विदिशा (मध्यप्रदेश) की खबर 27 सितम्बर - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

सोमवार, 27 सितंबर 2021

विदिशा (मध्यप्रदेश) की खबर 27 सितम्बर

सफलता की कहानी : प्रशासन व जन प्रतिनिधि की पहल पर टीकाकरण हुआ


vidisha news
अब कोई छूटे न, की तर्ज पर आज सम्पन्न हुए कोविड 19 वैक्सीन टीकाकरण हेतु विशेष पहल प्रशासन व जनप्रतिनिधियों के द्वारा की गई है। विदिशा जिले के शमशाबाद अनुविभाग क्षेत्र कि ग्राम पंचायत करमेढी में वैक्सीनेशन कार्य हेतु सर्वेक्षित नागरिक टीकाकरण कराने में रूचि प्रदर्शित नही कर रहे हैं यह सूचना जैसे ही प्रशासन कि संज्ञान में आई अविलम्ब देरी किए स्थानीय एसडीएम, जनपद सीईओ व पूर्व विधायक श्री रूद्रप्रताप सिंह ने करमढी ग्राम में पहुंचकर टीकाकरण नही कराने वालो के साथ जमीन पर बैठकर संवाद किया और टीकाकरण नही कराने से होने वाली मानव क्षति हानि के संबंध में विस्तृत रूप से बताया। जमीन पर बैठकर आधा घंटा के संवाद उपरांत ग्राम करमेढी के नब्बे नागरिकों का टीकाकरण कार्य संभव हुआ है निश्चित ही प्रशासन व जनप्रतिनिधि की पहल से आज ऐसे व्यक्तियों का टीकाकरण किया गया है जो इस कार्य में किसी भी प्रकार की आनाकानी कर रहे थे। अब वे स्वंय कोरोना से सुरक्षित होने की डगर पर आगे बढे है और ऐसी ही डगर अन्य के लिए संजोई है।


अनुपस्थित अधिकारियों को शोकॉज नोटिस, लंबित आवेदनों की समीक्षा बैठक सम्पन्न


vidisha news
कलेक्टर श्री उमाशंकर भार्गव ने सोमवार को लंबित आवेदनों की समीक्षा बैठक की। इस बैठक में अनुपस्थित दो अधिकारी, विदिशा आईटीआई के अधीक्षक और कोटाबैराज के कार्यपालन यंत्री को शोकॉज नोटिस जारी करने के निर्देश दिए है। कलेक्टर श्री भार्गव ने ऐसे विभाग जिनके द्वारा हितग्राहीमूलक योजनाओं का क्रियान्वयन किया जाता है। उन विभागो के जिलाधिकारियों को पिछले एक वर्ष में विभागीय योजनाओं एवं कार्यक्रमो से लाभांवित हितग्राहियों की सूची जिला कार्यालय को उपलब्ध कराने के निर्देश दिए है। उन्होंने कहा कि हितग्राही के द्वारा योजना का लाभ लेने के उपरांत उनके जीवन में क्या-क्या परिवर्तन आए है पर आधारित प्रत्येक हितग्राही का डाटा तैयार किया जाए जिसे जिला स्तर पर कम्पाईल किया जाएगा। कलेक्टर श्री भार्गव ने जिले में वनाधिकार अधिनियम के तहत प्रदाय किए जाने वाले वनाधिकार एवं कम्यूनिटी अधिकार के लंबित प्रकरणो का निराकरण सात दिवस में करने के निर्देश दिए है। कलेक्टर श्री भार्गव ने बैठक में मौजूद वन संरक्षक श्री राजवीर सिंह से ततसंबंध में चर्चा कर निर्णय लिया है। कलेक्टर श्री भार्गव ने कहा कि जो पात्र नही है उनके आवेदन खारिज करने के स्पष्ट कारणो को रेखांकित कर अंकित किया जाए ताकि भविष्य में किसी भी प्रकार के दावे आपत्तियों में उक्त प्रकरण सम्मिलित होता है तो खारिज किन कारणो से किया गया है कि जानकारी से अवगत कराया जा सकें। कलेक्टर श्री भार्गव ने कहा कि जाति प्रमाण पत्र के अभाव में एक भी आवेदन खारिज ना किया जाए। कलेक्टर श्री भार्गव ने कहा कि शासन स्तर पर निर्णय लिया गया है कि अन्य जिलो के ऐसे हितग्राही जो विदिशा जिले में निवास कर रहे है। उन हितग्राहियों को संबंधित जिले में वनाधिकार अधिनियम के तहत स्वीकृति पत्र प्रदाय किए जाएंगे। आदिम जाति कल्याण विभाग के मण्डल संयोजक श्री विनोद भौंसले ने बताया कि विदिशा जिले को 18 प्रकरण अन्य जिलो के लिए हस्तांतरित करने है और प्रक्रिया क्रियान्वित है। कलेक्टर श्री भार्गव ने पीएम आदर्श ग्राम योजना के तहत जिन ग्रामो का चिन्हांकन किया गया है उन ग्रामो में संबंधित विभागो की योजनाओं से लाभंवित करने के लिए कार्ययोजना तय की गई है अतः उस विभाग के द्वारा हितग्राहीमूलक योजना, विकासमूलक योजना के परिपेक्ष्य में पीएम आदर्श ग्राम योजना के मापदण्डो के अनुरूप में कार्यो का संपादन किया गया है कि नहीं। उपरोक्त जानकारी की गहन समीक्षा करने हेतु जिला पंचायत सीईओ को अधिकृत किया गया है। कलेक्टर श्री भार्गव ने महिला एवं बाल विकास विभाग के जिला कार्यक्रम अधिकारी को निर्देश दिए है कि मुख्यमंत्री लाड़ली लक्ष्मी योजना और प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना के अलावा पोषण आहार का वितरण समय सीमा में कराया जाना सुनिश्चित हो। उन्होंने इसकी पृथक से बैठक आहूत कराने के निर्देश दिए है। कलेक्टर श्री भार्गव ने जल मिशन के तहत सम्पादित कार्यो के दौरान सड़को की खुदाई करनी पडती है उन सडको की मरम्मत संबंधित ठेकेदारो के द्वारा सडको के निर्माण कार्य की गुणवत्ता के अनुरूप कराया जाना सुनिश्चित हो। उन्होंने लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग के कार्यपालन यंत्री को निर्देश दिए है कि संबंधित ठेकेदारो को भुगतान के पहले सम्पूर्ण प्रकरण मेरे संज्ञान मेंं लाया जाए। कलेक्टर श्री भार्गव ने जिला आपूर्ति अधिकारी को निर्देश दिए है कि उचित मूल्य दुकानो पर राशन का भण्डारण एक माह पूर्व कराया जाना सुनिश्चित हो। उन्होंने ऐसे हितग्राही जिन्हें थैलो में अनाज का वितरण किया जाना है उन सभी हितग्राहियों को वितरण व्यवस्था सुनिश्चित कराते हुए सात अक्टूबर को अन्नोत्सव कार्यक्रम के दौरान थैलो में अनाज का वितरण कार्य किया जाए। जिला आपूर्ति अधिकारी श्रीमती रश्मि साहू ने बताया कि जिले में कुल 545 उचित मूल्य दुकानो पर दो लाख 24 हजार राशन कार्डधारियो को थैलो में राशन वितरण करने का लक्ष्य प्राप्त हुआ है जिसमे से अब तक दो लाख राशन कार्डधारको को थैलो में राशन प्रदाय किया जा चुका है। आगामी माह की सात तारीख को आयोजित होने वाले अन्न महोत्सव कार्यक्रम में शेष हितग्राहियो को थैलो में राशन वितरण करने का कार्य सम्पन्न कराया जाएगा। कलेक्टर श्री भार्गव को जिला पंचायत सीईओ डॉ योगेश भरसट ने ग्रामीण विकास विभाग के तहत लंबित आवेदनों पर की गई कार्यवाही से अवगत कराया। इसी प्रकार शिक्षा, स्वास्थ्य, सड़क, खाद्य, कॉ-आपरेटिव, ऊर्जा, पीएचई, जिला पंजीयक, जिला योजना, गर्ल्स कॉलेज, मार्कफेड, सामाजिक न्याय विभाग, सम्राट अशोक सागर के अलावा आरईएस विभाग में लंबित आवेदनों पर की गई कार्यवाही से संबंधित विभागीय अधिकारी के द्वारा अवगत कराया गया है। नवीन कलेक्ट्रेट के बेतवा सभागार कक्ष में सम्पन्न हुई इस बैठक में जिला पंचायत सीईओ डॉ योगेश भरसट, डिप्टी कलेक्टर द्वय श्रीमती अमृता गर्ग, श्री विजय राय के अलावा विभिन्न विभागो के जिलाधिकारी मौजूद थे।


खण्ड स्तरीय कार्यो की समीक्षा व्हीसी से


vidisha news
कलेक्टर श्री उमाशंकर भार्गव ने वीडियो कांफ्रेसिंग के माध्यम से आज अनुविभाग स्तरीय कार्यो की समीक्षा की। उन्होंने कहा कि आगामी त्यौहारो को ध्यानगत रखते हुए प्रत्येक एसडीएम अनुविभाग क्षेत्र में शांति समिति की बैठक आयोजित कर समिति के सदस्यों से संवाद अनिवार्यतः करें और त्यौहारो के मद्देनजर किए जाने वाले बेहतर प्रबंधो का क्रियान्वयन करें, खासकर मूर्ति विसर्जन के दौरान किसी भी प्रकार की अप्रिय दुर्घटना घटित ना हो। विसर्जन के दौरान कही भी कोई डूबे ना इस हेतु पूर्व में ही गोताखोरो के प्रबंध सुनिश्चित कराए जाएं। कलेक्टर श्री भार्गव ने कहा कि मुख्यमंत्री जी द्वारा ली गई कलेक्टर, कमिश्नर कांफ्रेंस के ऐजेण्उा बिन्दुओें के संबंध में जो निर्णय लिए गए है उन निर्णयों पर विभागीय अधिकारियो के द्वारा क्या कार्यवाही की गई है का पालन प्रतिवेदन जिला कार्यालय को उपलब्ध कराना सुनिश्चित करें। कलेक्टर श्री भार्गव ने कोविड टीकाकरण के विशेष अभियान अंतर्गत अब कोई छूटे न की तर्ज पर आयोजित टीकाकरण कार्यक्रम की रिपोर्ट आज शाम तक अनिवार्यतः जिला कार्यालय को उपलब्ध कराने के निर्देश समस्त एसडीएमो को दिए है। उन्होंने बताया कि जिला स्तर पर कम्पाइल करने के उपरांत मंगलवार 28 सितम्बर को शासन हेतु प्रेषित की जानी है। कलेक्टर श्री भार्गव ने समस्त खण्ड स्तरीय अधिकारियों को निर्देश दिए है कि विभागीय योजनाओं एवं कार्यक्रमो से लाभांवित होने वाले हितग्राहियों पर आधारित संक्षिप्त सफलता की कहानियो के अलावा अन्य नवाचारो की जानकारियां जिला जनसम्पर्क कार्यालय को अनिवार्य रूप से उपलब्ध कराएं ताकि समय अंतराल पर उनका प्रकाशन व ट्वीट करने का कार्य किया जा सकें। वीडियो कांफ्रेसिं समीक्षा में समस्त एसडीएमो को निर्देश दिए गए है कि अनुविभाग स्तर पर खण्ड स्तरीय जानकारियां जो प्रचार प्रसार के लिए की जानी है के संकलन हेतु अधिकृत अधिकारी, कर्मचारी को तैनात किया जाए जो समय-समय पर पीआरओ से सम्पर्क कर उनका प्रकाशन कराना सुनिश्चित करेंगे। कलेक्टर श्री भार्गव ने समस्त एसडीएमो को निर्देश दिए है कि अनुविभाग स्तर पर माह में कम से कम दो बार समीक्षा बैठके अनिवार्य रूप से आयोजित की जाएं। ऐसे निर्माण कार्य जिनमें स्थानीय विधायको की उपस्थिति में बैठक आयोजित की जानी हैं उपरोक्त निर्देशो का भी पालन कराया जाना सुनिश्चित करें। कलेक्टर श्री भार्गव ने अनुविभाग क्षेत्रों में अतिक्रमण हटाने की मुहिम पुनः संचालित करने के निर्देश दिए है। उन्होंने चरनोई भूमि पर से अतिक्रमण हटाने की कार्यवाही पर विशेष बल दिया है। बैठक में सीएम हेल्पलाइन सीमांकन, बंटवारा, नामांतरण, राजस्व वसूली, धारणाधिकार कार्यो के संबंध में भी आवश्यक निर्देश दिए गए है। 


राज्य खाद्य आयोग के सदस्य का दौरा कार्यक्रम


मध्यप्रदेश राज्य खाद्य आयोग के सदस्य श्री वीर सिंह चौहान मंगलवार 28 सितम्बर को विदिशा आएंगे। सम्मानीय सदस्य का दौरा कार्यक्रम की जानकारी देते हुए जिला आपूर्ति अधिकारी श्रीमती रश्मि साहू ने बताया कि मंगलवार 28 सितम्बर की प्रातः 11 बजे जनप्रतिनिधियों से चर्चा, दोपहर 12 बजे से हितग्राहियों से भेंट, दोपहर एक बजे से दो बजे तक का समय आरक्षित रखा गया है। मध्यप्रदेश राज्य खाद्य आयोग के सदस्य श्री वीर सिंह चौहान की अध्यक्षता में समीक्षा बैठक नवीन कलेक्ट्रेट के सभागार कक्ष में दोपहर दो बजे से आयोजित की गई है। इस बैठक में खाद्य विभाग, पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग, महिला एवं बाल विकास विभाग के माध्यम से संपादित होने वाले कार्यो की समीक्षा की जाएगी। 


शुष्क दिवस घोषित


शनिवार दो अक्टूबर महात्मा गांधी की जयंती पर शुष्क दिवस घोषित करने का आदेश कलेक्टर एवं जिला दण्डाधिकारी श्री उमाशंकर भार्गव द्वारा जारी किया गया है। जारी आदेश का संबंधितों से अक्षरशः पालन सुनिश्चित कराए जाने के निर्देश प्रसारित किए गए हैं। जिला आबकारी अधिकारी श्री शैलेष जैन ने बताया कि शुष्क दिवस को जिले की समस्त देशी-विदेशी मदिरा दुकानो से मदिरा विक्रय एवं भण्डारण व परिवहन पूर्णतः प्रतिबंधित किया गया है।


जनसुनवाई कार्यक्रम में उपस्थित हो


कलेक्टर श्री उमाशंकर भार्गव के द्वारा प्रत्येक मंगलवार को आयोजित होने वाली जनसुनवाई कार्यक्रम में 10.45 बजे विभागो के अधिकारी उपस्थित होना सुनिश्चित करें के निर्देश प्रसारित किए गए है। कलेक्टर श्री भार्गव ने बताया कि जिला मुख्यालय पर पूर्वानुसार जनसुनवाई कार्यक्रम का आयोजन जिला पंचायत के सभागार कक्ष में किया जाता है। उक्त कक्ष में जिन विभागो के अधिकारियों को उपस्थित होने के निर्देश प्रसारित किए गए है उन विभागो के अधिकारी जनसुनवाई शुरू होने से 15 मिनिट पूर्व जनसुनवाई कक्ष में उपस्थित होना सुनिश्चित करेंगे। 


अनुविभाग स्तर पर जनसुनवाई


कलेक्टर श्री उमाशंकर भार्गव ने खण्ड स्तरीय वीडियो कांफ्रेसिंग समीक्षा के दौरान समस्त एसडीएमो को निर्देश दिए है प्रत्येक मंगलवार को ग्राम स्तर स्तर पर भी जनसुनवाई कार्यक्रम का आयोजन किया जाए जिसमें पंचायतो के सचिव, जेआरएस व पटवारी अनिवार्यतः रूप से उपस्थित हो। उन्होंने कहा कि ऐसी समस्या जिनका निदान पंचायत, विकासखण्ड स्तर पर की जा सकती है उन समस्याओ के आवेदक जिला मुख्यालय पर आते है इस कार्य में उनका समय पर धन दोनो व्यय होते है अतः स्थानीय स्तर की ऐसी समस्याएं जिनका निदान वही संभव है वे आवेदक जिला मुख्यालय पर आकर अवगत कराते है कि उनके द्वारा स्थानीय स्तर पर आवेदन दिया गया था किन्तु उस पर कोई कार्यवाही नही हुई तो संबंधित विभाग के खण्ड स्तरीय अधिकारी के खिलाफ कठोर कार्यवाही की जाएगी। 

कोई टिप्पणी नहीं: