बिहार : बाढ़ प्रभावित इलाकों में “नाव पर टीका” - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

मंगलवार, 20 जुलाई 2021

बिहार : बाढ़ प्रभावित इलाकों में “नाव पर टीका”

vaccination-on-boat-in-flood-area
पटना : बिहार में कोरोना के टीकाकरण को लेकर लगातार मुहिम चलाई जा रही है। राजधानी पटना में सरकारी डाटा के अनुसार लगभग 75 फीसदी लोगों को टीका लग चुका है। इसी कड़ी में अब बिहार में बाढ़ प्रभावित इलाकों में कोरोना टीकाकरण को रफ्तार देने के लिए नाव का सहारा लेकर टीका दिया जा रहा है। मालूम हो कि बिहार के खगड़िया जिले में हर साल बाढ़ आती है। इस बार भी वहां बाढ़ ने दस्तक दी है। जिसके कारण आम जनजीवन अस्त व्यस्त हो गया है। इसी बीच सात नदियों से घिरे खगड़िया जिले में स्वास्थ्य विभाग ने बड़ी पहल की है। दरअसल , बाढग्रस्त इलाकों के लिए स्वास्थ्य सुविधा पहुंचाना स्वास्थ्य विभाग और जिला प्रशासन के लिए बड़ी चुनौती बनी हुई रहती है। लेकिन कोरोना टीकाकरण को लेकर जिले में एक अभियान चला हुआ है। इस अभियान के तहत बाढ़ प्रभावित इलाकों के लोगों में शत प्रतिशत टीकाकरण के लिए खगड़िया जिला प्रशासन और स्वास्थ्य विभाग ने टीका वाली नाव को रवाना किया है। खगड़िया डीएम आलोक रंजन घोष ने इस नाव को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया। वहीं कोरोना का टीका के साथ-साथ इस नाव पर प्राथमिक उपचार के लिए सभी कीट रखे हुए हैं। नौका को सुसज्जित तरीके से बनाया गया है। नौका पर सभी स्वास्थ्यकर्मियों को लाइफ जैकेट भी दिया गया है। खगड़िया डीएम आलोक रंजन घोष ने बताया कि बहुत सारे ऐसे जगह है जहां तक सिर्फ नाव से ही पहुंचा जा सकता है, ऐसे में इस नाव से टीकाकरण को लेकर काफी मदद मिलेगी। इस नौका पर पुरी मेडिकल टीम की तैनाती की गई है। यह नौका एंबुलेंस का भी काम करेगी और आवश्यकता पड़ने पर मरीजों को अस्पताल तक पहुंचाने में सहायता करेगी और यह प्रतिदिन संचालित की जाएगी।

कोई टिप्पणी नहीं: