बिहार : पूर्व मुख्यमंत्री स्व. चन्द्रशेखर सिंह की 93वीं जयन्ती - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

मंगलवार, 17 अगस्त 2021

बिहार : पूर्व मुख्यमंत्री स्व. चन्द्रशेखर सिंह की 93वीं जयन्ती

congress-tribute-ex-cm-chanrashekhar-singh
पटना, 17 अगस्त। प्रदेश कांग्रेस कमिटी के मुख्यालय सदाकत आश्रम में आज बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री स्व. चन्द्रशेखर सिंह की 93वीं जयन्ती पर उनके तैल चित्र पर पुष्पांजलि की गयी। जयंती समारोह की अध्यक्षता प्रदेश कांग्रेस के कार्यकारी अध्यक्ष डा. समीर कुमार सिंह, स.वि.प. ने किया। इस अवसर पर स्व. चन्द्रशेखर सिंह के प्रति श्रद्धांजलि अर्पित करते हुए डा. समीर कुमार सिंह ने कहा कि बिहार के राजस्व मंत्री एवं मुख्यमंत्री के रूप में उन्होंने राज्य प्रशासन में वित्तीय प्रबन्धन को पटरी पर लाकर, आंतरिक संसाधन बढ़ाने के उपायों पर बल दिया। स्व. चन्द्रशेखर बाबू एक कुशल प्रशासक एवं संवेदनशील राजनेता थे।  राज्य के पिछड़ेपन को दूर करने के लिये उन्होंने अपने कार्यकाल में कई योजनाएँ चलायीं। वे एक जागरूक राजनेता थे। आज कृतज्ञ राज्य उनके योगदान का स्मरण कर उनकी स्मृति पर उन्हें शत-शत नमन करता है। इस अवसर पर प्रदेश कार्यकारी अध्यक्ष डा. समीर कुमार सिंह के अलावे मीडिया विभाग के चेयरमैन राजेश राठौड़, नागेन्द्र कुमार विकल, अजय चौधरी, अरविन्द लाल रजक, शशि कान्त तिवारी, कमलदेव नारायण शुक्ल, स्नेहाशीष वर्धन, धनंजय शर्मा, प्रदुमन यादव, वसी अख्तर, चुन्नू सिंह, मृणाल अनामय, राजीव सिन्हा, रवि गोल्डन, श्रीकृष्ण हरि, निरंजन कुमार,रूमा सिंह ने भी चन्द्रशेखर बाबू के चित्र पर माल्यार्पण कर श्रद्धांजलि अर्पित की।

कोई टिप्पणी नहीं: