मधुबनी : वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग से उप मुख्यमंत्री ने की बैठक - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

गुरुवार, 16 सितंबर 2021

मधुबनी : वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग से उप मुख्यमंत्री ने की बैठक

diputy-cm-take-meeting-madhubani
मधुबनी: 16 सितम्बर, आज दिनांक-16.09.2021 को उप मुख्यमंत्री, बिहार श्री तारकिशोर प्रसाद जी के अध्यक्षता में 77वीं विशेष बैठक वित्तीय समावेशन एवं वित्तीय साक्षरता तथा एस.एल.बी.सी. की 78वीं त्रैमासिक बैठक का आयोजन होटल चाणक्या, पटना में आहुत किया गया। जिसका प्रसारण वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से किया गया। इस बैठक में जिला पदाधिकारी, मधुबनी श्री अमित कुमार, वरीय उप समाहर्त्ता (बैंकिंग) श्री विकास कुमार एवं अग्रणी जिला प्रबंधक श्री अजय कुमार भी शामिल हुए। बैठक के दौरान जिले के साख-जमा अनुपात तथा वार्षिक कार्य योजना पर विस्तृत चर्चा किया गया। मधुबनी जिले का साख-जमा अनुपात जून तिमाही में 39.21 प्रतिशत है, जबकि राज्य का 45.68 प्रतिशत है। इसी तरह वार्षिक कार्य योजना जून तिमाही में 11.70 प्रतिशत है, जबकि राज्य का 18.49 प्रतिशत है। साथ हीं इस बैठक में वित्तीय समावेशन एवं वित्तीय साक्षरता पर विस्तृत चर्चा करते हुए कुछेक बिन्दुओं पर निर्णय भी लिया गया। जैसे कि प्रत्येक सरकारी पंचायत भवन में एक बैंक अवश्य खोला जाय। इसके लिए होने वाले सर्वेक्षण की जिम्मेदारी जिले के अग्रणी बैंक को दिया गया तथा उन्हें इससे संबंधित प्रतिवेदन शीघ्र ही प्रस्तुत करने को कहा गया एएवं उस भवन में बैंक शाखा संचालित करने के लिए बैंकों से अनुरोध करने को कहा गया कि वित्तीय समावेशन एवं वित्तीय साक्षरता हेतु हर जिले में एक बैंक को चुना गया है, इस हेतु प्रभावी तरीकें से प्रचार-प्रसार करने का निदेश दिया गया तथा इस संदर्भ में जिलें के एस.एन.एस.डी.एन.जी. बालक उच्च विद्यालय (वाट्सन) स्कूल को चिन्हित किया गया। उक्त के अतिरिक्त बैठक में सरकार प्रायोजित ऋण योजना में प्रधानमंत्री रोजगार सृजन योजना, स्टैण्ड अप योजना, प्रधानमंत्री बुनकर ऋण योजना पर विस्तृत चर्चा किया गया एवं इस संदर्भ में किसान क्रेडिट कार्ड एवं कृषि संबंधित काय यथा- डेयरी, पॉल्ट्री, मत्स्य पालन आदि पर भी विचार-विमर्श किया गया तथा कुछ बैंकों का साख-जमा अनुपात तथा वार्षिक कार्य योजना की प्रगति राज्य के औसत से भी कम रहने पर नाराजगी प्रकट किया गया। साथ हीं इस संदर्भ में डी.एल.सी.सी/डी.एल.आर.सी. की त्रैमासिक बैठक 25.09.2021 को दिन के 11ः00 बजे से जिला पदाधिकारी के अध्यक्षता में करने हुए निदेशित किया गया एवं कहा गया कि इसकी गहन समीक्षा किया जाय। उक्त बैठक में जिले के सभी बैंकों के जिला समन्वयक एवं उनके क्षेत्रीय प्रबंधक को आमंत्रित किया गया है।

कोई टिप्पणी नहीं: