झाबुआ (मध्यप्रदेश) की खबर 16 अक्टूबर - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शनिवार, 16 अक्तूबर 2021

झाबुआ (मध्यप्रदेश) की खबर 16 अक्टूबर

विकास को गति देकर देश को शक्तिशाली बनाएगी प्रधानमंत्री गति-शक्ति परियोजना - सांसद गुमानसिंह डामोर


jhabua news
झाबुआ । देश के विकास और एक ताकतवर देश के रूप में उसके कायाकल्प को लेकर प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी का विजन अद्भुत है। प्रधानमंत्री गति-शक्ति परियोजना देश के प्रति प्रधानमंत्री जी की सोच की झलक दिखाती है। संपूर्ण हो जाने पर यह परियोजना देश के विकास को पंख लगा देगी, वहीं दुनिया में भारत को एक शक्तिशाली देश के रूप में स्थापित करेगी। यह बात भारतीय जनता पार्टी रतलाम झाबुआ के सांसद गुमानसिंह डामोर ने ‘प्रधानमंत्री गति-शक्ति’ परियोजना के लागू करने पर प्रधानमंत्री श्री मोदी के प्रति आभार जताते हुए कही। श्री डामोर ने 107 लाख करोड़ की लागत वाली प्रधानमंत्री गति-शक्ति परियोजना को देश का कायाकल्प करने वाली बताते हुए कहा कि यह परियोजना देश को आत्मनिर्भरता और विकास के रास्ते पर तेजी से बढ़ाएगी, साथ ही देश में तेज विकास के लिए जरूरी अधोसंरचना और लाखों युवाओं को रोजगार के अवसर भी उपलब्ध कराएगी। उन्होंने कहा कि सड़क संपर्क को बढ़ावा देने के लिए इस परियोजना में 2 लाख कि.मी. हाईवे का प्रस्ताव है, वहीं देश के व्यापारिक विकास में रेलवे की सहभागिता बढ़ाने के लिए रेलवे की क्षमता को 1600 लाख मिलियन टन तक ले जाने का संकल्प भी है। उन्होंने कहा कि इसमें देश में 22 एयरपोर्ट और एयरस्ट्रिप तैयार करने का प्रस्ताव भी है, जिससे देश में एयर कनेक्टिविटी का विकास होगा। श्री डामोर ने कहा कि इस परियोजना में 38 इलेक्ट्रॉनिक क्लस्टर बनाने, 35000 कि.मी. गैस पाइपलाइन तैयार करने और 109 फार्मा क्लस्टर के विकास का प्रावधान है। परियोजना की सबसे महत्वपूर्ण बात यह है कि देश को रक्षा उत्पादन के क्षेत्र में शक्तिशाली बनाने के लिए रक्षा निर्यात को 1.7 लाख करोड़ तक पहुंचाने का लक्ष्य भी रखा गया है। श्री डामोर ने कहा कि गति-शक्ति परियोजना यह बताती है कि देश के कायाकल्प की सोच रखने वाली किसी सरकार का देश का विकास के प्रति नजरिया कैसा होना चाहिए। लेकिन दुर्भाग्य से आजादी के बाद के 70 सालों में किसी नेता या सरकार में यह दृष्टि दिखाई नहीं दी। श्री डामोर ने आशा जताई कि केंद्र सरकार के 16 विभागों के संयोजन से तैयार की गई यह परियोजना देशवासियों के जीवन को आसान और देश को व्यापार का स्वर्ग बनाएगी।


’नौ दिनों तक मां की आराधना के साथ संपन्न हुआ नवरात्रि महोत्सव और किया रावण दहन’


jhabua news
पिटोल । प्रति वर्ष अनुसार इस बार भी  पिटोल के तीन गरबा पंडालों में नवरात्रि की धूम रही गत वर्ष करोना बीमारी के कारण गरबे नहीं हुए थे परंतु इस बार सरकार एवं प्रशासन द्वारा थोड़ी छूट मिलने से गरबा खेलने वालों में काफी उत्साह के साथ गरबा का खेल कर देख कर आनंद लिया स्थानीय सार्वजनिक राधा कृष्ण मंदिर पर राधा कृष्ण मंदिर समिति द्वारा जन सहयोग से किए जाने वाले गरबा में गरबो कारण काफी जमा वहीं सार्वजनिक मां काली के दरबार में आजाद चौक तथा शिवाजी चौक में भी गरबो की धूम रही!


’अंतिम दिन राजनेताओं ने गरबो में की शिरकत लिया मां का आशीर्वाद’

अंतिम दिन तीनों गरबा पंडालों में भाजपा और कांग्रेस के नेताओं ने आकर माता रानी की महा आरती की एवं माता रानी का आशीर्वाद लिया एवं गरबा खेलने वालों के साथ गरबा खेला और धर्म लाभ लिया भाजपा की तरफ से झाबुआ विधानसभा के पूर्व विधायक शांतिलाल बिलवाल भाजपा युवा मोर्चा के जिला अध्यक्ष भानु भूरिया अतुल चौहान दिनेश मेवाड़ धर्मेंद्र नायक विक्रम नायक सेलू पंवार आदि लोग शामिल हुए वहीं कांग्रेस से प्रदेश युवक कांग्रेस अध्यक्ष डॉ विक्रांत भूरिया के साथ पिटोल सरपंच काना गुंडिया  वरिष्ठ कांग्रेसी नेता निर्भय सिंह ठाकुर विनोद मकवाना मानागुंडीया खुना गुडिया रमसू गुडिया मानसिंह गुडिया आदि लोग शामिल हुए!


’आर्केस्ट्रा पर झूमे गरबा प्रेमी किया और आयोजकों ने किया इनाम वितरण’

सार्वजनिक मां कालिका  मंदिर प्रांगण आजाद चौक पर अंतिम दिन वृंद म्यूजिकल ग्रुप गुजरात द्वारा शानदार गरबो की प्रस्तुति दी गई एवं   आजाद चौक गरबा समिति द्वारा गरबा में खेलने वाले सभी लोगों को पुरस्कार स्वरूप भेंट दी गई वहीं शिवाजी चौक गरबा समिति द्वारा गरबो के अंतिम 3 दिनों तक रोजाना स्टील के बर्तनों को खेलने वालों को भेंट स्वरूप दे कर धर्म लाभ लिया इस बार सबसे ज्यादा भीड़ शिवाजी चौक में हुई वही आजाद चौक गरबा समिति द्वारा करोना काल में  पिटोल गांव के सभी मृत दिवंगत आत्माओं को याद कर श्रद्धा सुमन अर्पित किए वही दोनों ही राजनीतिक पार्टियों के नेताओं का सम्मान किया!


 ’रावण दहन में बहुत हुई भीड़’

स्थानीय खेल मैदान के पास बने रावण दहन स्थल पर इस बार भारी संख्या में लोगों का जमावड़ा हुआ पिटोल पंचायत के द्वारा भव्य आतिशबाजी का आयोजन किया गया लोगों ने आतिशबाजी का खूब आनंद लिया एवं रात्रि 7ः30 बजे राम लक्ष्मण द्वारा रावण के पुतले का दहन किया गया पुतला दहन के बाद लोगों ने आपस में गले मिलकर दशहरे की बधाई दी।


पूज्य श्री धर्मदासजी म.सा. की दीक्षा जयंती पर सामुहिक 125 से अधिक आयंबिल तप, बाल तपस्वियों का किया सम्मान


jhabua news
थांदला। धर्म की रक्षा के लिए अपने प्राणों को सहर्ष न्यौछावर कर देने वाले महान क्रियोद्धारक संत जैनाचार्य पूज्य श्री धर्मदासजी म.सा. की दीक्षा जयंती सामूहिक आयम्बिल तप की आराधना के साथ मनाई गई। जानकारी देते हुए श्रीसंघ अध्यक्ष जितेंद्र घोड़ावत, प्रवक्ता पवन नाहर व ललित जैन नवयुवक मण्डल अध्यक्ष रवि लोढ़ा ने बताया कि करीब जैन धर्म के प्रभावशाली संत 22 संप्रदाय के अग्रणी 99 शिष्य सम्पदा के अग्रणी धर्म रक्षक पूज्य श्री धर्मदासजी म.सा. की दीक्षा जयंति जिन शासन गौरव पूज्य श्री उमेशमुनिजी के प्रथम शिष्य बुद्ध पुत्र प्रवर्तक श्री जिनेन्द्रमुनिजी की आज्ञानुवर्ती मधुर व्याख्यानी पूज्या श्री निखिलशीलाजी म.सा. आदि ठाणा - 4 के पावन सानिध्य में मनाई गई। इस अवसर पर पूज्यश्री की गुणानुवाद सभा में पूज्याश्री निखिलशीलाजी ने धर्मदासजी म.सा. के सम्पूर्ण जीवन पर प्रकाश डालते हुए उनके महान उपकारों को याद किया। इस दौरान पूज्या श्री ने कहा कि महापुरुषों के गुण स्मरण से उनके गुणगान करने से ह्रदय में सदभावना जाग्रत होती है। धर्मसभा को दीप्तिश्री ने सम्बोधित करते हुए श्रावक के 21 गुणों में एक गुणग्राही पर विस्तृत विवेचन करते हुए कहा कि जिस साधक की दृष्टि गुणग्राही होती है उसमें आत्मिक गुणों का विकास होता है। धर्मसभा में गुराणीजी से करीब 100 से अधिक तपस्वियों ने उपवास, आयम्बिल, निवि एकासन आदि विविध तप के प्रत्याख्यान ग्रहण किये।


बाल तपस्वियों का किया गया बहुमान

जैन धर्म में जिन शासन की सेवा करने वाले महान उपकारी गुरुदेव की दीक्षा दिवस पर बड़ो के साथ करीब 25 बाल तपस्वियों ने भी आयम्बिल तप की आराधना की। सभी बाल तपस्वियों को श्रीसंघ थांदला द्वारा अनुमोदनार्थ बहुमान व सम्मान पत्र भेंट किया गया। आयम्बिल निवि करने वाले सभी तप आराधकों सहित नव दिन की ओलिजी का लाभ स्व. मंगलादेवी पावेचा की स्मृति में  प्रमोद चांदमल पावेचा ने लिया। धर्मसभा का संचालन संघ सचिव प्रदीप गादिया ने किया।


अघोषित एक दिवसीय दशहरा मेले में उमड़ी भीड़, स्थानीय समिति द्वारा किया गया रावण दहन

  • नगर में दोपहर तक हजारों की संख्या में भीड़ ने दी दस्तक,  स्थानीय प्रशासन ने मुस्तेदी के साथ पथ संचलन व रावण दहन कार्यकम को शांति पूर्वक निपटाया

jhabua news
थांदला। अंचल के ख्याति प्राप्त 03 दिवसीय विजया दशमी मवेशी मेला बीते 02 वर्षो से कोविड के चलते (शासन की गाइड लाइन के चलते) नगर परिषद द्वारा निरस्त किया जा रहा था इस बार भी अनुविभागीय अधिकारी अनिल भाना द्वारा शांति समिति की बैठक में स्पष्ट कर दिया गया था कि इस बार किसी भी तरह के सार्वजनिक आयोजन नही होंगे। औपचारिकता बतौर रावण के पुतले का दहन किया गया किसने किया ?, क्यो किया ? यह विचारणीय प्रश्न है वही नगर में रावण दहन के तेजी से फैले मैसेज तथा नगर के मुख्य आयोजन स्थल पर में लगी दुकानों व झूला चकरियों ने ग्रामीण क्षेत्र की जनता को आकर्षित किया नतीजन हजारों की तादाद में भीड़ का रूप अख्तियार कर अंचल की जनता शासन प्रशासन को ठेंगा दिखाते अघोषित रावण दहन में आई। अपार जन सैलाब देख कर एक बार तो प्रशासन के भी हाथ पैर भी फुलने लगे थे परन्तु फिर सजगता के साथ शाम होते ही  नगर की समिति प्रमुख एवम श्री राम मंदिर के व्यवस्थापक रोहित बैरागी, राजेश जैन आदि वरिष्ठ नागरिक गण ने परम्परा का निर्वहन करते हुए बड़े श्रीराम मंन्दिर से एक चल समारोह निकालकर प्रतीकात्मक बाल राम, लक्ष्मण एवं हनुमान के द्वारा रावण का पुतला दहन कर असत्य पर सत्य की जीत दर्ज करा दी। उसके बाद प्रशासन अनहोनी घटना के नियंत्रण में लग गया व सबको अपने अपने घर लौटने की मुनादी कराता देखा गया हालांकि अंत तक नगर परिषद सीएमओ रावण निर्माण व नगर में लगी दुकानों पर अनभिज्ञता जाहिर करता रहा तो अन्य स्थानीय प्रशासन भी मूक दर्शक बनकर देखता रहा। अहंकारी रावण के दहन के बाद जनता व नगर की जीत मानकर नगर परिषद अध्यक्ष बंटी डामोर, भाजपा जिला उपाध्यक्ष विश्वास सोनी, अनुविभागीय पुलिस अधिकारी एम एस गवली, सीएमओ बी एस टांक, थाना प्रभारी कौशल्या चौहान ने असत्य पर आज सत्य की जीत दर्ज कर विजया दशमी की बधाई दी।


त्योहारों का उत्सव - अपनाएं टीकाकरण का सुरक्षा कवच

  • 18 अक्टूबर, 2021 को 50,000 का लक्ष्य लेकर टीकाकरण  करवाएं -----कलेक्टर श्री मिश्रा

झाबुआ,। कोरोना -19 के संक्रमण से  होने वाली महामारी से पूर्ण रूप से सुरक्षित होने के लिए कोविड-19 दोनों डोज लगवाना अत्यंत आवश्यक है  प् प्रदेश के यशस्वी माननीय मुख्यमंत्री जी की मंशा के अनुरूप प्रदेश एवं जिले के सभी व्यक्तियों जो कि 18 वर्ष  के ऊपर हैं, नियमानुसार उन्हें दोनों डोज लग जाना चाहिए । कलेक्टर श्री सोमेश मिश्रा  ने निर्देश दिए हैं कि जिले में जो भी प्रथम डोज  से वंचित हैं  एवं द्वितीय डोज  के लिए  पात्र होने पर भी अपना भी वैक्सीनेशन नहीं करवा रहे हैं ,उनकी सुरक्षा और समाज की सुरक्षा के लिए उन्हें अनिवार्य रूप से वैक्सीनेशन करवाएं प् सभी सामाजिक संस्थाएं , धर्मगुरु , व्यापारी संघ , शासन-प्रशासन के समस्त अधिकारी कर्मचारी सभी आगे बढ़कर टीकाकरण  करवाएं  प् अपनी  स्वयं की सुरक्षा करें साथ ही दूसरों को भी इसके लिए प्रेरित करें प् कोविड-19 प्रोटोकॉल का अवश्य पालन करें ,  जिससे नियमित रूप से हाथ धोए ,   टीकाकरण करवाएं , शरीर दूरी बनाए रखें , मास्क अनिवार्य रूप से लगाएं , भीड़ भाड़ में जाने से बचे , समारोह उत्सव में जाने से बचें  ,आवश्यक हो तो ही घर से बाहर निकले  प्   श्री मिश्रा ने निर्देश दिए कि डोर टू डोर सर्वे से यह स्पष्ट हो गया है कि किसने  टीकाकरण का प्रथम रोज लगवा लिया है प् पात्र होने के पश्चात भी द्वितीय डोज नहीं लगवा रहे हैं  प्  उन्हें चिन्हित करें इनका वैक्सीनेशन करवाएं प् जिले में लगभग 1,12,243 लोगों ने पात्र होने के पश्चात भी अपना सेकंड डोज  नहीं लगवाया  प् इसमें थांदला के 18,423 , राणापुर के 10,814 , रामा के 14,965  , पेटलावद के 28 ,590  , मेघनगर के 18,500 , झाबुआ शहर 7,372 , एवं कल्याणपुरा 13,579 है । जिले में इसके अनुसार  दिनांक 18 अक्टूबर 2021 को टीकाकरण महा अभियान में 50,000 से अधिक लोगों को प्रथम  एवं सेकंड डोज लगाने का लक्ष्य रखा गया है प् श्री मिश्रा निर्देश दिए कि टीकाकरण का लक्ष्य पूर्ण करने के लिए आशा कार्यकर्ता ,आंगनवाड़ी कार्यकर्ता ,स्वयं सहायता समूह,  पटवारी  , शिक्षक , सेल्समैन, मजदूर , सहकारी संस्था के सदस्य ,वन विभाग  वनरक्षक समितियां, विभिन्न शासकीय योजना में लाभान्वित हितग्राहियों को चिन्हित करें एवं उन्हें इनके परिवारों को शत-प्रतिशत टीकाकरण करवाएं प् हमारा मुख्य लक्ष्य  गांव एवं गांव के फलिए, हमारे  शहर एवं शहर के सभी वार्ड को शत-प्रतिशत टीकाकरण करवाकर सुरक्षा देना है प् महामारी  को रोकना है  प् सभी विभाग योजना बनाकर शत प्रतिशत प्रथम  एवं सेकंड डोज का टीकाकरण करवाकर  अपनी भागीदारी सुनिश्चित करेंगे ।

कोई टिप्पणी नहीं: