विदिशा (मध्यप्रदेश) की खबर 14 अगस्त - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शनिवार, 14 अगस्त 2021

विदिशा (मध्यप्रदेश) की खबर 14 अगस्त

वरिष्ठ कांग्रेसजनों का सम्मान समारोह आज सायं 4 बजे


विदिशाः- भारत की आजादी की 75वीं वर्षगांठ के ऐतिहासिक अवसर पर विदिशा विधानसभा क्षेत्र के 70 वर्ष की आयु पूर्ण कर चुके वरिष्ठ कांग्रेसजनों का सम्मान समारोह आज (15 अगस्त 2021) सायं 4 बजे स्थानीय शहनाई गार्डन में आयोजित किया जायेगा। इस अवसर पर विधायक शशांक भार्गव राष्ट्र समाज व कांग्रेस पार्टी की मजबूती के लिए विगत 70 वर्षाें से निस्वार्थ भाव से सक्रिय भागीदारी निभा रहे वरिष्ठ कांग्रेसजनों को सम्मानित करेगें। ब्लाॅक कांग्रेस अध्यक्ष एवं समस्त मोर्चा संगठन अध्यक्षों ने समस्त कांग्रेस पदाधिकारियों एवं कार्यकर्ताओं से कार्यक्रम में शामिल होने की अपील की है। 


कांग्रेस का झण्डाबंधन प्रातः 8.30 बजे नीमताल पर 


विदिशाः- भारत की आजादी के 75 वे स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर जिला कांग्रेस सेवादल द्वारा स्थानीय गांधी प्रतिमा चैराहे पर प्रातः 8ः30 बजे ध्वजारोहण एवं प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ जी के संदेश का वाचन किया जायेगा। जिला कांग्रेस सेवादल अध्यक्ष ब्लाॅक एवं शहर कांग्रेस कमेटी अध्यक्ष ने समस्त कांग्रेस पदाधिकारियो, कार्यकर्ताओं एवं आम नागरिको से कार्यक्रम में शामिल होने की अपील की हैं।


राहत, पुनर्वास और पुनर्निर्माण का कार्य युद्धस्तर पर पूर्ण हो - मुख्यमंत्री श्री चौहान

  • प्रति वर्ष बाढ़ से प्रभावित होने वाले गाँवों को ऊँचे स्थानों पर शिफ्ट किया जाएगा, बाढ़ प्रभावितों को अब तक 6 करोड़ 50 लाख रूपये वितरित, मुख्यमंत्री श्री चौहान ने बाढ़ प्रभावित जिलों में राहत कार्यों की वर्चुअल बैठक ली

vidisha news
मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों में राहत, पुनर्वास और पुनर्निर्माण का कार्य युद्धस्तर पर पूर्ण किया जाए। बिजली व्यवस्था की स्थापना, खाद्य सामग्री की आपूर्ति, अधोसंरचना को पुनरू स्थापित करने, नुकसान हुई फसलों के आकलन और गिर गए घरों के सर्वे के कार्य को सर्वोच्च प्राथमिकता पर लिया जाए। जो गाँव प्रति वर्ष बाढ़ से प्रभावित होते हैं, उन्हे ऊँचे स्थानों पर शिफ्ट किया जाएगा। जिन परिवारों के मकान बाढ़ से प्रभावित हुए हैं उनके लिये नए आवास ऊँचे स्थानों पर ही स्वीकृत किये जाएंगे। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि वे स्वयं क्षेत्र का भ्रमण कर प्रभावित परिवारों से संपर्क करेंगे। मुख्यमंत्री श्री चौहान निवास से वर्चुअली बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों में जारी राहत और पुनर्वास कार्यों की जिलेवार समीक्षा कर रहे थे।


केन्द्रीय मंत्री श्री तोमर तथा श्री सिंधिया भी वर्चुअली जुड़े

बैठक में केंद्रीय कृषि एवं किसान-कल्याण मंत्री श्री नरेंद्र सिंह तोमर और केंद्रीय नागरिक उड्डयन मंत्री श्री ज्योतिरादित्य सिंधिया भी सम्मिलित हुए। प्रदेश में बाढ़ के लिए गठित टास्क फोर्स के सदस्य, जिलों के प्रभारी मंत्री तथा क्राइसिस मैनेजमेंट कमेटियों के सदस्य भी बैठक में वर्चुअली सम्मिलित हुए। मुख्य सचिव श्री इकबाल सिंह बैंस, अपर मुख्य सचिव गृह श्री राजेश राजौरा तथा अन्य अधिकारी उपस्थित थे। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने ग्वालियर, शिवपुरी, गुना, अशोकनगर, दतिया, मुरैना, श्योपुर, भिंड और विदिशा के अधिकारियों तथा क्राइसिस मैनेजमेंट कमेटी के सदस्यों से चर्चा की। 


बाढ़ प्रभावितों को छह हजार रुपये की राहत मिलना आरंभ

मुख्यमंत्री श्री चौहान को बैठक में अवगत कराया गया कि बाढ़ प्रभावितों को छह-छह हजार रुपये की राहत राशि मिलना आरंभ हो गई है। अब तक 6 करोड़ 50 लाख रुपये वितरित किए जा चुके हैं। श्योपुर जिले में अब तक 6 हजार 500 परिवारों को 3 करोड़ 25 लाख रुपये वितरित किए गए हैं। राहत वितरण कार्य जारी है।


पारदर्शिता सुनिश्चित की जाए

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि जिनका नुकसान हुआ है, उनमें से प्रत्येक को राहत उपलब्ध कराई जाए। साथ ही यह सतर्कता भी आवश्यक है कि किसी भी अपात्र का नाम राहत और पुनर्वास कार्य में नहीं जुड़े। संपूर्ण प्रक्रिया में पारदर्शिता सुनिश्चित की जाए। गड़बड़ी करने वाले को छोड़ा नहीं जाएगा। राजस्व, पंचायत और कृषि विभाग की संयुक्त टीम और क्राइसिस मैंनेजमेंट कमेटी के सदस्य मिल कर बाढ़ प्रभावितों का सर्वे करें। सूची को अंतिम रूप देकर सार्वजनिक स्थल पर प्रदर्शित किया जाए और इसमें आ रहे दावे-आपत्तियों की सुनवाई हो।


राहत कार्य में जन-प्रतिनिधियों को जोड़ें

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि राहत वितरण और पुनर्वास के कार्य जन-सहभागिता से क्रियान्वित किए जाएँ। ग्राम-स्तरीय क्राइसिस मैंनेजमेंट कमेटियों, जन-प्रतिनिधियों और विधायकों को इन कार्यों से जोड़ा जाए। इससे पारदर्शिता सुनिश्चित करने में मदद मिलेगी और पात्र व्यक्तियों को जल्द से जल्द राहत पहुँचायी जा सकेगी।


जरूरत वाले गाँवों में  पका गरम भोजन उपलब्ध करायें

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने निर्देश दिए कि जो गाँव अभी भी प्रभावित हों और जहाँ आवश्यकता हो वहाँ स्व-सहायता समूहों के माध्यम से पका हुआ गरम भोजन उपलब्ध कराया जाए। जिलों के कलेक्टर भोजन के लिए आवश्यक व्यवस्था सुनिश्चित करें।


केन्द्रीय दल 16 अगस्त को क्षेत्र का भ्रमण करेगा

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि अतिवृष्टि और बाढ़ से हुए नुकसान का आकलन करने केन्द्रीय दल 16 अगस्त को क्षेत्र का भ्रमण करेगा। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि हमारा लक्ष्य है कि बाढ़ प्रभावित और उजड़े परिवारों को ठीक से बसा सकें और उन्हें बेहतर व्यवस्था दे सकें। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने बाढ़ प्रभावित जिलों के अधिकारियों से खाद्यान्न वितरण, पेयजल, प्रभावित बिजली व्यवस्था, ध्वस्त रोड नेटवर्क, क्षतिग्रस्त फसलों, ढह गए मकानों, पशु हानि और जिलों में संचालित राहत शिविरों की विस्तृत जानकारी ली और आवश्यक निर्देश दिये।


रणनीति विकसित करने के उद्देश्य से विशेष दल

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि प्रदेश में विभिन्न आपदाओं की संभावना के आकलन और उसका सामना करने के लिए आवश्यक रणनीति विकसित करने के उद्देश्य से विशेष दल गठित किया जाएगा। बाढ़ राहत के लिए बनी टास्क फोर्स में शामिल सभी 12 मंत्री इस दल के सदस्य होंगे।


लोगों को मदद और पुनर्वास का भरोसा दिलाएं रू  केन्द्रीय मंत्री श्री तोमर

केन्द्रीय कृषि एवं किसान-कल्याण मंत्री श्री नरेंद्र तोमर ने कहा कि अधिकारी, कर्मचारी प्रभावित ग्रामों का भ्रमण कर लोगों को मदद और पुनर्वास का भरोसा दिलाएँ। इस समय लोगों को  सांत्वना की आवश्यकता है। कई परिवारों के उज्जवला योजना के गैस सिलेंडर बाढ़ में बह गए हैं। ऐसे परिवारों को गैस सिलेंडर पुनरू उपलब्ध कराने के लिए केंद्र स्तर पर प्रयास किया जाएगा।


संकट की घड़ी में राज्य सरकार प्रभावितों के साथ

केन्दीय नागरिक उड्डयन मंत्री श्री ज्योतिरादित्य सिंधिया ने बाढ़ से बेघर हुए लोगों को स्थाई आवास उपलब्ध कराने के लिए नीति निर्धारित करने की आवश्यकता बताई। केन्द्रीय मंत्री श्री सिंधिया ने कहा कि अतिवृष्टि और बाढ़ से प्रभावित जिलों में प्रशासन और पुलिस ने बचाव और राहत के लिए हर संभव कार्य किया। गुना जिले के ग्राम सौंढ़ा में फँसे सवा सौ लोगों को सुरक्षित निकालना सराहनीय है। केंद्रीय मंत्री श्री सिंधिया ने कहा कि तीन साल के एक बच्चे को भी रेस्क्यू किया गया। इन संवेदनशील कार्यो से प्रशासन की प्रतिष्ठा बढ़ी है और लोगों ने यह अनुभव किया कि संकट की घड़ी में राज्य सरकार उनके साथ है। लोक निर्माण मंत्री श्री गोपाल भार्गव, जल-संसाधन मंत्री श्री तुलसी सिलावट, खेल एवं युवक कल्याण मंत्री श्रीमती यशोधरा राजे सिंधिया, राजस्व मंत्री श्री गोविद सिंह राजपूत, पंचायत एवं ग्रामीण विकास मंत्री श्री महेंद्र सिंह सिसोदिया, लोक निर्माण राज्य मंत्री श्री सुरेश धाकड़ और पूर्व मंत्री श्री रूस्तम सिंह भी बैठक में वर्चुअल शामिल हुए और अपने विचार रखे।  मुख्यमंत्री श्री  शिवराज सिंह चौहान ने व्हीसी के माध्यम से विदिशा जिले में  बाढ प्रभावित के लिए मुहैया कराए गए प्रबंधों की जानकारी संवाद कर प्राप्त की। मुख्यमंत्री जी से कुरवाई विधायक श्री हरिसिंह सप्रे, शमशाबाद विधायक श्रीमती राजश्री सिंह ने एनआईसी के व्हीसी कक्ष से तथा सिरोंज विधायक श्री उमाकांत शर्मा से वर्चुअल संवाद कर विदिशा जिले में बाढ बचाव के लिए किए गए प्रबंधो से अवगत कराया है। मुख्यमंत्री जी को कलेक्टर डॉ पंकज जैन ने बताया कि विदिशा जिले में कुल छह राहत शिविर चल रहे है। बाढ और अतिवृष्टि के कारण हुई क्षति अंतर्गत तीन करोड 15 लाख 81 हजार छह सौ रूपए की राहत राशि वितरित की जा चुकी है। वही प्रभावित 1348 प्रभावितों को 674 कि्ंवटल खाद्यान्न का निःशुल्क वितरण किया गया है। विदिशा जिले में 47 पशुओ की हानि होने पर पशुपालकों को दो लाख 25 हजार रूपए, कपडा, बर्तन, खाद्यान्न हेतु 1255 व्यक्तियों को राहत राशि 62 लाख 78 हजार  रूपए तथा 86 पक्के मकान क्षतिग्रस्त होने पर नौ लाख 54 हजार रूपए की राहत राशि जबकि पांच हजार 36 कच्चे मकान क्षतिग्रस्त होने पर कुल दो करोड 37 लाख 24 हजार छह सौ रूपए की राहत राशि वितरित की गई है। एनआईसी के व्हीसी कक्ष में जिला पंचायत अध्यक्ष श्री तोरण सिंह दांगी, विदिशा नगरपालिका के पूर्व अध्यक्ष श्री मुकेश टण्डन, भाजपा जिलाध्यक्ष डॉ राकेश जादौन, शमशाबाद के पूर्व विधायक श्री रूद्रप्रताप सिंह के अलावा पुलिस अधीक्षक श्री विनायक वर्मा समेत विभिन्न विभागो के अधिकारी मौजूद रहें। 


प्रभारी मंत्री श्री सारंग ध्वजारोहण कर परेड की सलामी लेंगे


विदिशा जिला मुख्यालय पर आयोजित होने वाले 15 अगस्त स्वतंत्रता दिवस मुख्य समारोह कार्यक्रम के मुख्य अतिथि प्रदेश के चिकित्सा शिक्षा एवं गैस राहत व पुर्नवास विभाग के मंत्री तथा जिले के प्रभारी मंत्री श्री विश्वास कैलाश सारंग ध्वजारोहण कर परेड़ की सलामी लेंगे। 


मिनिट टू मिनिट कार्यक्रम


स्वतत्रंता दिवस 15 अगस्त के पावन पर्व पर जिला मुख्यालय के पुलिस परेड़ ग्राउण्ड पर आयोजित होने वाले मुख्य समारोह के मिनिट टू मिनिट आयोजित होने वाले कार्यक्रमो की रूप रेखा इस प्रकार से है। 15 अगस्त की प्रातः 8.59 बजे मुख्य अतिथि का आगमन, प्रातः नौ बजे ध्वजारोहण एवं राष्ट्रगान, प्रातः 9.05 बजे परेड का निरीक्षण, प्रातः 9.10 बजे मुख्यमंत्री जी के संदेश का वाचन, प्रातः 9.25 बजे मध्यप्रदेश गान, प्रातः 9.30 बजे मार्चपास्ट, प्रातः 9.40 बजे मुख्य अतिथि के द्वारा पुरस्कारों का वितरण किया जाएगा।


शुष्क दिवस घोषित


स्वतंत्रता दिवस 15 अगस्त को जिले में शुष्क दिवस घोषित करने का आदेश कलेक्टर एवं जिला दण्डाधिकारी डॉ पंकज जैन के द्वारा जारी कर दिए गए है। जारी आदेश में उल्लेख है कि 15 अगस्त 2021 रविवार को विदिशा जिले की समस्त देशी, विदेशी मदिरा दुकानों से मदिरा विक्रय एवं मद्य भण्डारगारों से मदिरा परिवहन निषिद्व किया गया है। कलेक्टर डॉ जैन ने जिला आबकारी अधिकारी को जारी आदेश का कड़ाई से पालन सुनिश्चित कराने के निर्देश दिए है। जारी आदेश का तामीली वृत्त से संबंधित लायसेंसो में कराने हेतु भी निर्देशित किया गया है।


रोशनी से जगमगाएंगे


स्वतंत्रता दिवस 15 अगस्त के पावन पर्व पर जिले के सभी शासकीय सार्वजनिक भवनों एवं राष्ट्रीय महत्व की इमारतों पर प्रकाश की व्यवस्था करने के निर्देश सामान्य प्रशासन विभाग द्वारा जारी किए गए है कि जानकारी देते हुए कलेक्टर डॉ जैन ने बताया कि प्रकाश की व्यवस्था 14 अगस्त की सायंकाल तक पूर्ण कर ली जाए।


उपस्थिति के निर्देश


स्वतंत्रता दिवस 15 अगस्त के मुख्य समारोह पुलिस परेड ग्राउड पर सभी विभागो के अधिकारियों, कर्मचारियों को उपस्थित होने के निर्देश प्रसारित किए गए है। इसी प्रकार आमजनों से अपील की गई है कि पुलिस परेड ग्राउण्ड पर प्रातः नौ बजे झंडावंदन के समय अपनी उपस्थिति दर्ज कराएं।


सामाजिक संगठनों के द्वारा साइकिल रैली का आयोजन


vidisha news
स्वर्ण जयंती महोत्सव पर साइकिल रैली का आयोजन मध्यप्रदेश जन अभियान परिषद तथा जिला खेल एवं युवा कल्याण विभाग के संयुक्त तत्वाधान में आज आयोजन किया गया था। आजादी का अमृत महोत्सव मनाते हुए स्वतंत्रता दिवस के एक दिन पूर्व आयोजित साइकिल रैली को समाज सेवी श्री अतुल शाह ने हरी झंडी दिखाकर रवाना किया है। इससे पहले विदिशा नगरपालिका के पूर्व अध्यक्ष श्री मुकेश टण्डन ने कलेक्ट्रेट परिसर में नेताजी सुभाष चंद्र बोस की प्रतिमा पर माल्यार्पण किया। साइकिल रैली नवीन कलेक्ट्रेट से प्रारंभ होकर गुलाब वाटिका तिलक चौक, माधवगंज रोड होते हुए नीमताल चौराहा गांधी जी की प्रतिमा के समक्ष सम्पन्न हुई है। रैली के माध्यम से पर्यावरण संरक्षण एवं स्वच्छता का संदेश प्रसारित किया गया है। पूर्व नगरपालिका अध्यक्ष श्री मुकेश टण्डन ने कहा कि सरकार हर वर्ग के उत्थान हेतु योजना एवं कार्यक्रम संचालित कर रही है हम सबका नैतिक दायित्व है कि सामाजिक सरोकार के क्षेत्र में बढचढकर भाग लें और प्र्रगति के सोपानो की ओर अग्रसर हो। 

कोई टिप्पणी नहीं: