गये रकबे की विकासखंड वार प्रगति की समीक्षा की गई। अभी तक जिले में 98 प्रतिशत बोवनी हो चुकी हैं। बुदनी विकासखंड में लगभग 10 हजार हेक्टर में बोवनी शेष हैं, यदि धान की रोपाई हो जाती हैं, तो लक्ष्य के अनुरूप बोनी हो जाएगी। योजनाओं के अंतर्गत राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा मिशन तिलहन एवं दलहन की प्रगति की समीक्षा की। श्री बिलैया ने खरीफ में जो भी लक्ष्य प्राप्त हुए है, उन्हें इसी माह में पूर्ण करने के निर्देश दिए। ताकि रबी कार्यक्रम की तैयारी हो सकें। परियोजना संचालक आत्मा सीहोर के कार्यालय का निरीक्षण किया गया। बैठक में उप संचालक कृषि श्री रामशंकर जाट, सहायक संचालक कृषि श्री अनिल जाट, सहायक संचालक कृषि श्रीमती मिनी चौकसे सहित समस्त वरिष्ठ कृषि विकास अधिकारी उपस्थित थे।


जिले में अब तक 487.1 मिलीमीटर औसत वर्षा दर्ज, बीते 24 घंटे में 0.9 मिलीमीटर औसत वर्षा


जिले में 01 जून से 31 जुलाई 2021 तक 487.1 मिलीमीटर औसत वर्षा दर्ज की गई। जो कि गत वर्ष  इसी अवधि में औसत वर्षा 420.4 मिलीमीटर थी। गत वर्ष की तुलना में इस वर्ष 66.7 मिलीमीटर औसत वर्षा अधिक हुई है। जिले की वर्षा ऋतु में सामान्य औसत वर्षा 1148.4 मिलीमीटर है। अधीक्षक भू-अभिलेख द्वारा दी गई जानकारी के अनुसार 01 जून से 31 जुलाई 2021 तक जिले के वर्षामापी केन्द्र सीहोर में 478.3 मिलीमीटर,  श्यामपुर में 550.0, आष्टा में 472.0 जावर में 442.0, इछावर में 483.0, नसरूल्लागंज में 495.0,  बुधनी में 597.0, रेहटी में 379.0 मिलीमीटर वर्षा दर्ज की गई है।


बीते 24 घंटे में 0.9 मिलीमीटर औसत वर्षा

जिले में बीते 24 घंटे में प्रात: 08 बजे तक 0.9 मिलीमीटर औसत वर्षा दर्ज की गई। वर्षामापी केन्द्र सीहोर में 0.0 मिलीमीटर, श्यामपुर में 0.0, आष्टा में 0.0 जावर में 0.0, इछावर में 0.0, नसरूल्लागंज में 1.0, बुधनी में 4.0, रेहटी में 2.2 मिलीमीटर वर्षा दर्ज की गई है।


प्रधान जिला एवं सत्र न्यायाधीश ने तहसील न्यायालय नसरूल्लागंज, इछावर का किया दौरा


जिले के तहसील न्यायालय नसरूल्लागंज तथा इछावर का प्रधान जिला एवं सत्र न्यायाधीश तथा जिला विधिक सेवा प्राधिकरण के अध्यक्ष श्री आरएन चंद ने भ्रमण किया। उन्होंने आगामी माह में 11 सितंबर को आयोजित होने वाली नेशनल लोक अदालत में अधिक से अधिक प्रकरण निराकरण के लिए रखे जाने के लिए कहा। साथ ही कोविड-19 के वैक्सीनेशन अभियान कार्यक्रम को सफल बनाने के निर्देश दिए।


जिले में आज कोई भी व्यक्ति कोरोना पॉजिटिव नहीं मिला, वर्तमान में कोरोना एक्टिव पॉजिटिव की संख्या शून्य


पिछले 24 घंटे के दौरान प्राप्त रिपोर्ट में जिले में आज कोई भी व्यक्ति कोरोना पॉजिटिव नहीं मिला है। सीएमएचओ कार्यालय से प्राप्त जानकारी के अनुसार जिले में अब तक कुल कोरोना पॉजिटिव व्यक्तियों की संख्या 10142 है। वर्तमान में एक्टिव पॉजिटिव शून्य हो गई हैं। कुल रिकवर व्यक्तियों की संख्या 10020 हैं। आज 1036 सैम्पल लिए गए है। जांच के लिए सीहोर शहरी क्षेत्र से 209, श्यामपुर से 165, विकासखंड नसरुल्लागंज से 173, आष्टा से 234,  बुधनी से 144 तथा इछावर से 111 सेंपल लिए गए हैं। अभी तक कुल जांच के लिए भेजे गए सेंपल 206718 हैं जिनमें से 195249 सैंपलों की रिपोर्ट नेगेटिव आई है। आज 1265 सैंपलों की रिपोर्ट निगेटिव आई है। कुल 1256 सैंपलों की रिपोर्ट आना शेष है। पैथोलॉजी द्वारा कोरोना वायरस सेंपल की रिजेक्ट संख्या कुल 71 है।


सभी पात्र व्यक्ति अपना वैक्सीनेशन अवश्य कराएं - जिला न्यायाधीश श्री चंद


sehore news
तहसील न्यायालय परिसर इछावर में कोरोना वायरस कोविड-19 के वैक्सीनेशन कार्यक्रम सफलता पूर्वक सम्पन्न हुआ। प्रधान जिला न्यायाधीश एवं जिला विधिक सेवा प्राधिकरण अध्यक्ष श्री आरएन चंद ने कहा कि सभी पात्र व्यक्ति अपना वैक्सीनेशन अवश्य कराएं। न्यायालय में श्री चंद की उपस्थिति में टीकाकरण कार्यक्रम में न्यायिक कर्मचारी, अधिवक्तागण, पैरालीगल वालंटियर्स तथा पक्षकार सहित 21 व्यक्तियों ने वैक्सीन लगवाई ।


नेशनल लोक अदालत में प्रकरणों का निराकरण कराकर विवादों से मुक्ति पाएं - प्रधान जिला न्यायाधीश श्री चंद


sehore news
11 सितंबर को आयोजित होने वाली नेशनल लोक अदालत को सफल बनाने के लिए प्रधान जिला न्यायाधीश एवं जिला विधिक सेवा प्राधिकरण अध्यक्ष श्री आरएन चंद ने भ्रमण के दौरान तहसील न्यायालय इछावर तथा नसरूल्लागंज में पदस्थ न्यायाधीशों से वन टू वन चर्चा की। नेशनल लोक अदालत से संबंधित आवश्यक दिशा निर्देश दिए और अधिवक्ताओं से नेशनल लोक अदालत में सहयोग प्रदान करने की अपील की। 

सीहोर शहरी क्षेत्र में लक्ष्य अनुसार हुआ शत प्रतिशत टीकाकरण, 83 हजार 840 को लगा टीका, सांसद, विधायक तथा कलेक्टर ने दी बधाई

sehore news
सीहोर नगरीय क्षेत्र में लक्ष्य के अनुरूप 18 वर्ष से अधिक आयु वर्ग के 83840 नागरिकों का टीकाकरण कर शत-प्रतिशत टीकाकरण वाली नगर पालिका बन गयी है। सीहोर नगरीय क्षेत्र के शत-प्रतिशत टीकाकरण के लिए मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान द्वारा टीकाकरण की प्रतिदिन की जा रही मॉनिटरिंग के साथ ही सांसद साध्‍वी प्रज्ञा ठाकुर और विधायक श्री सुदेश राय की महत्वपूर्ण भूमिका रही। टीकाकरण में जिला प्रशासन के साथ ही जनप्रतिनिधियों, समाजसेवियों, धर्मगुरुओं तथा कोरोना वालेंटियर्स ने सक्रिय भूमिका निभाई। सभी के समन्वित परिणामों से ही लक्ष्य के अनुरूप शत प्रतिशत टीकाकरण किया गया। सीहोर नगरीय क्षेत्र के टीकाकरण के लिए सांसद सांसद साध्वी प्रज्ञा ठाकुर, विधायक श्री सुदेश राय, कलेक्टर श्री चन्द्र मोहन ठाकुर ने नागरिकों तथा टीकाकरण टीम को बधाई दी है।



ऐसे संभव हुआ शत-प्रतिशत टीकाकरण

टीकाकरण के लिए सघन जन जागरूकता अभियान चलाया गया। जनप्रतिनिधियों, समाज सेवियों तथा धर्मगुरुओं की लगातार अपीलों के साथ ही जिला प्रशासन की टीम के लोगों ने घर घर जाकर लोगों को टीका लगवाने के लिए आमंत्रण पत्र दिये। टीका लगवाने घर के दरवाजे पर पीले चावल देकर टीका लगवाने का मनुहार किया। टीके को लेकर लोगों की भ्रांतियां दूर की। इसके साथ ही आवागमन करने वाले लोगों की सुविधा के लिए पेट्रोल पंप पर भी टीकाकरण केन्द्र बनाया। अधिकारी कर्मचारी मतदाता सूची लेकर घर घर पहुंचे।



निर्धारित लक्ष्य से अधिक किया गया टीकाकरण

सीहोर शहरी क्षेत्र में लक्ष्य के विरूद्ध शत प्रतिशत हितग्राहियों का कोविड-19 टीकाकरण किया गया। शहरी क्षेत्र के लिए 82 हजार 660 हितग्राहियों का लक्ष्य निर्धारित किया गया था। जिसके विरूद्ध 83 हजार 840 हितग्राहियों को वैक्सीन का प्रथम डोज लगाया जा चुका है जो निर्धारित लक्ष्य का 101 प्रतिशत है।


शहरी क्षेत्र में टीकाकरण स्थिति

सीहोर में 1252 हेल्थ केयर वर्कर, 2039 फ्रंट लाईन वर्कर,18 से 44 वर्ष आयु के 55 हजार 871 हितग्राही, 45 से 60 वर्ष आयु के 15802 तथा 60 वर्ष से अधिक आयु वाले 8876 व्यक्तियों को टीके का प्रथम डोज लगाया जा चुका है। सीहोर शहरी क्षेत्र के 32 स्थानों को चिन्हित कर सत्र आयोजित किए गए।



टीकाकरण महाअभियान के तहत 28482 लोगों ने लगवाया कोविड टीका


sehore news

जिले में कोविड टीकाकरण महाअभियान के तहत 28482 लोगों को कोविड का टीकाकरण किया गया। सीएमएचओ श्री सुधीर डेहरिया ने बताया कि जिले में शनिवार को 28482 लोगों को कोविड का टीका लगाया गया। सुबह 08 बजे से ही लोग कोविड का टीका लगवाने के लिए टीकाकरण केन्द्र पहुंचने लगे। लोगों की सुविधा की दृष्टि से अनेक टीकाकरण केन्द्र बनाये गए। टीकाकरण महाअभियान में 18 वर्ष के युवा से लेकर बुजुर्गो ने भी टीका लगवाया।

 

जिले में जनपदवार टीकाकरण की स्थिति

जिले में कुल 28482 नागरिकों का टीकाकरण किया गया। जिले में कुल 125 टीकाकरण सत्र आयोजित किए गए। आष्टा में 8719, बुधनी में 4259, इछावर में 3238, नसरूल्लागंज में 5772, श्यामपुर में 4210 तथा सीहोर शहरी क्षेत्र में 2284 नागरिकों का टीकाकरण किया किया गया।



कोरोना वालंटियर कर रहे है वैक्सीनेशन में सहयोग


मध्यप्रदेश जन अभियान परिषद के कोरोना वालंटियर टीकाकरण अभियान में निरंतर सहयोग कर रहे है। टीकाकरण अभियान के लिए पात्र व्यक्तियों को प्रेरित करने के लिए अभियान चलाया जा रहा है। विकासखंड समन्वयक प्रदीप सिंह सेंगर ने बताया कि इस अभियान का उद्देश्य जिले में शत प्रतिशत टीकाकरण कराना है। अभियान को सफल बनाने में जन अभियान परिषद के कोरोना वालंटियर अपनी भूमिका निभा रहे है। लोगों के सहयोग के लिए टीकाकरण सेंटरों पर कोरोना वॉलंटियर सहयोग कर रहें है।



दाल भंडारण की अधिकतम सीमा निर्धारित, फुटकर व्यापारी 5 मीट्रिक टन तो थोक व्यापारी 500 मीट्रिक टन दाल का कर सकेंगे भंडारण

 

दालों की उचित मूल्य पर उपलब्धता के लिए थोक व्यापारियों के लिए दालों (मूंग डॉलर चना छोड़कर) की भंडारण की अधिकतम सीमा 500 मीट्रिक टन सुनिश्चित की गई है। जबकि खुदरा या फुटकर व्यापारी 5 मीट्रिक टन तक दाल का भंडारण कर सकेंगे। दाल भंडारण की अधिकतम सीमा के बारे में खाद्य नागरिक आपूर्ति एवं उपभोक्ता संरक्षण विभाग के प्रमुख सचिव श्री फैज अहमद किदवई ने बताया कि यह सीमा 31 अक्टूबर 2021 तक के लिए सुनिश्चित की गई है। उन्होंने ने बताया कि थोक व्यापारी अधिकतम 500 मेट्रिक टन दालों का भंडारण कर सकेगा। इसमें एक किस्म की दाल अधिकतम 200 मेट्रिक टन तक ही भंडारित कर सकेंगे। उन्होंने बताया कि इसके लिए विधिक इकाइयां को इसकी घोषणा उपभोक्ता मामलों की वेब पोर्टल पर दर्ज कराना होगी। यदि उनके पास धारित स्टॉक सीमा से अधिक होगा तो उन्हें अधिसूचना जारी होने की तिथि से 30 दिनों के भीतर स्टॉक निर्धारित सीमा में लाना होगा। प्रमुख सचिव श्री किदवई ने कहा कि सीमा का यह प्रतिबंध आयातित दालों पर लागू नहीं होगा परंतु इसके लिए आयातक को उपभोक्ता मामलों के वेब पोर्टल fcainfo.nic.in पर दाल के स्टॉक की घोषणा करना होगी। उन्होंने कहा कि व्यापारी को स्टॉक रजिस्टर मेंटेन करना  होगा।  उपलब्ध  स्टॉक को बेचने से व्यापारी मना नहीं कर सकेगा। व्यापारी को अपनी दुकान पर स्टॉक की उपलब्धता संबंधी विवरणिका भी लगाना होगी। कोई भी व्यापारी नियमों का उल्लंघन नहीं कर सकेगा ऐसा करता पाए जाने पर उसके विरुद्ध वैधानिक कार्रवाई की जाएगी।

कोई टिप्पणी नहीं: