सीहोर (मध्यप्रदेश) की खबर 20 सितम्बर - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

सोमवार, 20 सितंबर 2021

सीहोर (मध्यप्रदेश) की खबर 20 सितम्बर

कांग्रेस की नपा परिषद बनी तो बनाएंगे वेकिलपिक विसर्जन कुंड:- राजीव गुजराती        


sehore news
सीहोर/ सीहोर नगर में टाउन हॉल के पास मूर्ति विसर्जन किया जा रहा है। हिन्दू मान्यता के अनुसार पवित्र भगवान की मूर्ति और अन्य पूजन सामग्री का विसर्जन शुद्ध जल में किया जाना चाहिए। युवा कांग्रेस प्रदेश सचिव राजीव गुजराती ने कहा है दुर्भाग्य वस टाउन हॉल के पास विसर्जन होने के बाद दस दिनों तो पूजित मूर्ति और अन्य पूजन सामग्री नगर के मध्य बहने वाले गंदे सीवेज नाले में मिल जाते है, जिसके कारण ऐसा प्रतीत होता है मानो अकारण ही धर्म का अपमान हो रहा है। युवा कांग्रेस प्रदेश सचिव राजीव गुजराती ने कहा है कि पवित्र मूर्ति ओर पूजित सामग्री गंदे नाले में देखकर मन व्यथित होता है।प्रशासन, नगर पालिका और जनप्रतिनिधियों का भी इस और धयान नही है, तुरंत धार्मिक भावनाओ को धयान में रखते हुए नवरात्रि में अन्य विकल्प को तलाश कर प्रतिमा एवं पूजन सामग्री विसर्जन की व्यवस्था प्रशासन और नगर पालिका को करनी चाहिए। युवा कांग्रेस नेता राजीव गुजराती ने कहा है कि यदि इस ओर धयान नही दिया गया तो आने वाले नगर पालिका परिषद सीहोर के चुनाव में कांग्रेस पार्टी की विजय होती है और नपा में कांग्रेस की परिषद बनती है तो धार्मिक भावनाओं को धयान रखते हुए एक वेकिलपिक विसर्जन कुंड का निर्माण कराया जाएगा जिसमे पवित्र पूजित मूर्ति और अन्य पूजन सामग्री का विसर्जन किया जा सके। 


सर्व ब्राह्मण समाज के तत्वाधान में सौ से अधिक पौधों का किया रोपण


sehore news
सीहोर। सोमवार को शहर के गणेश मंदिर स्थित अन्नपूर्ण कालोनी में सर्व ब्राह्मण समाज के पूर्व अध्यक्ष स्वर्गीय श्री प्रकाश व्यास काका की जयंती के मौके पर सर्व ब्राह्मण के तत्वाधान में सामूहिक रूप से पौधा रोपण कर श्रद्धा सुमन अर्पित किए। इस मौके पर यहां पर मौजूद जिला अस्पताल में पदस्थ वरिष्ठ चिकित्सक डॉ. बीके चतुर्वेदी ने कहा कि पौधे व्यक्ति को प्रकृत के करीब लाते हैं। जिससे पर्यावरण शुद्ध होता है। पौधरोपण को संस्कार के रूप में प्रतिष्ठित करने की जरूरत है। इससे धरती पर हरियाली बढ़ेगी तथा जीव जगत को लाभ पहुंचेगा। व्यास परिवार के द्वारा जो पौधा रोपण का कार्यक्रम किया गया है। वह समाज के लिए अनूठी पहल है।  पेड़, पौधे, पृथ्वी का श्रृंगार होते हैं। पेड़ों का कटान होने से प्राकृतिक आपदाएं व ऑक्सीजन की कमी हो रही है, जिससे जीवन भी खतरे में पड़ रहा है। इस समस्या से निजात दिलाने के लिए हमें बढ़ चढ़कर पौधारोपण करना चाहिए। कोरोना संक्रमण काल में हमने देखा था कि लोग ऑक्सीजन की किल्लत से परेशान है। इस तरह की पहल सभी को करना चाहिए। व्यास परिवार की ओर से कार्यक्रम में शामिल सभी लोगों को पौधा भेंट किया। कार्यक्रम के दौरान सर्व ब्राह्मण समाज के अध्यक्ष बालमुकुन्द पालीवाल सहित अन्य समाजजन उपस्थित थे। कार्यक्रम के संयोजक पंडित रमाकांत समाधिया थे। 


सादगी के साथ किया गया भागवत कथा का समापन जीवन में सच्चा मित्र बड़े सौभाग्य से मिलता है-पंडित प्रदीप मिश्रा


sehore news
सीहोर। मित्रता निस्वार्थ होती है। जीवन में सच्चा मित्र बड़े सौभाग्य से मिलता है ऐसे मित्र को हमेशा सुख-दुख में ही नहीं बल्कि जीवन के हरेक मोड़ पर अपने साथ सहयोगी के रूप में स्मरण रखना चाहिए, श्रीमद् भागवत कथा प्रसंग में भगवान श्रीकृष्ण-सुदामा की भक्ति में हमें सच्ची मित्रता की मिसाल देखने को मिलती है इसलिए जीवन मे सच्चे मित्र के मान-सम्मान के साथ उससे अपने अपने हर क्षण को बड़े सुखमय क्षणों के साथ बिताएं। उक्त विचार शहर के बड़ा बाजार में जारी सात दिवसीय भागवत कथा के अंतिम दिन नगर के गौरव भागवत भूषण पंडित प्रदीप मिश्रा ने कहे। इस मौके पर पंडित श्री मिश्रा ने कहा कि अग्रवाल महिला मंडल द्वारा लगातार 24 सालों से भागवत कथा का आयोजन किया जा रहा है। कथा के अंतिम दिवस महिला मंडल ने उनका सम्मान किया। सोमवार को पंडित श्री मिश्रा ने भगवान श्री कृष्ण और भक्त सुदामा की मित्रता का विस्तार से वर्णन करते हुए कहा कि भगवान श्रीकृष्ण ने मित्र सुदामा को कुछ मांगने का अवसर नहीं दिया। इससे निर्धन मित्र का स्वाभिमान आहत होता, लेकिन उन्होंने उसे बिन मांगे ही सब कुछ दे दिया। श्रीकृष्ण सुदामा के ह्दय की पीड़ा को समझते थे। मित्रता में छल और कपट होता है, ऐसी मित्रता का अंत बहुत बुरा होता है। भगवान की दीनवत्सलता देखकर सुदामा की आंखें बरस पड़ी। भगवान श्री कृष्ण सुदामा को अपने महल में ले गये। बालपन के प्रिय सखा को पलंग पर बैठाकर उनका चरण धोना प्रारम्भ किया और मित्र प्रेम में व्याकुल भगवान श्री कृष्ण के नेत्रों की वर्षा से ही मित्र के पैर धुल गये। भगवान श्रीकृष्ण ने परिवार का हाल पूछा और बातों-बातों में बोले, भाभी ने मेरे लिए कुछ तो भेजा होगा। सुदामा संकोच वश पोटली छिपा रहे थे, परंतु स्वयं नारायण से क्या छिप सका है। उन्होंने चावल की पोटली छीन ली और उसे खोलते ही कहा वाह इतना स्वादिष्ट पदार्थ तुमने मुझसे छिपा कर क्यों रखा है, इस पर तो मेरा अधिकार है। भगवान श्रीकृष्ण भक्ति के भाव के भूखे है।


चल समारोह निकालकर किया सादगी से समापन

सोमवार को भागवत कथा के अंतिम दिन अग्रवाल महिला मंडल के तत्वाधान में कथा के समापन के बाद आरती का आयोजन किया गया, इसके पश्चात चल समारोह निकाला गया। वहीं अंत में मंडल की अध्यक्ष श्रीमती ज्योति अग्रवाल के नेतृत्व में भागवत भूषण पंडित श्री मिश्रा का सम्मान भी किया गया। 


विद्युत कंपनी की तानाशाही के खिलाफ क्षेत्रवासियों ने किया प्रदर्शन, क्षेत्रवासियों को बिना बिजली के उपयोग करे थामे जा रहे बिल


sehore news
सीहोर। प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के गृह जिले में विद्युत कंपनी की मनमानी के खिलाफ प्रदर्शन कर ज्ञापन सौंपा है। क्षेत्रवासियों का कहना है कि बिजली विभाग भले ही आम जनता को बिजली देने में सबसे पीछे हो, मगर जब बिल पहुंचाने की बात आती है, तो वह जहां बिजली ही नहीं पहुंची है, वहां भी बिल भेज देता है। दर्जनों लोगों के साथ ऐसा हुआ है. उनके पास बिजली के बिल भेज दिए गए हैं, जबकि गांव में बिजली का तार तक नहीं है। ऐसा ही एक मामला ओर सामने आया है। गत दिनों  ग्राम पंचायत हतियाखेड़ा के नजदीक चतरावाली बस्ती के लोग कई सालों से परेशान है। अब ग्राम इमलिया की एक बस्ती का है। यहां पर विद्युत कंपनी ने न कोई लाइन डाली है, लेकिन हर माह बिजली का बिल जमा करने का कंपनी वाले कह रहे है। इस संबंध में सेवादल ब्लाक कांग्रेस के अध्यक्ष खुमान सिंह गुर्जर सहित आधा दर्जन से अधिक क्षेत्रवासियों ने बताया कि क्षेत्र में मीटर तो मंजूर हो गए है, लेकिन विद्युत कंपनी ने अभी तक यहां पर लाइट के कोई इंतजाम नहीं किए है। उनका कहना है कि लैम्प के सहारे अंधेरे से जूझ रहे यहां के लोग बिजली का बिल मिलने से काफी परेशान हैं, क्षेत्र में बिजली तो दूर बिजली का तार भी दूर- दूर तक नहीं है। कांग्रेस नेता श्री गुर्जर का कहना है कि पूरे जिले में विद्युत कंपनी की तानाशाही ग्रामीणों को परेशानी में डाल रही है। क्षेत्र के ग्रामीण इलाकों में गत दिनों हवा और बारिश के कारण खंभे और तार टूटे पड़े हुए है।  सूचना देने के बाद भी विद्युत कंपनी उन टूटे हुए तारों को ठीक करने की जहमत नहीं उठाते है। जिससे ग्रामीणों को किसी घटना का अंदेशा बना रहता है। क्षेत्र में खंभों के पास कई ट्रांसफार्मर खुले पड़े हैं, जिससे ग्रामीणों को दुर्घटना होने का भय बना रहता है। बिजली विभाग द्वारा ग्रामीणों को बिजली की सुविधा देने के लिए बिजली के खंभों पर तार लगाए गए हैं, लेकिन यह तार अब ढीले हो गए हैं, जिस वजह से सड़क से गुजरने वाले डंपर, ट्रैक्टर, ट्राली में कई बार तार फंसकर टूट जाते हैं।  


असरदार दलित सरदार बने पंजाब के मुख्यमंत्री सेवादल, कांग्रेस जिलाध्यक्ष खंगराले ने कराया मिठाई का वितरण


sehore news
सीहेार। जिला कांग्रेस कार्यालय स्थित बस स्टेंड पर असरदार दलित सरदार चरणजीत सिंह चन्ना को पंजाब का मुख्यमंत्री बनाए जाने पर जिला कांग्रेस कमेटी अध्यक्ष डॉ बलवीर तोमर सेवादल कांग्रेस प्रदेश सचिव पूर्व नगर पालिका सीहेार अध्यक्ष राकेश राय की उपस्थिति में सेवादल कांग्रेस के जिलाध्यक्ष नरेंद्र खंगराले के द्वारा मिठाई का वितरण कराया गया। इस मौके पर समस्त कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने खुशी का इजहार कर कांग्रेस की राष्ट्रीय अध्यक्ष श्रीमति सौनिया गांधी, राहुल गांधी, प्रियंका गांधी और पंजाब के प्रभारी हरीश रावत एवं अंबिका सोनी का आभार व्यक्त किया। इस अवसर पर प्रमुख रूप से वरिष्ठ कांग्रेस नेता दर्शन सिंह वर्मा, राजेंद्र ठाकुर, डॉ अनीस खान, राजाराम बडे भाई, सीताराम भारती, राजेश यादव भूरा, तुलसीराम परमार, प्रीतम दयाल चौरसिया, विवेक राठौर, दिनेश भैरवे, पवन राठौर, राकेश वर्मा, सुनील दुबे, रमेश राठौर,महफूज बंटी, मृदुल तोमर,एडवोकेट लक्ष्मण रैकवार, फरीद खान, मांगीलाल टिमरई, मुकेश ठाकुर, मुमताज खान, भगत सिंह तोमर, लखन लाल मालवीय, तुलसी राठौर, कपिल गौर, हर्षदीप राठौर आदि कांग्रेस कार्यकर्ता उपस्थित थे।


सुराज का मतलब है बिना लिए-दिए और बिना विलंब के लोगों के काम हो : मुख्यमंत्री श्री चौहान

  • निर्माण-कार्यों में गुणवत्ता आवश्यक, घटिया काम बर्दाश्त नहीं होगा
  • जन-भागीदारी से नियंत्रण में आया कोरोना
  • विकास, जन-कल्याण और सुराज के लिए हमें एक बार फिर फुल फॉर्म में आना है
  • राजस्व अभिलेखों के शुद्धिकरण के लिए 1 से 15 नवंबर तक चलेगा अभियान
  • मुख्यमंत्री श्री चौहान की अध्यक्षता में हुई कमिश्नर-कलेक्टर कॉन्फ्रेंस

sehore news
मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि कोरोना संक्रमण का सामना करना अब तक राज्य सरकार की सर्वोच्च प्राथमिकता थी। प्रशासनिक अधिकारियों, जन-प्रतिनिधियों और जनता के सहयोग से हम प्रदेश में कोरोना को नियंत्रित करने में सफल हुए हैं। इसके लिए समस्त प्रशासनिक अमला बधाई का पात्र है। प्रदेश को सुराज के मॉडल के रूप में स्थापित करना है। कोरोना के नियंत्रित होने के बाद अब विकास, जन-कल्याण और समय-सीमा में निर्माण कार्यों को पूर्ण करने के लिए हमें एक बार फिर फुल फॉर्म में आना है। सुराज का मतलब है बिना लिए-दिए और बिना विलंब के लोगों के काम होना। सुराज का मतलब है विकास के काम गुणवत्ता के साथ पूर्ण हो, घटिया काम बर्दाश्त नहीं होगा। प्रदेश में जनदर्शन आरंभ हो गया है और अब औचक निरीक्षण भी मैं शीघ्र आरंभ करूंगा। भ्रष्टाचार पर हमारी जीरो टॉलरेंस नीति होगी। गड़बड़ करने वालों पर कठोरतम कार्यवाही होगी। मुख्यमंत्री श्री चौहान मंत्रालय से कलेक्टर-कमिश्नर्स को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से संबोधित कर रहे थे। मंत्रालय में आयोजित कलेक्टर-कमिश्नर कान्फ्रेंस में मुख्य सचिव श्री इकबाल सिंह बैंस, अपर मुख्य सचिव सामान्य प्रशासन श्री विनोद कुमार, अपर मुख्य सचिव गृह डॉ. राजेश राजौरा, प्रमुख सचिव जनसंपर्क एवं संस्कृति श्री शिवशेखर शुक्ला, पुलिस महानिदेशक श्री विवेक जौहरी उपस्थित रहे। सभी कमिश्नर, आईजी, कलेक्टर, पुलिस अधीक्षक सहित सभी जिला पंचायतों के सीईओ और सभी कमिश्नर नगर निगम बैठक में वर्चुअली शामिल हुए। कलेक्ट्रेट के एनआईसी सभाकक्ष मेंजिला पंचायत सीईओ श्री हर्षसिंह, एसपी श्री मयंक अवस्थी, अपर कलेक्टर श्रीमती गुंचा सनोबर,‍ एडिशनल एसपी श्री समीर यादव उपस्थित थे।


1 से 15 नवंबर तक राजस्व अभिलेखों के शुद्धिकरण का अभियान

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने निर्देश दिए कि जिलों में बड़े कार्यों की मॉनीटरिंग कलेक्टर स्वयं करें। अटल एक्सप्रेस-वे का नाम अब अटल प्रगति-वे होगा। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि प्रदेश में दिनाँक 1 से 15 नवंबर तक राजस्व अभिलेखों के शुद्धिकरण का अभियान चलाया जाएगा। राजस्व रिकॉर्ड में जितनी भी पेंडेंसी है, उसको समाप्त किया जाएगा। प्रदेश में 15 नवंबर को जनजाति गौरव दिवस है, भगवान बिरसा मुंडा के जन्म-दिवस पर राजस्व शुद्धिकरण अभियान पूर्ण होगा।


21 सितम्बर से जन-सुनवाई : समाधान एक दिन भी होगा आरंभ

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि सीएम हेल्पलाइन में हर माह मॉनिटरिंग होगी। प्रदेश में 21 सितंबर से जन-सुनवाई आरंभ होगी। पूर्व की भांति प्रातः 11 से 12 बजे तक कलेक्टर-कमिश्नर और सभी विभागों के अधिकारी जनता से मिलेंगे और उनकी समस्याएँ जानेंगे। समाधान एक दिन अर्थात् वन-डे गवर्नेंस भी आरंभ होगा। चिन्हित सेवाओं में प्रातः आवेदन देने पर शाम तक उसका निराकरण किया जाएगा।


जन-भागीदारी मॉडल को शासन संचालन के अन्य क्षेत्रों में भी क्रियान्वित किया जाएगा

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि वैक्सीनेशन का पहला डोज़ प्रदेश की 80 प्रतिशत पात्र जनसंख्या को लग चुका है, यह देश में बड़ी उपलब्धि है। जनता को जोड़कर हम कोविड-19 पर नियंत्रण कर पाए। वैक्सीनेशन का यह बड़ा लक्ष्य भी जन-भागीदारी से ही प्राप्त हुआ है। जन-भागीदारी के मॉडल को अन्य क्षेत्रों में भी क्रियान्वित किया जाएगा। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने ग्वालियर-चंबल संभाग में बाढ़ से निपटने में प्रशासन द्वारा की गई कार्यवाही और राहत कार्यों की सराहना की। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि प्रदेश में डेंगू का प्रभाव बढ़ रहा है। भारत सरकार द्वारा गाइडलाइन जारी की गई है। ब्लड प्लेटलेट्स कम होने से जीवन को खतरे की संभावना बनती है। हम बीमारी को फैलने नहीं देंगे। प्रशासनिक अमला, जन-प्रतिनिधियों और जनता को साथ लेकर प्रत्येक स्तर पर एन्टी लार्वा गतिविधियाँ चलाई जाएंगी।


वॉटसऐप पुलिसिंग नहीं चलेगी

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि अवैध शराब पर लगातार कार्यवाही जारी रखें। अवैध शराब और नशीले पदार्थों पर नियंत्रण के लिए ग्राम स्तर तक इंटेलीजेंस नेटवर्क को सशक्त करें। पुलिस के अधिकारी क्षेत्र के दौरे और थानों के निरीक्षण सुनिश्चित करें। थानों पर शांति समिति की बैठकें और सामुदायिक पुलिसिंग की अवधारणा का क्रियान्वयन अनिवार्यत: हो। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि वॉटसएप पुलिसिंग नहीं चलेगी। दुष्टों के लिए वज्र सा कठोर और भले व्यक्ति के लिए फूल सा कोमल व्यवहार आवश्यक है। हमारा लक्ष्य जनता को राहत देना है। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि राशन की कालाबाजारी को शून्य करना, मिलावट को रोकना और चिटफंड कम्पनियों पर नियंत्रण भी आवश्यक है।


गलती करने वालों को नहीं छोड़े

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि अनुसूचित जाति-जनजाति और कमजोर तबके पर अत्याचार के संबंध में सजग रहने की आवश्यकता है। इस दिशा में कलेक्टर, एस.पी. अतिरिक्त सावधानी बरतें। यह छवि होनी चाहिए कि गलती करने वालों को पुलिस नहीं छोड़ेगी। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने सूदखोरों द्वारा ऊँची दर पर ब्याज वसूलने के मामले में अनूपपुर एस.पी. द्वारा की गई कार्यवाही की प्रशंसा की। चिन्हित अपराधों की भी बैठक में समीक्षा हुई।


कलेक्टर, एस.पी. से लेकर मैदानी अधिकारियों तक पुरस्कार की व्यवस्था

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि जो अधिकारी अच्छा कार्य कर रहे हैं, उन्हें पुरस्कृत करने के लिए व्यवस्था स्थापित की जाए। श्रेष्ठता को रिकार्ड में दर्ज करना आवश्यक है। कलेक्टर, एस.पी. के साथ मैदानी स्तर के अधिकारियों को पुरस्कृत करने की व्यवस्था हो। मध्यप्रदेश के स्थापना दिवस के अवसर पर ऐसे अधिकारियों को सम्मानित किया जाए। साथ ही जिन अधिकारियों का परफार्मेंस ठीक नहीं है, उनके संबंध में टीप रिकार्ड में अंकित होनी चाहिए।


अनुकम्पा नियुक्ति के प्रकरणों में विलंब न हो

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि अनुकम्पा नियुक्ति के प्रकरणों में विलंब न हो। परिवार के पात्र सदस्य को जल्द नियुक्ति देना आवश्यक है। इसके लिए निश्चित व्यवस्था स्थापित की जाए।


सोशल मीडिया-गुड गवर्नेंस का प्रभावी साधन

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने जिला स्तर पर सोशल मीडिया प्रबंधन की समीक्षा की। उन्होंने कहा कि सोशल मीडिया गुड गवर्नेंस का प्रभावी साधन है। जनता अपनी समस्याएँ सोशल मीडिया पर सरलता से रख सकती है। इस आधार पर समस्याओं का समाधान होना जनता के लिए बड़ी राहत है। साथ ही जिला प्रशासन अपने अच्छे कार्यों को सोशल मीडिया के माध्यम से जनता तक पहुँचा सकता है। भ्रामक खबरों का रियल टाइम खण्डन भी इससे सुनिश्चित होता है। अत: शासन-प्रशासन के लिए जनता से संवाद का यह प्रभावी माध्यम है।


“मुझे क्या लेना-देना” का भाव छोड़कर सोशल मीडिया पर सक्रिय हों कलेक्टर

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहाकि सोशल मीडिया नेटवर्क को सशक्त करने के लिए जिलों को राज्य शासन की ओर से आवश्यक सहयोग और समर्थन उपलब्ध कराया जाए। कॉन्फ्रेंस में विभिन्न संभागों और जिलों की ट्वीटर और फेसबुक पर सक्रियता के संबंध में आयुक्त जनसंपर्क डॉ. सुदाम खाड़े द्वारा प्रस्तुतिकरण दिया गया। रीवा, दमोह, सागर, जिला प्रशासन द्वारा किए गए विशेष कार्यों, अन्य जिलों द्वारा चलाई गई स्पेशल कैम्पेन के साथ ही क्राइसिस मैनेजमेंट, भ्रामक जानकारियों का खण्डन करने में सोशल मीडिया की भूमिका की जिलावार जानकारी दी गई। प्रस्तुतिकरण में बताया गया कि शहडोल, खरगेन, रतलाम आदि जिलों ने सोशल मीडिया पर जानकारी आने के परिणामस्वरूप त्वरित रूप से कार्यवाही करते हुए लोगों को राहत पहुँचाई। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि कलेक्टर “मुझे क्या लेना-देना” का भाव छोड़कर सोशल मीडिया पर सक्रिय हों।


महिला अपराधों के प्रति अधिक संवेदनशीलता की आवश्यकता

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि महिला अपराधों को रोकने के लिए पुलिस को और अधिक संवदेनशील होने की आवश्यकता है। छेड़छाड़ के मामलों पर सख्त कार्यवाही हो। प्रदेश में 700 थानों में महिला हेल्प डेस्क की स्थापना की गई है। प्रदेश में 52 महिला थाने स्थापित किए गए हैं। इनके कार्य का इम्पेक्ट असेसमेंट कराया जाए। साथ ही महिला थाने मानव तस्करी रोधी इकाई के रूप में कार्य करें।


मध्यप्रदेश को मिले 21 मेडल

कॉन्फ्रेंस में जानकारी दी गई मध्यप्रदेश पुलिस को वर्ष 2019-2021 के दौरान गंभीर महिला अपराधों की विवेचना के लिए यूनियन होम मिनिस्टर मेडल फॉर एक्सीलेंस इन इन्वेस्टिगेशन में 21 मेडल प्राप्त हुए हैं। ऑनलाइन प्री-लिटिगेशन, मिडिएशन आरंभ करने वाला मध्यप्रदेश देश का पहला राज्य है। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि गुम अवयस्क बालक-बालिकाओं को ढूँढने के लिए ऑपरेशन मुस्कान में पुलिस को सघन प्रयास करने की आवश्यकता है।


ग्वालियर में मुक्त कराई गई 1027 एकड़ भूमि

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने शासकीय भूमि को भू-माफिया और गुंडों से मुक्त कराने के लिए ग्वालियर, सागर, छतरपुर, सिवनी और खण्डवा जिलों को बधाई दी। उल्लेखनीय है कि ग्वालियर में 1027 एकड़ भूमि कब्जाधारियों से मुक्त कराई गई है। उज्जैन में हरीफाटक ब्रिज, शहडोल, सतना, देवास, सिवनी और सिंगरौली में हुई कार्यवाही की भी प्रशंसा की गई। प्रदेश में अब तक 3839.69 एकड़ भूमि मुक्त कराई गई है।


भू-माफिया से मुक्त कराई भूमि पर गरीबों के आवास बनेंगे

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि भू-माफिया और गुंडों से मुक्त कराई गई ऐसी भूमि जो शहर में है या शहर के पास है, उसे गरीबों के आवास के लिए आरक्षित किया जाए। जो भूमि शहर से दूर है वहाँ शासकीय कार्यालय या स्कूल आदि संचालित किए जाएँ। यह सुनिश्चित करना आवश्यक है कि मुक्त कराई गई भूमि का सही उपयोग हो और उस पर पुन: कब्जा न हो।


अवैध खनन में लगे वाहनों को राजसात किया जाए

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि अवैध खनन करने वालों के विरूद्ध सख्त कार्यवाही आवश्यक है। अवैध खनन में लगे लोगों के वाहन राजसात कर नीलाम करने से ही नियंत्रण संभव होगा। मात्र जुर्माना लगाने से अवैध खनन पर नियंत्रण नहीं पाया जा सकता।


सीएम हेल्पलाइन, समाधान ऑनलाइन के लबित प्रकरणों के शीघ्र निराकरण करें - श्री सिंह


sehore news
कलेक्ट्रेट सभाकक्ष में आयोजित टीएल बैठक में जिला पंचायत सीईओ श्री हर्ष सिंह ने सभी विभागों के समय सीमा वाले पत्रों तथा विभागीय गतिविधियों की विस्तृत समीक्षा करते हुए अधिकारियों को पत्रों पर शीघ्र कार्यवाही करने के निर्देश दिए गए। उन्होंने कहा कि विभागीय पत्रों पर निर्धारित अवधि के पूर्व कार्यवाही सुनिश्चित करें, जिससे कि संबंधित कार्य शीघ्र पूर्ण हो सकें।  उन्होंने सीएम हेल्पलाइन, समाधान ऑनलाइन के साथ ही डेंगू के रोकथाम के लिए सभी आवश्यक कदम उठाने के जिला मलेरिया अधिकारी को निर्देश दिए। बैठक में एसपी श्री मंयक अवस्थी, अपर कलेक्टर श्रीमती गुंचा सनोबर, डिप्टी कलेक्टर श्रीमती प्रगति वर्मा, श्री आदित्य जैन सहित जिलाधिकारी उपस्थित थे।



आबकारी विभाग ने छापामार कार्रवाई कर अवैध मदिरा जप्त की


sehore news
आबकारी विभाग द्वारा छापामार कार्रवाही करते हुए नसरूल्लागंज के ग्राम ठीकरीखेडा में कच्ची शराब तथा महुआ लाहन जब्तकर अवैध मदिरा का कारोबार करने वालों के विरूद्व कार्रवाही की गई। जिला आबकारी अधिकारी श्रीमती कीर्ति दुबे ने बताया कि इन 11 लीटर कच्ची शराब एवं 60 किलो ग्राम महुआ लहान जप्त कर आबकारी अधिनियम की धारा34(1) (क) (च) का प्रकरण कायम कर गिरफ्तार किया गया। इसके अलावा अन्य  दो प्रकरण कायम कर 30 लीटर कच्ची शराब एवं 750  किलोग्राम  महुआ लाहन जप्त कर प्रकरण विवेचना में लिए गए। जप्त सामग्री की अनुमानित कीमत 44 हजार 600 रूपये है। इस कार्यवाही में संभागीय उड़नदस्ता भोपाल के सहायक जिला आबकारी अधिकारी श्री डीडी शुक्ला एवं आबकारी उपनिरीक्षक श्री शेखर लिखार सहित सभी मुख्य आबकारी आरक्षक, आबकारी आरक्षक, नगर सैनिकों का योगदान रहा।



जनसुनवाई पुन: प्रारंभ आज से


मध्यप्रदेश शासन, समान्य प्रशासन विभाग, मंत्रालय भोपाल से प्राप्त पत्र दिनांक 17 सितंबर 2021 के अनुसार जिले में पूर्व की भांति जनसुनवाई कार्यक्रम  पुनः 21 सितम्बर  2021 को प्रारंभ की जाएगी। पूर्व में लॉकडाउन के कारण जनसुनवाई का कार्यक्रम स्थगित किया गया था। कोविड-19 के प्रोटोकॉल का सख्ती से पालन करते हुए प्रारंभ होगी



शासकीय महाविद्यालय शाहगंज में रोजगार मेला आज


शासकीय महाविद्यालय शाहगंज में स्वामी विवेकानंद करियर मार्गदर्शन योजना एवं आत्मनिर्भर मध्य प्रदेश निर्माण के अंतर्गत रोजगार मेले का आयोजन 21 सितंबर  को दोपहर 12:00 बजे से 4:00 बजे तक आयोजित किया जाएगा। रोजगार मेले में विद्यार्थियों को रोजगार मेले में उम्मीदवारों को चयन करने के लिए वेलस्पन फ्लोरिंग लिमिटेड, वेलस्पन इंडिया लिमिटेड, आईईएस कॉलेज एवं वर्धमान कंपनियों के प्रतिनिधी उपस्थित होंगे।

 

टीकाकरण महाअभियान के तहत 5 बजे तक 11688 लोगों ने लगवाया कोविड टीका


sehore-vaccine
जिले में कोविड टीकाकरण महाअभियान के तहत 11688 लोगों को कोविड का टीकाकरण किया गया। सीएमएचओ श्री सुधीर डेहरिया ने बताया कि जिले में सोमवार को 5 बजे तक 11688 लोगों को कोविड का टीका लगाया गया। सुबह 08 बजे से ही लोग कोविड का टीका लगवाने के लिए टीकाकरण केन्द्र पहुंचे।

 

जिले में जनपदवार टीकाकरण की स्थिति

जिले में कुल 11688 नागरिकों का टीकाकरण किया गया। जिले में कुल 145 टीकाकरण सत्र आयोजित किए गए। आष्टा में 2872, बुधनी में 1480, इछावर में 1579, नसरूल्लागंज में 1808, श्यामपुर में 2979 तथा सीहोर शहरी क्षेत्र में 970 नागरिकों का टीकाकरण किया किया गया।


सामाजिक न्याय एवं निशक्तजन कल्याण विभाग द्वारा दिव्यांगजनों को वितरित की सामग्री

 
sehore news
सामाजिक न्याय एवं निशक्तजन कल्याण विभाग द्वारा दिव्यांगजनों एक कार्याक्रम आयोजित कर दिव्यांगजनों, हितग्राहियो को बुदनी, रेहटी तथा शाहगंज में सहायक उपकरण मोड्राइज्ड साइकल, व्हील चेयर, स्टीक रिंग मशीन का श्री राजेन्द्र सिंह राजपुत द्वारा वितरण किया गया । इस अवसर पर जनपद पंचायत सीईओ श्री धर्मेन्द्र यादव, श्रीमती अंकिता ठाकुर उपस्थित थे।




 स्वास्थ्य मंत्री ने जिला चिकित्सालय में भर्ती रोगियों से वीडियो काल पर की बात, अस्पताल में भर्ती मरीजों से स्वास्थ्य एवं इलाज के बारे में ली जानकारी

  • अस्पताल की व्यवस्थाओं से संतुष्ट नजर आए मंत्री डॉ. चौधरी

sehore news
लोक स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री डॉ. प्रभूराम चौधरी जिला चिकित्सालय के सर्जिकल , मेलमेडिकल, महिलामेडिकल, सर्जिकल एवं पोस्ट सर्जिकल वार्ड में भर्ती मरीजों तथा उनके परिजनों से चर्चा कर अस्पताल में मिल रहें इलाज के बारे में जानकारी ली। जिला चिकित्सालय के पुरूष मेडिकल वार्ड में भर्ती बडियाखेडी निवासी श्री  शिवनारायण का हालचाल जाना। मरीज ने बताया कि कुल्हे की हड्डी से परेशानी है, इसलिए जिला चिकित्सालय में भर्ती है। उन्होंने मंत्री श्री चौधरी को बताया कि उनका उपचार ठीक हो रहा है। वे 16 सितंबर को अस्पताल में भर्ती हुए थे। हर्निया के आपरेशन के लिए भर्ती श्री इरफान कुरैशी ने बताया कि वे 14 सितंबर से हार्निया के ऑपरेशन के लिए भर्ती हुए थें, उनका सफल ऑपरेषन डॉ. अनुराग शर्मा तथा डॉ.फैजल अंसारी द्वारा किया गया। मंत्री डॉ. चौधरी ने पूछा कि कोई पैसा तो अस्पताल में नहीं लगा उन्होंने जवाब दिया कि किसी ने कोई पैसा नहीं लिया। अस्पताल की व्यवसथाएं भी ठीक है। चिकित्सक भी समय-समय पर पहुचकर जानकारी लेते रहते है। मंत्री डॉ. चौधरी ने अस्पताल में मिल रही अन्य सुविधाओं के बारे में जानकारी लेने पर  मरीजों ने बताया कि सीटी स्केन भी नि:शुल्क हुआ, खाना भी अच्छा मिल रहा है। साफ-सफाई भी अस्पताल में अच्छी रहती है। अस्पताल के स्टाफ का व्यवहार भी अच्छा है। उन्होंने डयूटी पर उपस्थित स्टाफ को भी देखा। अस्पताल व्यवस्थाओं से मंत्री डॉ. चौधरी संतुष्ट नजर आए।


जिले में आज कोई भी व्‍यक्ति कोरोना पॉजिटिव नहीं मिला, वर्तमान में कोरोना एक्टिव पॉजिटिव की संख्या शून्य


पिछले 24 घंटे के दौरान प्राप्त रिपोर्ट में जिले में आज कोई भी व्यक्ति कोरोना पॉजिटिव नहीं मिला है। सीएमएचओ कार्यालय से प्राप्त जानकारी के अनुसार जिले में अब तक कुल कोरोना पॉजिटिव व्यक्तियों की संख्या 10142 है। वर्तमान में एक्टिव पॉजिटिव शून्य हो गई हैं। कुल रिकवर व्यक्तियों की संख्या 10020 हैं। आज 515 सैम्पल लिए गए है। जांच के लिए सीहोर शहरी क्षेत्र से 161, श्यामपुर से 135,  नसरूल्‍लागंज 47, आष्टा से 113,  बुधनी से 20  तथा  इछावर से 39 सेंपल लिए गए हैं। अभी तक कुल जांच के लिए भेजे गए सेंपल 261937 हैं। जिनमें से 249835 सैंपलों की रिपोर्ट नेगेटिव आई है। आज 893 सैंपलों की रिपोर्ट निगेटिव आई है। कुल 1889 सैंपलों की रिपोर्ट आना शेष है। पैथोलॉजी द्वारा कोरोना वायरस सेंपल की रिजेक्ट संख्या कुल 71 है।

कोई टिप्पणी नहीं: