सीहोर (मध्यप्रदेश) की खबर 19 सितम्बर - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

रविवार, 19 सितंबर 2021

सीहोर (मध्यप्रदेश) की खबर 19 सितम्बर

सादगी के साथ मनाया भगवान श्रीकृष्ण और रुकमणी का विवाह, आज किया जाएगा भागवत कथा का समापन


sehore news
सीहोर। शहर के बड़ा बाजार स्थित अग्रवाल धर्मशाला में अग्रवाल महिला मंडल के तत्वाधान में जारी सात दिवसीय भागवत कथा में रविवार को नगर के गौरव भागवत भूषण पंडित प्रदीप मिश्रा ने कृष्ण और रुक्मिणी विवाह प्रसंग सुनाकर सभी को भाव-विभोर कर दिया। उन्होंने कहा कि जिस प्रकार माता रुक्मिणी ने भगवान कृष्ण को देखे बिना, उनके गुणों के आधार पर उनका अपने वर के रूप में चयन कर लिया था। ठीक उसी प्रकार हमें भी भगवान के प्रति विश्वास रखकर उनकी भक्ति करनी चाहिए। इससे कलयुग में जीवमात्र का कल्याण हो सकता है। इस मौके पर श्रद्धालुओं के मध्य में भगवान श्रीकृष्ण और रुकमणी की बारात भी निकाली गई। श्रीकृष्ण और रुक्मिणी के विवाह का प्रसंग लौकिक विवाह का नही अपितु अध्यात्मिक मिलन का है। जो व्यक्ति भगवान के विवाह की कथा सुनता है उसका जीवन सुखमय व्यतीत होता है।


मां के संस्कार बच्चे को इंसान बना सकता

उन्होंने कहा कि परमात्मा के चिंतन करने से गर्भ में भी जीव की रक्षा हो सकती है, जीव को ज्ञान प्राप्त होता है। मां के संस्कार बच्चे को इंसान बना सकता है। घर, परिवार, समाज का उत्थान माताओं पर निर्भर है। बेटे की प्रथम गुरु मां होती है। मां के पास बच्चों के संस्कार का खजाना होता है। शरीर के अंदर मनुष्य की दो धाराएं होती हैं, विचारों और विकारों की। विचार सदगुण और धर्म को जन्म देता है जबकि विकार दुर्गुण और अधर्म पैदा करता है। भगवान श्रीकृष्ण ने भी कहा है कि संकट काल में मानव को विचार करना चाहिए।


भक्त भगवान को मन से अपना मानते

भगवान अभिमान का घमंड दूर करने के लिए अवतार लेते है। मामा कंस के अत्याचार से प्रजा दुखी थी, इसलिए उसका अंत करने के लिए अवतार लिया और कंस का वध किया था। वहीं रुक्मणी ने विवाह के पूर्व ही श्रीकृष्ण को मन से पति मान लिया था, इसलिए उनका हरण नहीं हुआ बल्कि वे स्वयं उनके साथ गई। अभिमानी रुक्मि ने जब भगवान को रोकने का प्रयास किया तो उसका श्रीकृष्ण ने उसका दंभ चूर कर दिया। इसी तरह जो भक्त भगवान को मन से अपना मानते हैं, भगवान स्वयं उन्हें सद्गति प्रदान करते हैं।


आज किया जाएगा समापन

अग्रवाल महिला मंडल की अध्यक्ष श्रीमती ज्योति अग्रवाल ने बताया कि शहर के बड़ा बाजार में जारी सात दिवसीय भागवत कथा का समापन आज सादगी के साथ किया जाएगा मंडल द्वारा सीमित संख्या में कथा का आयोजन किया गया था। 


शासकीय उत्कृष्टता उ.मा. विद्यालय  से हाईस्कूल,हायर सेकेन्डरी, परीक्षा 2021 की मार्कंशीट का वितरण शुरू 


सीहोर। शासकीय उत्कृष्टता उ.मा. विद्यालय क्रमांक 1 के द्वारा हाईस्कूल, हायर सेकेन्डरी परीक्षा 2021 की अंकसूचियों का वितरण प्रारंभ कर दिया गया है। कई दिनों से छात्रों द्वारा अंकसूचियों की प्रतीक्षा की जा रही थी । समन्वय संस्था के प्राचार्य रवीन्द्र बांगरे ने बताया की  शासकीय अशासकीय संस्था के प्राचार्य या उनके द्वारा अधिकृत कर्मचारी अंकसूचियाँ प्राप्त करने के लिए शासकीय पत्र शा. उत्कृष्ट विद्यालय सीहोर में देकर अंकसूचियाँ प्राप्त कर सकते हैं। ये अंकसूचियाँ प्राचार्य शीघ्र प्राप्त कर संस्था की पंजी में प्रविष्टि कर विद्यार्थियों को शीघ्रातिशीघ्र  अंकसूचियों के वितरण की व्यवस्था सुनिश्चित करें।


प्रतिमा विर्सजन के लिए प्रशासन ने किए आवश्यक इंतजाम

 
sehore news

जिले गणेश प्रतिमाओं के विसर्जन के लिए प्रशासन ने पर्यावरण प्रदूषण को ध्यान में रखते हुए, कई इंतजाम किये। जिले के सभी विसर्जन स्थलों पर कुंड बनाकर गणेश प्रतिमाओं का विसर्जन कराया जा रहा है। गणेश प्रतिमा विसर्जन के दौरान पुलिस एंव राजस्व के अधिकारी पूरे समय विर्सजन स्थलों पर उपस्थित रहें। कुंड के अलावा तालाबों एवं अन्य जल स्रोतों पोखर में भी गणेश प्रतिमा के विसर्जन के लिए प्रशासन द्वारा सभी आवश्यक इंतजाम किए गए हैं।  




 

गम्भीर बीमारियों से सावधानी बरतने और वायरल होने पर तुरंत डॉक्टर को दिखाने की अपील

 
गम्भीर बीमारियों जैसे ब्लड प्रेशर, डायबिटीज किड़नी, अस्थमा, केंसर आदि बीमारियों से पीडि़त  व्यक्तियों से कोरोना से बचाव के लिये पूरी तरह सावधानियां बरतने की अपील की गई है।कोरोना के दृष्टिगत ऐसे व्यक्ति भीड़-भाड़ में न जायें, आपस में दो गज की दूरी बनाकर रखें। हाथों को सैनेटाइज करते रहना अथवा हाथों को साबुन से धोते रहने जैसी सावधानी बरतें। मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी ने सलाह दी है कि किसी भी व्यक्ति को सर्दी, जुखाम, खांसी, बुखार, सांस लेने में तकलीफ, सिरदर्द, भूख न लगना, दस्त लगना आदि के लक्षण होने पर वे घर पर ही पारंपरिक उपचार लेते रहते है। ठीक होने की उम्मीद में 5 से 7 दिन गुजार देते है, जिन्हे स्वास्थ्य लाभ होने के बजाय उनकी बीमारी और बढ़कर जटिल हो जाती है। ऐसे लोंगो को  अस्पताल में भर्ती करना पड़ता है। ऐसी स्थिति में कोविड-19 की जांच पॉजीटिव आती है तो उपचार और जटिल हो जाता है। ऐसे मरीजों को ऑक्सीजन सपोर्ट या आईसीयू में भर्ती कर उपचार करना पड़ता है। ऐसी बीमारियों से प्रभावित व्यक्तियों को सलाह दी है कि उन्हें सर्दी, खांसी, बुखार और सांस लेने में तकलीफ, सिरदर्द, हाथ-पैरों में दर्द, शरीर में ऐठन, भूख न लगना खाने व सूघंने में स्वाद का पता न लगना आदि लक्षणों में आते ही वे तुरंत चिकित्सक से परामर्श ले। अथवा कोविड-19 की जांच करवाकर समय रहते पूर्व उपचार लेकर स्वास्थ्य हो। जिससे वे अपने परिवार को सुरक्षित रख सकें।


जिले में अब तक 913.2 मिलीमीटर औसत वर्षा दर्ज, बीते 24 घंटे में 7.6 मिलीमीटर औसत वर्षा


जिले में 01 जून से 19 सितंबर, 2021 तक  913.2 मिलीमीटर औसत वर्षा दर्ज की गई। जो कि गत वर्ष इसी अवधि में औसत वर्षा 1330.8 मिलीमीटर थी। जिले की वर्षा ऋतु में सामान्य औसत वर्षा 1148.4 मिलीमीटर है। अधीक्षक भू-अभिलेख द्वारा दी गई जानकारी के अनुसार 01 जून से 19 सितंबर, 2021 तक जिले के वर्षामापी केन्द्र सीहोर में 872.7 मिलीमीटर,  श्यामपुर में 928.9, आष्टा में 797.0 जावर में 760.0,  इछावर में 891.3, नसरूल्लागंज में 903.0,  बुधनी में 1090.0, रेहटी में 1063.0 मिलीमीटर वर्षा दर्ज की गई है।


बीते 24 घंटे में 7.6 मिलीमीटर औसत वर्षा

जिले में बीते 24 घंटे में प्रात: 08 बजे तक 7.6 मिलीमीटर औसत वर्षा दर्ज की गई। वर्षामापी केन्द्र सीहोर में 3.0 मिलीमीटर, श्यामपुर में 2.0, आष्टा में 21.0,  जावर में 11.0,  इछावर में 14.0, नसरूल्लागंज में 2.0, बुधनी में 0.0, रेहटी में 7.4 मिलीमीटर वर्षा दर्ज की गई है।

 

जिले में आज कोई भी व्‍यक्ति कोरोना पॉजिटिव नहीं मिला, वर्तमान में कोरोना एक्टिव पॉजिटिव की संख्या शून्य


पिछले 24 घंटे के दौरान प्राप्त रिपोर्ट में जिले में आज कोई भी व्यक्ति कोरोना पॉजिटिव नहीं मिला है। सीएमएचओ कार्यालय से प्राप्त जानकारी के अनुसार जिले में अब तक कुल कोरोना पॉजिटिव व्यक्तियों की संख्या 10142 है। वर्तमान में एक्टिव पॉजिटिव शून्य हो गई हैं। कुल रिकवर व्यक्तियों की संख्या 10020 हैं। आज 972 सैम्पल लिए गए है। जांच के लिए सीहोर शहरी क्षेत्र से 245, श्यामपुर से 180,  नसरूल्‍लागंज 108, आष्टा से 228,  बुधनी से 104  तथा  इछावर से 107 सेंपल लिए गए हैं। अभी तक कुल जांच के लिए भेजे गए सेंपल 261422 हैं। जिनमें से 249242 सैंपलों की रिपोर्ट नेगेटिव आई है। आज 1002 सैंपलों की रिपोर्ट निगेटिव आई है। कुल 1963 सैंपलों की रिपोर्ट आना शेष है। पैथोलॉजी द्वारा कोरोना वायरस सेंपल की रिजेक्ट संख्या कुल 71 है।

कोई टिप्पणी नहीं: