बिहार : मैट्रिक-इंटर में फार्म भरने और एडमिशन का डेट बढ़ाने की तेजस्वी ने की मांग - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

सोमवार, 23 अगस्त 2021

बिहार : मैट्रिक-इंटर में फार्म भरने और एडमिशन का डेट बढ़ाने की तेजस्वी ने की मांग

tejaswi-yadav-demand-date-extension
पटना : बिहार में इन दिनों बाढ़ के कारण तबाही मची हुई है। कोरोना के बाद बाढ़ के कारण बच्चों की पढाई पर काफी बुरा असर पड़ रहा है। इसी बीच छात्र-छात्राओं की परेशानी को देखते हुए बिहार के नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने राज्य सरकार को पत्र लिखा है। बिहार के नेता प्रतिपक्ष ने बिहार के शिक्षा मंत्री विजय कुमार चौधरी को पत्र लिखकर कहा है कि राज्य के छात्र-छात्राओं के हित में वार्षिक माध्यमिक परीक्षा और इंटरमीडिएट वार्षिक परीक्षा 2022 में शामिल होने के लिए फार्म भरने और 11वीं में एडमिशन कराने की आखिरी तारीख को बढ़ाई जाये। उन्होंने कहा कि सरकार ने 24 अगस्त को लास्ट डेट घोषित किया है, जिसे कम से कम एक महीने बढ़ा दिया जाये ताकि बाढ़ प्रभावित इलाकों में रहने वाले स्टूडेंट आसानी से एडमिशन ले पाएं।


तेजस्वी ने अपने पत्र में लिखा है कि बिहार विद्यालय परीक्षा समिति की ओर से एडमिशन और फॉर्म भरने के लिए 24 अगस्त को लास्ट डेट घोषित किया गया है। बिहार के अधिकांश जिले गंभीर बाढ़ आपदा से प्रभावित हैं। कई विद्यालयों में बाढ़ का पानी घुस गया है और कुछ विद्यालयों में तो बाढ़ प्रभावित परिवार शरण लिए हुए हैं। बाढ़ होने के वजह से कई स्थानों पर आवागमन अवरुद्ध हो गया है, जिससे छात्रों को विद्यालय जाने-आने में घोर कठिनाई हो रही है। इस स्थिति में नामांकन और फार्म भरने में भारी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। इसलिए सरकार कम से कम एक महीना का समय बढ़ाये।” जानकारी हो कि इसके पहले भी 24 से 27 अगस्त तक होनेवाली एपीओ मुख्य परीक्षा की तिथि बढ़ाने की मांग ऑल इण्डिया स्टूडेंट्स फेडरेशन ने की है। एआईएसएफ के राष्ट्रीय सचिव सुशील कुमार और राज्य सचिव रंजीत पंडित ने कहा कि राज्य में बाढ़ की वजह से जान-माल की भारी क्षति हुई है।इसको देखते हुए एपीओ मुख्य परीक्षा की तिथि बढ़ाई जाए। गौरतलब है कि, बिहार सरकार के आपदा प्रबंधन विभाग ने 19 अगस्त को प्रतिवेदित किया है कि 16 जिलों के 100 प्रखंड के 2626 गांव बुरी तरह प्रभावित हैं।

कोई टिप्पणी नहीं: